home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Blond Psyllium: ईसबगोल क्या है?

Blond Psyllium: ईसबगोल क्या है?
परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध

परिचय

ईसबगोल (ब्लॉन्ड सिलीयम) क्या है?

ईसबगोल एक जड़ी बूटी है। इसके बीज और इसका बाहरी आवरण को पीसकर भूसी तैयार की जाती है। कई परेशानियों के इलाज के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। इसका बोटैनिकल नाम प्लांटागो ओवाटा (Plantago ovata) है। ये प्लांटेगिनेसी (Plantaginaceae) परिवार से ताल्लुक रखता है। देखने में इसका पौधा गेहूं के पौधे की तरह होता है।

और पढ़ें – सब्जा (तुलसी) के बीज से कम करें वजन और इससे जुड़े 8 अमेजिंग बेनिफिट्स

आज हम आपको इस लेख में ईसबगोल के फायदे, नुकसान, खुराक और इस्तेमाल करने की विधि के बारे में बताएंगे। तो चलिए जानते हैं आखिर ईसबगोल क्या है –

उपयोग

ईसबगोल का उपयोग किस लिए किया जाता है?

पाचन तंत्र को बनाए स्वस्थ:

ये आंतों के रास्ते का साफ करता है और पेट से विषाक्त पदार्थों को बाहर कर पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है।

कब्ज से राहत प्रदान करता है:

इसमें हाइग्रोस्कोपिक गुण होते हैं जो डायजेस्टिव सिस्टम में अतिरिक्त पानी को सोखता है। इसबगोल में अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है। कब्ज की समस्या से निपटने के लिए फाइबर युक्त भोजन करना बहुत जरूरी होता है। इसमें मौजूद फाइबर कब्ज से राहत प्रदान करता है।

इन परेशानियों में मददगार:

कैसे काम करता है ईसबगोल?

कई शोध के अनुसार, ईसबगोल के बीज शरीर में जाकर अतिरिक्त पानी को सोख लेते हैं और कब्ज से निजात दिलाता है। डायरिया से परेशान लोगों में ये दस्त को रोकने का काम करता है। अगर आप इसके बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें।

और पढ़ें – Mouse Ear herb: माउस ईयर हर्ब क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

ईसबगोल के इस्तेमाल से पहले मुझे किन बातों के बारे में मालूम होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए। प्रेग्नेंसी में इसके सेवन से मिसकैरेज होने का खतरा होता है।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको ईसबगोल या किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। ईसबगोल का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें – दूर्वा (दूब) घास के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Durva Grass (Bermuda grass)

कितना सुरक्षित है ईसबगोल का इस्तेमाल?

ईसबगोल का सेवन ज्यादातर सभी के लिए सुरक्षित है अगर आप इसे बहुत सारे पानी के साथ ले रहे हैं। जब भी इसे लें ध्यान रखें कि 3-5 ग्राम इसबगोल के साथ 250 मिलीलीटर पानी जरूर पिएं।

ये लोग बरतें खास सावधानी:

  • कोलोरेक्टल एडिनोमा से ग्रसित लोग इसका सेवन करने से बचें।
  • डायबिटीज पेशेंट्स इसका सेवन न करें। कई ईसबगोल प्रोडक्ट्स में शुगर होती है जिससे शरीर का शुगर लेवल बढ़ सकता है।
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर: अगर आपको कब्ज की शिकायत है और हार्ड स्टूल हो रहे हैं तो भी इसका सेवन न करें।
  • एलर्जी: कुछ लोगों को ईसबगोल से एलर्जी होती है। उन्हें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए
  • लो ब्लड प्रेशर: ईसबगोल ब्लड प्रेशर को अत्यधिक कम कर सकता है। इसलिए इसका सेवन करने से बचें।
  • सर्जरी: सर्जरी से दो हफ्ते पहले और बाद तक इसका सेवन एवॉइड करें।

इन दवाओं के साथ न करें ईसबगोल का इस्तेमाल:

  • कार्बमेजपाइन: ईसबगोल में अधिक मात्रा में फाइबर होता है। फाइबर दवा को पूरी तरह से अवशोषित होने को प्रभावित कर सकता है।
  • लिथियम: लिथियम के साथ ईसबगोल को लेना एवॉइड करें। इससे दवा का असर प्रभावित हो सकता है।
  • एंटीडायबिटीज ड्रग्स: ईसबगोल खाने से शुगर को ठीक से अवशोषित न करने पर शरीर में ब्लड शुगर को कम कर सकता है। डायबिटीज की दवाओं के साथ इसका सेवन बिल्कुल न करें।
  • वार्फरिन: वार्फरिन और ईसबगोल को साथ नहीं लेना चाहिए। इससे ब्लड क्लोटिंग होने का खतरा रहता है।
  • डिजोक्सिन: डिजोक्सिन को ईसबगोल के साथ लेने से दवा से होने वाला असर प्रभावित होगा

और पढ़ें – Glycomacropeptide: ग्लाइकोमाक्रोपाइड क्या है?

साइड इफेक्ट्स

ईसबगोल से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

कुछ लोगों में ईसबगोल को लेने से पेट में दर्द, गैस, डायरिया, कब्ज और उल्टी की शिकायत हो सकती है। रिपोर्ट्स के अनुसार इससे सिरदर्द, कमर में दर्द, नाक बहना, कफ और साइनस की दिक्कत भी हो सकती है। किछ लोगों को इससे एलर्जी हो सकती है उनमें नसल पैसेज में सूजन, छींके आना, पलकों पर सूजन, हाइव्स और अस्थमा की परेशानी हो सकती है। अगर आपको खुजली, सांस लेने में दिक्कत, सूजन, छाती या गले में दर्द हो रहा हो तो इसका सेवन तुरंत बंद कर दें।

हालांकि हर किसी को ये साइड इफेक्ट हो ऐसा जरुरी नहीं है, कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें – अस्थिसंहार के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Hadjod (Cissus Quadrangularis)

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ईसबगोल (Isabgol) को लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था में ईसबगोल का प्रयोग तभी करना चाहिए जब बहुत अधिक आवश्यकता हो। अध्ययनों की कमी के कारण यह बता पाना बेहद मुश्किल है कि यह शिशु और मां पर क्या प्रभाव डाल सकती है।

अपने डॉक्टर से इस दवाई के फायदों और जोखिमों के बारे में सलाह लें। डॉक्टर को बता दें की आप गर्भावस्था या स्तनपान से गुजर रही हैं।

अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुताबिक, ईसबगोल दवा को प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की श्रेणी ‘N’ में रखा गया है।

FDA प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में खतरा पाया गया
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के पॉजिटिव एविडेंस मौजूद हैं
  • X= कॉन्ट्रेनडिकेटेड (Contraindicated)
  • N= पता नहीं

और पढ़ें – आलूबुखारा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Aloo Bukhara (Plum)

डोसेज

ईसबगोल को लेने की सही खुराक क्या है?

अगर आप ईसबगोल का सेवन पहली बार करने वाले हैं तो डॉक्टर या किसी एक्सपर्ट से इसका सेवन करने के बारे में सलाह ले लें। कुछ व्यक्तियों को इसमें मौजूद पदार्थों से एलर्जी होने का खतरा रहता है।

  • कब्ज के लिए: 7-40 ईसबगोल को हर दिन दो से चार डोज में बांट कर लें।
  • डायरिया के लिए: 7-18 ग्राम ईसबगोल को दो से तीन खुराक में लें या फिर 5 ग्राम इसबघोल को कैल्शियम कार्बोनेट और कैल्शिय फॉसफेट में 4:1:1 में लें।
  • गॉल ब्लेडर सर्जरी के बाद डायरिया के लिए: 6.5 ग्रम ईसबगोल को रोजाना तीन बार लें।
  • इरिटेबल बाउल सिंड्रोम (IBS): 10-30 ग्राम ईसबगोल हस्क को दो से तीन डोज में बांट कर लें।
  • बवासीर में ब्लीडिंग से राहत पाने के लिए: 3.5 ग्रम ईसबगोल हस्त को दिन में दो बार तीन महीने तक लें।
  • हाई कोलेस्ट्रॉल के लिए: 3.4 ग्राम ईसबगोल हस्क को तीन बार रोजाना लें।
  • टाइप 2 डायबिटीज के लिए: 15 ग्राम ईसबगोल को तीन डोज में बांट कर लें।
  • हाई ब्लड प्रेशर के लिए: 15 grams ईसबगोल को 8 हफ्तों तक रोजाना लें।

और पढ़ें – पारिजात (हरसिंगार) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Night Jasmine (Harsingar)

उपलब्ध

किन रूपों में उबलब्ध है ईसबगोल?

ईसबगोल निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • ईसबगोल पाउडर
  • रॉ ईसबगोल हस्क

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह, निदान या सारवार नहीं देता है न ही इसके लिए जिम्मेदार है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Blond Psyllium https://medlineplus.gov/druginfo/natural/866.html accessed on 08/07/2020

Psyllium/https://www.ndhealthfacts.org/wiki/Psyllium/accessed on 08/07/2020

Psyllium/https://hort.purdue.edu/newcrop/afcm/psyllium.html/accessed on 08/07/2020

Fiber supplements and clinically proven health benefits: How to recognize and recommend an effective fiber therapy/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5413815/accessed on 08/07/2020

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 15/11/2019
x