home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Kidney Beans: राजमा क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|मात्रा/ डोसेज|उपलब्धता
Kidney Beans: राजमा क्या है?

परिचय

राजमा (Kidney beans) क्या होता है?

राजमा (Kidney Beans) एक किस्म की फली है। इसका बोटैनिकल नाम फेजोलस वल्गरिस (Phaseolus vulgaris) है, जो कि फली (Legumes) परिवार से ताल्लुक रखता है। यह फसल मूल रूप से मध्य अमेरिका और मैक्सिको में उगाई जाती है। लेकिन, इसके स्वाद और पौष्टिक गुण की वजह से पूरी दुनिया में इसकी पैदावार होने लगी है।

भारत में इसे काफी पसंद की जाने वाली डिश है। जो कि सिर्फ स्वादिष्ट ही नहीं है, बल्कि इसमें काफी मात्रा में पोषण पाया जाता है। यह फाइबर, कार्ब्स और प्रोटीन प्राप्त करने का एक अच्छा स्त्रोत है। यह कई तरह के रंग और पैटर्न में उपलब्ध होता है, जैसे- सफेद, लाल, चितकबरा आदि।

मीट या अन्य प्रोटीन सोर्स कोलेस्ट्रॉल में उच्च होते हैं के रिप्लेसमेंट के रूप में खाए जाने पर किडनी बीन्स स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। कोलेस्ट्रॉल कम करना हृदय रोग के जोखिम को कम करने और आपके हृदय स्वास्थ्य में सुधार करने का एक तरीका है। किडनी बीन्स प्रोटीन सोर्स के रूप में उपयोग करने के लिए लाभप्रद है इसमें सेम की अन्य किस्मों की तुलना में थोड़ा कम वसा और संतृप्त वसा होता है, लेकिन फाइबर और प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है।

यह भी पढ़ेंः Isatis: आइसाटिस क्या है?

उपयोग

राजमा का उपयोग किसलिए किया जाता है? (Kidney Beans Uses)

यह एक किस्म की फली होती है, जो मैग्नीशियम, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस, विटामिन बी9, आयरन पोषक तत्वों से भरपूर है। इसका इस्तेमाल निम्नलिखित स्थितियों या समस्याओं में किया जाता है।

  • इसमें काफी फाइबर होता है, इससे कोलेस्ट्रॉल लेवल सही रहता है।
  • यह प्रोटीन की खान है, इसमें सोया उत्पाद से भी अधिक प्रोटीन होता है।
  • इसमें कम मात्रा में ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। इसे इसे खाने से ब्लड ग्लूकोज लेवल नहीं बढ़ता।
  • इसमें कई रोग-विरोधी एंटीऑक्सीडेंट हैं, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं।
  • इसमें विटामिन के पाया जाता है, जो मस्तिष्क के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
  • इसमें मैग्नीशियम भी पाया जाता है, जो कार्डियोवस्कुलर सिस्टम को सही ढंग से चलाने में मदद करता है। यह शरीर को स्ट्रोक और धमनियों में वसा की जमावट को रोकता है।
  • यह पाचन क्रिया को सही बनाए रखता है साथ ही यह ब्लड शुगर के स्तर को भी नियंत्रित रखने में मददगार होता है।

यह भी पढ़ें : Jiaogulan: जागुलन क्या है?

राजमा में मौजूद पोषण कितना है? (Nutrition value of kidney beans)

100 ग्राम उबले राजमा में निम्नलिखित पोषण होता हैः

  • कैलोरी– 127
  • पानी– 67%
  • प्रोटीन- 8.7 ग्राम
  • कार्ब्स- 22.8 ग्राम
  • शुगर- 0.3 ग्राम
  • फाइबर– 6.4 ग्राम
  • फैट- 0.5 ग्राम

राजमा में प्रोटीन काफी मात्रा में होता है। इसमें लेक्टिन जैसे प्रोटीन और प्रोटीज इनहिबिटर भी होते हैं। हालांकि, इसमें मौजूद फेजियोलिन से कुछ लोगों को एलर्जी की समस्या हो सकती है।

इसमें में एमाइलोज स्टार्ट होता है, जो धीरे-धीरे पचता है। जिस वजह से यह दूसरे स्टार्च के मुकाबले कम और देर से ब्लड शुगर बढ़ाता है। जिस वजह से यह फली टाइप 2 डाइबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है।

यह भी पढ़ें : Gourd : लौकी क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

राजमा का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए? (What should I know before using kidney beans)

राजमा का इस्तेमाल करने से पहले निम्नलिखित स्थितियों में अपने चिकित्सक या फार्मसिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें:

  • यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं- गर्भवती या स्तनपान कराने की स्थिति में किसी भी आहार या दवा का सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मसिस्ट या हर्बलिस्ट से जरूर परामर्श करें, क्योंकि इसका सीधा प्रभाव बच्चे और मां के स्वास्थ्य पर पड़ता है।
  • यदि आप कोई अन्य दवा ले रहे हैं- इसमें आपके द्वारा ली जा रही कोई भी दवा शामिल है, जो बिना डॉक्टर के पर्चे के खरीदने के लिए उपलब्ध है।
  • यदि आपको राजमा या अन्य दवाओं या अन्य जड़ी बूटियों के किसी भी पदार्थ से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई अन्य बीमारी, विकार या चिकित्सा स्थितियां हैं।
  • यदि आपको किसी अन्य प्रकार की एलर्जी है, जैसे कि खाद्य पदार्थ, डाई, डिब्बा बंद चीजें या जानवर से।

सुरक्षा के लिहाज से इसके सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको उसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने डाइटीशियन से बात कीजिये।

राजमा (Kidney Beans) कितना सुरक्षित है?

  • जोड़ों के दर्द के मरीजों के लिए राजमा खाना बहुत ही नुकसानदायक हो सकता है इससे उनका दर्द और भी बढ़ सकता है। गठिया और यूरिक एसिड की समस्या वालों को राजमा कभी नहीं खानी चाहिए। इससे उनकी समस्या और बढ़ सकती है
  • राजमा का उपयोग करने से वजन घटने लगता है। जो लोग अपना वजन घटाना चाहते है उनके लिए ये अत्यंत लाभदायक होता है बाकि लोगो के लिए ये नुकसानदायक हो सकता है। इसके अधिक सेवन से वजन कम होने लगता है।
  • अगर आपको किसी प्रकार की फूड एलर्जी है, या आप फूड सेंसटिविटी से पीड़ित हैं, तो डॉक्टर की सलाह पर ही राजमा का उपयोग करें।

यह भी पढ़ें : Garlic : लहसुन क्या है?

साइड इफेक्ट्स

राजमा से मुझे क्या साइड इफेक्ट हो सकते हैं? (Kidney beans side effects)

  • राजमा खाने से पेट में गैस हो सकती है
  • कुछ लोगों का राजमा खाने के बाद पेट दर्द होने लगता है ऐसा शरीर में प्रोटीन की अधिक मात्रा के कारण हो सकता है
  • अधिक मात्रा में राजमा खाने से भी आपको यूरिक एसिड की समस्या भी हो सकती है।
  • इसमें मौजूद एमाइलोज से कुछ लोगों को एलर्जी हो सकती है।

हालांकि, जरूरी नहीं कि सभी को इन साइड इफेक्ट्स का सामना करना पड़े। इसके अलावा किसी को अन्य साइड इफेक्ट्स का भी सामना करना पड़ सकता है, जो यहां न हीं बताए गए हैं। अगर आपको साइड इफेक्ट्स को लेकर कोई शंका है, तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से परामर्श करें।

राजमा (Kidney beans) के साथ मेरे क्या इंटरैक्शन हो सकते हैं?

राजमा आपकी मौजूदा दवाओं या मेडिकल कंडिशंस पर असर डाल सकता है। उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट, फार्मसिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें। अगर आप किसी विशेष कंडिशन से ग्रसित है तो इसका उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

यह भी पढ़ेंः Drum Stick: सहजन क्या है?

मात्रा/ डोसेज

राजमा की सामान्य खुराक क्या है? (Kidney beans dosages)

किडनी में पथरी (Kidney stone) के लिए– 500 ग्राम राजमा को रात पर पानी में भिगोकर रखें। सुबह इसे 2 लीटर पानी में तब तक उबालिए, जब तक कि राजमा पानी में घुल न जाए। इसके बाद, जब भी आपको प्यास लगे, तो इस पानी को पीजिए।

हाई कोलेस्ट्रॉल के लिए (High cholesterol)– यह कोलेस्ट्रॉल फ्री होता है, इसलिए आप कभी भी इसका सेवन मर्जी अनुसार कर सकते हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) के लिए– राजमा का नियमित सेवन करने से ऑस्टियोपोरोसिस दूर होता है और हड्डियां मजबूत बनती हैं।

इसकी खुराक हर किसी के लिए अलग अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। कृपया अपनी उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

यह भी पढ़ेंः Shiitake Mushroom : शिटाके मशरूम क्या है?

उपलब्धता

राजमा (Kidney beans) किस रूप में आता है?

राजमा निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • कच्चा राजमा

उम्मीद करते हैं कि आपको राजमा का उपयोग और इसके फायदे से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Kidney Beans 101: Nutrition Facts and Health Benefits – https://www.healthline.com/nutrition/foods/kidney-beans – Accessed on 3 January 2020.

Kidney Beans/https://nutritionfacts.org/topics/kidney-beans/Accessed on 25th August 2021

PHASEOLUS VULGARIS – https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-689/phaseolus-vulgaris – Accessed on 3 January 2020.

What are the health benefits of beans?. https://www.medicalnewstoday.com/articles/320192.php. Accessed on 3 January 2020.

Legumes: Health Benefits and Culinary Approaches to Increase Intake/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000726.htm/Accessed on 25th August 2021

Legumes: Health Benefits and Culinary Approaches to Increase Intake/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4608274/ Accessed on 25th August 2021

 

लेखक की तस्वीर badge
Smrit Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/08/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड