लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स के साथ सेलिब्रेट करें यह दीपावली

By Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar

दिवाली पर लोग अक्सर एल्कोहॉल का सेवन करते हैं। सिर्फ दिवाली ही नहीं अन्य त्योहारों और सेलिब्रेशन के दौरान लोग शराब पीते हैं। हालांकि, एल्कोहॉल का सेवन करना किसी भी सूरत में सेहत के लिए अच्छा नहीं है। साल 2018 में लैंसेट द्वारा की एक रिसर्च में सामने आया कि थोड़ी भी मात्रा में एल्कोहॉल सेहत के लिए नुकसानदायक है। लेकिन फिर भी लोग इसका सेवन करना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों का मानना है कि एक निर्धारित मात्रा में इसका सेवन किया जा सकता है। विशेषज्ञ कहते हैं कि ऐसे में महिलाएं दिन में एक और मर्द दिन में दो ड्रिंक्स ले सकते हैं। वहीं लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स भी ऐसे में एक विकल्प साबित होते हैं। ऐसे ड्रिंक्स लेने से आप अपनी पीने की इच्छा भी पूरी कर सकते हैं और आपका कैलोरी इनटेक भी जरूरत से ज्यादा नहीं होगा।

लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स हैं बेहतर ऑप्शन

एल्कोहॉल का सेवन करने का एक विकल्प यह भी है कि आप लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स को चुनें, जो आपकी सेहत पर कम बुरा असर डालते हैं। इससे आपका वजन बढ़ने की भी आशंका कम रहती है। डायटिशियन कहते हैं कि एल्कोहॉल में काफी कैलोरी होती हैं। आपके ड्रिंक में एल्कोहॉल की जितनी अधिक मात्रा होगी आपके ड्रिंक में उतनी ही अधिक कैलोरी होंगी।

एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स में कैलोरी की मात्रा पहले ही अधिक होती है। इसके बाद उनमें मिलाए जाने वाले सिरप और अन्य मिक्स जैसे क्रैनबेरी जूस और सोडा इनमें चीनी का मात्रा को बढ़ा देते हैं। वाइन और बीयर का सेवन आपकी डायट में कैलोरी बढ़ा देते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप हफ्ते में हर रात दो ग्लास रेड वाइन लेना शुरू करते हैं, तो आपकी डायट में 1,750 अतिरिक्त कैलोरी बढ़ जाती हैं। साथ ही अगर आप अपनी खाने की आदतें नहीं बदलते हैं, तो ये अतिरिक्त कैलोरी एक साल में आपका 25 पाउंड तक वजन बढ़ा सकती हैं। ऐसे में या तो आप अपनी खाने की आदतें बदलें या फिर लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स को चुनें।

यह भी पढ़ें: बच्चों और बुजुर्गों को दिवाली पर होने वाले प्रदूषण से ऐसें बचाएं

ऐसे ही कुछ लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स हैं:

टकीला विथ फ्रेश लाइम (Tequila with fresh lime) भी है लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स में शामिल

कैलोरी काउंट : 200 से कम

low calorie alcoholic drinks

अक्सर स्टोर्स में मिलने वाले पैक्ड मार्गेरिटा ड्रिंक्स में शुगर की मात्रा अधिक होती है। एक मार्गेरिटा ड्रिंक में 160 से 400 कैलोरी होती हैं। ऐसें में डायटीशियन का मानना है कि इस मैक्सिकन ड्रिंक के लो कैलोरी वर्जन को चुना जा सकता है। इसके लिए आप टकीला को लाइम जूस के साथ पी सकते हैं। इस तरह इस ड्रिंक में कैलोरी काफी कम रह जाती हैं। साथ ही शुगरी मिक्स की जगह नींबू के इस्तेमाल के बाद आप इसे धीरे-धीरे पीते हैं और आप इसके फ्लेवर्स का लुत्फ उठा पाते हैं।

लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स में आता है वोडका विथ लाइम (vodka with lime)

कैलोरी काउंट : 96

low calorie alcoholic drinks

अगर आपको इस ड्रिंक में क्रैनबेरी जूस का स्वाद पसंद है, तो आपको इसका लाइटर वर्जन भी पसंद आएगा। इसके लिए आप इसमें नींबू मिला लें। साथ ही टॉनिक वॉटर से दूर रहें। यह आपके ड्रिंक में 80 कैलोरी और 21 ग्राम शुगर बढ़ा देता है। इस ड्रिंक में सोडा वॉटर को मिलाएं, जो फिज्जी तो होता ही है और इसमें कैलोरी भी नहीं होती।

मोहितो माइनस सिरप (Mojito minus syrup)

कैलोरी काउंट : 100

low calorie alcoholic drinks

मोहितो में आमतौर पर 168 कैलोरी होती हैं। वहीं इसमें अगर सिरप का इस्तेमाल न किया जाए तो आपकी ड्रिंक से 40 से 70 तक कैलोरी कम हो जाती हैं। मोहितो को 100 कैलोरी के अंदर बनाने के लिए इसमें लाइट रम और एक टेबल स्पून नो कैलोरी शुगर सब्स्टीट्यूट का प्रयोग करें। साथ ही पुदीना, सोडा वॉटर और नींबू का ज्यादा इस्तेमाल किया जा सकता है। जो इसके फ्लेवर को तो बढ़ाते ही हैं और इनमें कैलोरी की मात्रा को भी नहीं बढ़ने देते। इसके अलावा अगर आप बार में हैं, तो बार टेंडर को कहें कि सिरप की जगह मिंट और लाइम को इस्तेमाल करें।

यह भी पढ़ें : दिवाली पर मिलावटी मिठाई की कैसे करें पहचान?

लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स की लिस्ट में आती है लाइट बीयर (Light beer)

कैलोरी काउंट : 103

low calorie alcoholic drink

जान लें कि हर बीयर आपका पेट नहीं बढ़ाती। लाइट बीयर में लगभग 50 कैलोरी ही होती हैं, जो साधारण बीयर से काफी कम हैं। लेकिन साथ ही इस बात का ख्याल रखें कि आप खाने के साथ बीयर न पीएं। ऐसा करने से यह अनचाही कैलोरी को बढ़ा देगा, जिससे आपका वजन बढ़ सकता है। आसान शब्दों में कहें, तो बीयर जितनी लाइट होगी कैलोरी उनती कम होगीं। वहीं अगर इसका कलर जितना ज्यादा डार्क होगा कैलोरी की मात्रा भी बढ़ जाएगी।

लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स में शामिल है व्हाइट वाइन (White Wine)

कैलोरी काउंट : 121

low calorie alcoholic drinks

व्हाइट वाइन लो कैलोरी ड्रिंक के तौर पर एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। लेकिन ध्यान दें कि आप इसकी स्वीट वैरायटी जैसे कि रिएसलिंग्स (rieslings) और प्रोसीको (prosecco) से दूर रहें। इनकी जगह आप ड्राई व्हाइट वाइन्स जैसे कि पिनो ब्लांक (pinot blanc), शारदोने (chardonnay) और पिनो (pinot) आदि को चुन सकते हैं। ड्राई वाइन्स में कैलोरी काउंट काफी कम होता है।

रेड वाइन (Red Wine) भी है लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स में शामिल

कैलोरी काउंट :125

low calorie alcoholic drinks

व्हाइट वाइन वाला रूल रेड वाइन पर भी लागू होता है। रेड वाइन की भी ड्राई वैरायटी चुनें। बाजार में व्हाइट वाइन की ही तरह रेड वाइन की भी काफी वैरायटी मौजूद हैं। इसके अलावा आप डायट को ध्यान में रखते हुए अगर ड्रिंक करना चाहते हैं, तो ब्रांडी भी एक बेहतर ऑपशन हो सकता है। ब्रांडी में काफी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। एंटी ऑक्सीडेंट्स में एंटी एंजिंग की प्रॉपटीज होती हैं। ऐसे में ब्रांडी आपकी स्किन और बालों के लिए फायदेमंद हो सकती है। इसके अलावा कुछ रिसर्चेज में सामने आया है कि ब्रांडी आपको ब्लैडर और ओवरी के कैंसर से भी बचा सकती है। इसके अलावा ब्रांडी गले की खराश और कफ और कोल्ड में राहत देती है।

इस तरह आप लो कैलोरी एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स का सेवन करते हुए भी आप अपनी डायट फॉलो कर सकते हैं और वजन बढ़ने से रोक सकते हैं।

(हैलो स्वास्थ्य किसी भी सूरत में एल्कोहॉल के सेवन का समर्थन नहीं करता और न ही किसी एल्कोहॉलिक ड्रिंक को प्रमोट करता है।) 

और पढ़ें:

प्रेग्नेंसी में एल्कोहॉल का सेवन नुकसानदायक है या नहीं? जानिए यहां

महिला को बिना पिए होता है नशा, शरीर ही बनाता है एल्कोहॉल

शराब ना पीने से भी हो सकता नॉन एल्कोहॉलिक फैटी लिवर डिजीज

दिवाली पर पटाखों से जल गए हैं, तो अपनाएं ये टिप्स

Share now :

रिव्यू की तारीख अक्टूबर 18, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया जनवरी 3, 2020

सूत्र
शायद आपको यह भी अच्छा लगे