बच्चे के लिए किस तरह के बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट मार्च 21, 2020 . 2 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

बच्चे के अच्छे शारीरिक विकास के लिए मसाज यानी मालिश बहुत जरूरी है। अच्छे बेबी ऑयल के इस्तेमाल से बच्चों की सेहत पर बहुत अच्छा असर देखने को मिलता है। नवजात शिशु की कोमल त्वचा को स्वस्थ और मुलायम बनाये रखने में  बेबी ऑयल एक बहुत ही विश्वसनीय उत्पादों में से एक है। इस बारे में डॉ. शरयु बताती हैं  कि बेबी ऑयल से बच्चों के शरीर को नमी प्राप्त होती है। त्वचा चमकदार और मुलायम बनी रहती है।’ बच्चे की एक अच्छे बेबी ऑयल से मालिश करना जरूरी है क्योंकि, इससे बच्चे की त्वचा को पोषण मिलता है। बेबी ऑयल मसाज से शिशु को अच्छी नींद भी आती है।

बेबी के बेस्ट बेबी ऑयल

नारियल का तेल

नारियल के तेल को कोकोनट ऑयल भी कहा जाता है। यह त्वचा के लिए बहुत प्रभावकारी है। इससे बच्चे के शरीर पर इंफेक्शन का डर नहीं होता है। नारियल का तेल शिशु की नाजुक त्वचा के लिए बहुत लाभकारी होता है। गर्मी में नारियल के तेल को बच्चे की मालिश के लिए सबसे अच्छा तेल माना जाता है। यक फंगल इंफेक्शन (Fungal Infection) के इलाज के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। नारियल तेल बैक्टीरिया से भी शिशु की सुरक्षा करता है।

यह भी पढ़ें: जानें परिवार के साथ नाश्ता करना बच्चे के लिए क्याें है जरूरी ?

बादाम का तेल

बादाम के तेल (Almond Oil) में विटामिन-ई की भरपूर मात्रा पायी जाती है। बच्चे की मालिश के लिए यह फायदेमंद है। बादाम का तेल केवल बच्चे के लिए ही न बल्कि हर उम्र के लोगों के लिए लाभकारी है। यह विटामिन (ए, डी, ई, बी-1, बी-2 और बी-6) से भरपूर होता है। इसमें फैटी एसिड और जिंक, कैल्शियम और पोटैशियम जैसे खनिज होते हैं।शिशु का शरीर बादाम के तेल को प्रभावी रूप से सोख लेता है, जिसके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं।

तिल का तेल

यह तेल बच्चे की मालिश के लिए अच्छा माना जाता है।  ठंड के मौसम में इस तेल को लगाने से शिशु को गर्माहट मिलती है। तिल का तेल शिशु के आयुर्वेदिक मालिश के लिए बहुत लोकप्रिय हैं, क्योंकि यह तमाम दोषों में संतुलन बनाए रखते हैं। बच्चे के लिए तिल का तेल भी चुनने से पहले यह जान लें कि यह शुद्ध हो। आप इसमें सुगंधित फूलों जैसे गुलाब या चंदन भी मिला सकते हैं।

यह भी पढ़ें: बच्चे के विकास के लिए जरूरी है अर्ली चाइल्डहुड एज्युकेशन

सरसों का तेल

सरसों का तेल हर वर्ग के लोगों के लिए खरीदना है, क्योंकि यह ज्यादा मंहगा नहीं होता है। सरसों का तेल बच्चों के लिए वरदान माना जाता है। इससे मालिश करने से शरीर में ब्लड सर्क्युलेशन अच्छी तरह से होता है। सरसों के तेल से बच्चे की मालिश से त्वचा को पोषण और शरीर को मजबूती मिलती है। सरसों का तेल सूखे एवं फटे होठों के लिए बहुत अच्छा इलाज है। अपने बच्चों के होठों पर इसे लगाएं। सर्दियों में बच्चों के होंठ नहीं फटेंगे।

जैतून का तेल

अगर बच्चा बहुत ज्यादा कमजोर है, तो जैतून का तेल मालिश के लिए इस्तेमाल करें। बच्चों के शरीर में ताकत आती है और त्वचा को भरपूर पोषण मिलता है। यदि बच्चे की त्वचा बहुत नाजुक है या त्वचा संबंधित किसी प्रकार की समस्या है तो इस तेल का इस्तेमाल न करें।

यह भी पढ़ें: जानें बच्चे के लिए होम स्कूलिंग के फायदे

कैमोमाइल ऑयल

यह बच्चों की मालिश के लिए एक बढ़िया बेबी ऑइय है। इसमें नवजात शिशु की स्किन के लिए आवश्यक तत्व मौजूद होते हैं। केमोमाइल ऑयल लगाने से बच्चे की त्वचा में रैशेज यानी लाल धब्बे नहीं पड़ते हैं और शिशु को किसी प्रकार का संक्रमण नहीं होता है।

बच्चे के अच्छे शारीरिक विकास के लिए आप इस तरह के ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिसके लिए जरूरी है कि आप

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    गणेश चतुर्थी और आने वाले त्योहारों को बनाएं यादगार, घर पर बनाएं शुगर फ्री मिठाइयां

    शुगर फ्री मिठाइयां रेसिपीज़, शुगर फ्री मिठाइयां कैसे बनाएं आसानी से घर पर , खजूर मोदक,ड्राईफ्रूट बर्फी, बादाम की बर्फी, गुजिया, Sugar Free sweets in hindi

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Anu Sharma
    हेल्दी रेसिपी, स्वस्थ जीवन अगस्त 12, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

    क्या ओरल सेक्स से एचआईवी का खतरा बढ़ जाता है? सुरक्षित ओरल सेक्स के टिप्स

    ओरल सेक्स और एचआईवी क्या हैं, क्या ओरल सेक्स से एचआईवी का खतरा बढ़ सकता है, ओरल सेक्स से एचआईवी की संभावना को कम करने के कुछ टिप्स, oral sex and HIV in hindi

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Anu Sharma

    सारा अली खान की तरह आप भी पीसीओडी की प्रॉब्लम को सही लाइफस्टाइल से कर सकती हैं कंट्रोल

    अभिनेत्री सारा अली खान पीसीओडी से ग्रस्त हैं, बावजूद इसके उन्होंने संतुलित आहार और एक्सरसाइज की मदद से उन्होंने अपना वजन 96 किलों से घटाकर 54 किलो कर लिया।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
    फिटनेस, स्वस्थ जीवन अगस्त 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    International Youth Day: ऐसी 10 बीमारियां जिनके शिकार अधिकतर इंडियन यूथ हो रहे हैं

    तंबाकू में 4,000 से अधिक विभिन्न रसायन पाए गए हैं. इनमें से 60 से अधिक रसायनों को कैंसर का कारण माना जाता है. इसमें मौजूद निकोटीन लोगों को तंबाकू की लत की ओर जाता है. international youth diwas 2020

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
    के द्वारा लिखा गया Arvind Kumar
    हेल्थ सेंटर्स अगस्त 12, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    गांजा पीना

    जानें गांजा पीना खतरनाक है या लोगों को राहत दिलाने का करता है काम

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish Singh
    प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
    विटिलिगो के घरेलू उपाय

    क्या सफेद दाग का इलाज संभव है, जानें विटिलिगो के घरेलू उपाय

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish Singh
    प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
    पाइप तंबाकू/pipe smoking health risk

    खतरा: पाइप तंबाकू कैसे बन सकता है ओरल कैंसर का कारण

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया shalu
    प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
    सोलो सेक्स/solo sex

    सोलो सेक्स क्या है? इसको कैसे करेंगे एन्जॉय।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया shalu
    प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें