बच्चों के लिए एलर्जी वैक्सीन कब हो जाती है जरूरी?

    बच्चों के लिए एलर्जी वैक्सीन कब हो जाती है जरूरी?

    एलर्जी (Allergy) बीमारी का एक सामान्य कारण है और यह लाइफ के किसी भी फेज में किसी को भी हो सकती है। कई अलग-अलग तरह की चीजें पॉलेन, फूड्स, दवाएं तक एलर्जी का कारण बनती हैं। एलर्जी के लक्षण कई बार तुरंत दिखाई नहीं देते हैं। इसलिए, बच्चों को एलर्जी वैक्सीन (Allergy vaccine) या एलर्जी शॉट्स दिए जाते हैं ताकि एक समय के बाद बच्चा एलर्जेंस के प्रति इम्यून हो सके। कुछ समय के ट्रीटमेंट के बाद, लोगों के एलर्जी शॉट (Allergy shots) बंद होने के बाद एलर्जी की समस्या नहीं होती है। वहीं, कुछ लोगों को लक्षणों को कंट्रोल करने के लिए दिए जा रहे शॉट्स की जरूरत रहती है। इस आर्टिकल में, हम कई तरह की एलर्जी के इलाज के लिए दिए जाने वाली एलर्जी वैक्सीन (Allergy vaccine) के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।

    एलर्जी वैक्सीन (Allergy vaccine) क्या है?

    एलर्जी वैक्सीन (एलर्जी इम्यूनोथेरेपी) कुछ प्रकार की एलर्जी का इलाज कर सकती हैं। वे कभी-कभी एलर्जिक बच्चों के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं जैसे यदि उन्हें:

    बता दें कि एलर्जी शॉट्स फूड एलर्जी के लिए हेल्पफुल नहीं हैं।

    और पढ़ें: क्या बच्चों के लिए सुरक्षित है कोविड वैक्सीन, जानिए इससे जुड़े महत्वपूर्ण सवाल!

    एलर्जी शॉट्स (Allergy shots) क्यों दिया जाता है?

    एलर्जी शॉट्स बच्चे लिए एक अच्छा ट्रीटमेंट ऑप्शन हो सकता है यदि:

    एलर्जी शॉट्स का उपयोग ट्रिगर किए गए लक्षणों को कंट्रोल करने के लिए भी किया जा सकता है:

    • मौसमी एलर्जी (Seasonal allergies): यदि सीजनल मौसमी एलर्जिक अस्थमा (seasonal allergic asthma) या हे फीवर के लक्षण हैं, तो आपको पेड़ों, घासों या खरपतवारों से निकलने वाले पोलेंस से एलर्जी हो सकती है।
    • इनडोर एलर्जेंस (Indoor allergens): यदि बच्चों को सालभर एलर्जी के लक्षण रहते हैं, तो वह इनडोर एलर्जी के प्रति सेंसिटिव हो सकते हैं, जैसे कि धूल के कण, कॉक्रोच, मोल्ड, या पालतू जानवरों जैसे बिल्लियों या कुत्तों के डैंडर।
    • इन्सेक्ट स्टिंग्स (Insect stings): मधुमक्खियों, ततैया, हॉर्नेट (hornet) या यैलो जैकेट से इंसेक्ट स्टिंग्स से एलर्जी रिएक्शन शुरू हो सकता है।

    एलर्जी वैक्सीन कैसे मदद करती है? (How does the allergy vaccine help?)

    एलर्जी शॉट्स शरीर को स्पेसिफिक एलर्जेंस के प्रति इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। एलर्जी शॉट्स उन बच्चों की भी मदद कर सकते हैं जिन्हें एलर्जी और अस्थमा होता है।

    एलर्जी शॉट्स (Allergy shots) में समस्या पैदा करने वाले एलर्जेन के शुद्ध रूप की एक छोटी मात्रा होती है। डॉक्टर पहले 3-6 महीनों में धीरे-धीरे डोज बढ़ाते हैं। यह इम्यून सिस्टम को एलर्जी के लिए सुरक्षित रूप से एडजस्ट और इम्यून बनाने में मदद करते हैं। इसे बिल्डअप फेज कहा जाता है। हाईएस्ट इफेक्टिव सेफ डोज बच्चे की मंथली मेंटेनेंस डोज (Monthly maintenance dose) बन जाती है। हेल्थ केयर प्रोवाइडर्स इसे लगभग 3 से 5 साल तक बच्चे को देते हैं। अधिकांश बच्चों को समय के साथ कम शॉट्स की आवश्यकता होगी।

    बिल्डअप फेज (Build-up phase) के दौरान कुछ बच्चों के एलर्जी के लक्षण कम हो जाते हैं। अन्य तब तक बेहतर महसूस नहीं करते जब तक वे मेंटेंनेस फेज में नहीं पहुंच जाते हैं। एलर्जी शॉट लेने के वर्षों के बाद, कुछ को लक्षणों से परमानेंट रूप से राहत मिल सकती है।

    और पढ़ें: 4 से 6 साल के बच्चों के लिए 5 वैक्सीन है सबसे ज्यादा जरूरी: CDC

    एलर्जी शॉट्स के लिए कैसे तैयारी करें? (How to prepare for allergy shots?)

    • एलर्जी शॉट्स का एक कोर्स शुरू करने से पहले, आपका डॉक्टर यह निर्धारित करने के लिए एक स्किन टेस्ट या ब्लड टेस्ट कर सकते हैं कि एलर्जी रिएक्शंस किस के कारण होती हैं – और कौन से स्पेसिफिक एलर्जी लक्षणों का कारण बनती हैं।
    • एक स्किन टेस्ट के दौरान, सस्पेक्टेड एलर्जेन की एक छोटी मात्रा आपकी स्किन में स्क्रैच कर दी जाती है और इस हिस्से को लगभग 15 मिनट तक देखा जाता है। सूजन और लालिमा सब्सटैंस से एलर्जी का संकेत देती है।
    • जब आप बच्चे के लिए एलर्जी शॉट्स के लिए जाते हैं, तो नर्स या डॉक्टर को बताएं कि क्या वह किसी भी तरह से अनहेल्दी फील कर रहा है। यदि बच्चे को अस्थमा है तो यह विशेष रूप से जरूरी है। उन्हें यह भी बताएं कि क्या पिछले एलर्जी शॉट के बाद कोई लक्षण थे।

    क्या एलर्जी वैक्सीन या शॉट्स सुरक्षित हैं? (Are Allergy Vaccines or Shots Safe?)

    • एक ट्रेन्ड हेल्थ केयर प्रोवाइडर द्वारा दिए गए एलर्जी शॉट सेफ और इफेक्टिव होते हैं। 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चे उन्हें प्राप्त कर सकते हैं।
    • इंजेक्शन वाली साइट पर बच्चों को एक छोटा रिएक्शन हो सकता है। यह तुरंत या शॉट के कुछ घंटों के भीतर ठीक हो सकता है। साइट के पास त्वचा थोड़ी लाल हो सकती है, वहां खुजली और सूजन हो सकती है। साइट पर आइस पैक लगाने और बच्चे को एंटीहिस्टामाइन (Antihistamine) देने से मदद मिल सकती है।
    • पूरे शरीर में पित्ती और खुजली जैसे रिएक्शंस के होने की संभावना न के बराबर होती है और अधिक गंभीर रिएक्शंस (Severe reactions) जैसे घरघराहट (Wheezing), सांस लेने में समस्या, गले में सूजन और मतली) दुर्लभ हैं। एक गंभीर रिएक्शन के लिए तुरंत ट्रीटमेंट की आवश्यकता होती है। इसलिए जिन बच्चों को एलर्जी के शॉट दिए जाते हैं, उन्हें डॉक्टर लगभग 30 मिनट तक मॉनिटर करते हैं।

    और पढ़ें: स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए ये वैक्सीन हैं जरूरी, बचा सकती हैं जानलेवा बीमारियों से!

    एलर्जी वैक्सीन: कुछ अन्य सेफ्टी टिप्स (Other safety tips)

    • बच्चों को एलर्जी के शॉट्स केवल एक एलर्जिस्ट/इम्यूनोलॉजिस्ट (immunologist) की देखरेख में ही लगवाने चाहिए।
    • एक बच्चा जो बीमार है, विशेष रूप से अस्थमा या सांस लेने में तकलीफ के साथ, उसे तब तक एलर्जी शॉट्स नहीं लेने चाहिए जब तक कि डॉक्टर यह न कहे कि यह सेफ है।
    • इससे पहले कि आपके बच्चे को एलर्जी के शॉट्स मिले, डॉक्टर को आपके बच्चे द्वारा ली जाने वाली अन्य दवाओं के बारे में बताना सुनिश्चित करें।
    • शॉट्स के बारे में डॉक्टर से पूरी जानकारी लेनी चाहिए। साथ ही संभावित साइड इफेक्ट्स के बारे में भी पता कर लेना चाहिए।

    और पढ़ें: World Immunization Day: इम्यून सिस्टम को करता है मजबूत, जानिए बच्चों का कब कराएं वैक्सीनेशन?

    लगभग 80% से 90% बच्चे एलर्जी शॉट्स के साथ इम्प्रूव कर जाते हैं। एलर्जी के लक्षणों में कमी देखने में अक्सर 12 से 18 महीने लग जाते हैं। कुछ बच्चों में 6 से 8 महीने में ही लक्षणों में कमी देखी जाती है। 5 साल के बाद, ज्यादातर बच्चे इलाज बंद कर सकते हैं और फिर भी लाभ महसूस कर सकते हैं। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

    उम्मीद करते हैं कि आपको एलर्जी वैक्सीन (Allergy vaccine) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र
    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/01/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड