नेजल एलर्जी सिम्पटम्स : समय के साथ बदतर हो सकते हैं यह लक्षण

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स : समय के साथ बदतर हो सकते हैं यह लक्षण

    शरीर में कहीं भी खुजली, बंद नाक, छींक आना आदि सर्दी-जुकाम या सामान्य एलर्जी के संकेत हो सकते हैं। एलर्जी एक ऐसी कंडीशन है जो नवजात शिशु से लेकर वयस्क यानी किसी भी व्यक्ति को परेशान कर सकती है। कई बार हम एलर्जी और सर्दी-जुकाम दोनों में अंतर नहीं कर पाते हैं क्योंकि दोनों के लक्षण एक जैसे ही होते हैं। एलर्जी हमारे इम्यून सिस्टम का किसी बाहरी चीज के प्रति रिएक्शन है। यह बाहरी चीज आमतौर पर हानिकारक नहीं होती, लेकिन हमारा इम्यून सिस्टम उसे हमारे लिए हानिकारक मान लेता है। इन चीजों को एलर्जेंस कहा जाता है। आज हम बात करने वाले हैं नेजल एलर्जी सिम्पटम्स ((Nasal Allergy Symptoms) यानी नाक की एलर्जी के लक्षण के बारे में। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से। शुरुआत करते हैं नेजल एलर्जी से।

    नेजल एलर्जी क्या है? (Nasal Allergy)

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) से पहले नेजल एलर्जी क्या है, इस बारे में जानना बेहद जरूरी है। नेजल एलर्जी एक सामान्य स्वास्थ्य समस्या है। यह सीजनल हो सकती है। यानी, अधिकतर मामलों में इस समस्या के लक्षण साल के कुछ ही समय में दिखाई देते हैं। लेकिन, कुछ लोगों को यह समस्या पूरे साल भी हो सकती है। जैसा की आप जानते ही हैं यह एलर्जीज का मुख्य कारण हैं एलर्जेंस। परागकण (Pollen), मोल्ड (Mold) , धूल-मिट्टी (Dust Mites), जानवरों की रुसी (Dander) आदि इनमें से मुख्य हैं। नेजल एलर्जी को राइनाइटिस (Rhinitis) भी कहा जाता है जिसके अर्थ है नाक की सूजन (Inflammation of the Nose)। हमारा नाक फ्लूइड बनाता है जिसे बलगम कहा जाता है। यह फ्लूइड आमतौर पर पतली और साफ होती है। यही नहीं, यह फ्लूइड फेफड़ों से धूल-मिट्टी, हानिकारक पदार्थों और एलर्जेंस को दूर रखते हैं।

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स

    और पढ़ें : नाक की एलर्जी में राहत प्रदान कर सकते हैं ये 8 एसेंशियल ऑयल

    बलगम भी धूल-मिट्टी, परागकण के साथ ही बैक्टीरिया और वायरस को भी दूर रखने में मददगार होती है। यह बलगम आमतौर पर आपके गले के पिछले हिस्से से निकल जाती है। लेकिन जब नाक में समस्या या नेजल एलर्जी होती है, तो हमारे शरीर में सामान्य से अधिक बलगम बनती है, जो गाढ़ी और हल्के पीले रंग की होती है। ऐसे में यह बलगम नाक के सामने के साथ-साथ पीछे से भी बहना शुरू हो सकती है। इसके साथ ही बलगम में मौजूद पदार्थ गले के पिछले हिस्से में जलन पैदा कर सकते हैं और खांसी का कारण भी बन सकते हैं। नेजल एलर्जी के साथ ही अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं जैसे अस्थमा।

    Quiz : एलर्जी किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है। आप भी इनमें से एक तो नहीं?

    नेजल एलर्जी के कारण क्या है (Causes of Nasal Allergy Symptoms)?

    आमतौर, पर एलर्जेंस हानिकारक नहीं होते। लेकिन हमारा इम्यून सिस्टम इसके हानिकारक समझ कर के साथ इन पर अटैक करता है। एलर्जी कुछ स्पेशल सेल्स के साथ अटैच्ड होती हैं जिन्हें मैसट सेल्स (mast cells) कहा जाता है। एलर्जेंस इन एंटीबाडीज के साथ चिपक जाते हैं। इसके कारण मैसट सेल्स (Mast Cells) हिस्टामिन (Histamine ) और अन्य केमिकल्स को रिलीज करते हैं। इसे एलर्जिक रिएक्शन कहा जाता है। यह केमिकल्स नजदीक के नेजल टिश्यूज में समस्या का कारण बनते हैं। इसके साथ ही यह नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) का भी कारण बनते हैं। जब ऐसा फेफड़ों की ब्रीदिंग ट्यूब्स में होता है तो यह अस्थमा के लक्षणों का कारण भी बन सकता है जैसे खासी या व्हीजिंग। अब जानते हैं इसके लक्षणों के बारे में।

    और पढ़ें : कॉकरोच से होने वाली एलर्जी बन सकती है आपकी मुसीबतों का कारण, ऐसे निपटें इस समस्या से!

    सामान्य नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Common Nasal Allergy Symptoms)

    एलर्जी के कारण नेसल टिश्यूज सूज जाते हैं। इससे एयर पैसेज छोटे हो जाते हैं। इसके साथ ही, इससे नाक भरी हुई लग सकती है या उसमें खुजली भी हो सकती है। इससे नाक में अधिक बलगम भी बन सकती है। यही नहीं, इससे और भी कई समस्याएं हो सकती हैं। सामान्य नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) इस प्रकार हैं :

    और पढ़ें : Allergy Rhinitis: नाक में एलर्जी की समस्या का घरेलू इलाज क्या है?

    जो लक्षण बाद में विकसित होते हैं वो इस प्रकार हैं:

    • नेजल कंजेशन (Nasal Congestion)
    • खांसी (Coughing)
    • कानों का बंद होना और सूंघने की क्षमता का घटना (Clogged Ears and Decreased Sense of Smell)
    • गले में खराश (Sore Throat)
    • आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स (Dark Circles under the Eyes)
    • आंखों के नीचे सूजन (Puffiness Under the Eyes)
    • थकावट और चिड़चिड़ापन (Fatigue and Irritability)
    • सिरदर्द (Headache)

    Nasal Allergy Symptoms

    ऐसे नेजल एलर्जी सिम्पटम्स जिन्हें हमें कभी इग्नोर नहीं करना चाहिए? (Nasal Allergy Symptoms)

    अगर आपको नेजल एलर्जीज हैं तो आपको पूरा दिन छींक आना और नोज कंजेशन की समस्या हो सकती है। कई बार हम इसे सामान्य सर्दी-जुकाम समझ लेते हैं। लेकिन, अगर एलर्जी के इन लक्षणों का उपचार जल्दी न कराया जाए, तो यह समय के साथ बदतर होते जाते हैं। कुछ ऐसे नेजल एलर्जी सिम्पटम्स यानी नाक की एलर्जी के लक्षण हैं जिन्हें आपको कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। यह लक्षण इस प्रकार हैं :

    और पढ़ें : इस एलर्जी के लक्षणों को न करें सर्दी के लक्षण समझने की भूल!

    नाक का बंद होना या बहना (Stuffy, Runny Nose)

    अगर आपका नाक बंद है या बह रहा है तो यह नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) में से एक हो सकता है। नाक के बंद होने से प्रभावित व्यक्ति की नींद खराब हो सकती है। अगर नाक लगातार बह रहा हो तो आप रोजाना के कार्य भी अच्छे से नहीं कर पाएंगे। इस समस्या के उपचार का अच्छा तरीका है, जिस कारण से यह समस्या हो रही है पहले उसका उपचार करना। जिन एलर्जेंस से आपको यह परेशानी हो रही हैं, उनसे दूर रहने की कोशिश करें। अगर आपको यह नहीं पता है कि इस समस्या का कारण कौन से एलर्जेंस हैं, तो आप डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं।

    छींक आना (Sneezing)

    छींक आना भी नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) में से मुख्य है। यह नेजल एलर्जी की गंभीरता पर निर्भर करता है कि आप लगातार छींक की समस्या का अनुभव करते हैं या यह छींक आपको कभी-कभी होती है। लगातार छींक आने से आपका रोजाना का जीवन प्रभावित हो सकता है। इस स्थिति से बचने के लिए भी आपको एलर्जेंस को नजरअंदाज करना चाहिए। अगर आप उन एलर्जेंस को नजरअंदाज नहीं कर पा रहे हैं तो ओवर-द काउंटर एंटीहिस्टामिन (Over-the-Counter Antihistamine) इस परेशानी से राहत पाने में आपकी मदद कर सकते हैं। इससे भी अगर आपको फायदा न हो, तो डॉक्टर आपको नेजल स्टेरॉयड स्प्रे (Nasal Steroid Spray) की सलाह दे सकते हैं।

    और पढ़ें : इतनी तरह के एलर्जीस का शिकार हो सकते हैं आप, क्या जानते थे ये बात?

    सायनस प्रेशर (Sinus Pressure)

    सायनस हमारे माथे, गालों और आंखों के बीचे की छोटी कैविटीज होती है। नाक की एलर्जी सायनस में बलगम बना सकती है और आंखों, गालों और माथे में में दबाव या दर्द पैदा कर सकती है। डीहायड्रेशन और एलर्जेंस दोनों के मिलने से सायनस पैसेज सूखा हो जाता है, जिससे चेहरे में दर्द हो सकती है। आप एक गर्म और गीला कपडा अपने चेहरे पर लगा कर सायनस प्रेशर को कम कर सकते हैं या इसके लिए आप स्टीम भी ले सकते हैं। अगर आप एक हफ्ते या इससे भी अधिक समय तक सायनस का दर्द या दबाव महसूस करें तो अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

    आंखों में खुजली और पानी आना (Itchy and Watery Eyes)

    एलर्जेंस जैसे परागकण, धूल-मिट्टी या जानवरों की रुसी के संपर्क में आने से आपको आंखों में खुजली हो सकती है। इसके साथ ही आंखें लाल भी हो सकती हैं और आंखों में पानी भी आ सकता है। हालांकि नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) में से यह लक्षण अधिक गंभीर नहीं होते। लेकिन इसके कारण होने वाली आंखों में परेशानी चिंता का विषय हो सकती है। इस खुजली और आंखों में पानी आने की समस्या को कम करने के लिए जब भी आप घर से बाहर निकलते हुए हमेशा सनग्लासेस का प्रयोग करें। आंखों को मलने से भी बचें। आंखों को आराम पहुंचाने के लिए आप ओवर-द -काउंटर या डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवा या ऑय ड्रॉप्स भी ले सकते हैं, जिनमें एंटीहिस्टामिन हो। इससे आपको इस लक्षण से आराम पाने में मदद मिलेगी।

    और पढ़ें : कहीं ये आपका छींकना, खांसना या गले में खराश का कारण बिल्ली से एलर्जी तो नहीं!

    पोस्टनेजल ड्रिप (Postnasal Drip)

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) में अगला है पोस्टनेजल ड्रिप। पोस्टनासल ड्रिप तब होती है जब नाक के पिछले हिस्से से गले तक बलगम टपकता है। इसके कारण गले में दर्द और परेशानी हो सकती है। यही नहीं, पोस्टनेजल ड्रिप के कारण खांसी भी बढ़ सकती है, जो नेजल एलर्जी का एक और सामान्य लक्षण है। अधिक पानी और तरल पदार्थों का सेवन करने से बलगम को पतला करने के साथ ही पोस्टनेजल ड्रिप से भी आराम मिलता है।

    खांसी (Coughing)

    एलर्जेंस के संपर्क में आने पर फेफड़ों में समस्या होना भी सामान्य है। इसके कारण खांसी भी हो सकती है। कई लोगों में खांसी की समस्या कम होती है तो कुछ में अधिक। इस समस्या का रिस्क कम करने के लिए आपको ट्रेवलिंग के समय सुरक्षा के लिए ब्रीदिंग मास्क पहनना चाहिए। हवा वाले दिनों में अपने दरवाजों और खिड़कियों को बंद रखें, ताकि एलर्जेंस घर के अंदर न आ पाएं।

    और पढ़ें : एग से है एलर्जी? तो कोई बात नहीं! अब अंडा नहीं डायट में इन्हें करें शामिल

    नेजल एलर्जी का उपचार कैसे किया जाता है? (Treatment of Nasal Allergy Symptoms)

    यह तो थे नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms)। नेजल एलर्जी के निदान के लिए डॉक्टर सबसे पहले रोगी से लक्षणों के बारे में जानते है और शारीरिक जांच भी की जा सकती है। इसके साथ ही कुछ टेस्ट्स की सलाह भी दी जाती है जैसे स्किन टेस्ट (Skin Test) या ब्लड टेस्ट आदि। नेजल एलर्जी से बचने के लिए सबसे बेहतरीन है उन चीजों से बचना जो इस समस्या का कारण बनते हैं। लेकिन ऐसा करना हमेशा संभव नहीं है। इसलिए, ओवर-द-काउंटर या डॉक्टर की सलाह के बाद कुछ दवाइयां ली जा सकती हैं, जैसे:

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स

    एलर्जेन के रिमूव होने या एलर्जी के उपचार के बाद नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) पूरी तरह से दूर हो जाते हैं। इसलिए, अगर आपको यह समस्या है तो अपने डॉक्टर से सलाह लें। कई लोगों को इन दवाइयों से भी आराम नहीं मिलता है। ऐसे में इम्यूनोथेरेपी (Immunotherapy) का प्रयोग किया जाता है, जो एक लॉन्ग टर्म उपचार है।

    योग और स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी के लिए क्लिक करें:

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स से बचाव कैसे करें? (Prevention for Nasal Allergy Symptoms)

    और पढ़ें : कहीं आपको भी तो नहीं लेटेक्स एलर्जी?

    नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) से बचने का सबसे बेहतरीन उपाय है, उन एलर्जेंस से दूर रहना जो आपकी इस परेशानी का कारण हैं। इसके अलावा आपको अपनी और अपने आसपास की साफ-सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए। अपने हाथों को बार-बार साबुन और पानी से धोते रहें। अगर आपको जानवरों से एलर्जी है तो अपने पालतू जानवरों को अपने बेडरूम में न आने दें और हो सके तो उससे दूरी बना कर रखें। परागकणों के मौसम में अपने घर की खिड़कियों को बंद रखें। इसके साथ ही संतुलित और पौष्टिक आहार खाएं, व्यायाम करें, तनाव से बचें, अधिक पानी पीएं और पर्याप्त नींद लें। इससे भी आपको नेजल एलर्जी सिम्पटम्स से राहत पाने में मदद मिलेगी और इसके साथ ही आप स्वस्थ भी रहेंगे।

    मेयो फाउंडेशन फॉर मेडिकल एजुकेशन और रिसर्च (Mayo Foundation for Medical Education and Research) के अनुसार नाक का बंद होना या बहना, छींक आना, खांसी, गले में बलगम आदि नेजल एलर्जी सिम्पटम्स (Nasal Allergy Symptoms) में मुख्य हैं। लेकिन अगर आपके लक्षण गंभीर हों या आपको दवाइयां और आराम करने से कोई फर्क न पड़ रहा हो या आपको इन दवाइयां से कोई साइड इफेक्ट हो रहा हो, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Understanding Nasal Allergies.https://www.fairview.org/patient-education/83614 .Accessed on 20/5/21

    Rhinitis (Nasal Allergies). https://www.aafa.org/rhinitis-nasal-allergy-hayfever/ .Accessed on 20/5/21

    Allergic Rhinitis. https://acaai.org/allergies/types/hay-fever-rhinitis .Accessed on 20/5/21

    Allergic rhinitis. https://medlineplus.gov/ency/article/000813.htm .Accessed on 20/5/21

    Nonallergic rhinitis. https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/nonallergic-rhinitis/symptoms-causes/syc-20351229  .Accessed on 20/5/21

    Allergic Rhinitis (Hay Fever). https://my.clevelandclinic.org/health/diseases/8622-allergic-rhinitis-hay-fever .Accessed on 20/5/21

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/05/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड