बच्चों के लिए अंडरवियर नियम, ताकि बाल यौन शोषण से रहें सावधान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट मई 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

अपने बच्चों को बाल यौन शोषण (Child Sexual Abuse) से बचाना हर माता-पिता का कर्तव्य होता है। चूंकि हम एक ऐसे हालात भरे स्थिति में रहते हैं, जहां न सिर्फ किशोर बल्कि नवजात शिशुओं से लेकर छोटे बच्चे भी यौन शोषण का शिकार हो सकते हैं। यहां यौन शोषण की घटनाएं आए दिन खबरों में सुर्खियां बटोरती हैं। इसलिए हमें इस तरह की आक्रामकता के खिलाफ बच्चों की सुरक्षा के लिए लगातार सतर्क रहने की जरूरत है इसके लिए हर पेरेंट‌स ने बच्चों को अंडरवियर नियम (Underwear Rules) बता सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः शिशु को तैरना सिखाने के होते हैं कई फायदे, जानें किस उम्र से सिखाएं और क्यों

बाल यौन शोषण के खिलाफ अंडरवियर नियम क्यों खास हो सकता है?

बच्चे अंडरवियर नियम से कैसे खुद को बाल यौन शोषण से सुरक्षित रख सकते हैं, इसके बारे में बहुत ही कम माता-पिता को जानकारी होगी। हालांकि, शहरी माता-पिता इस अंडरवियर नियम से वाकिफ हो सकते हैं। क्योंकि, कई स्कूलों में भी छोटे बच्चों को बाल यौन शोषण से बचाव करने के लिए उन्हें अंडरवियर नियम सिखाएं जाते हैं। साथ ही, कैसे माता-पिता अपने बच्चों को अंडरवियर रूल्स के बारे में बाते बता सकते हैं, इसकी भी ट्रेनिंग कई स्कूल बच्चों के अभिभावकों को देती है।

बायोटेक सेक्टर में एसोसिएट रंजन कुमार मिश्रा कहते हैं “आए दिन जिस प्रकार कई जगहों से लगातार यौन शोषण और बलात्कार की घटनाएं आती रहती हैं, उसे देखते हुए हमें अपने बच्चों के सुरक्षा के प्रति चेतावनी को गंभीरता से लेना चाहिए। हमें अपने बच्चे को “अंडरवियर रूल्स” के बारे में सिखाना चाहिए, जो उन्हें यौन शोषण के खिलाफ खुद का बचाव करने के लिए एक कवच की तरह काम आ सकता है। अंडरवियर नियम माता-पिता को अपने बच्चों को यह समझाने में मदद करता है कि कैसे वे आसानी से यौन शोषण के खिलाफ खुद का बचाव कर सकते हैं। ताकि, उनका आज और आने वाला कल सुरक्षित और खुशहाल बन सके।”

अंडरवियर नियम अपने बच्चे को कैसे समझाएं?

आप अपने बच्चे को अंडरवियर के नियम कैसे समझा सकते हैं, इसके लिए उन्हें सिर्फ कुछ बातों और इशारों के बारे में समझाना होगा, जिसमें शामिल हैंः

यह भी पढ़ेंः बच्चों की हैंड राइटिंग कैसे सुधारें?

अपने बच्चे को बताए कि उनके शरीर पर सिर्फ उनका हक है

अंडरवियर नियम माता-पिता द्वारा अपने बच्चों को यह सिखाने के इम्पोर्टेंस पर जोर देता है कि, उनके शरीर केवल उनके हैं, और कोई भी उन्हें खुद को छूने के लिए मजबूर नहीं कर सकता है। यह बच्चों को सिखाती है कि, शारीरिक संपर्क हमें केवल वही स्वीकार करना चाहिए जो वे चाहते हैं और जिस तरह से वे चाहते हैं। यह इस बात पर जोर देता है कि उन्हें कभी किसी और को नहीं छूना चाहिए, और किसी को भी उन्हें छूने का अधिकार नहीं है, खासकर उन हिस्सों में जो आमतौर पर उनके अंडरवियर द्वारा कवर किए जाते हैं।

साथ ही, इन बिंदुओं के बारे में भी अपने बच्चे को बताएंः

  • बच्चे को समझाएं कि उसके शरीर में कौन-कौन से प्राइवेट पार्ट हैं, जिसे कोई भी टच नहीं कर सकता है।
  • माता-पिता या घर के अन्य सदस्यों के अलावा कोई भी उनके कपड़े नहीं उतार सकता है। न ही उन्हें नहलाने की जिद कर सकता है।
  • बच्चे को बताएं कि, उनके शरीर की साफ-सफाई करते समय घर के सदस्य उनके प्राइवेट प्रार्ट की भी सफाई कर सकते हैं।
  • बच्चे को बताएं कि कभी-कभी जरूरत के मुताबिक डॉक्टर उनके प्राइवेट पार्ट का चेकअप कर सकते हैं, जो उनके स्वास्थ्य की जांच करने के लिए जरूरी हो सकता है।

बच्चों के लिए यह सीखना आवश्यक है कि वे उन लोगों से कैसे बचें जिनसे वे सहज महसूस नहीं करते हैं। विनम्र होने के अलावा, उन्हें ना कहना सीखना चाहिए और ऐसे लोगों से रास्ता निकालना चाहिए जो उन्हें अनुचित तरीके से अप्रोच करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ेंः बच्चों के लिए टिकटॉक कितना सुरक्षित है? पेरेंट्स जान लें ये बातें

खेलने का अच्छा तरीका और खेलने का बुरा तरीका

खेल के दौरान बच्चों के शरीर आपस में टकराते रहते हैं। खेल के मैदान से लेकर स्कूल तक बच्चों को शरीर के उन हिस्सों के बारे में पता होना चाहिए, जिन्हें कोई भी नहीं छू सकता है। इसलिए हमें उनके बारे में खुले तौर पर यह सिखाना चाहिए कि उनके निजी अंग क्या हैं और नाम क्या हैं? ऐसा करने के लिए कहने पर भी उन्हें अपना निजी हिस्सा दूसरों को नहीं दिखाना चाहिए। उन्हें बताएं कि कभी भी अन्य लोगों को अपने जननांगों को दिखाने या उन्हें स्पर्श करने की परमिशन न दें। आपको उन्हें यह बताना चाहिए कि पेरेंट्स या जो भी उनकी देखभाल करने के लिए हैं, केवल नहाने के समय में उन क्षेत्रों को धोते हैं और उन्हें शरीर के बाकी हिस्सों की तरह ही धोया जाना चाहिए। 

अच्छे रहस्य, बुरे रहस्य

बच्चे को एक अच्छे रहस्य और एक बुरे रहस्य के बीच अंतर पता होना चाहिए। अंडरवियर रूल उन्हें उस ज्ञान का महत्व सिखाता है। एक बुरे रहस्य में एक बच्चे के जननांग या किसी और के जननांग शामिल हैं। बुरे रहस्यों में कोई अनुचित व्यवहार भी शामिल होता है जो उन्हें असहज महसूस कराता है। 

यह भी पढ़ेंः बच्चों की नींद के घरेलू नुस्खे: जानें क्या करें क्या न करें

क्या है बुरा रहस्य

एक बुरा रहस्य वह है जो माता-पिता से छिपा हुआ है, क्योंकि यह वयस्कों और बच्चों के बीच शारीरिक संपर्क से संबंधित है। उन्हें कभी भी मॉम या डैड से कोई बुरा रहस्य/अनुभव नहीं छुपाना चाहिए।बच्चों को यह पता होना चाहिए कि बुरे रहस्य हमेशा पेरेंट्स को बताए जाने चाहिए। 

सावधानी के तौर पर हमेशा रेडी रहें

अंडरवियर नियम को चाइल्ड एब्यूज की घटना के बाद सिखाने का कोई मतलब नहीं है। बच्चे के साथ दुर्व्यवहार और अनहोनी की प्रयास किये जाने का इन्जार न करके इस प्रकार के यौन शोषण से बचने के लिए इसे शुरुआत से ही हथियार के रूप में उपयोग किया जाना चाहिए।

बाल यौन शोषण एक दर्दनाक घटना है और यह मनोवैज्ञानिक परिणाम छोड़ता है जो जीवन भर रहता है। आपको इसे ध्यान में रखना चाहिए।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ेंः-

बच्चे की करियर काउंसलिंग करते समय किन बातों का रखना चाहिए ध्यान?

जानें स्पेशल चाइल्ड को होम स्कूलिंग देना कैसे है मददगार

बच्चों का झूठ बोलना बन जाता है पेरेंट्स का सिरदर्द, डांटें नहीं समझाएं

नवजात शिशु की नींद के पैटर्न को अपने शेड्यूल के हिसाब से बदलें

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

लेस्बियन सेक्स कैसे होता है? जानें शुरू से लेकर अंत तक

लेस्बियन सेक्स के बारे में हमारे बीच काफी अज्ञानता और भ्रम स्थापित है। लेस्बियन पार्टनर कैसे सेक्स करते हैं और क्या इसमें प्रेग्नेंट हो सकते हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal

सेक्स के दौरान वीर्य स्खलन की मर्यादा (इजैक्युलेशन) को कैसे बढ़ाएं? 

सह सेक्स क्या है, वीर्य स्खलन की मर्यादा को कैसे बढ़ाएं, सीमन इजैकुलेशन कितनी बार होता है, सह सेक्स में सीमन कितने बार निकलता है, Cum Sex semen Ejaculation.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

पहली बार गुदा मैथुन करने जा रहे हैं तो जान लें जरूरी बातें

पहली बार गुदा मैथुन करने पर क्या दर्द होता है, क्या पहली बार गुदा मैथुन करने से ब्लीडिंग हो सकती है, पहली बार एनल सेक्स कैसे करें, First time Anal sex pain FAQ.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

क्या आपको भी सेक्स करते समय महसूस होता है योनि का कसाव?

योनि का कसाव क्या है, योनि का कसाव इन हिंदी, योनि कस महसूस होने से कैसे राहत पाएं, वजायनिजम्स, टाइट वजायना से कैसे आराम पाएं, tight vagina vaginismus

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

Recommended for you

कॉन्डोमलेस सेक्स - Condomless Sex

कॉन्डोमलेस सेक्स के क्या होते हैं रिस्क, बीमारियों से बचाव के लिए यह जानना है जरूरी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 9 मिनट में पढ़ें
क्यों मुझे सेक्स करने का मन करता है

क्यों सेक्स करने का मन करता है, जानें पुरुषों-महिलाओं में आखिर क्यों जगती है यह फीलिंग्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 10, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
Horny - हॉर्नी

हॉर्नी होना क्या है? क्या यह कोई समस्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
प्रकाशित हुआ जून 30, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
What is Oral sex - ओरल सेक्स क्या है

ओरल सेक्स क्या है? युवाओं को क्यों है पसंद?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
प्रकाशित हुआ जून 30, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें