23 महीने के बच्चे की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट May 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

विकास और व्यवहार

मेरे 23 महीने के बच्चे को अभी क्या-क्या गतिविधियां करनी चाहिए?

अगर आपका बच्चा 23 महीने का हो चुका है, तो समझ लिजिए कि वह जीवन के शुरुआती पड़ाव को पार कर चुका है। साथ ही यह भी समझें कि यह उम्र बच्चे के विकास के लिए अहम है। साथ ही वे इस उम्र में जीवन के लिए महत्वपूर्ण दो चीजें सिख रहे होते हैं, जो हैं चलना और बोलना। काफी बच्चे इस में तोड़-तोड़ कर बोलना और लड़खड़ा कर चलना शुरू कर चुके होते हैं।

23 महीने के बच्चे अब एक दिन में दस नए शब्द सीख सकते है। यहां कुछ लैंग्वेज स्किल्स (भाषा कौशल) बताए गए हैं जिनकी उम्मीद आप अपने लगभग दो साल के बच्चे से कर सकते हैः

  • दो से तीन शब्दों वाले वाक्य बनाना (चिड़िया उड़ती है)
  • आसान गाने गाना
  • आसान आदेशों का पालन करना
  • सर्वनाम का प्रयोग लेकिन, जरुरी नहीं वह हमेशा सही हो (मैं ‘यह करता हूं’ कि जगह बोलेगा ‘मैं करता हूं’)
  • बातचीत में सुने शब्दों को दोहराना
  • लोगों, चीजों और शरीर के अंगों के नाम की पहचान

यदि ऐसा लगता है कि आपके बच्चे का विकास धीमा हो रहा है, खासतौर से पहले साल की तुलना में। पहले साल में बच्चे का वजन जन्म से करीब तीन गुना बढ़ जाता है जबकि दूसरे साल में सिर्फ 1.4 किलो से 2.2 किलो तक ही बढ़ता है। अब आपका बच्चा शिशु की तरह नहीं दिखता। अब वह बिल्कुल सीधा खड़ा रहता है, चलता है और सक्रिय हो जाता है।

वह अपने शरीर को जिस तरह से रखता है और घुमाता है उसका तरीका भी बदल गया होता है। उसकी आगे-पीछे की चाल पहले की तुलना में ज्यादा अच्छी हो गई है। दो साल का बच्चा खिलौने को उठाकर चल सकता है, दौड़ सकता है। आपका बच्चा उन सभी जगहों पर जाने लगता है जिसके बारे में आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। वह स्टूल, टेबल या काउंटर पर खड़ा हो जाता है, किचन के कंटेनर खोल सकता और बाथरूम में अकेला जाकर पानी की बाल्टी जैसी खतरनाक जगहों पर भी बड़ी तेजी से जा सकता है इसलिए बच्चे का ध्यान रखें।

यह भी पढ़ें : मोटे बच्चे का जन्म क्या नॉर्मल डिलिवरी में खड़ी करता है परेशानी?

23 महीने के बच्चे को अब किन चीजों के लिए तैयार करना चाहिए ?

बच्चे को बोलने और ज्यादा शब्दों के इस्तेमाल के लिए प्रेरित करें, निम्न तरीकों से आप बच्चे की मदद कर सकते हैं-

  • अपने 23 महीने के बच्चे के लिए आप ढेर सारी किताबें पढ़ें। इससे बच्चे को नए-नए शब्द सीखने में मदद मिलेगी।
  • बच्चे के बोले हुए शब्दों से वाक्य बनाएं। जैसे यदि वह कहता है ‘ज्यादा दूध’ तो आप कहें ‘तुम्हें इस कप में और दूध चाहिए।’
  • जब आप बच्चे के साथ पढ़ते हैं, तो किताब के बारे में कोई सवाल करके उसके विकास को प्रोत्साहित कर सकते हैं। आप किताब में दी गई किसी तस्वीर को दिखाकर उससे पूछ सकते हैं कि यह क्या है?
  • जब बच्चे के साथ कहीं बाहर जाएं, तो रास्ते में दिखने वाली चीजों के बारे में उसे बता सकते हैं कि वह क्या है।
  • बच्चे के साथ बातें करना बहुत जरूरी है, तब भी जब आपको लगे कि सिर्फ आप ही बोल रही हैं, बच्चा जवाब नहीं दे रहा।

23 महीने के बच्चे के लिए डॉक्टर के पास कब जाएं?

23 महीने के बच्चे से जुड़े किन विषयों पर डॉक्टर से बात करनी चाहिए?

हर बच्चे का विकास अलग-अलग होता है। आपको तभी चिंता करने की जरुरत है जब बच्चे का व्यवहार, खाने और सोने की आदतें अचानक से बदल जाएं। इन सबके बारे में डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है, तब भी जब आपको यह बदलाव मामूली लगें।

23 महीने के बच्चे के बारे में डॉक्टर को क्या बताएं?

आप देख सकते हैं कि आपके बच्चे को सेपरेशन एंग्ज़ाइटी यानी आपसे अलग होने का डर सताता रहता है। ऐसा कुछ समय के लिए होता फिर स्थिति सामान्य हो जाती है। आपको पता होना चाहिए की यह सामान्य बात है। दरअसल, कुछ बातें ऐसी हैं जिससे बच्चे को आपसे अलग होने से डर लगता है, जैसे नई नैनी का आना, छोटे भाई/बहन का आना। 

इस स्थिति से निपटने के बेहतरीन तरीका है बच्चे को प्यार से बाय बोलना। कभी भी उसे बाय बोले बिना न जाएं, इससे स्थिति बिगड़ सकती है। बच्चे को लगेगा कि आप उसे छोड़कर चली गई हैं और उसकी सेपरेशन एंग्ज़ाइटी और बढ़ जाएगी। यदि आपको बच्चे की स्थिति में कोई सुधार न दिखे तो इस बारे में डॉक्टर की बताएं, हो सकता है वह इससे निपटने का कुछ तरीका बताए।

अपने 23 महीने के बच्चे से क्या उम्मीद करें?

मुझे अपने 23 महीने के बच्चे के स्वास्थ्य से जुड़ी क्या चिंताएं करनी चाहिए?

आप पब्लिक प्लेस में बच्चे की नौटंकी को लेकर परेशान हो सकती हैं। खासतौर पर सुपरमार्केट व रेस्टोरेंट में। आप बच्चे के गुस्सा और नखरे का पहले से अनुमान नहीं लगा सकती हैं। कई बार आपको लगता होगा कि इन सब पर आपका कोई कंट्रोल नहीं है लेकिन, यह सामान्य बात है। ऐसे में बच्चे को प्यार से समझाएं कि उनका व्यवहार सही नहीं है, हो सकता है शुरुआत में वह बात न समझे लेकिन, धीरे-धीरे उन्हें समझ आ जाएगा कि उन्हें अपना व्यवहार सुधारने की जरूरत है।

थकान या भूख लगने पर गुस्सा आ सकता है। यदि आपके बच्चे के साथ भी ऐसा होता है, तो उसके नखरे और गुस्से को कम करने के लिए पहले से ही इंतजाम कर लें। आप अपने बैग में कुछ खाने-पीने की चीजे रख सकती हैं और याद रखिए बच्चे के लिए दोपहर की नींद भी जरूरी है।

यह भी पढ़ें: Say Cheese! बच्चे की फोटोग्राफी करते समय ध्यान रखें ये बातें

23 महीने के बच्चे के लिए फूड

23 महीने के बच्चे को खाना खिलाने के लिए पेरेंट्स को खासी मेहनत करनी पड़ सकती है। क्योंकि इस समय तक बच्चे चलने लगते हैं और खाना खाते समय यहां वहां घूमते हैं। ऐसे में पेरेंट्स को किसी हाई चेयर पर बिठा कर बच्चों को खाना खिलाने की जरूरत होती है। इस उम्र के बच्चों को ज्यादा देर तक एक जगह बिठाना मुश्किल होता है क्योंकि उनका धैर्य जल्दी टूट जाता है। साथ ही इस बात का भी ख्याल रखें कि बच्चों को सर्व करने से पहले ज्यादा इंतजार न कराएं। साथ ही यदि बच्चे का खाने का मन न हो तो उसे खाने के लिए फोर्स न करें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें :

Child Tantrums: बच्चों के नखरे का कारण कैसे जानें और इसे कैसे हैंडल करें

बच्चों को खड़े होना सीखाना है, तो कपड़ों का भी रखें ध्यान

बच्चों को मच्छरों या अन्य कीड़ों के डंक से ऐसे बचाएं

बनने वाले हैं पिता तो गर्भ में पल रहे बच्चे से बॉन्डिंग ऐसे बनाएं

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

डाउन सिंड्रोम की समस्या से जूझ रहे लोगों के सामने जानिए क्या होते हैं चैलेंजेस

डाउन सिंड्रोम की समस्या के कारण जहां बच्चों का शारिरिक और मानसिक विकास धीमा हो जाता है, वहीं उन्हें कई तरह के चैलेंजेस का सामना भी करना पड़ता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

अचानक दूसरों से ज्यादा ठंड लगना अक्सर सामान्य नहीं होता, ये है हाइपोथर्मिया का लक्षण

हाइपोथर्मिया क्या है, hypothermia in hindi, हाइपोथर्मिया का इलाज क्या है, ज्यादा ठंड लगने पर क्या करें, jyada thand lagne par kya karein, mujhe bahut thand lagti hai kya karun, ठंड कैसे भगाएं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
लक्षण, स्वास्थ्य January 29, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

बच्चों में फूड एलर्जी के कारण, बच्चों में फूड एलर्जी क्यों होता है, फूड एलर्जी के लिए क्या करें, कैसे पहचाने फूड एलर्जी kids Food Allergy, जानें और

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh

अपनी प्लेट उठाना और धन्यवाद कहना भी हैं टेबल मैनर्स

बच्चों को टेबल मैनर्स कैसे सिखाएं, Table Manners in kids, टेबल मैनर्स क्यों जरुरी है, बच्चों को बाहर खाना सिखाएं, क्यों सिखाएं बच्चों को बाहर खाना

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh

Recommended for you

Online Education- बच्चों के लिए ऑनलाइन एज्युकेशन

कोविड-19 के दौरान ऑनलाइन एज्युकेशन का बच्चों की सेहत पर क्या असर हो रहा है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ August 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
स्ट्रॉबेरी लेग्स

आपकी खूबसूरती को बिगाड़ सकते हैं स्ट्रॉबेरी लेग्स, जानें इसे दूर करने के घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
प्रकाशित हुआ April 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
शिशु को घमौरी-Baby Heat rash

जानें शिशु को घमौरी होने पर क्या करनी चाहिए?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
प्रकाशित हुआ April 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Roseola- रास्योला

Roseola: रोग रास्योला?

के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ April 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें