backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Traveler's diarrhea : ट्रैवेलर्स डायरिया क्या है? जानिए इसके कारण लक्षण और उपाय

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड डॉ. पूजा दाफळ · Hello Swasthya


Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 16/09/2020

Traveler's diarrhea : ट्रैवेलर्स डायरिया क्या है? जानिए इसके कारण लक्षण और उपाय

परिचय

ट्रैवेलर्स डायरिया या  पेट का इंफेक्शन क्या है ?

ट्रैवेलर्स डायरिया पेट का इंफेक्शन है, जो दूषित भोजन या पानी के कारण हो सकता है। यह समस्या उन लोगों में अधिक पायी जाती है जो विकसित देशों से दुनिया के विकासशील भागों में यात्रा करते हैं। इसी लिए इसे ट्रैवेलर्स डायरिया कहा जाता है। कुछ देशों जैसे अफ्रीका, एशिया, मिडिल ईस्ट और लैटिन अमेरिका में यह रोग होने का जोखिम अधिक है। जिन देशों में इस रोग के होने की संभावना कम है वो हैं ऑस्ट्रेलिया, जापान, नार्थ अमेरिका, सेंट्रल यूरोप आदि।

ऐसा पाया गया है कि ट्रैवेलर्स डायरिया खराब सार्वजनिक स्वच्छता वाली जगह में यात्रा करने के 10 दिनों के भीतर होता है। इस इंफेक्शन का जोखिम इस बात पर निर्भर करता है कि आपने कैसा खाना खाया या पानी पीया है। जैसे गर्म, पकाए हुए या सील्ड भोजन से इस रोग और इंफेक्शन के होने की संभावना कम होती है जबकि कच्ची सब्जियां, फल और नल का पानी पीने से इसकी संभावना बढ़ सकती है।

और पढ़ें: diarrhea: डायरिया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लक्षण

ट्रैवेलर्स डायरिया या  पेट का इंफेक्शन होने पर दिखते हैं ये लक्षण

ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या होने पर शरीर में विभिन्न प्रकार के परिवर्तन होते हैं और शरीर में कमजोरी महसूस होती है। जानिए क्या हैं ट्रैवेलर्स डायरिया के लक्षण,

अगर रोगी को बुखार, उल्टी और मल या बलगम में खून आये तो यह गंभीर स्थिति का प्रतीक हो सकता है। जिससे डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है।

और पढ़े : Antibiotic-associated diarrhea : एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त क्या है?

कारण

ट्रैवेलर्स डायरिया आमतौर पर बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होता है। बैक्टीरिया जैसे कैम्पिलोबैक्टर, शिगेला, साल्मोनेला आदि इसके मुख्य कारण हैं। यह बैक्टीरिया मनुष्य और पशुओं के मल में पाए जाते हैं। मनुष्य और पशुओं के मल से यह बैक्टीरिया पानी में पहुंचते हैं। इस दूषित पानी को पीने, खाने या सब्जियों को धोने या सिंचाई के लिए प्रयोग करने से यह बैक्टीरिया मनुष्य के शरीर में पहुंचते हैं और ट्रैवेलर्स डायरिया का कारण बनते हैं।

पानी और भोजन को मनुष्य इस तरह से संक्रमित करते हैं:

1) बाथरूम के प्रयोग के बाद हाथ का न धोना

2) खाने को असुरक्षित तरीके से स्टोर करना या पकाना

3) रसोई, खाना बनाने या बर्तनों को अच्छे से साफ़ न करना

बैक्टीरिया अधपके या कच्चे भोजन, दूषित भोजन या पानी के माध्यम से भी ट्रैवेलर्स डायरिया का कारण बनते हैं। आप

और पढ़ें : Bacterial Vaginal Infection : बैक्टीरियल वजायनल इंफेक्शन क्या है?

जोखिम

ऐसी संभावना अधिकतर विकासशील देशों में हो सकती है, जैसे:

  • अफ्रीका
  • एशिया
  • सेंट्रल और साउथ अमेरिका
  • मिडिल ईस्ट

अगर आप विकासशील देशों में यात्रा कर रहे हैं तो वहां के भोजन या खाने से आपको यह रोग हो सकता है, जैसे:

  • किसी ढेले से लेकर या स्ट्रीट फ़ूड खाना
  • किसी के घर का खाना
  • होटल में खाना

यह जोखिम और भी अधिक बढ़ जाता है, अगर:

  • आप अल्सर की कोई दवाई ले रहे हैं
  • आपकी गैस्ट्रोइंटेस्टिनल सर्जरी हुई हो
  • आपकी इम्युनिटी कमजोर है क्योंकि कमजोर इम्युनिटी होने पर इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है।
  • डायबिटीज, पेट दर्द रोग या लिवर संबंधी समस्याएं हों।  

ट्रैवेलर्स डायरिया कुछ ही दिनों में खुद ही ठीक हो जाता है। इससे डिहाइड्रेशन हो सकती है जो बहुत ही खतरनाक है खासतौर पर बच्चों के लिए। हालांकि, यह अक्सर संक्रामक होता है, और एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में हो सकता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में डायरिया होने पर आजमाएं ये घरेलू नुस्खे

उपचार

अगर ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या एक या तीन दिन तक ठीक न हो, बल्कि अधिक बढ़ जाएं तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। डॉक्टर को अपनी यात्राओं के बारे में अवश्य बताएं। डॉक्टर आपसे लक्षणों और अन्य मेडिकल स्वास्थ्य के बारे में पूछेंगे।

शारीरिक जांच

  • डॉक्टर रोगी की शारीरिक जांच करेंगे। जिसमें तापमान की जांच या पेट को छू कर या पेट में दबाव बनाना शामिल है।
  • वो आपको मल जांच के लिए भी कह सकते हैं ताकि जान पाएं कि कहीं उसमे परजीवी तो नहीं हैं।
  • इंफेक्शन की जांच के लिए ब्लड टेस्ट कराया जा सकता है।  इसके बाद यह भी जांचा जाएगा कि डायरिया के कारण आपको डिहाइड्रेशन तो नहीं हो गयी है।
  • हल्का डायरिया

    उपचार डायरिया के कारणों पर निर्भर करता है। अगर डायरिया हल्का है तो घरेलू उपाय या दर्द दूर करने वाली दवाईयों आदि से इसका इलाज किया जा सकता है।

    • अगर आपको डायरिया है तो अपना खाने-पीने का खास ध्यान रखें। इस दौरान कैफीन या अल्कोहल का सेवन न करें। इन्हे लेने से डिहाइड्रेशन हो सकती है। हालांकि, इस डायरिया के जल्दी उपचार के लिए जितना हो सके उतने अधिक तरल पदार्थों का सेवन करें।
    • जब भी आप यात्रा कर रहे हों, तब अपने साथ OTC ट्रीटमेंटस साथ में ले कर जाएं। बिस्मथ सबसालिसिलेट (Pepto-Bismol) हल्के ट्रैवेलर्स डायरिया की स्थिति में प्रभावी है। बॉक्स में दिए या डॉक्टर के निर्देशों के अनुसार ही इस दवाई को लें। डायरिया के इलाज के लिए दवा डॉक्टर की सलाह से ही लें।
    • इमोडियम जैसे एंटिमोटिलिटी एजेंटों का भी उपयोग किया जा सकता है, लेकिन इन्हे आपातकालीन स्थिति के लिए रखना आवश्यक है, जैसे हवाई जहाज की यात्रा के दौरान।

    और पढ़ें : Appendicitis: अपेंडिसाइटिस क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपचार

    गंभीर डायरिया

    अगर आपके घरेलू नुस्खे काम न कर रहे हों, तो डॉक्टर आपका आपकी बीमारी के कारणों के अनुसार उपचार कर सकते हैं। जैसे:

    • अगर आपको बैक्टीरियल इंफेक्शन हुआ है, तो वो आपको एंटीबायोटिकस दे सकते हैं जैसे डॉक्सीसाइक्लिन(Acticlate) या सिप्रोफ्लोक्सासिन (Cipro)।
    • अगर इसका कारण परजीवी है, तो डॉक्टर आपको ओरल एंटीपैरासिटिक दवाईयां दे सकते हैं। हालांकि, इसका उपचार भी इस बात पर निर्भर करता है कि आपको कौन सा इंफेक्शन हुआ है। आपको कई दिनों तक यह दवाई लेनी पड़ सकती है जब तक डॉक्टर यह सुनिश्चित नहीं कर लेते कि यह इंफेक्शन पूरी तरह से गया है या नहीं।
    • अगर ट्रैवेलर्स डायरिया के कारण डिहाइड्रेशन हो गयी है तो आपको इंट्रावेनस फ्लुइड्स (intravenous fluids ) दिए जा सकते हैं जिनमे ग्लूकोस या इलेक्ट्रोलाइट्स हों। डॉक्टर की ओर से डायरिया के इलाज के लिए दी गई दवा का सेवन जरूर करें।
    [mc4wp_form id=’183492″]

    घरेलू उपचार

    अगर आप किसी अन्य देश की यात्रा कर रहे हैं तो एक सामान्य नियम अपना लें कि कुछ भी खाने से पहले उसे उबाल लें, पका लें, उसे अच्छे से छील कर खाएं या फिर भूल जाएं। अगर आप इन टिप्स को अपनाते हैं तो आपको डायरिया होने की संभावना कम हो जाती है, जैसे:

    • स्ट्रीट फ़ूड या खुला खाना न खाएं।
    • दूध और डेयरी उत्पादों को खाने से बचे।
    • खाने को तभी खाएं जब वो अच्छे से पकाया गया हो और गर्म परोसा गया हो।
    • ऐसे फलों और सब्जियों को खाएं, जिन्हे आप खुद छील सकें जैसे केला, संतरा और एवोकाडो। ऐसे फलों या सलाद को खाने से बचें जिन्हे आप खुद न छील पाएं जैसे अंगूर और बेरीज।
    • ध्यान रखें कि अगर आप पेय में शराब ले रहे हैं तो उसमे दूषित पानी या बर्फ तो नहीं है।
    • नल का पानी न पीएं, अगर पीना पड़े तो उसे उबाल लें
    • लोकल मिलने वाले आइस क्यूब्स का प्रयोग न करें न ही जूस पीएं।
    • नहाते हुए भी मुंह बंद रखें ताकि पानी आपके मुंह के अंदर न जाए।
    • बंद या बोतल वाले पानी और पेय पदार्थों का सेवन करें।
    • इस बात का ध्यान रखें कि आप जिन बर्तनों का उपयोग कर रहे हैं वो साफ़ और सूखे हुए हों।
    • हमेशा खाना खाने से पहले हाथ धोए या अल्कोहल वाले हैंड सेनिटाइज़र का प्रयोग करें।
    • बच्चों को कोई भी चीज मुंह में न डालने दें जैसे गंदे हाथ।

    उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अगर आपको डायरिया की समस्या हो गई है तो तुरंत डॉक्टर से जांच कराएं। आशा है कि आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ट्रैवेलर्स डायरिया के बारे में अहम जानकारी मिली होगी। अगर आपको इस विषय में अधिक जानकारी चाहिए तो डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। आप स्वास्थ्य संबंधि अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

    डॉ. पूजा दाफळ

    · Hello Swasthya


    Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 16/09/2020

    ad iconadvertisement

    Was this article helpful?

    ad iconadvertisement
    ad iconadvertisement