home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

लिवर की सफाई से जुड़े ये मिथ आपको जरूर जानने चाहिए!

लिवर की सफाई से जुड़े ये मिथ आपको जरूर जानने चाहिए!

लिवर (Liver) शरीर का बड़ा और महत्वपूर्ण ऑर्गन है। लिवर के माध्यम से शरीर में एक या दो नहीं बल्कि 500 से ज्यादा महत्वपूर्ण काम होते हैं। उनमें से एक जरूरी काम है टॉक्सिन्स का डिटॉक्सीफिकेशन (detoxification)और न्यूट्रालाइजेशन। लिवर डायजेस्टिव सिस्टम का अहम भाग होता है। अगर आपका लिवर सही तरह से काम नहीं करेगा, तो शरीर में टॉक्सिंस बढ़ सकते हैं और साथ ही कई बीमारियां भी घेर सकती हैं। लिवर को साफ करने के लिए बाजार में कई तरह के उत्पाद मौजूद हैं, जो ये दावा करते हैं कि प्रोडक्ट यूज करने से न केवल आपका लिवर साफ होगा बल्कि कई बीमारियों का अंत हो जाएगा। हो सकता है कि आपने भी लिवर की सफाई के संबंध में कई बातें सुनी होंगी। ये सच ये कि लिवर की सफाई के लिए कुछ फूड्स इस्तेमाल किए जाते हैं लेकिन इस संबंध में लोगों के बीच बहुत-सी गलत अवधारणाएं भी हैं। कुछ गलत अवधारणाएं जैसे कि बाजार के प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर वजन तेजी से कम किया जा सकता है या फिर ये प्रोडक्ट आपको लिवर डिजीज से बचाते हैं आदि मिथ आपकी सेहत के साथ खिलवाड़ कर सकते हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको लिवर की सफाई से जुड़े मिथ और फैक्ट के बारे में जानकारी देंगे। आपको ये समझने में आसानी होगी कि लिवर की सफाई कैसे की जा सकती हैं और इनसे जुड़ी किन गलत बातों को इग्नोर करना चाहिए?

और पढ़ें: लिवर रोग का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानिए दवा और प्रभाव

लिवर की सफाई (Liver Cleanse) से जुड़े मिथ और फैक्ट

लिवर की सफाई को लेकर लोगों के मन में बहुत से सवाल हो सकते हैं। लिवर को साफ करने के लिए घरेलू उपाय किए जा सकते हैं लेकिन झूठी अफवाहों पर यकीन करके आप अपने लिवर को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। जानिए लिवर की सफाई से जुड़े मिथ और फैक्ट के बारे में।

मिथ – लिवर की सफाई के लिए मार्केट प्रोडक्ट पर पूरी तरह से भरोसा किया जा सकता है।

फैक्ट – लिवर की सफाई से जुड़े मिथ में ये गलत धारणा बहुत आम है। बाजार में लिवर की सफाई से जुड़े प्रोडेक्ट और ओवर -द-काउंटर दवाएं मिलती हैं, जो कि क्लीनिकल ट्रायल टेस्ट से नहीं गुजरती हैं और न ही फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन से रेगुलेट होती हैं। यानी ये कहना गलत होगा कि लिवर की सफाई से जुड़े प्रोडक्ट सौ प्रतिशत काम करते हैं। अगर बिना डॉक्टर की सलाह के ऐसे किसी भी प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया जाता है, तो ये शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं।

डिटॉक्स लिवर के लिए ये प्रोडक्ट पहुंचा सकते हैं फायदा

डिटॉक्स लिवर फूड्स

मिल्क थिस्ल (Milk thistle) एक औषधीय पौधा है, जो लिवर के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है। इस पौधे के बीच के जूस को पीने से लिवर संबंधी समस्याएं जैसे कि लिवर में सूजन, सिरोसिस आदि समस्याओं में बचा जा सकता है। इसके बीज में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लामेट्री प्रॉपर्टी पाई जाती है, जो लिवर की जलन को कम करने का काम करती हैं।

इसी तरह से हल्दी यानी टर्मरिक भी लिवर डिजीज को कम करने का काम करती है। हल्दी में एंटी इंफ्लामेट्री प्रॉपर्टी होती है। हल्दी का सेवन करने से आपको कई रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। आप चाहे तो टर्मरिक सप्लीमेंट भी ले सकते हैं। बेहतर होगा कि आप बिना डॉक्टर से परामर्श करें कोई भी दवा न खाएं।

और पढ़ें: लिवर फाइब्रोसिस (Liver Fibrosis) क्या है? जानिए इसके कारण और लक्षण

मिथ- लिवर डिटॉक्स करने वाले प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर वेट कम किया जा सकता है।

फैक्ट – लिवर की सफाई के लिए उपयोग की जाने वाली डायट से वेट लॉस हो, ये जरूरी नहीं है। लिवर डिटॉक्स डायट लेने से मेटाबॉलिज्म कम हो सकता है। मेटाबॉलिज्म की रफ्तार धीमी पड़ने से वेट बढ़ता है। हो सकता है कि लिवर डिटॉक्स डायट लेने से फ्लूड लॉस हुआ हो लेकिन वेट लॉस का इससे कोई संबंध नहीं है। रोजाना ली जाने वाली कैलोरी का यूज और डायट की क्वालिटी पर अगर ध्यान दिया जाए, तो वेट कम किया जा सकता है। कैलोरी बर्न करने के लिए एक्सरसाइज की जा सकती है। आपको खाने में हाई क्वालिटी फूड्स जैसे कि वेजीटेबल्स, फ्रूट्स, अनरिफाइंड व्होल ग्रेन, हेल्दी फैट्स और प्रोटीन लेनी चाहिए। हाई क्वालिटी अनप्रोसेस्ड फूड्स (high-quality unprocessed foods) का सेवन वजन कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं। बेहतर होगा कि आप मिथ पर विश्वास न करें और वजन कम करने का सही तरीका अपनाएं। किसी भी फूड का अधिक मात्रा में सेवन करना भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

मिथ – लिवर डिटॉक्स डायट लेने से लिवर डिजीज से बचा जा सकता है।

फैक्ट – लिवर की सफाई से जुड़े मिथ में ये आम धारणा है कि डिटॉक्स डायट लिवर की बीमारियों से बचा सकती है। अभी तक ऐसा कोई भी सुबूत नहीं मिला है, जिसमें ये कहा जा सकते हैं कि लिवर डिटॉक्स डायट लेने से लिवर की बीमारियां खत्म हो जाती है। आपको सुनकर हैरानी हो सकती है कि लिवर में चार या पांच नहीं बल्कि सौ तरह की बीमारियां हो सकती हैं। कुछ कॉमन डिजीज जैसे कि हेपेटाइटिस ए, बी और सी (hepatitis A, B, and C), एल्कोहॉल से संबंधित लिवर डिजीज (alcohol-related liver disease), नॉन एल्कोहॉल लिवर डिजीज आदि मुख्य डिजीज हैं। आपको बताते चले कि अधिक एल्कोहॉल का सेवन करने से लिवर की बीमारियां अधिक होती हैं। कुछ जेनेटिक फैक्टर्स या फैमिली हिस्ट्री भी लिवर डिजीज के रिस्क फैक्टर को बढ़ाने का काम करती है।

और पढ़ें: कहीं आप भी हार्ट बर्न और एसिड रिफलेक्स को एक समझने की गलती तो नहीं कर रहे?

लिवर की सफाई (Liver Cleanse) के लिए अपना सकते हैं ये उपाय

हेल्दी लिवर हेल्दी लाइफस्टाइल पर पूरी तरह से निर्भर करता है। अगर आप खानपान का ध्यान नहीं रखते हैं या फिर शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले फूड्स का सेवन करते हैं, तो आपका लिवर हेल्दी नहीं रह सकता है। लिवर में बनने वाले टॉक्सिंस को कम करने के लिए डिटॉक्स लिवर डायट के साथ ही आपको कुछ बुरी आदतों में सुधार करने की भी जरूरत है। जानिए किन बातों का ध्यान रख आप लिवर को हेल्दी बना सकते हैं।

  • आपको खाने में अधिक शुगर एवॉयड करनी चाहिए। शुगर का अधिक सेवन करने से शरीर में इंसुलिन का लेवल बिगड़ सकता है। टेबल शुगर और एडेड शुगर की जगह आप नैचुरल शुगर जैसे कि फलों से प्राप्त होने वाली मिठास आदि का सेवन अधिक करें।
  • पानी सिर्फ प्यास बुझाने का काम नहीं करता है बल्कि ये शरीर से विषैले पदार्थों को भी बाहर करने का काम करता है। आप एक दिन दो से ढाई लीटर पानी पी सकते हैं। अधिक मात्रा में पानी पीना भी आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। आप चाहे तो इस बारे में डॉक्टर से भी राय ले सकते हैं।
  • खाने में पोषक तत्वों को शामिल करें। आप खाने में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई आदि से भरपूर खाने को शामिल करें। लहसुन, हल्दी, ग्रेन, फ्रेश फ्रूट्स और वेजीटेबल्स आदि को रोजाना लें। ये फूड्स आपकी इम्युनिटी को भी बढ़ाने का काम करेंगे।
  • लिवर के लिए एल्कोहॉल जहर का काम करती है। जब एल्कोहॉल की अधिक मात्रा का सेवन किया जाता है, तो लिवर डैमेज की संभावना बढ़ जाती है। एल्कोहॉल की थोड़ी सी मात्रा शरीर को फायदा पहुंचा सकती है लेकिन इसके नुकसान अधिक होते हैं। अगर आपने एल्कोहॉल का सेवन किया है, तो एसिटामिनोफेन दवा बिल्कुल भी न लें।
  • गलत दवाओं का सेवन आपके लिवर के स्वास्थ्य पर बुरा असर डाल सकता है। जब भी दवा लें, डॉक्टर से जरूर पूछ लें। एसिडिटी की दवाओं का अधिक सेवन भी लिवर में समस्या पैदा कर सकता है।
  • हेपेटाइटिस ( Hepatitis) से बचाव के लिए वैक्सीनेशन जरूर कराएं। हेपेटाइटिस लिवर की बीमारी और वायरस के कारण होती है। ब्लड में हेपेटाइटिस वायरस हो सकता है। कभी भी दूसरे की इस्तेमाल की गई निडिल का प्रयोग न करें। टैटू बनवाते वक्त भी इस बात का ध्यान रखें।

और पढ़ें: गैस्ट्रोइंटेराइटिस की समस्या को करना है बाय, तो फॉलो करें ये ड्रिंक्स एंड डायट

लिवर क्लींजिंग डायट (liver cleansing diet) या लिवर डिटॉक्स डायट ( liver detox diet) शरीर को फायदा पहुंचाते हैं लेकिन लिवर क्लींजिंग प्रोडक्ट से आपको लाभ पहुंचेगा, ये कहना मुश्किल है। आपको किसी भी तरह के लिवर क्लींजिंग प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने से डॉक्टर से राय जरूर लें। अगर आपको लिवर की कोई भी समस्या है, तो डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। हम उम्मीद करते हैं कि आपको लिवर की सफाई से जुड़े मिथ संबंधित ये आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Detoxing your liver: Fact versus fiction hopkinsmedicine.org/health/articles-and-answers/prevention/detoxing-your-liver-fact-versus-fiction Accessed on 4/2/2021

The dubious practice of detoxhealth.harvard.edu/staying-healthy/the-dubious-practice-of-detox Accessed on 4/2/2021

Estimated calorie needs per day, by age, sex, and physical activity level.health.gov/dietaryguidelines/2015/guidelines/appendix-2/Accessed on 4/2/2021

Liver disease: Frequently asked questions.uihc.org/health-library/liver-disease-frequently-asked-questions Accessed on 4/2/2021

 Liver disease: Prevention.mayoclinic.org/diseases-conditions/liver-problems/basics/prevention/con-20025300 Accessed on 4/2/2021

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x