home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

लिवर एब्सेस: इस तरह से बचा जा सकता है लिवर की इस जानलेवा कंडिशन से!

लिवर एब्सेस: इस तरह से बचा जा सकता है लिवर की इस जानलेवा कंडिशन से!

लिवर हमारे शरीर का सबसे बड़ा सॉलिड ऑर्गन है, जो शरीर के ब्लड में से टॉक्सिन्स को रिमूव करता है। इसके साथ ही इसके अन्य कई महत्वपूर्ण काम भी हैं। जैसे लिवर हमारे खून के अधिकतर केमिकल लेवल्स को रेगुलेट करता है और इसके साथ ही बाइल जैसे प्रोडक्ट को उत्सर्जित करता है। हालांकि, लिवर संबंधी समस्याएं भी आम हैं। जिनमें से एक है लिवर एब्सेस (Liver abscess)। यह समस्या किसी को भी हो सकती है। अधिकतर लिवर एब्सेस (Liver abscess) बैक्टीरियल या परजीवी संक्रमण द्वारा होता है। समय पर निदान होने पर इसका उपचार संभव है। लेकिन, अगर सही समय पर ट्रीटमेंट न हो, तो यह समस्या गंभीर हो सकती है। आइए जानते हैं लिवर एब्सेस (Liver abscess) के बारे में विस्तार से:

लिवर एब्सेस क्या है? (Liver abscess)

लिवर, डायजेस्टिव सिस्टम का वो ऑर्गन है जो डायजेस्टिव प्रोसेस से सहायता करता है और अन्य कई जरूरी कामों को भी करता है। इन जरूरी कामों में फ़ूड को एनर्जी में ब्रेक डाउन में मदद करने वाले बाइल को प्रोड्यूस करना, महत्वपूर्ण चीजों जैसे हॉर्मोन्स का निर्माण करना, ब्लड से टॉक्सिन्स को निकालना, फैट की स्टोरेज को कंट्रोल करना आदि शामिल हैं। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) के अनुसार लिवर एब्सेस (Liver abscess) लिवर में पस से भरे हुए सिस्ट को कहा जाता है।

जैसा की पहले बताया गया है कि इस समस्या का उपचार जरूरी है। क्योंकि, अगर ऐसा न हो, तो उसके कारण सेप्सिस (Sepsis) हो सकता है, जो एक गंभीर ब्लड इंफेक्शन (Blood Infection) है। गंभीर लक्षण जैसे सांस लेने में समस्या, हाय फीवर, बेहोशी आदि की स्थिति में तुरंत मेडिकल हेल्प जरूरी हैं। आइए जानते हैं लिवर एब्सेस (Liver abscess) के लक्षणों के बारे में

और पढ़ें: लिवर कैंसर का इलाज : क्या सर्जरी ही है एकलौता उपाय?

लिवर एब्सेस के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) के लक्षण हर व्यक्ति के लिए अलग हो सकते हैं। हालांकि, यह समस्या गंभीर नहीं होती है लेकिन अगर एब्सेस ओपन हो और इंफेक्शन फ़ैल जाए, तो यह जानलेवा हो सकता है। यह समस्या अचानक होती है। ऐसे में आपको अगर इस रोग का कोई भी लक्षण नजर आएं, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। कई रोगी इस समस्या के कई लक्षणों को एक साथ महसूस करते हैं। लिवर एब्सेस (Liver abscess) के सबसे सामान्य लक्षण इस प्रकार हैं:

  • पेट में दर्द (Abdominal pain) : यह दर्द अधिकतर पेट के राइट अपर पोरशन में होता है
  • क्ले रंग का स्टूल (Clay-colored stools)
  • खांसी (Cough)
  • डार्क यूरिन (Dark urine)
  • डायरिया (Diarrhea)
  • बुखार और ठंड लगना (Fever or chills)
  • जोड़ों में दर्द (Joint pain)
  • भूख में कमी (Loss of appetite)
  • जी मचलना (Nausea)
  • प्लूरिसी चेस्ट पेन (Pleurisy chest pain)
  • पसीना आना (Sweating)
  • अचानक वजन कम होना (Unexplained weight loss)
  • पीलिया (jaundice)

गंभीर लक्षण (Severe Symptoms)

इस कंडिशन में कुछ जानलेवा लक्षण भी नजर आ सकते हैं। ऐसे में, तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना अवश्य हैं यह जानलेवा लक्षण किस प्रकार हैं, जानिए :

इनके अलावा भी आप अन्य लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं। इनके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से पूछ सकते हैं। अब जान लेते हैं लिवर एब्सेस (Liver abscess) के कारणों के बारे में।

और पढ़ें: अच्छे पाचन से लेकर हेल्दी लिवर तक, गन्ने का रस देता है कई स्वास्थ्यवर्धक फायदे!

लिवर एब्सेस के कारण (Causes of Liver abscess)

जैसा की आप जानते ही हैं कि किसी भी व्यक्ति को यह समस्या हो सकती है। यह समस्या ब्लड (Blood), गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम (Gastrointestinal system) या पेट में इंफेक्शन के कारण हो सकती है। यही नहीं, लिवर में किसी सर्जिकल प्रोसीजर या अन्य ट्रॉमा के कारण लगने वाली चोट के कारण भी यह समस्या हो सकती है। लिवर एब्सेस (Liver abscess) के इंफेक्शियस कारण इस प्रकार हैं:

लिवर एब्सेस के इंफेक्शियस कारण (Infectious causes of liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) निम्नलिखित इंफेक्शियस कारणों के कारण हो सकती है:

  • बाइल ड्रेनिंग ट्यूबज में बैक्टीरियल इंफेक्शन (Bacterial infection in Bile-draining tubes)
  • अपेंडिसाइटिस (Appendicitis), डायवर्टीकुलिटिस (diverticulitis) या परफोरेटेड बॉवेल (perforated bowel) से संबंधित पेट में बैक्टीरियल इंफेक्शंस (Bacterial infections)
  • ब्लडस्ट्रीम इंफेक्शंस (Bloodstream infections)
  • एटामोइबा हिस्टोलिटिका इंफेक्शन (Entamoeba histolytica infection)

और पढ़ें: डिलिवरी के दौरान की जाती है एपिसीओटॉमी की प्रोसेस, क्विज खेलकर आप बढ़ा सकते हैं नॉलेज

लिवर एब्सेस के ट्रॉमेटिक कारण (Traumatic causes of Liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) लिवर में सर्जिकल या डायग्नोस्टिक प्रोसीजर के कारण हो सकती है इसके साथ ही एक्सीडेंटल ट्रॉमा में यह सब शामिल हैं:

  • बाइल ड्रेनिंग ट्यूब की एंडोस्कोपी (Endoscopy of Bile-draining tubes)
  • लिवर का ट्रॉमा (Trauma to the Liver)

अब जानिए क्या हो सकते हैं इस रोग के रिस्क फैक्टर्स?

और पढ़ें: Liver diseases: अगर नहीं दिया इन बीमारियों के लक्षणों पर ध्यान, तो डैमेज हो सकता है लिवर

लिवर एब्सेस के रिस्क फैक्टर्स? (Risk factors of Liver abscess)

लिवर एब्सेस के जोखिम को बढ़ाने के लिए कई फैक्टर्स हैं। हालांकि, इन रिस्क फैक्टर्स से प्रभावित सभी लोगों को यह बीमारी होने की संभावना नहीं होती है। लेकिन, इनके बारे में जानकारी होना आवश्यक है। इस रोग के रिस्क फैक्टस इस प्रकार हैं:

  • क्रोहन’स रोग (Crohn’s disease)
  • पेट या गेस्ट्रोएंट्राइटिस इंफेक्शन (Primary abdominal or gastrointestinal infection)
  • डायबिटीज (Diabetes)
  • हाल ही में पेट की सर्जरी होना (Recent abdominal surgery)
  • बाइल ड्रेनिंग ट्यूबज की हाल ही में एंडोस्कोपी होना (Recent endoscopy of Bile-draining tubes)

अमीबिक लिवर एब्सेस के रिस्क फैक्टर्स इस प्रकार हैं (Risk factors for amoebic liver abscess):

ऐसी जगह पर ट्रेवल करना जहां अमीबिक इंफेक्शंस सामान्य है। यह भी लिवर एब्सेस का एक रिस्क फैक्टर हो सकता है। जानिए, क्या हैं इस स्थिति से जुड़ी कॉम्प्लीकेशन्स?

लिवर एब्सेस

और पढ़ें: लिवर के लिए घातक हो सकती हैं ये मेडिसिंस, लेने से पहले जरूर लें जानकारी

लिवर एब्सेस से जुड़ी कॉम्प्लीकेशन्स (Complications of Liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) का सही तरीके से उपचार न करना या सही से इस समस्या को कंट्रोल न करने से होने वाली जटिलताओं के परिणाम भयंकर हो सकते हैं। ऐसे में आपको इसकी जटिलताओं के जोखिम से बचना चाहिए। इसके लिए सही उपचार कराएं। इस समस्या से जुड़ी कॉम्प्लीकेशन्स इस प्रकार हैं:

और पढ़ें: फैटी लिवर बीमारी को कम करने के लिए खाएं ये फूड्स

लिवर एब्सेस का निदान (Diagnosis of liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) के निदान के लिए डॉक्टर सबसे पहले रोगी से लक्षणों के बारे में जानेंगे। इसके बाद आपकी शारीरिक जांच भी की जा सकती है। यही नहीं, डॉक्टर रोगी के मेडिकल और स्वास्थ्य हिस्ट्री के बारे में भी जाना जाएगा। इसके साथ ही डॉक्टर रोगी को ब्लड कल्चर्स (Blood Cultures) और इमेजिंग टेस्ट्स (Imaging Tests) की सलाह दे सकते हैं। लिवर एब्सेस (Liver abscess) के निदान के लिए आपको यह टेस्ट्स की सलाह दी जा सकती है:

एब्सेस लीवर के निदान के बाद इसका उपचार संभव है। इस उपचार में दवाईयां, लाइफस्टाइल में बदलाव और सर्जरी आदि शामिल हैं। जानिए कैसे संभव है इस समस्या का उपचार?

लिवर एब्सेस का उपचार (Treatment of Liver abscess)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) का उपचार दवाईयों और सर्जिकल ड्रेनेज दोनों ही तरीकों से किया जा सकता है। अगर आपको अमीबिक लिवर एब्सेस (Liver abscess) की समस्या है, तो लिवर इंफेक्शन (Liver Infections) के ठीक होने के बाद भी आपको अन्य दवाईयों की सलाह दी जा सकती है। ताकि, फिर से यह समस्या होने के जोखिम को कम किया जा सके। एब्सेस को ड्रेन करने के लिए सर्जिकल ट्रीटमेंट (Surgical Treatment) की आवश्यकता भी हो सकती है। इसमें नीडल और स्मॉल ट्यूब को पेट के माध्यम से इंसर्ट किया जाता है। इस सर्जिकल प्रोसीजर को लेप्रोस्कोपी (Laparoscopy) या परक्यूटेनियस ड्रेनेज एंड एस्पिरेशन (Percutaneous drainage and aspiration) कहा जाता है।

और पढ़ें: शराब न पीने से भी हो सकती है नॉन एल्कोहॉलिक फैटी लिवर डिजीज

ओरल एंटीबायोटिक्स (Oral Antibiotics)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) के उपचार के लिए रोगी को कई विभिन्न एंटीबायोटिक्स भी दी जा सकती हैं। रोगी को कौन सी एंटीबायोटिक्स देनी हैं। यह बात,रोगी को इंफेक्शन कौन सा है और यह कितना गंभीर है इस पर निर्भर करती है। इसके उदाहरण इस प्रकार हैं:

  • एमिनोग्लाइकोसाइड (Aminoglycosides), जैसे एमिकासिन (Amikacin) या जेंटामाइसिन (Gentamicin)
  • क्लिंडामाइसिन (Clindamycin)
  • कॉम्बिनेशन पाइपेरासिलिन-टेजोबेकटम (Combination Piperacillin-Tazobactam)
  • मेट्रोनिडाजोल (Metronidazole)

सर्जरी और अन्य प्रोसीजर (Surgery and other Procedures)

लिवर एब्सेस (Liver abscess) के उपचार के लिए सर्जरी और अन्य प्रोसीजर का सहारा भी लिया जा सकता है, जो इस प्रकार हैं:

  • कैथेटर ड्रेनेज (Catheter drainage) वो प्रोसीजर है, जिसमे चीरा लगा कर कैथेटर के माध्यम से फ्लूइड को ड्रेन किया जा सकता है।
  • अगर एब्सेस बहुत बड़ा हो या आपको एक या एक से अधिक एब्सेस हो, तो सर्जरी की जरूरत हो सकती है।
  • अगर आपका एब्सेस फट जाएं, तो भी सर्जरी की जरूरत हो सकती है। अब जानते हैं कि इस समस्या के लक्षणों को कैसे मैनेज किया जा सकता है?

और पढ़ें: Fatty Liver : फैटी लिवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लिवर एब्सेस के लक्षणों को कैसे मैनेज किया जा सकता है?

लिवर एब्सेस (Liver abscess) को मैनेज करने के लिए आपको अपने जीवन में कुछ आसान बदलाव करने चाहिए। इससे न केवल इस रोग से राहत पाने बल्कि जल्दी रिकवर होने में भी आपको मदद मिलेगी। जानिए किस तरह से मैनेज किया जा सकता है इन लक्षणों को:

  • हेल्दी फूड्स का सेवन करें। अपने आहार में फल, सब्जियां, साबुत अनाज, लो फैट डेरी प्रोडक्ट, बीन्स, लीन मीट्स और फिश आदि को अवश्य शामिल करें। आपके लिए कौन सा आहार सही रहेगा, इसके लिए आप अपने डॉक्टर और डायटीशियन की सलाह भी ले सकते हैं।
  • एल्कोहॉल का सेवन न करें। क्योंकि, एल्कोहॉल लिवर को नुकसान पहुंचा सकता है और दूसरे एब्सेस का कारण बन सकता है। इसलिए, अगर आपको लिवर संबंधी कोई भी समस्या है, तो एल्कोहॉल का सेवन करने से बचें।
  • उचित व्यायाम करें। सही व्यायाम करने से आप कई हेल्थ समस्याओं से राहत पा सकते हैं। कौन सी एक्सरसाइज करना आपके लिए बेहतर होगा, इसके लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • तनाव से बचें। अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो आपके लिए तनाव से बचाव बेहद जरूरी है। क्योंकि, तनाव कई परेशानियों का मुख्य कारण है। इसके लिए योगा और मैडिटेशन करें व डॉक्टर की सलाह लें। तनाव से बचाव के साथ ही सही नींद लेना भी जरुरी है।

Quiz : पौष्टिक आहार सिर्फ आपको फिट ही नहीं खुश भी रखता है, कैसे? खेलें क्विज और जानें जवाब

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id=”typef_orm”, b=”https://embed.typeform.com/”; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,”script”); js.id=id; js.src=b+”embed.js”; q=gt.call(d,”script”)[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

और पढ़ें: फैटी लिवर के लिए होम्योपैथिक इलाज में शामिल 5 दवाओं के बारे में यहां जानें!

यह तो थी लिवर एब्सेस (Liver abscess) के बारे में जानकारी। यह एक जानलेवा स्थिति है। जिसमें सबसे पहले आपको इसके लक्षणों को पहचानना जरूरी है। अगर आपको इस समस्या का कोई भी लक्षण नजर आता है, तो तुरंत इसका उपचार कराएं। इसके साथ ही अपनी जीवनशैली में बदलाव, सही दवाईयों और डॉक्टर की सलाह का पालन करने के बाद आप इस समस्या से जल्दी राहत पा सकते हैं। उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Liver Abscess.https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK538230/ .Accessed on 31/8/21

liver abscess. https://medlineplus.gov/ency/article/000261.htm.Accessed on 31/8/21

liver abscess. https://www.mountsinai.org/health-library/diseases-conditions/pyogenic-liver-abscess .Accessed on 31/8/21

CT Appearance of Pyogenic Liver Abscesses Caused by Klebsiella pneumoniae. https://pubs.rsna.org/doi/10.1148/radiol.11101876 .Accessed on 31/8/21

Hepatic abscess.https://radiopaedia.org/articles/hepatic-abscess-1 .Accessed on 31/8/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x