home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट क्यों किया जाता है?

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट क्यों किया जाता है?

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट को आपके शरीर में शूगर लेवल (ग्लूकोज) को नापने के लिए किया जाता है। यह टेस्ट गर्भावस्था के दौरान ग्लूकोज परीक्षण के लिए किया जाता है क्योंकि इस समय गर्भावस्था के दौरान गर्भावधि मधुमेह(gestational diabetes) होने की आशंका होती है जिस कारण यह टेस्ट किया जाता है। ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट को दो पार्ट्स में किया जाता है। टेस्ट के दौरान आप सबसे पहले आप एक शक्कर का घोल पिएं। तकरीबन एक घंटे के बाद, आपकेबल्ड शूगर लेवल मापा जाता है। ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के परिणाम यह बताते है कि आपको गर्भावधि मधुमेह (gestational diabetes) हो सकता है या नहीं। यदि इस परीक्षण के परिणाम सामान्य से ऊपर हैं, तो इसका निदान कैसे किया जाएगा यह तय करने के लिए आपको आगे के टेस्ट से होकर गुजरना होता है। आइए ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के बारे में विस्तार से जानते हैं…

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट क्यों किया है? (Why did the glucose challenge test?)

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट गर्भावधि मधुमेह (gestational diabetes) के स्क्रीनिंग के लिए किया जाता है। यह टेस्ट आम तौर पर गर्भावस्था के 24 और 28 सप्ताह के बीच किया जाता है। हालांकि, यह आपकी डिलीवरी होने से पहले किया जाता है यदि आप ज्यादा मोटे हैं तो गर्भकालीन मधुमेह(gestational diabetes) होने के जोखिम आपके अंदर ज्यादा हैं या मधुमेह आपके परिवार हिस्ट्री में पहले होता आया है तो गर्भकालीन मधुमेह होने के जोखिम आपके लिए बढ़ जाते हैं। गर्भावस्था में असामान्य परीक्षण बजाय गर्भावधि मधुमेह के बल्कि ये परिणाम यह संकेत दे सकते हैं कि आपको पहले से मौजूद टाइप 2 मधुमेह है जो पहले पहचानी नहीं गई थी। ज्यादातर महिलाएं जिन्हें गर्भावधि मधुमेह है, वे स्वस्थ बच्चे देती हैं। हालांकि,बिना सावधानी के , गर्भावधि मधुमेह कई तरह की गर्भावस्था जटिलताओं को जन्म दे सकती है, जैसे कि प्रीक्लेम्पसिया (preeclampsia) या अतिरिक्त भ्रूण वृद्धि – ये बच्चे के जन्म की चोटों के जोखिम को बढ़ा सकती है या सी-सेक्शन डिलीवरी होने की भई संभावना हो सकती है।

और पढ़े डायबिटीज में फल को लेकर अगर हैं कंफ्यूज तो पढ़ें ये आर्टिकल

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट से आप क्या उम्मीद कर सकते हैं (What you can expect from glucose challenge test)

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट दो स्टेप में किया जाता है। सबसे पहले आप जब चेकअप के लिए जाएंगे तो वहां आपको एक सिरप ग्लूकोज घोल पीने के लिए दिया जाएगा जो लगभग 148 मिलीलीटर होगा जिसमें 50 ग्राम चीनी होती है। आपके ब्लड शुगर लेवल के टेस्ट के लिए आपको लैब में रहकर इंतजार करना होता है। लगभग एक घंटे बाद, आपकी बांह में एक बल्ड सैंपल्स लिया जाएगा। यह बल्ड सैंपल का उपयोग आपके बल्ड शुगर लेवल को मापने के लिए किया जाएगा। इस टेस्ट के बाद आप अपने रोज के काम पर आसानी से लौट सकते हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

टेस्ट के दौरान कैसा महसूस होता है (How does it feel during the test)

अधिकांश महिलाओं को ग्लूकोज टॉलरेंस टेस्ट से साइड इफेक्ट नहीं होते हैं। ग्लूकोज का घोल पीना बहुत मीठा सोडा पीने के समान है। ग्लूकोज का घोल पीने के बाद कुछ महिलाओं को मतली और अधिक पसीने की समस्या हो सकती है। इस परीक्षण से गंभीर दुष्प्रभाव बहुत ही असामान्य हैं।

और पढ़ें: ब्लड शुगर कैसे डायबिटीज को प्रभावित करती है? जानिए क्या हैं इसे संतुलित रखने के तरीके

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के परिणाम (Results of glucose challenge test)

  • आपको बता दें की ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के परिणाम मिलीग्राम प्रति डेसीलीटर (mg/dL) या मिलीमोल प्रति लीटर(mmol/L)में दिए जाते हैं।
  • 140 मिलीग्राम / डीएल (7.8 mmol/L) या उच्चतर के रक्त शर्करा का स्तर गर्भावधि मधुमेह का संकेत हो सकता है।
  • 140 मिलीग्राम / डीएल (7.8 mmol/L) से नीचे का बल्ड शूगर का स्तर सामान्य माना जाता है।
  • गर्भावधि मधुमेह के लिए स्क्रीनिंग करते समय कुछ क्लीनिक या लैब 130 mg / dL (7.2 mmol / L) की निचली सीमा का उपयोग करते हैं।
  • यदि आपके ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के परिणाम गर्भकालीन मधुमेह की संभावना को दिखाते हैं, तो आपका डॉक्टर निश्चित तौर पर एक दूसरा टेस्ट करने के लिए कहेगा।

और पढ़ें: क्या है इंसुलिन पंप, डायबिटीज से इसका क्या है संबंध, और इसे कैसे करना चाहिए इस्तेमाल?

टू वे टेस्टिंग का सामान्य परिणाम (Normal Results of TWO-STEP TESTING)

  • ज्यादातर मामले में ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के लिए एक सामान्य परिणाम बल्ड शूगर है जो ग्लूकोज घोल पीने के 1 घंटे बाद 140 मिलीग्राम / डीएल (7.8 mmol/L) के बराबर या उससे कम है। एक सामान्य परिणाम का मतलब है कि आपको गर्भावधि मधुमेह नहीं है। मिलीग्राम / डीएल का मतलब प्रति मिलीग्राम और मिमीोल / एल का मतलब है प्रति लीटर मिलीग्राम। रक्त में ग्लूकोज कितना है यह पता करने के लिए ये तरीके हैं।
  • यदि आपका रक्त ग्लूकोज 140 mg / dL (7.8 mmol / L) से अधिक है, तो अगला स्टेप मौखिक ग्लूकोज सहिष्णुता परीक्षण है। यह परीक्षण यह दिखाएगा कि क्या आपको गर्भावधि मधुमेह है। ज्यादातर महिलाएं (लगभग 2 में से 3) जो इस टेस्ट को लेती हैं उन्हें गर्भावधि मधुमेह नहीं होता है।

और पढ़े गर्भावस्था की पहली तिमाही में अपनाएं ये प्रेग्नेंसी डायट प्लान

वन वे टेस्टिंग (One way test)

इसमें यह पता चलता है की यदि आपके ग्लूकोज लेवल नीचे दिए गए असामान्य परिणामों से कम है, तो आपको गर्भावधि मधुमेह नहीं है। यदि ओरल ग्लूकोज टॉलरेंस टेस्ट में आपके बल्ड शूगर का केवल एक परिणाम सामान्य से अधिक है, तो आपका प्रदाता आपको खाने के कुछ खाद्य पदार्थों को बदलने का सुझाव दे सकता है। फिर, आपका आहार बदलने के बाद आपका प्रदाता आपको फिर से परीक्षण कर सकता है।यदि आपके बल्ड शूगर के एक से अधिक परिणाम सामान्य से अधिक हैं, तो आपको गर्भकालीन मधुमेह है।

और पढ़े बच्चे को डायबिटीज होने पर कैसे संभालें?

ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के जोखिम क्या हो सकते हैं (Risk of glucose challenge test)

आपके रक्त को लेने में थोड़ा जोखिम शामिल हो सकता है। नसों और धमनियों का आकार एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में और शरीर के एक तरफ से दूसरे हिस्से में भिन्न होता है। कुछ लोगों से बल्ड सैंपल लेना दूसरों की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है। बल्ड निकाले जाने से जुड़े अन्य जोखिम थोड़े हैं, लेकिन इसमें शामिल हो सकते हैं-

  • बेहोशी या लू लगना
  • अधिकतम खून बहना
  • नसों का पता लगाने के लिए कई जगह सूई लगाना
  • संक्रमण (त्वचा पर किसी तरह को इंफेक्शन होना)
  • हेमेटोमा (त्वचा के नीचे रक्त निकलना)

आपने इस आर्टिकल के माध्यम से ग्लूकोज चैलेंज टेस्ट के बारे में जाना। गर्भावस्था के दौरान ग्लूकोज परीक्षण के लिए इस टेस्ट को कैसे किया जाता है। इसके क्या जोखिम है। इन सब की जानकारी आपको मिल गई होगा। यदि आपको इस विषय में कोई भी जानकारी चाहिए हो तो बेहतर होगा कि एक बार अपने डॉक्टर से संपर्क करें। हमें उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। यदि इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट कब बता सकते हैं।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Glucose screening tests during pregnancy: https://medlineplus.gov/ency/article/007562.htm Accessed July 22, 2020

Single glucose challenge test procedure for diagnosis of gestational diabetes mellitus: a Jammu cohort study: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/24818340 Accessed July 22, 2020

Glucose challenge test: https://www.mayoclinic.org/tests-procedures/glucose-challenge-test/about/pac-20394277 Accessed July 22, 2020

The 75-Gram Glucose Load in Pregnancy: https://care.diabetesjournals.org/content/26/4/1206 Accessed July 22, 2020

Screening Glucose Challenge Test in Pregnancy Can Identify Women With an Adverse Postpartum Cardiovascular Risk Factor Profile: Implications for Cardiovascular Risk Reduction: https://www.ahajournals.org/doi/10.1161/JAHA.119.014231 Accessed July 22, 2020

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड