home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जानें मधुमेह के घरेलू उपाय क्या हैं?

जानें मधुमेह के घरेलू उपाय क्या हैं?

आज के इस आधुनिक परिवेश में जीवन शैली हर करवट बदल रही है। जो शरीर स्वस्थ तन और शांत मन का घर था अब वहाँ नयी-नयी बीमारियाँ दस्तक दे रहीं हैं। मधुमेह को ऐसी ही बीमारियों का मुखिया कहा जा सकता है। आधुनिक जीवनशैली में उपस्थित विसंगतियों ने मधुमेह को जन्म दिया है। मधुमेह यानी डायबिटीज का पूर्ण रूप से उपचार नहीं किया जा सकता पर उचित सतर्कता और परहेज़ आपको मधुमेह के दुष्प्रभावों से बचा सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ मधुमेह की दवाईयों के लम्बे प्रयोग से कई साइड-इफ़ेक्ट भी देखने को मिलते है। ऐसे में रोगी की चिंता तीन से तेरह हो जाती है। पर आज भी ऐसे कई मधुमेह के घरेलू उपाय हैं जो आपके ‘शुगर-स्तर‘ को नियंत्रण में ला सकते हैं।

क्या है मधुमेह (Diabetes) और क्या है उसके प्रकार?

मधुमेह के घरेलू उपाय

जब हमारे शरीर के पैंक्रियाज में इंसुलिन का पहुँचना कम हो जाता है तो खून में ग्लूकोज का स्तर बढ़ जाता है। इस स्थिति को मधुमेह कहा जाता है। मधुमेह हो जाने पर शरीर को भोजन से एनर्जी बनाने में कठिनाई होती है। इस स्थिति में ग्लूकोज का बढ़ा हुआ स्तर शरीर के विभिन्न अंगों को नुकसान पहुँचाना शुरू कर देता है। इसमें वंशानुगत को टाइप-1 और अनियमित जीवनशैली की वजह से होने वाले मधुमेह को टाइप-2 श्रेणी में रखा जाता है।

और पढ़ें : Diabetes insipidus : डायबिटीज इंसिपिडस क्या है ?

मधुमेह के घरेलू उपाय (Home remedies for Diabetes)

1.तांबे के बर्तन में पानी पीयें (Drinking Water in a Copper)

मधुमेह के घरेलू उपाय में सबसे पहले मधुमेह को नियंत्रित करने पर ध्यान दें। मधुमेह के घरेलू उपाय सबसे सरल और सटीक उपाय सुझाया जाता है वो है तांबे के बर्तन में पानी पीना। तांबा प्रयोग करने से कई स्वास्थ लाभ है जिसमें से एक मधुमेह नियंत्रण है। रात को सोने से पहले तांबे के जग या ग्लास में पानी भरकर रखे और प्रातः उठकर उसे पीयें। ऐसे करने से शरीर में मधुमेह के लक्षणों का नाश होता है।

2.स्वस्थ और पोषक आहार का सेवन करें (Healthy diet)

कार्बोहाइड्रेट युक्त खाना खाने से ही शरीर में ग्लूकोज का निर्माण होता है। मधुमेह के घरेलू उपाय कार्बोहाइड्रेट के अधिक सेवन से शरीर में शुगर का स्तर बढ़ जाता है। यदि हम कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन खाना कम कर दें इससे भी मधुमेह के नियंत्रण में बहुत मदद मिलेगी। हमें कार्बोहाइड्रेट की जगह फाइबर युक्त भोजन करना चाहिए।

और पढ़ें : बढ़ती उम्र और बढ़ता हुआ डायबिटीज का खतरा

3.पर्याप्त मात्रा में पानी पीए (Drinking water)

कई वैज्ञानिक अध्ययन में ये पाया गया है कि पानी पीने से खून में शुगर-स्तर को नियंत्रित करने में सहायता मिलती है। यह मधुमेह के घरेलू उपाय में से एक है। इसके अलावा, पर्याप्त पानी का सेवन डीहाईड्रेशन को रोकने और मूत्र के माध्यम से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में किडनी की मदद भी करता है।

4.तनाव पर करें नियंत्रण (Stress free)

यदि आप मधुमेह रोगी हैं तो तनाव आपके ब्लड शुगर स्तर को प्रभावित कर सकता है। जब हम तनाव में होते हैं, तो ग्लूकागन और कोर्टिसोल जैसे हॉर्मोन स्रावित होते हैं, जो बदले में, हमारे ब्लड शुगर स्तर को बढ़ाते हैं। यह कई विशेषज्ञों का सुझाव है कि तनाव को कम करने का सबसे अच्छा तरीका व्यायाम या नियमित रूप से ध्यान करना है।

5. दालचीनी (Cinnamon)

दालचीनी मधुमेह के घरेलू उपाय के लिए सबसे अच्छा विकल्प होता है। यह शरीर में नुकसानदायक कोलेस्ट्रॉल को कम करती है और खून में मधुमेह शर्करा (DIABETIC शुगर) को कम करती है। चुटकी भर दालचीनी पाउडर को उबाल कर उसकी चाय बना कर पीने से डायबिटीज को नियंत्रण में रखा जा सकता है। दरअसल दालचीनी में मौजूद 11 प्रतिशत पानी, 81 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट, 4 प्रतिशत प्रोटीन और 1 प्रतिशत फैट शरीर के लिए लाभकारी माना जाता है।

और पढ़ें : बच्चे को डायबिटीज होने पर कैसे संभालें?

6. करेला (Bitter gourd)

करेले को मधुमेह के घरेलू उपाय में सबसे अव्वल रखा जाता है। करेला में मौजूद पोषक तत्व रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम करने की खूबी रखता है। करेला पूरे शरीर में न केवल ग्लूकोज मेटाबोलिज्म को कम करता है बल्कि यह इंसुलिन को भी बढ़ाता है। रोजाना सुबह एक गिलास करेला का जूस पीना चाहिए। इसके अलावा अपने खाने में करेले से बनी सब्जी शामिल करके आप उसके ज्यादा से ज्यादा फायदे हासिल कर सकते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार करेले के सेवन से खून भी साफ होता है।

7. मेथी (Fenugreek)

मेथी को मधुमेह के घरेलू उपाय में बहुत इस्तेमाल किया जाता है। यह मधुमेह को नियंत्रित करने, ग्लूकोज सहनशीलता में सुधार लाने, रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और ग्लूकोज पर निर्भर इंसुलिन के स्राव को प्रोत्साहित करने में मदद करती है। शरीर में मौजूद ग्लूकोस लेवल को कम करने के लिए 2 चम्मच मेथी के दाने रात में भिगो कर रख दें और सुबह खली पेट उस पानी को बीज के साथ पी लें। मेथी के दानों एक पाउडर बना कर उसे ठंडे या गरम पानी के अलावा दूध के साथ भी पिया जा सकता है। दरअसल इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। कुछ अध्ययन में पाया गया है कि मेथी का सेवन करने से पेट में शुगर का अवशोषण कम हो जाता है और इंसुलिन उत्तेजित हो जाती है, जिससे डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। मेथी की खास बात यह है कि यह डायबिटीज के टाइप-1 और टाइप-2 दोनों में काम आती है।

और पढ़ें : Quiz : फिटनेस क्विज में हिस्सा लेकर डायबिटीज के बारे में सब कुछ जानें।

8. जामुन के बीज

जामुन के बीज पत्तियां और छाल में भी औषधीय गुण होते हैं। डायबिटीज के मरीजों के लिए इसे वरदान समान माना जाता है। जामुन के बीज भी डायबिटीज कंट्रोल करने में मददगार हैं। जामुन के बीज धो कर अच्छी तरह सूखा लें और अच्छी तरह सूख जाने पर उन्हें बारीक पीस कर पाउडर बना लें। रोजाना सुबह खाली पेट जामुन के बीजों के चूरन को गुनगुने पानी के साथ पीएं। ऐसा नियमित करने से डायबिटीज कंट्रोल में रहेगा।

9. एलोवेरा (Alovera)

एलोवेरा का नाम सुनते ही हम चेहरे और बालों से जुड़ी खूबसूरती बढ़ाने का बेहतर विकल्प मान लेते हैं लेकिन, यह डायबिटीज के मरीज के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जाता है। इसमें विटामिन सी से लेकर कई अन्य नेचुरल लैक्सेटिव पाया जाता है, जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। एलोवेरा का जूस डायबिटीज के अलावा कब्ज, मसूड़ों की परेशानी और साथ ही पेट के अल्सर जैसी बीमारियों से बचाता है।

मधुमेह के घरेलू उपाय से नियंत्रित करने के लिए इन उपायों का पालन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Natural Remedies for Type 2 Diabetes/https://www.stamfordhealth.org/healthflash-blog/integrative-medicine/type-2-diabetes-natural-remedies/Accessed on 20/12/2019

Insulin, Medicines, & Other Diabetes Treatments/https://www.niddk.nih.gov/Accessed on 20/12/2019

Diabetes Home Remedies: https://www.stamfordhealth.org/healthflash-blog/integrative-medicine/type-2-diabetes-natural-remedies/ Accessed July 03, 2020

Managing diabetes naturally: https://www.artofliving.org/in-en/ayurveda/ayurvedic-remedies/home-remedies-for-diabetes Accessed July 03, 2020

HOME REMEDIES FOR DIABETES: https://www.researchgate.net/publication/327200331_A_REVIEW_HOME_REMEDIES_FOR_DIABETES Accessed July 03, 2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित
अपडेटेड 10/07/2019
x