home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Thyroid Nodules : थायरॉइड नोड्यूल क्या है?

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम|उपचार| घरेलू उपाय
Thyroid Nodules : थायरॉइड नोड्यूल क्या है?

परिचय

थायरॉइड नोड्यूल (Thyroid Nodules) क्या है?

थायरॉइड नोड्यूल (Thyroid Nodules) ठोस या तरल पदार्थ से भरे गांठ होते हैं जो शरीर के थायरॉयड के भीतर बनते हैं। थायरॉइड गर्दन के मध्य में स्थिति एक छोटी ग्रंथि होती है।

थायरॉइड नोड्यूल के लक्षण बहुत ज्यादा गंभीर नहीं माने जाते हैं। क्योंकि, इसकी वजह से थायरॉइड कैंसर होने का खतरा सिर्फ एक फीसदी ही होता है।

अक्सर लोगों को थायरॉयड नोड्यूल का पता नहीं चलता है जब तक कि डाॅक्टर इसकी जांच कर के पता नहीं लगाते हैं। कुछ थायरॉइड नोड्यूल्स, हालांकि, दिखाई देने या सांस लेने में मुश्किल होने के कारण काफी बड़े हो सकते हैं

कितना सामान्य है थायरॉइड नोड्यूल?

थायरॉइड नोड्यूल काफी आम हैं। थायरॉइड नोड्यूल्स पुरुषों की तुलना में महिलाओं में तीन गुना अधिक होता है। 30 साल की 30% महिलाओं में थायरॉइड नोड्यूल की समस्या पाई जाती है। जबकि, 40 पुरुषों में से किसी एक को ही थायरॉयड नोड्यूल होता है। ज्यादातर महिलाओं में 50 साल की उम्र तक थायरॉइड नोड्यूल की समस्या देखी जाती है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से बात करें।

यह भी पढ़ेंः थायरॉइड के बारे में वो बातें जो आपको जानना जरूरी हैं

लक्षण

थायरॉइड नोड्यूल के लक्षण क्या हैं?

अधिकांश थायरॉइड नोड्यूल्स के संकेत या लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। हालांकि, कभी-कभी, कुछ नोड्यूल इतने बड़े हो जाते हैं कि उन्हें:

कुछ मामलों में, थायरॉइड नोड्यूल्स अतिरिक्त थायरोक्सिन का उत्पादन करते हैं, जो थायरॉयड ग्रंथि द्वारा स्रावित एक हार्मोन होता है। अतिरिक्त थायरोक्सिन हाइपरथायरायडिज्म के लक्षण पैदा कर सकता है जैसे:

कुछ थायरॉइड नोड्यूल्स कैंसर के कारण भी बन सकते हैं, लेकिन यह निर्धारित करना कि कौन से नोड्यूल घातक हैं, वे इसके लक्षणों पर निर्भर कर सकता है। अधिकांश कैंसर थायरॉयड नोड्यूल धीमी गति से बढ़ते हैं। थायरॉयड कैंसर दुर्लभ हैं, लेकिन नोड्यूल के बढ़ने पर इसका जोखिम भी बढ़ सकता है।

इसके सभी लक्षण ऊपर नहीं बताएं गए हैं। अगर इससे जुड़े किसी भी संभावित लक्षणों के बारे में आपका कोई सवाल है, तो कृपया अपने डॉक्टर से बात करें।

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

अगर सांस लेने में तकलीफ, खाना निगलने में परेशानी या गले में सूजन के लक्षण दिखाई दें, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

अगर निम्न लक्षणों के संकेत मिलते हैं, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करेंः

  • अचानक वजन घटना
  • दिल की दड़कन तेज होना
  • नींद न आना
  • मांसपेशी में कमजोरी होना
  • घबराहट या चिड़चिड़ापन होना

यह भी पढ़ेंः Uterine Prolapse Surgery: यूटेराइन प्रोलैप्स सर्जरी

कारण

थायरॉइड नोड्यूल के क्या कारण हैं?

थायरॉइड नोड्यूल की अधिकांश समस्या सामान्य थायरॉयड ऊतकों में बहुत ज्यादा वृद्धि होने के कारण होते हैं। हालांकि, ऐसा इसके बढ़ने के कारण अज्ञात है।

दुर्लभ मामलों में, थायरॉयड नोड्यूल के साथ जुड़े होते हैं:

  • हाशिमोटो रोग, एक ऑटोइम्यून बीमारी जो हाइपोथायरायडिज्म को बढ़ावा दे सकती है
  • थायरॉयड की पुरानी सूजन
  • गलग्रंथि कैंसर
  • आयोडीन की कमी
  • सामान्य थायरॉयड ऊतक का अतिवृद्धि

यह भी पढ़ेंः नमक की इतनी ज्यादा वैरायटी कहीं कन्फ्यूज न कर दें

जोखिम

कौन सी स्थितियां थायरॉइड नोड्यूल के जोखिम को बढ़ा सकती हैं?

इन स्थितियों में आपको थायरॉइड नोड्यूल विकसित होने की अधिक संभावना हो सकती है:

  • बचपन में अपने थायरॉयड पर एक्स-रे करवाया हो
  • आपके पास एक थायरॉयड स्थिति है, जैसे कि थायरॉयडिटिस या हाशिमोटो की बीमारी
  • आपके पास थायरॉयड नोड्यूल का पारिवारिक इतिहास है
  • आपकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक है

महिलाओं में थायरॉइड नोड्यूल की समस्या अधिक आम हैं। हालांकि, पुरुषों में विकसित होने वाले अधिकतर थायरॉइड नोड्यूल कैंसर का कारण हो सकते हैं।

उपचार

यहां प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

थायरॉइड नोड्यूल का निदान कैसे किया जाता है?

गर्दन में अगर गांठ की स्थिति होती है, तो आपका डॉक्टर यह जानने का प्रयास करेंगे कि आपका थायरॉइड ठीक से काम कर रहा है या नहीं। इसके लिए कुछ जरूरी टेस्ट भी कर सकते हैंः

  • शारीरिक परिक्षणः थायरॉयड की जांच करने के दौरान डॉक्टर आपको खाना निगलने के लिए कहेंगे। इस दौरान थायरॉयड ग्रंथि में एक नोड्यूल आमतौर पर निगलने के दौरान ऊपर और नीचे चलेगा। आपका डॉक्टर हाइपरथायरायडिज्म के लक्षणों को भी देखेंगे, जैसे कंपकंपी, हमेशा चौंकन्ना रहना, सूखी त्वचा, चेहरे में सूजन या तेज या अनियमित दिल की धड़कन होना।
  • थायरॉइड फंक्शन टेस्टः इस टेस्ट के दौरान थायरोक्सिन और ट्राईआयोडोथायरोनिन के रक्त स्तर को मापा जाता है।
  • इमेजिंग टेस्टः इस टेस्ट की मदद से नोड्यूल्स के आकार और संरचना के बारे में जानकारी मिलती है।
  • फाइन-नीडल आप्रिएशन बायोप्सी (Fine-needle aspiration (FNA) biopsy): इससे यह सुनिश्चित किया जाता है कि कोई कैंसर के लक्षण मौजूद हैं नहीं। FNA बायोप्सी सामान्य और घातक थायरॉयड नोड्यूल्स के बीच अंतर करता है।
  • थायरॉइड स्कैनः थायरॉयड नोड्यूल का मूल्यांकन करने के लिए थायरॉयड स्कैन भी किया जा सकता है। इस परीक्षण के दौरान, रेडियोएक्टिव आयोडीन के एक आइसोटोप को बांह में एक नस में इंजेक्ट किया जाता है।

यह भी पढ़ेंः Adrenalectomy : एड्रिनलक्टॉमी सर्जरी क्या है?

थायरॉइड नोड्यूल का इलाज कैसे होता है?

इसके उपचार के विकल्प थायरॉइड नोड्यूल के आकार और प्रकार पर निर्भर करते हैं।

अगर यह कैंसर नहीं है, तो उसे बिल्कुल भी उपचार की आवश्यकता नहीं है। इसके बजाय, नियमित रूप से आपको अपने स्वास्थ्य की जांच या थायरॉइड अल्ट्रासाउंड के जरिए इसकी स्थिति की निगरानी करनी पड़ेगी।

सामान्य रूप में शुरू होने वाले नोड्यूल्स शायद ही कभी कैंसर का कारण बनता है।

अगर आपका नोड्यूल गर्म है या थायरॉइड हार्मोन को ओवरप्रोड्यूस कर रहा है, तो रेडियोएक्टिव आयोडीन या सर्जरी की मदद से इसका इलाज किया जा सकता है।

रेडियोएक्टिव आयोडीन या सर्जरी के विकल्प के रूप में, आपका एंडोक्रिनोलॉजिस्ट आपको सिंथेटिक थायरॉइड हार्मोन देकर आपके गर्म नोड्यूल का इलाज करेंगे।

अगर आपकी ग्रंथि में तरल पदार्थ भरा है, तो आपका एंडोक्रिनोलॉजिस्ट आपके नोड्यूल को निकालने के लिए फाइन नीडल आप्रिएशन का उपयोग कर सकते हैं।

थायराइड हार्मोन सप्रिशन थिरिपी। इसमें लेवोथायरोक्सिन (लेवोक्सिल, सिंथोइड, अन्य) के साथ एक सौम्य नोड्यूल का इलाज करना शामिल है, जो थायरोक्सिन का एक सिंथेटिक रूप है जिसे आप गोली के रूप में लेते हैं।

एन कुछ मामलों में, आपका डॉक्टर हाइपरथायरायडिज्म के लक्षणों को कम करने के लिए मेथिमाजाेल (टैपाज़ोल) जैसे एंटी-थॉयरायड की सलाह दे सकते हैं।

घरेलू उपाय

जीवनशैली में होने वाले बदलाव, जो मुझे थायरॉइड नोड्यूल को रोकने में मदद कर सकते हैं?

  • कोई विशिष्ट खाद्य पदार्थ या आहार पूरक नहीं हैं जो थायरॉइड विकारों के इलाज में मदद कर सकते हैं।
  • इसकी देखभाल के लिए जरूरी है कि सही मात्रा में उचित खाद्य पदार्थ खाएं।
  • मक्खन या फैट से भरपूर भोजन के बजाय कम वसा, कम कैलोरी के भोजन खाएं।
  • बहुत ज्यादा नमक के सेवन से बचें
  • केक, बिस्कुट, चॉकलेट जैसी मीठी चीजों का सेवन न करें
  • कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ, विटामिन डी की उच्च मात्रा लें।
  • अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो उसकी बेहतर समझ के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ेंः –

Colectomy Surgery : कोलेक्टमी सर्जरी क्या है?

Breast Lift : ब्रेस्ट लिफ्ट सर्जरी क्या है?

बिल्ली के रास्ता काटने से रास्ता बदल लेना चाहिए? जानिए 14 अंधविश्वास के वैज्ञानिक कारण

जिंदगी भर बना रहेगा रोमांस, कपल्स अपनाएं बस ये 7 रोमांटिक बेडरूम टिप्स

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What Causes Thyroid Nodules? https://www.healthline.com/symptom/thyroid-nodules. Accessed November 12, 2019.

Thyroid Nodules. https://www.endocrineweb.com/conditions/thyroid/thyroid-nodules. Accessed November 12, 2019.

Thyroid nodules. https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/thyroid-nodules/symptoms-causes/syc-20355262. Accessed November 12, 2019.

Thyroid and Diet Factsheet. http://www.btf-thyroid.org/information/108-thyroid-and-diet-factsheet. Accessed November 12, 2019.

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड