home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

क्या थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज होना सामान्य है?

क्या थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज होना सामान्य है?

गर्भावस्था का दौर कई पड़ावों से होकर गुजरता है। प्रेग्नेंसी के हर हफ्ते मां और गर्भ में पल रहे बच्चे के शारीरिक अवस्था में कई तरह के बदलाव होते रहते हैं। बच्चे का विकास कितना स्वस्थ हो रहा इसकी जानकारी मां के स्वास्थ्य और होने वाले शारीरिक बदलावों से ज्ञात किया जा सकता है। हालांकि, मां में होने वाले कुछ शारीरिक बदलाव कई बार परेशानी का कारण भी बन सकते हैं, जो कुछ स्थितियों में गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए जोखिम भरा भी हो सकता है। जिनमें थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) होना भी एक बड़ी समस्या हो सकती है।

थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) होना क्या है?

सामान्य तौर पर लड़कियों के पहले मासिक धर्म के बाद उन्हें व्हाइट डिस्चार्ज शुरू हो जाता है। व्हाइट डिस्चार्ज एक तरह का तरल सफेद पदार्थ होता है, जो महिलाओं की योनि से बहता है। यह सफेद पदार्थ हल्का पीला, भूरा और क्रीमी रंग का भी हो सकता है। कुछ मामलों में यह चिपचिपा, गाढ़ा और पतला भी हो सकता है। हालांकि, वाइट डिस्चार्ज किसी तरह की शारीरिक बीमारी नहीं होती है। वाइट डिस्चार्ज योनि को प्राकृतिक रूप से साफ रखने का कार्य करता है और सेक्स के दौरान योनि को चिकनाई प्रदान करने में भी मदद करता है। इसी तरह प्रेग्नेंसी के अलग-अलग ट्राइमेस्टर के दौरान भी व्हाइट डिस्चार्ज होना बहुत ही स्वाभाविक होता है। हालांकि, थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) होना क्या पूरी तरह से सुरक्षित है, इसके बारे में कई अलग-अलग बिंदुओं की भी जांच की जानकारी जरूरी होती है।

थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) कब होता है?

गर्भावस्था के तिमाही में सफेद पानी या व्हाइट डिस्चार्ज प्रसव का समय करीब होने पर हो सकता है जो सामान्य माना जाता है। इसके अलावा सभी गर्भवती महिलाओं की योनि से थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) का अनुभव भी हो सकता है। अगर थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) अधिक हो रहा हो, तो यह बच्चे के जन्म या किसी तरह के संक्रमण के कारण हो सकता है। हालांकि, ऐसी कई स्थितियां भी थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज के लिए जिम्मेदार हो सकती हैं, जिनमें शामिल हो सकती हैंः

और पढ़ेंः प्रेग्नेंसी में सूखा नारियल खाने के फायदे

हार्मोनल परिवर्तन

गर्भावस्था के दौरान एक महिला का शरीर कई तरह के हार्मोनल परिवर्तन से गुजरता है। ये हार्मोनल परिवर्तन गर्भावस्था के संकेत और लक्षणों के परिणामस्वरूप हो सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान या गर्भावस्था के थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) अगर हल्का और बिना बदबू वाला होता है, तो यह पूरी तरह से सामान्य हो सकता है। यह डिस्चार्ज महिलाओं के गर्भाशय ग्रीवा और योनि के स्राव और पुराने कोशिकाओं से बना होता है, इसमें कुछ हानिरहित बैक्टीरिया भी हो सकते हैं। आमतौर पर अगर प्रेग्नेंसी के दौरान महिला पूरी तरह से स्वस्थ है और थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज होने लगता है, तो इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसके प्रसव का समय बहुत ही नजदीक होता है।

थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) होने पर कब लें डॉक्टर की मदद?

अगर प्रेग्नेंसी के तीसरी तिमाही के दौरान होने वाला व्हाइट डिस्चार्ज पैंटी लाइनर्स के माध्यम से नहीं सूखता या बहुत व्हाइट डिस्चार्ज बहुत अधिक हो रहा है, जो बहुत गाढ़ा और चिपचिपा होने के साथ ही तेज बदबू वाला हो, तो ऐसी स्थिति में आपको तुरंत अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। अगर यह डिस्चार्ज प्रसव के समय के लिए हो रहा होगा, तो थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज के साथ हल्का रक्तस्राव भी हो सकता है। यह देखने में बलगम की तरह हो सकता है। जो यह संकेत देता है कि महिला का गर्भाशय ग्रीवा प्रसव की तैयारी में है। लेकिन, अगर यह तरल पदार्थ अचानक बहुत ज्यादा बहने लगता है, तो इसका मतलब हो सकता है कि गर्भाशय ग्रीवा में पानी की थैली टूट गई है। ऐसी स्थिति में आपताकाल की मदद लेनी चाहिए और जल्द से जल्द डॉक्टर को बुलाना चाहिए। डॉक्टर्स की मानें, तो ऐसी आपात स्थिति केवल 8 फीसदी गर्भवती महिलाओं में ही देखी जाती है।

और पढ़ेंः क्या प्रेग्नेंसी में रोना गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हो सकता है खतरनाक?

गर्भावस्था के थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज (White discharge in third trimester) से जुड़ी इन बातों का भी रखें ध्यान!

गर्भावस्था के तीसरी तिमाही में महिला के योनि से बहने वाला तरल पदार्थ कितना सुरक्षित है, इसकी सटीक जानकारी रखने के लिए महिला को कुछ जरूरी संकेतों पर गौर करना चाहिए, जिनमें शामिल हैंः

समय से पहले बच्चे का जन्म होना

  • व्हाइट डिस्चार्ज की मात्रा अचानक बढ़ जाती है
  • तरल पदार्थ अंडरवीयर से लीक हो रहा हो
  • तरल पदार्थ असामान्य रूप से बहुत ज्यादा गाढ़ा हो

गर्भाशय में संक्रमण के संकेत (Signs of uterine infection)

अगर योनि से बहने वाला तरल पदार्थ तेज गंध के साथ पतला और सफेद या भूरे रंग का हो, तो यह बैक्टीरिया संक्रमण के कारण हो सकता है। यह संक्रमण गर्भावस्था के दौरान सामान्य होता है। लेकिन अगर गर्भाशय में संक्रमण बढ़ जाता है, तो यह भी समय से पहले शिशु के जन्म का कारण बन सकता है। ऐसी स्थिति में इसका उपचार करना जरूरी होता है।

और पढ़ेंः क्रिप्टिक प्रेग्नेंसी क्या है? जाने आपके जीवन पर इसके प्रभाव

योनि संक्रमण (Vaginal infection)

अगर गर्भावस्था में थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज का रंग पीले या हरा रंग में है और इससे तेज बदबू आती हो साथ ही, योनि की त्वचा में लालिमा और खुजली की समस्या हो, या यूरिन पास करते समय जलन का अनुभव होता है, तो यह योनि इंफेक्शन की समस्या हो सकती है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करनी चाहिए। साथ ही, आपको अगर इसमें से कोई अनुभव होता है, तो पहले ही दिन आपको इस बारे में अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। ताकि, इंफेक्शन के खतरे को शुरूआती दौर में ही समाप्त किया जा सके।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान अल्फा फिटोप्रोटीन टेस्ट(अल्फा भ्रूणप्रोटीन परीक्षण) करने की जरूरत क्यों होती है?

प्रेग्नेंसी के दौरान व्हाइट डिस्चार्ज की समस्या से बचने के लिए क्या करें?

गर्भावस्था के दौरान या थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज की गंभीर समस्या साफ-सफाई से जुड़ी हो सकती है। इसलिए गर्भवती महिला को प्रेग्नेंसी के आखिर हफ्तों में कुछ सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए, जैसेः

  • योनि संक्रमण से बचने के लिए सार्वजनिक शौचालय का प्रयोग न करें।
  • योनि की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। किसी भी तरह के क्रीम या सॉप का इस्तेमाल योनि की साफ-सफाई के लिए न करें।
  • हमें सूखे और साफ कपड़े पहनें।
  • कॉटन के अंडर गार्मेंट्स पहनें। जिन्हें दिन में कम से कम दो बार बदलें।
  • यूरिन पास करने के बाद भी साफ पानी से योनि की सफाई करें।

यदि इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। हम उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 31/08/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड