backup og meta

दूसरे ट्राइमेस्टर के लिए ये है स्वादिष्ट गर्भावस्था रेसिपी

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Shruthi Shridhar


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/07/2020

दूसरे ट्राइमेस्टर के लिए ये है स्वादिष्ट गर्भावस्था रेसिपी

पौष्टिक और संतुलित आहार का सेवन हर किसी को करना चाहिए और जब गर्भावस्था की बात हो, तो आहार का विशेष ख्याल रखा जाता है। गर्भावस्था रेसिपी से आप ना केवल प्रेग्नेंट महिलाओं के टेस्ट बड्स को संतुष्ट कर सकते हैं बल्कि उनके लिए पौष्टिक खाना भी तैयार कर सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिला के साथ-साथ घर के और सदस्य भी इस वक्त महिला के खानपान का विशेष ख्याल रखते हैं। एक्सपर्ट इस दौरान ज्यादातर हेल्दी डायट अपनाने की सलाह देते हैं। इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि दूसरी तिमाही में गर्भवती महिलाएं क्या खाएं? और गर्भावस्था रेसिपी क्या होनी चाहिए?

और पढ़ें – क्या प्रेग्नेंसी में सपने कर रहे हैं आपको प्रभावित? तो पढ़ें ये आर्टिकल

सेकेंड ट्राइमेस्टर में प्रेग्नेंसी के दौरान क्या खाएं ?

प्रेग्नेंसी की दूसरी तिमाही में निम्नलिखित खाद्य पदार्थ और गर्भावस्था रेसिपी शामिल की जानी चाहिए:

1. साबुत अनाज

गर्भावस्था रेसिपी में सबसे खास और जरूरी है महिलाओं का साबुत अनाज जैसे गेहूं, बार्ली, बाजरा और रागी अपने आहार में नियमित रूप से शामिल करना। गेहूं, बार्ली, बाजरा और रागी से बनी रोटी का सेवन किया जा सकता है। इन सभी साबुत अनाज में फाइबर की प्रचुर मात्रा डायजेशन ठीक रखने के साथ-साथ प्रेग्नेंसी में होने वाले कब्ज की समस्या से भी दूर करता है। साबुत अनाज ना केवल प्रेग्नेंट महिलाओं को पोषण देता है बल्कि उन्हें अंदर से स्ट्रॉग करता है।

और पढ़ें – एक्टोपिक प्रेग्नेंसी क्यों बन जाती है जानलेवा?

साबुत अनाज से कैसे बनाएं गर्भावस्था रेसिपी ?

गेंहू, बार्ली, बाजरा और रागी को एक साथ मिलाकर इसमें स्वाद अनुसार नमक मिला लें, थोड़ा सा देसी घी, अजवाइन और बारीक कटा प्याज मिलाकर इसे अच्छी तरह गूंथ लें और फिर इससे बने गर्मागर्म पराठे खाएं। यह स्वादिष्ट और पौष्टिक दोनों ही होते हैं। आप चाहें तो इससे बनी रोटी भी खा सकती हैं। गर्भावस्था रेसिपी में साबुत अनाज से आप अलग-अलग डिश बना सकते हैं जो महिलाओं को काफी पसंद आती है।

[mc4wp_form id=’183492″]

2. दाल

मूंग, मसूर और तुअर दाल में प्रोटीन अत्यधिक मात्रा में मौजूद होता है। सही मात्रा में प्रोटीन के सेवन से शरीर स्वस्थ होता है और शरीर को नई ऊर्जा मिलती है। गर्भावस्था रेसिपी में दाल को जरूर शामिल करें क्योंकि इसमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है।

और पढ़ें – गर्भावस्था में पिता होते हैं बदलाव, एंजायटी के साथ ही सेक्शुअल लाइफ पर भी होता है असर

 दाल से बनाए स्वादिष्ट गर्भावस्था रेसिपी

किसी भी दाल को स्वादिष्ट बनाने के लिए दाल को कुकर में अच्छी तरह पका लें। अब इस दाल का जायका बढ़ाने के लिए इसे घी, जीरे, प्याज, टमाटर के साथ अच्छी तरह फ्राई कर लें। लंच और डिनर में नियमित रूप से एक-एक कटोरी दाल खाने की आदत डालें। यह मां और शिशु दोनों के लिए ही आवश्यक आहार है। आप चाहें तो दाल के पानी से आंटे को गूंथ सकती हैं और फिर इससे रोटी या पराठा बना सकती हैं। गर्भावस्था रेसिपी में दाल को किसी भी फॉर्म में शामिल करना मां और बच्चे दोनों के लिए बेहतरीन है।

और पढ़े – गर्भावस्था से ही बच्चे का दिमाग होगा तेज, जानिए कैसे?

3. डेयरी प्रोडक्ट्स

दूध, दही या पनीर से ने किसी भी गर्भावस्था रेसिपी को अपने आहार में रोजाना शामिल करें। इनमें मौजूद कैल्शियम, पोटैशियम, प्रोटीन और विटामिन-डी शरीर को स्ट्रॉन्ग रखने में मदद करते हैं। रात को सोते वक्त गुनगुने दूध का सेवन करें। रोजाना ताजे दही का सेवन दोपहर के खाने के साथ करें।

डेयरी प्रोडक्ट्स से कैसे बनाएं गर्भावस्था रेसिपी ?

पनीर की सब्जी की रेसिपी से तो हम सभी वाकिफ हैं लेकिन, कच्चे पनीर का सेवन भी किया जा सकता है। पनीर के छोटे-छोटे टुकड़े कर लें अब इनमें पसंदीदा फल जैसे केला, अनार, सेव या कोई और मौसमी फल मिला लें और फिर इसे खाएं। यह हेल्दी और आसान गर्भावस्था रेसिपी है।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन क्या सुरक्षित है? जानें इसके फायदे और नुकसान

4. हरी सब्जियां

गर्भावस्था रेसिपी में हर तरह की हरी सब्जियां शामिल करें। बाजार में मौजूद हरी सब्जियां जैसे पालक, ब्रॉकलीलौकी या भिंडी जैसी अन्य सब्जियों का सेवन नियमित रूप से करें। प्रेग्नेंसी के दौरान अत्यधिक मसाले वाले खाने से बचें। दिन और रात के खाने में एक-एक कटोरी हरी सब्जी जरूर खाएं। इन सब्जियों में विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन-के और फाइबर गर्भवती महिला को सेहतमंद रहने में मदद करते हैं।

हरी सब्जियां से कैसे बनाएं गर्भावस्था रेसिपी ?

हरी सब्जियां को अच्छी तरह धोकर इन्हें उबाल लें। आप इनमें अपनी पसंदीदा सब्जी का चयन कर सकती हैं। हरी सब्जियों का सूप बनाकर आप पी सकती हैं या फिर उन्हें आटे में मिलाएं और उनके परांठे बनाकर खाएं। गर्भावस्था रेसिपी में जिन महिलाओं को सूप पीना पसंद है उनके लिए यह और भी बेहतर है। जिन लोगों को खाने में हरी सब्जियां पसंद है वह इसका सलाद व सूप बना सकते हैं।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी के दौरान अल्फा फिटोप्रोटीन टेस्ट(अल्फा भ्रूणप्रोटीन परीक्षण) करने की जरूरत क्यों होती है?

5. फल

कहते हैं रोजाना एक सेब नियमित रूप से खाने से व्यक्ति स्वस्थ रहता है लेकिन, आप सेब के साथ-साथ अन्य फल जैसे संतरा, ड्रेगन फ्रूट, कीवी, अंगूर या फिर कोई मौसमी फल खा सकती हैं। सभी फलों में अलग-अलग तरह के विटामिन जैसे विटामिन-सी, विटामिन-ए, आयरन और पोटैशियम जैसे अन्य खनिज तत्व मौजूद होते हैं। शरीर को स्वस्थ रखने में ये विटामिन्स अत्यंत लाभकारी होते हैं। गर्भावस्था रेसिपी में फल को शामिल करने से आप ना केवल अपने बच्चे को पोषण देते हैं बल्कि यह आपके पाचन के लिए भी अच्छा है।

और पढ़ें – 9 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट में इन पौष्टिक आहार को शामिल कर जच्चा-बच्चा को रखें सुरक्षित

फल से कैसे बनाएं गर्भावस्था रेसिपी ?

प्रेग्नेंसी को कलरफुल बनाने के लिए यह सबसे बेस्ट आईडिया है। इस आसान सी गर्भावस्था रेसिपी बनाने के लिए अपने पसंदीदा फल लें। जैसे सेब, संतरा, ड्रेगन फ्रूट, कीवी और अंगूर को एक साथ एक बर्तन में रख लें। अब इन्हें छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। इनमें चाट मसाला और नींबू का रस मिला लें। अच्छे से मिक्स करें और रेडी है आपका हेल्दी फ्रूट सलाद। आप चाहें तो इसमें अंकुरित अनाज भी मिला सकती हैं।

ऊपर दी गई रेसिपी को आसानी से बनाया जा सकता है लेकिन, अगर आपको किसी भी पदार्थ से एलर्जी है, तो उसका सेवन न करें। डायट एक्सपर्ट से संतुलित डायट पता करें क्योंकि हर गर्भवती महिला की शारीरिक बनावट अलग होती है और उस पर सभी फूड्स का प्रभाव अलग होता है। गर्भावस्था रेसिपी खासकर प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए हैं जिससे वह प्रेग्नेंसी के दिनों में अपनी पसंद की रेसिपी बना सके और खा सकें। अगर आपको खाने की किसी भी चीज से एलर्जी है तो आप अपने डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें और उन चीजों को अवॉयड करें जिनसे आपको एलर्जी है।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr. Shruthi Shridhar


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/07/2020

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement