home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

गाय का दूध कैसे डालता है सेहत पर असर?

गाय का दूध कैसे डालता है सेहत पर असर?

हमारे देश में शायद ही ऐसा कोई घर होगा जिसकी सुबह दूध लेकर गर्म करके चाय बनाने से शुरू न होती हो। खैर ये तो हो गई हमारे प्रचलन की बात, लेकिन दूध न केवल घर में भगवान को खुश करने के लिए यूज होता है ब्लकि बड़े-बड़े होटल्स में मीठे पकवान बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। विभिन्न प्रकार के दूध में गाय का दूध सर्वश्रेष्ठ माना जाता है, लेकिन कुछ शोधों से पता चलता है कि गाय के दूध के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं।

गाय के दूध के नुकसान

गाय का दूध कई लोगों के लिए एक दैनिक भोजन का अभिन्न अंग है, और ये सदियों से चला आ रहा है। दूध से जुड़े कुछ ऐसे कुछ तथ्य हैं जो शायद आपको पता न हो। हाल ही में हुए अध्ययनों का सुझाव है कि दूध शरीर पर हानिकारक प्रभाव भी डाल सकता है। किसी-किसी मामले में यह शिशुओं के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है। अन्य शोध हालांकि, डेयरी के स्वास्थ्य लाभ बताते हैं।

गाय का दूध लोगों की सेहत के लिए कैल्शियम का बड़ा स्त्रोत माना जाता है, लेकिन अगर हम इसके बारे में पढ़ें और ज्यादा जानने की कोशिश करें तो यह जानना आसान है कि दूध शरीर को खराब भी कर सकता है।

औक पढ़े: दूध या अन्य डेयरी प्रोडक्ट डाइजेस्ट नहीं होने के ये कारण भी हो सकते हैं

क्या भैंस का दूध है ज्यादा बेहतर?

भारतीय डेयरी संघ (IDDB), नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड (NDDB), भारतीय स्टेट एसोसिएशन (IDA) के साथ 22 राज्य स्तरीय दुग्ध संघ इस तिथि पर सहमत हुए जब भारत के वाइट रिवॉल्यूशम फादर डॉ वर्घीज कुरियन का जन्मदिन मनाया गया। यह देश में दूध की आपूर्ति पर एक आदमी द्वारा किए गए प्रयासों का नतीजा था जिसकी वजह से इस दिन को मनाया जाता है। यह अक्सर भुला दिया जाता है कि अमूल में डॉ कुरियन की शुरुआती सफलता गायों के बजाय भैंस के दूध से मिली थी। जबकि ग्लोबल डेयरी उद्योग मुख्य रूप से गायों पर निर्भर करता है। भारत में भैंस देश के बड़े हिस्सों में उपलब्ध जलवायु परिस्थितियों और यहां मिलने वाले चारों (fodder) की वजह से बेहतर है।

गाय का दूध कमजोर करता है हड्डियां

गाय का दूध वास्तव में कैल्शियम को हमारी हड्डियों से लेता है। एनिमल प्रोटीन जब टूटते हैं तो एसिड का उत्पादन करते हैं और कैल्शियम एक बेहतरीन एसिड न्यूट्रलाइजर है। एसिड को बेअसर करने और बाहर निकालने के लिए हमारे शरीर को कैल्शियम का इस्तेमाल करना पड़ता है जिसमें दूध शामिल है। साथ ही साथ हमारे बॉडी में स्टोर कैल्शियम भी इस प्रॉसेस में इस्तेमाल होता है। इसलिए हर गिलास दूध में हम अपनी हड्डियों से कैल्शियम लेते हैं। यही कारण है कि शोध के बाद मेडिकल स्टडी में पाया गया है कि जो लोग सबसे ज्यादा गाय के दूध का सेवन करते हैं उनमें उन लोगों की तुलना में काफी अधिक फ्रैक्चर दर होती है जो कम दूध पीते हैं और अगर आप बड़ी मात्रा में पनीर खा रहे हैं? तो उसकी वजह से सैचुरेटेड फैट, सोडियम और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा आपके शरीर में बढ़ रही है।

गाय का दूध बन सकता है प्रोस्टेट कैंसर की वजह

दूध और पनीर को प्रोस्टेट कैंसर के खतरे से जोड़ा गया है, लेकिन डेयरी मुक्त आहार को इसकी प्रगति धीमी करने के लिए माना गया है।

अन्य त्वचा की स्थिति

नैदानिक समीक्षा के अनुसार कुछ खाद्य पदार्थ दूध और डेयरी सहित एक्जिमा को बिगाड़ कर सकते हैं। हालांकि, 2018 के एक अध्ययन में पाया गया कि गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं ने अपने आहार में एक प्रोबायोटिक जोड़ा जिसने एक्जिमा और अन्य खाद्य संबंधी एलर्जी प्रतिक्रियाओं के लिए उनके बच्चे के जोखिम को कम कर दिया। डेयरी प्रोडक्ट्स से कुछ वयस्कों की त्वचा में लालिमा पड़ सकता है। दूसरी ओर, एक हालिया अध्ययन बताता है कि दूध वास्तव में एक्ने पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

गाय के दूध से हो सकता है लैक्टोज इंटॉलोरेंस

गाय के दूध में मौजूद लैक्टोज लोगों को पचाने में मुश्किल हो सकता है जिसकी वजह से मतली, ऐंठन, गैस, सूजन और दस्त हो सकते हैं।

मुंहासे का कारण बन सकता है गाय का दूध

कई अध्ययनों में हर तरह के डेयरी प्रोडक्ट की खपत लड़कों और लड़कियों दोनों में मुंहासे की बढ़ती व्यापकता और गंभीरता से जुड़ी हुई है।

कोलेस्ट्रॉल बढ़ा सकता है गाय का दूध

एक बार लिए गए दूध में दिल को नुकसान पहुंचाने वाला 24 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल हो सकता है। किसी भी दूसरे प्लांट फूड में कोई कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है।

अस्थि भंग

आपको बता दें कि दिन में तीन या अधिक गिलास दूध पीने से महिलाओं में हड्डियों के फ्रैक्चर का खतरा बढ़ सकता है। शोध में पाया गया कि ऐसे दूध में मौजूद डी-गैलेक्टोज नामक शर्करा के कारण हो सकता है। हालांकि, अध्ययन में बताया कि आहार संबंधी सिफारिशें करने से पहले और अधिक शोध की आवश्यकता है। एक अन्य अध्ययन में दिए गए स्रोत से पता चला है कि ऑस्टियोपोरोसिस के कारण पुराने वयस्कों में अस्थि भंग सबसे अधिक उन क्षेत्रों में होता है, जो अधिक डेयरी, पशु प्रोटीन और कैल्शियम का उपभोग करते हैं।

गाय का दूध बन सकता है ओवरियन कैंसर का कारण

एक स्वीडिश अध्ययन से पता चला है कि जो महिलाएं हर दिन डेयरी “उत्पादों” को दिन में चार या उससे अधिक बार सेवन करती हैं उन्हें सीरियस ओवरियन कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है।

गाय का दूध बन सकता है एलर्जी का कारण

लैक्टोज इंटॉलोरेंस की तुलना में मिल्क एलर्जी संभावित रूप से और खतरनाक प्रतिक्रियाएं (आमतौर पर छोटे बच्चों में) पैदा कर सकती है, जैसे कि उल्टी या एनाफिलेक्सिस। 5 प्रतिशत बच्चों में दूध एलर्जी का कारण बनता है, कुछ विशेषज्ञों का अनुमान है। यह त्वचा की प्रतिक्रिया का कारण बन सकता है, जैसे एक्जिमा और पेट के लक्षण जैसे:

  • उदरशूल ( colic)
  • कब्ज(constipation)
  • दस्त (diarrhea)
  • तीव्रग्राहिता (anaphylaxis)
  • घरघराहट( wheezing)
  • सांस लेने मे तकलीफ (difficulty breathing)
  • रक्त – युक्त मल ( bloody stool)

गाय का दूध बढ़ाता है वजन

अलग-अलग के दावों के बावजूद 12,000 से अधिक बच्चों के एक अध्ययन से पता चला कि जितना अधिक दूध उन्होंने पिया, उतना ही अधिक उनका वजन बढ़ा।

साधारण दूध आपको ये तत्व प्रदान कर सकता है

इसमें वसा की मात्रा बदलती रहती है। दूध में अन्य प्रकारों की तुलना में अधिक वसा वाले स्रोत होते हैं:

संतृप्त वसा: 4.5 ग्राम
असंतृप्त वसा: 2.5 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल: 24 मिलीग्राम

अब तो आप समझ गए होंगे कि गाय का दूध फायदे के साथ नुकसान भी पहुंचा सकता है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह लें। हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। इस लेख से जुड़ा कोई सवाल है तो आप उसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

12 Reasons to Stop Drinking Cow’s Milk: https://www.peta.org/living/food/reasons-stop-drinking-milk/ Accessed on 2-04-2020

The Dangers of Cow’s Milk: https://www.naturalchild.org/articles/guest/linda_folden_palmer.html  Accessed on 2-04-2020

The composition of Cow’s Milk: https://www.vivahealth.org.uk/resources/white-lies/composition-cows-milk-online Accessed on 2-04-2020

Cow’s milk and children: https://medlineplus.gov/ency/article/001973.htm Accessed on 2-04-2020

Adverse effects of cow’s milk in infants: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/17664905 Accessed on 2-04-2020

8 Reasons You Should Stop Drinking Milk Now: https://health.howstuffworks.com/wellness/food-nutrition/facts/environmental-health-reasons-dairy.htm Accessed on 2-04-2020

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x