home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

पानी में सेक्स करना (वॉटर सेक्स) कितना सही है?

पानी में सेक्स करना (वॉटर सेक्स) कितना सही है?

कपल्स जब सेक्स के बारे में सोचते हैं, तो उसको और कैसे रोमांचक बनाया जाए? यह भी ख्याल उनके जहन में आता है। तरह-तरह की सेक्स पुजिशन्स (sex positions) ट्राय करने के बाद, पति-पत्नी सेक्स को रोमांटिक बनाने के लिए वॉटर सेक्स के बारे में भी सोचते हैं। हालांकि, पानी में सेक्स करना आपको जितना इंटरेस्टिंग और आसान लगता है उतना होता नहीं है। वास्तव में, वॉटर सेक्स (water sex) कई मायनों में खतरनाक हो सकता है। खासकर महिलाओं के लिए। इसलिए वॉटर सेक्स का विकल्प चुनने से पहले पानी में सेक्स करने से जुड़ी कई बातों का ध्यान रखना जरूरी है। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में हम आपको वॉटर सेक्स से जुड़ी जरूरी बातों की जानकारी देंगे। हम जानेंगे कि वॉटर सेक्स के दौरान किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है और क्या वाकई में वॉटर सेक्स करना सही तरीका है? जानिए इस बारे में विस्तार से :

सेक्सी, लेकिन सुरक्षित सेक्स के बारे में भी रहे ध्यान (Stay Sexy but Safe)

पानी में सेक्स करना एक फन हो सकता है। लेकिन वॉटर सेक्स सुरक्षित भी होना चाहिए। यदि सेफ सेक्स के लिए आप कंडोम का उपयोग करने का सोच रहे हैं, तो आपको बता दें कि गर्म पानी में कितना सेफ है, इस बारे में थोड़ा संदेह है। हालांकि, अभी कोई खास रिसर्च नहीं है लेकिन, हम सभी जानते हैं कि गर्म पानी और कुछ केमिकल (जैसे क्लोरीन) के संपर्क में आने से कंडोम की सुरक्षा क्षमता प्रभावित होती है। साथ ही कंडोम के फिसलने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसलिए कंडोम का प्रयोग करते समय भी इस बात की ओर ध्यान दे लें।

और पढ़ें : हर दिन सेक्स करना कैसे फायदेमंद है, जानिए इसके 9 वजह

पानी में भी ध्यान दें लुब्रिकेशन का (Lubrication is important)

कपल्स को लगता है कि पूल या बाथटब में सेक्स करने से अतिरिक्त लुब्रिकेशन होगा लेकिन, ऐसा नहीं है। वॉटर सेक्स के दौरान मौजूद पानी महिला के शरीर में बनने वाले नेचुरल लुब्रिकेशन को नष्ट कर देता है। जिससे पानी में सेक्स करना आनंददायक होने की बजाय दर्दनाक हो सकता है। इसलिए, वॉटर सेक्स के समय सिलिकॉन लुब्रिकेंट (silicone lubricant) का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। इससे पेनेट्रेशन (penetration) में भी आसानी होती है। तो अगर आप वॉटर सेक्स करने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो ल्यूब्रिकेशन का खास ख्याल रखें, ताकि आपका मजा खराब न हो और आप वॉटर सेक्स का आनंद ले पाएं।

और पढ़ें : महिलाओं को ऑर्गैजम न होने के मुख्य कारण क्या है?

पूल में सेक्स करना (Pool Sex)

वॉटर सेक्स सिर्फ बाथटब या हॉट टब तक ही सीमित नहीं है। पूल में भी कपल्स सेक्स कर सकते हैं, लेकिन पूल सेक्स के साथ एक समस्या भी है। दरअसल, स्वीमिंग पूल का पानी क्लोरीन युक्त होता है, जो समस्या का एक कारण बन सकता है। क्लोरीनयुक्त पानी के संपर्क में आने से वजायना का पीएच लेवल बिगड़ सकता है, जिससे इन्फेक्शन आदि की संभावना हो सकती है। ऐसे में पानी में सेक्स करने के लिए ओरल सेक्स (oral sex) एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

और पढ़ें : पुरुष इन 6 तरीकों से महिला साथी को पहुंचा सकते हैं महिला ऑर्गेज्म तक

टब/शॉवर में सेक्स करना (Tub/Shower Sex)

टब या शॉवर में सेक्स करने में भी लोग काफी दिलचस्पी लेते हैं। आप भी शॉवर या टब में सेक्स कर सकते हैं। यदि आपका टब छोटा है, तो आपको मिशनरी सेक्स पुजिशन (missionary sex position) में परेशानी हो सकती है। वहीं, शॉवर सेक्स मजेदार और रोमांचक दोनों हो सकता है। शॉवर या टब में पहली बार सेक्स करने जा रहे हैं तो इसमें थोड़ी कठिनाई हो सकती हैं। शावर में सेक्स करने से खासकर तब ज्यादा मुश्किल होती है जब पार्टनर्स की हाइट अलग-अलग होती हैं। शावर सेक्स के दौरान सुरक्षा के तौर पर फर्श पर एंटी-स्लिप स्टिकर्स (anti-slip stickers) जरूर लगाएं।

और पढ़ें : क्या कंडोम (Condom) के इस्तेमाल के बाद प्रेग्नेंट होती हैं महिलाएं?

बीच सेक्स (Beach Sex)

समुद्र, नदी या बीच के पानी में यौन संबंध बनाना पूरी तरह से असुरक्षित हो सकता है। पानी में सेक्स करने के लिए यह बिलकुल भी उचित स्थान नहीं है। समुद्र का खारा, गंदा पानी और उसमें मौजूद बालू (रेत) प्राइवेट पार्ट्स (private parts) के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। संक्रमण (infection) होने का खतरा इन स्थानों में सेक्स करने से बढ़ सकता है।

वॉटर सेक्स के लिए सामान्य टिप्स (Tips for Water Sex)

  • पानी में सेक्स करने के दौरान सिलिकॉन युक्त लुब्रिकेंट्स (silicon based lubricants) का प्रयोग करें।
  • यदि आप वॉटर सेक्स के समय कंडोम (condom) का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप पानी के अंदर जाने से पहले ही इसे पहन लें। पानी में ही कंडोम पहनना थोड़ा मुश्किल हो सकता है।
  • बाथटब में सेक्स करने से पहले आपका शरीर पूरी तरह से साफ और संक्रमण रहित होना चाहिए।
  • पानी में सेक्स करने से यौन संचारित संक्रमण (STIs) फैलने का खतरा होता है इसलिए पानी में सेक्स करने से पहले आप दोनों इसका परीक्षण करा लें।
  • हॉट टब में सेक्स के दौरान क्लोरीन मिला पानी कंडोम की प्रभावशीलता को खत्म कर सकता है। इसकी वजह से अनचाही प्रेग्नेंसी की संभावना भी बढ़ जाती हैं।
  • वॉटर सेक्स के दौरान सावधानी बरतें। इसमें फिसलने और चोट लगने की संभावना ज्यादा होती है।

वॉटर सेक्स भले ही कितना इंटरेस्टिंग हो लेकिन, पानी में सेक्स करना इतना आसान भी नहीं है। एक ओर वॉटर सेक्स जहां सेक्स पुजिशन्स को सीमित कर देता है वहीं दूसरी ओर पानी में सेक्स करते समय फिसलने का खतरा, वजायनल इंफेक्शन (vaginal infection), यीस्ट (yeast) और यौन संचारित संक्रमण (STIs) आदि का खतरा भी रहता है। इसलिए, वॉटर सेक्स का चुनाव बहुत ही सोच-समझकर ही करें।

उम्मीद है वॉटर सेक्स से जुड़ी आपको जरूरी जानकारियां इस आर्टिकल में मिल गई होंगी। तो अगर आप वॉटर सेक्स करने का सोच रहे हैं या आपका वॉटर सेक्स करने का मन है, तो ऊपर बताई गई बातों को ध्यान में रखते हुए आप इसे कर सकते हैं। आशा करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा और दी गई जानकारियां आपके काम आएंगी। अगर इससे जुड़ी आपको कोई और जानकारी चाहिए, तो हमसे हमारे फेसबुक पेज पर जरूर पूछें। इसके अलावा, ये आर्टिकल ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें, ताकि ये जानकारी उन सभी लोगों तक पहुंच पाए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/05/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड