home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्यों कुछ लोगों को लगता है बार-बार होता है उन्हें सच्चा प्यार?

क्यों कुछ लोगों को लगता है बार-बार होता है उन्हें सच्चा प्यार?

मेरे ऐसे कुछ दोस्त हैं, जिनका आए दिन एक नया रिलेशनशिप शुरू हो जाता है, जिन्हें हर बार लगता है कि इस बार उनका यह सच्चा प्यार (True love) है। लेकिन, अभी तक तो यही कहा जाता है कि सच्चा प्यार जीवन में सिर्फ एक ही बार हो सकता है। फिर उन्हें ऐसा क्यों लगता है कि बार-बार उन्हें सच्चा प्यार (True love) हुआ है? हो सकता है कि आपकी जान-पहचान में भी ऐसा कोई व्यक्ति हो, जिसे देखकर आपके मन में यह सवाल भी आता हो कैसे किसी को बार-बार प्यार हो सकता है?

और पढ़ें : शारीरिक इंटिमेसी रिलेशनशिप के लिए कैसे है फायदेमंद

सच्चा प्यार (True love) आखिर क्या है सच्चाई?

सच्चा प्यार (True love)

अगर अध्ययनों की मानें, तो हर किसी को एक से अधिक बार प्यार हो सकता है। लेकिन, अगर किसी को बार-बार प्यार जैसा अनुभव हो, तो यह सिर्फ शारीरिक आकर्षण (Physical attraction) हो सकता है, जिसकी वजह से इस तरह का प्यार हमारे जीवन में सिर्फ कुछ ही पलों के लिए बरकरार रहता है। शारीरिक आकर्षण के अलावा, इसके पीछे और भी कई कारण हो सकते हैं, जो हम लोगों के निजी अनुभव के आधार पर बताने वाले हैं।

1.पहले ब्रेकअप (Breakup) से उबरने के लिए

दिल्ली की रहने वाली अंकिता का कहना है कि पहले ब्रेकअप (Breakup) से उभरने के लिए अक्सर लोग बहुत जल्दी नए रिश्ते की तलाश शुरू कर देते हैं। ऐसे में वो नए साथी के साथ अपने गम को बांटते हैं, जो उन्हें इसका एहसास दे सकता है कि वो उनकी परवाह करता है। लेकिन, ऐसे रिश्ते बहुत जल्द ही दम तोड़ सकते हैं। ब्रेकअप के बाद ऐसे कई लोग मिलते हैं, जो आपके दर्द (Pain) को समझने के लिए आपके साथ हो सकते हैं, जिसे लेकर आप कई बार कंफ्यूज भी हो सकते हैं कि आखिर इनमें से अब आपका सच्चा प्यार कौन हो सकता है?

और पढ़ें : लव एट फर्स्ट साइट (Love At First Sight): क्या सच में होता है?

2.बेहतर जीवनसाथी (Better Half) की तलाश में

कुछ लोगों का मानना है कि जब तक उन्हें सच्चा जीवनसाथी नहीं मिल जाता, तब तक वो नए साथी की तलाश करते रहेंगे। उन्हें ऐसा लगता है कि बार-बार प्यार में पड़ना गलत नहीं होता है। अगर वो बार-बार प्यार में पड़ेंगे, तो वो अपनी और साथी की जरूरतों को बेहद करीब से समझ सकेंगे। उन्हें लगता है कि जब उन्हें उनका सच्चा वाला प्यार मिल जाएगा, तब वो शायद ही फिर से नए साथी की तलाश करेंगे।

3.एक्स को सबक सिखाने के लिए

अक्सर लोग ब्रेकअप के बाद अपने एक्स को सबक सिखाने की होड़ में लग जाते हैं। उन्हें लगता है कि अगर वो ब्रेकअप के बाद (After breakup) किसी नए साथी के साथ रहना शुरू कर देंगे, तो इससे वो अपने एक्स को नीचा दिखा सकते हैं। साथ ही, उसे इसका एहसास भी दिला सकते हैं कि उसने ब्रेकअप करके कितनी बड़ी गलती की है। लेकिन, धीरे-धीरे उनका ये जुनून जब खत्म हो जाता है, तो फिर से उन्हें किसी नए साथी की तलाश करनी पड़ सकती है।

और पढ़ें : ब्रेकअप: जानें कब किस रिश्ते को कह देना चाहिए अलविदा!

4.क्योंकि नया साथी उनकी जरूरतें पूरी करता है

यह मामला लड़के और लड़कियों में बहुत कॉमन होता है। अगर कोई उनकी जरूरतों का ख्याल रखना शुरू कर देता है, तो उसे वो प्यार समझने की भूल कर बैठते हैं। हालांकि, प्यार (Love) का मोल आप किसी जरूरत से नहीं तोल सकते हैं। इसलिए, जब जरूरत वाले रिश्ते में प्यार की कमी का एहसास होता है, तो नए साथी की तलाश भी शुरू हो सकती है, जिस वजह से हर कोई एक बार फिर से सच्चे प्यार में पड़ सकता है।

5.पहले रिश्ते में की गलतियों को परखते सकते हैं

कोई भी रिश्ता, चाहे वो शादी (Marriage) का हो या लिव इन रिलेशनशिप (Live in relation) का, हर रिश्ते में कोई न कोई खामियां हो सकती हैं। जिन्हें लोग वक्त के साथ समझते और सुलझाते भी हैं। ऐसे ही जब किसी का पहला रिश्ता टूटता है, तो उसके टूटने के पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनका एहसास उन्हें धीरे-धीरे या ब्रेकअप (Breakup) के समय ही हो सकता है। ऐसे में जब किसी के जीवन में कोई दूसरा नया रिश्ता आता है और वो उस रिश्ते में अपने पुराने रिश्ते में की गई गलतियों को करने से बचते हैं, तो उन्हें ऐसा महसूस हो सकता है कि शायद यही उनका उनका सच्चा प्यार (True love) हो सकता है। क्योंकि अपने नए रिश्ते में वो पुरानी गलतियों के करने से बचते हैं।

सच्चा प्यार (True love) फिल्मों के जैसा नहीं होता

मेरे एक दोस्त के अनुभवों की मानें, तो पहला प्यार अक्सर लोग फिल्मों की तर्ज पर करते हैं। खुद की नई-नवेली जोड़ी को फिल्मों की दुनियां के राज और सिमनर की तरह समझने लगते हैं। यही वजह भी है कि अक्सर लोग अपने पहले प्यार को सच्चा प्यार (True love) भी मानने लगते हैं। क्योंकि, पहला प्यार वो बिना किसी अनुभव के करते हैं और फिल्मों या कहानियों में जो भी देखा-पढ़ा या सुना होता है, अपनी असल जिंदगी में उसे ही पिरोने की कोशिश भी करते हैं। शायद यही कारण भी है कि अक्सर लोग पहले प्यार को खोने के बाद दी सच्चा प्यार ढूंढ पाते हैं। हालांकि, उनके एक ऐसे दोस्त भी हैं, जो बचपन में ही पड़े प्यार के बाद आज तक साथ हैं।

कुछ लोगों के जीवन में सच्चा प्यार (True love) उनका पहला और आखिरी प्यार ही हो सकता है, लेकिन हर किसी के साथ ऐसा हो यह जरूरी भी नहीं। असलियत में देखा जाए, तो पहले प्यार को ही सच्चा प्यार समझ लेना एक अच्छा फैसला नहीं हो सकता है। इसलिए, अगर आप अपने पुराने रिश्ते से उबरने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उसे अपना सच्चा प्यार समझकर खुद को हर दिन किसी पिंजरे में बंद न करें। ब्रेकअप के बाद खुद को थोड़ा समय दें। पुराने रिश्ते में हुई गलतियों को समझें और नए रिश्ते में जाने पर उन गलतियों को दोहराने से बचें। इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखें कि, उम्मीद से ज्यादा जरूरत न करें। पहले सामने वाले इंसान को समझें। जब आप रोजाना और ज्यादा से ज्यादा वक्त एक साथ बिताएंगे तब आप उस व्यक्ति को अच्छे से समझ सकते हैं। अगर आप बार-बार अपने सच्चे प्यार के तलाश में रहते हैं, तो अपने आपको भी समझें।

और पढ़ें : आखिर क्यों साथी से साथ सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ने लगता है?

इसलिए, हर बार सच्चे प्यार में पड़ने से पहले खुद के मन और साथी के ख्यालों को अच्छे से समझें। जब भी आपको लगे कि आपके रिश्ते में सारी खुशियां है, सिवाए प्यार के, तो हो सकता है कि वो आपका सच्चा प्यार (True love) न हो। बार-बार प्यार में पड़ना गलता नहीं होता है। लेकिन, उसे सच्चे प्यार का नाम देना एक गलतफहमी हो सकती है। लेकिन, सच्चे प्यार की तलाश करने से कभी हार भी नहीं माननी चाहिए क्योंकि, बिना सच्चे प्यार के जीवन का रस अधूरा रह सकता है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

10 Things You Need To Know About True Love/https://www.lifehack.org/articles/communication/10-things-you-need-know-about-true-love.html/Acceesed on 21/07/2021

Dating Tips for Finding the Right Person/https://www.helpguide.org/articles/relationships-communication/tips-for-finding-lasting-love.htm/Acceesed on 21/07/2021

Emotional Intelligence in Love and Relationships/https://www.helpguide.org/articles/mental-health/emotional-intelligence-love-relationships.htm/Acceesed on 21/07/2021

5 Essentials to Having a Healthy Relationship/https://www.joinonelove.org/learn/healthy_relationship/Acceesed on 21/07/2021

Healthy relationships/https://www.loveisrespect.org/healthy-relationships/Acceesed on 21/07/2021

5 Easy Ways To Communicate Better in Your Relationship/https://www.joinonelove.org/learn/5-easy-ways-to-communicate-better-in-your-relationships/Acceesed on 21/07/2021

 

लेखक की तस्वीर
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 6 days ago को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकल समीक्षा
x