आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

क्या पीनट बटर मुंहासों का कारण बन सकता है?

    क्या पीनट बटर मुंहासों का कारण बन सकता है?

    मुंहासे एक कॉमन स्किन कंडिशन है। ऐसा तब होता है जब ऑयल की वजह से रोम छिद्रों में डेड स्किन सेल्स और गंदगी इकठ्ठी हो जाती है। इंफ्लामेशन, बैक्टीरिया, हॉर्मोन्स और दूसरे फैक्टर्स इसमें योगदान देते हैं। वहीं कुछ लोगों का मानना है पीनट बटर से मुंहासे (Peanut butter Cause acne) हो सकते हैं। हालांकि, किसी भी स्टडी में पीनट बटर के कारण मुंहासे होने का प्रमाण नहीं मिला है, लेकिन पीनट बटर में मौजूद एडेड शुगर ओमेगा-6 फैटी एसिड कुछ लोगों में मुंहासे के ब्रेकआउट का कारण बन सकते है या स्थिति को ट्रिगर कर सकते हैं।

    इस आर्टिकल में पीनट बटर से मुंहासे होने की संभावना और इसके बीच के लिंक को समझने की कोशिश करेंगे। साथ ही मुंहासों से बचने के टिप्स भी बताएंगे।

    पीनट बटर से मुंहासे (Peanut butter Cause acne)

    पीनट बटर को एक्ने से लिंक इसलिए किया जाता है क्योंकि इसमें ट्रांस फैट्स होता है। कई ऑयली और प्रोसेस्ड फास्ट फूड्स में ट्रांस फैट होता है और एनसीबीआई की स्टडी के अनुसार ट्रांस फैट और डायट इंडूस्ड एक्ने (Diet-induced acne) के बीच स्ट्रांग लिंक है। हालांकि 2016 की एनसीबीआई एक स्टडी में पाया गया कि पीनट बटर में ट्रांस फैट ना के बराबर है।

    और पढ़ें: जानें मुंहासे में मवाद के कारण और इलाज

    पीनट बटर से मुंहासे का कारण सैचुरेटेड फैट्स (Saturated Fats Cause Acne From Peanut Butter)

    एनसीबीआई की एक स्टडी में पाया गया कि 18-25 साल के 248 पार्टिसिपेंट्स में सैचुरेटेड फैट्स ने मुंहासों की स्थिति को बिगाड़ दिया। पीनट बटर की एक सिंगल सर्विंग यानी कि 45 ग्राम पीनट बटर में 4.54g सैचुरेटेड फैट पाया जाता है। यह अमाउंट उतना ही है जितना कुछ ऑयल्स में होता है। हालांकि, अगर सैचुरेटेड फैट को सीमित मात्रा में खाया जाए तो यह उतना नुकसानदायक नहीं। हाय सैचुरेटेड डायट जिसमें कई प्रकार के अल्ट्रा प्रोसेस्ड और तले हुए फूड्स होते हैं वे क्रोनिक डिजीज का रिस्क बढ़ा सकते हैं।

    पीनट बटर से मुंहासे का कारण ओमेगा-6s (Acne Cause Omega-6s From Peanut Butter)

    ओमेगा-6s और ओमेगा- 3 आवश्यक फैटी एसिड्स हैं। जिनको डायट से प्राप्त करना चाहिए। प्रोसेस्ड फूड्स या अल्ट्रा प्रोसेस्ड फूड्स में ओमेगा-6s अधिक मात्रा में होता है, लेकिन ओमेगा-3s कम मात्रा में पाया जाता है। पीनट बटर, में विभिन्न तेल पाए जाते हैं, जैसे कि ताड़ का तेल। यह भी ओमेगा -6 का स्रोत है।

    शरीर को ओमेगा -6 और ओमेगा -3 दोनों की आवश्यकता होती है, लेकिन सही संतुलन बनाए रखना महत्वपूर्ण है। बहुत अधिक ओमेगा -6 का सेवन, जो प्रो-इंफ्लामेटरी होते हैं, और ओमेगा -3 एस की पर्याप्त मात्रा ना होना जो कि एंटी-इंफ्लेमेटरी हैं, नकारात्मक स्वास्थ्य परिणाम दे सकता है। एक्ने एक क्रोनिक इंफ्लामेटरी बीमारी है। इसलिए ऐसा असंतुलन जो प्रो इंफ्लामेटरी ओमेगा-6 का फेवर करता है स्किन संबंधी परेशानियों को बुरा बना सकता है। 2017 में की गई एनसीबीआई की एक स्टडी के अुनसार डायट में अधिक मात्रा में मौजूद ओमेगा-6 मुंहासे की वृद्धि का कारण बन सकता है।

    और पढ़ें: मुंहासे का इलाज होगा आसान, फॉलो करें ये टिप्स

    पीनट बटर से मुंहासे और पीनट एगल्यूटिनिन (Peanut agglutinin)

    पीनट एगल्यूटिनिन एक प्रकार का प्रोटीन है जिसे लेक्टिन कहा जाता है। लेक्टिन शरीर के लिए पचाने में मुश्किल होते हैं और छोटी आंत में जलन पैदा कर सकते हैं। इस क्षति से आंतों की पारगम्यता (Intestinal permeability) बढ़ सकती है, जिससे आंतों से पदार्थों को रक्तप्रवाह में रिसाव करना आसान हो जाता है।

    2019 के एक अध्ययन से पता चला है कि आंतों की पारगम्यता (Intestinal permeability) मुंहासे पैदा कर सकती है, और ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि यह सूजन का कारण बनता है और प्रतिरक्षा प्रणाली से समझौता करता है। हालांकि, निष्कर्ष निकालने के लिए और शोध की आवश्यकता है। अब तक, किसी भी अध्ययन ने सीधे पीनट एग्लूटीनिन, मुंहासे और आंतों की पारगम्यता को नहीं जोड़ा है। इसके अलावा, 2011 के एक पुराने अध्ययन से पता चला है कि जब मूंगफली को पकाया जाता है, तो उनके लेक्टिन का स्तर काफी कम हो जाता है। कुल मिलाकर, कोई सबूत नहीं दिखाता है कि पीनट में बटर भुनी हुई मूंगफली उनके लेक्टिन के कारण मुंहासे पैदा करती है।

    और पढ़ें: जानिए मुंहासे होने के 6 कारण और उनसे छुटकारा पाने के उपाय

    पीनट बटर से मुंहासे (Peanut butter cause acne) और एडेड शुगर

    पीनट बटर से मुंहासे का कारण (Peanut butter Cause acne) एडेड शुगर हो सकती है। कई कंपनियां पीनट बटर में एडेड शुगर या किसी प्रकार का स्वीटनर्स एड करती हैं। 45 ग्राम की एक सर्विंग में 4.72 g तक शुगर पाई जाती है। एनसीबीआई की एक पुरानी स्टडी में बताया गया है कि एडेड शुगर का लगातार सेवन मुंहासे के रिस्क को बढ़ा सकता है। इसलिए, यह संभव है कि नियमित रूप से पीनट बटर खाने से जिसमें अतिरिक्त चीनी हो, ब्रेकआउट में योगदान दे सकता है।

    रक्त शर्करा में स्पाइक मुंहासे का कारण बन सकता है, इसलिए उन खाद्य पदार्थों की एडेड शुगर पर ध्यान देना जरूरी है जो बीनट बटर के साथ खाए जा सकते हैं, जैसे कि बैक्ड आइटम्स या जेली। कम एडेड शुगर वाले पीनट बटर के लिए, बिना चीनी के पीनट बटर देखें, और लेबल पर सामग्री की सूची को ध्यान से देखें। पीनट बटर और अन्य उत्पाद अक्सर विज्ञापन देते हैं कि उनमें “कोई अतिरिक्त चीनी नहीं है। उसके अनुसार ही चुनाव करें।

    पीनट बटर के फायदे (Benefits of peanut butter)

    पीनट बटर से मुंहासे (Peanut butter Cause acne) या पीनट बटर मुंहासों का कारण कैसे बन सकता है ये तो आपने समझ लिया, लेकिन ये भी जान लीजिए पीनट बटर के कुछ फायदे भी हैं। इसे एक पोषक तत्वों से युक्त फूड माना जाता है। 45 ग्राम पीनट बटर में 10.1 g प्रोटीन और 2.16 g डायट्री फाइबर पाए जाते हैं। इसमें विटामिन ई, फोलेट और दूसरे पोषक तत्व भी पाए जाते हैं।

    और पढ़ें: Nodular Acne: नोड्यूलर एक्ने क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण और इलाज!

    मुंहासे रोकने के उपाय (How to prevent acne)

    मुंहासे रोकने के लिए लो ग्लाइसेमिक डायट को अपनाने की सलाह दी जाती है। जिसमें साबुत अनाज, सब्जियां, लीन प्रोटीन, हेल्दी फैट और फल जैसे बहुत सारे खाद्य पदार्थ होते हैं। मुंहासे को रोकने के अन्य तरीकों में शामिल हैं:

    पीनट बटर में मौजूद कुछ इंग्रीडिएंट मुंहासे को ट्रिगर कर सकते हैं। अगर पीनट बटर के सेवन से मुंहासे ट्रिगर हो रहे हैं या उनकी स्थिति और बिगड़ रही है तो इसका सेवन बंद कर देना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए इसके बारे में डॉक्टर से संपर्क करें।

    उम्मीद करते हैं कि आपको पीनट बटर से मुंहासे (Peanut butter Cause acne) कैसे हो सकते हैं इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Peanuts as functional food/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4711439

    Omega-3 versus omega-6 polyunsaturated fatty acids in the prevention and treatment of inflammatory skin diseases/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7037798/

     Relationships of self-reported dietary factors and perceived acne severity in a cohort of New York young adults [Abstract].
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24412232

    Dietary fat/
    https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/fats-and-oils

    Peanut Butter: Is It Good for You?
    https://www.webmd.com/diet/peanut-butter-good-for-you#:~:text=Peanut%20butter%20also%20contains%20omega,promoting%20good%20blood%20vessel%20function.

    Acne/https://www.womenshealth.gov/a-z-topics/acne

    Acne/https://medlineplus.gov/ency/article/000873.htm

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/05/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: