home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कॉस्मे​टिक (Cosmetics) कैसे चुनें?

कॉस्मे​टिक (Cosmetics) कैसे चुनें?

सुंदर दिखने की इच्छा हर किसी की होती है। इसके लिए लोग कई बार कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) और मेकअप का भी इस्तेमाल करते हैं। कॉस्मेटिक प्रोडक्ट के चयन में कई बार लोग गलती भी कर देते हैं जिस वजह से उनका मेकअप उन्हें सूट नहीं करता और कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स भी हो जाती हैं। दरअसल, जब बात मेकअप के लिए कॉस्‍मेटिक (Cosmetics) खरीदने की आती है तो सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि हम सभी की स्किन अलग होती है। जरूरी नहीं जो प्रोडक्ट सामने वाले को सूट कर रहा है वो आपको भी फायदा करे। कॉस्‍मेटिक का चयन बेहद सावधानी के साथ करना चाहिए।

कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) का चयन अपनी स्किन को ध्यान में रखते हुए करना चाहिए जैसे-ड्राई स्किन के लिए अलग, ऑइली स्किन के लिए अलग और सेंसिटिव स्किन के लिए अलग। कोई भी कॉस्मेटिक (Cosmetics) प्रोडक्ट खरीदने से पहले कुछ समय निकालें और अपनी त्वचा का पता लगाएं। इससे आपको मेकअप की खरीदारी करने में आसानी होगी। जैसे अगर आप अपने लिए कॉम्पैक्ट खरीदने गई हैं और आपकी स्किन टाइप ऑयली है तो आपको ऐसा कॉम्पैक्ट खरीदना होगा, जो आपकी त्वचा पर बहुत ज्यादा भारी न हो। कॉस्मेटिक्स (Cosmetics) के इंग्रेडिएंट्स भी जरूर देखें। ऐसा हो सकता है जो प्रॉडक्ट आप ले रहे हैं उसमें कुछ ऐसा इंग्रेडिएंट हो जिससे आपकी त्वचा को एलर्जी है। स्किन एक्सपर्ट विशाल मुद्गिल बता रहे हैं कौन-सी स्किन के लिए कैसा इंग्रेडिएंट अच्छा है।

स्किन टाइप के अनुसार चुनें इंग्रेडिएंट (Select ingredients according to skin type)

Cosmetics

  • ड्राई स्किन-ड्राई स्किन वालों को ऐसे कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए जो स्किन में मॉइस्चर को लॉक करते हैं। इस स्किन टाइप के लिए हायल्यूरोनिक एसिड अच्छा रहता है इसलिए ऐसे सीरम, नाइट क्रीम और मॉइस्चराइजर इस्तेमाल करें जिसमें यह इंग्रेडिएंट मौजूद हो।
  • ऑइली स्किन-ऑइली त्वचा के लिए सैलिसिलिक एसिड (Salicylic acid) अच्छा होता है क्योंकि यह स्किन के पोर्स को अंदर तक साफ करता है और जरूरत से ज्यादा ऑइल बनने से रोकता है जिससे ब्लैकहेड्स, व्हाइटहेड्स और पिंपल्स की समस्या भी कम होती है।

और पढ़ें : स्किन टाइप के लिहाज से घर पर ही बनाएं अपना हैंड वॉश

  • डल स्किन-धूल, धूप और प्रदूषण से स्किन अक्सर डल पड़ जाती है और चेहरे का ग्लो खोने लगता है। ऐसे में उन कॉस्मेटिक (Cosmetics) प्रोडक्टस का इस्तेमाल करना चाहिए जिनमें ग्लूटाथिओन (Glutathione), कोजिक एसिड और लिकोरिस हो। कोजिक एसिड, मेलेनिन को बनने से रोकता है।
  • सेंसिटिव स्किन-सेंसिटिव स्किन वालो की अलग ही परेशानी होती है उन्हें जल्दी कुछ सूट नहीं करता और रिएक्शन का खतरा ज्यादा रहता है। कैलेंडुला और कैमोमाइल यू एक्सट्रैक्ट्स, हायल्यूरोनिक एसिड, टरमरिक और एलोवेरा जैसे इंग्रेडिएंट्स संवेदनशील त्वचा के लिए अच्छे हैं। अपने एंटीऑक्सीडेंट, एंटीमाइक्रोबियल (Antimicrobial) और एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों की वजह से करक्यूमिन भी अब खास इंग्रेडिएंट बनता जा रहा है।
  • एजिंग स्किन – झुर्रियों को कम करने और स्किन को सॉफ्ट बनाने के लिए हायल्यूरोनिक एसिड, विटामिन-सी और रेटीनॉल का कॉम्बिनेशन एजिंग स्किन के लिए अच्छा है। उन क्रीम्स का इस्तेमाल करें जिनमें पेंटा पेप्टाइड्स (Penta-Peptides), हेग्जापेप्टाड्स (hexapeptides) और कॉपर पेप्टाइड्स (Copper peptides) हैं। ये कोलेजन और इलास्टिन बढ़ाते हैं।

और पढ़ें: स्किन टाइटनिंग के लिए एक बार करें ये उपाय, दिखने लगेंगे जवान

कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) लेने से पहले जानें स्किन टाइप

बहुत सारे लोग हैं जो कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) खरीदते वक्त अपनी स्किन टोन पर ध्यान नहीं देते हैं लेकिन यह भी उतना ही जरूरी है जितना स्किन टाइप। मेकअप खरीदते समय हमेशा अपनी स्किन टोन के अनुसार प्रोडक्ट का चयन करें। स्किन टोन तीन तरह के होते हैं- कूल टोन, वार्म टोन और न्यूट्रल टोन। पहले अपनी त्वचा की टोन को जानें। इसके बाद ही आप अपनी त्वचा के लिए सही रंगों का चयन करें।

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग एक बेहतर विकल्प है। इस पर बहुत सारे ऑप्शन रहते हैं लेकिन किसी भी प्रॉडक्ट को खरीदने से पहले उसके रिव्यू पढ़ें। इससे आप प्रोडक्ट के प्रति दूसरे लोगों के ओपिनियन जान पाएंगे और आपको प्रॉडक्ट को लेकर एक आइडिया हो जाएगा। इससे आपको यह फैसला लेने में भी आसानी होगी कि आपको यह प्रॉडक्ट लेना चाहिए या नहीं।

आज मार्केट में कई अच्छे कॉस्मेटिक (Cosmetics)प्रोडक्ट्स जिनका इस्तेमाल लोग कर रहे हैं लेकिन, जरूरत से ज्यादा कुछ भी अच्छा नहीं होता इसलिए कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) का इस्तेमाल भी बहुत ज्यादा न करें और जहां तक हो सके तो किसी अच्छे स्किन स्पेशलिस्ट की सलाह जरूर लें और अपनी स्किन टाइप के बारे में पहले से जान लें।

और पढ़ें : Skin biopsy: जानें स्किन बायोप्सी क्या है?

इन बातों का भी रखें ध्यान:

  • यदि आप फेशियल किट खरीद रही हैं तो कोशिश करें केमिकल की जगह नैचुरल प्रोडक्ट्स युक्त प्रॉडक्ट्स खरीदें। हम आपको रिकमेंड करेंगे कि किसी भी फेशियल किट को लेने से पहले आप एक बार डर्मेटोलॉजिस्ट के पास जाएं और अपने स्किन टाइप के बारे में कंसल्ट करें।
  • फाउंडेशन ऐसा खरीदें जो आपके स्किन टोन को अच्छे से कवर करे। यदि आपको स्किन टोन से मैचिंग का फाउंडेशन नहीं मिल रहा है तो एक टोन लाइट या डार्क शेड ले सकते हैं। फाउंडेशन और स्किन टोन में ज्यादा अंतर होगा तो ये पैची लुक देगा। कंसीलर और फाउंडेशन एक ही शेड के होने चाहिए।
  • फ्लॉलेस मेकअप के लिए परफेक्ट मेकअप ब्रश होना भी जरूरी है। मेकअप ब्रश नैचुरल और सिंथेटिक बालों में आते हैं। उन ब्रश को खरीदें जो त्वचा के प्रति सॉफ्ट हो।
  • नाखून भी ग्रुमिंग का पार्ट होते हैं। कॉस्मेटिक (Cosmetics) प्रोडक्ट्स खरीदते समय लिस्ट में नेल प्रॉडक्टस भी शामिल करें। नेल पेंट लेते समय उसकी कंसिसटेंसी चेक करें। नेलपेंट बहुत गाढ़ा नहीं होना चाहिए। इन्हें लगाने में दिक्कत होती है। नेलपेंट ब्रश के फाइबर जरूर चेक करें। आप कोई भी शेड खरीदें साथ में टोप कॉट लेना न भूलें। ये नेलपेंट को लंबे समय तक टिकाकर रखता है।
  • मेकअप की एक्सपायरी डेट जरूर देखें। आपके द्वारा लिए जाने वाला कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) कितने दिनों तक चलता है इसके आधार पर एक्सपायरी डेट का आकलन करें।
  • यदि आप कॉस्मेटिक (Cosmetics) प्रोडक्ट्स ऑनलाइन खरीद रहे हैं तो ऑरिजनल वेबसाइट से ही ऑर्डर डालें क्योंकि बाजार में नकली प्रॉडक्ट की भरमार लगी है। कभी भी डिस्काउंट के चक्कर में नकली सामान न ले लें।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स (Cosmetics Products) खरीदते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए इसकी जानकारी दी है। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी चाहते हैं तो आप अपना सवाल हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट कर बता सकते हैं। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/04/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x