आंखें होती हैं दिल का आइना, इसलिए जरूरी है आंखों में सूजन को भगाना

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

आंखें हमारे दिल का आइना होती हैं। यह पंक्ति हमारी आंखों की खासियत को दर्शाती हैं। इसका मतलब है कि हमारा दिल यानि हमारे किरदार की छवि सामने वाले व्यक्ति पर सबसे पहले हमारी आंखों की मदद से ही बनती है। लेकिन, कई बार आंखों में सूजन आने से आपके चेहरे की सुंदरता में कमी आ जाती है। आंखों में सूजन कई वजह से आ सकती है। कुछ महिलाएं आंखों में सूजन को छिपाने के लिए मेकअप का सहारा भी लेती हैं। लेकिन, यह तरीका अस्थाई होता है, क्योंकि असली सुंदरता तो प्राकृतिक ही है। इसलिए सही उपचार और टिप्स की मदद से आप आंखों में सूजन कम या खत्म कर सकते हैं और अपनी प्राकृतिक सुंदरता को वापस प्राप्त कर सकते हैं।

आंखों में सूजन कैसे होती है?

googly eyes GIF

हमारी आंखें बहुत ही नाजुक और संवेदनशील होती हैं, जिनकी देखभाल करना बहुत जरूरी है। पर्यावरण में बढ़ते प्रदूषण, आपके द्वारा इस्तेमाल किए गए मेकअप, पानी, शारीरिक समस्याएं या बहुत सी अन्य चीजें आपकी आंखों में सूजन का कारण बन सकती हैं। आंखों में सूजन दो प्रकार से हो सकती है, जिसमें से पहला आपकी पलक या आंखों के ऊपरी हिस्से का सूज जाना और दूसरा आपकी आंखों के नीचे वाली हिस्से में सूजन और डार्क सर्कल होना। कई बार, यह सूजन कई गंभीर समस्याओं के कारण भी हो सकती है, जो कि आपकी आंखों को अंदर से भी नुकसान पहुंचा सकती है। कई बार इन समस्याओं की वजह से आपकी आंखों में खून उतर सकता है या आपकी दृष्टि पर नकारात्मक असर पड़ सकता है। आइए, हम आंखों में सूजन के कारण और उन्हें कम या खत्म करने के लिए तरीकों के बारे में जानते हैं।

और पढ़ेंः बेहद आसानी से की जाने वाली 8 आई एक्सरसाइज, दूर करेंगी आंखों की परेशानी

आंखों के ऊपरी हिस्से या पलकों में सूजन के कारण

स्टाय (Stye)

पलकों में ग्लैंड में संक्रमण हो जाने के कारण स्टाय की समस्या होती है। कई बार यह समस्या आंख की पलकों में मौजूद हेयर फॉलिकल के इंफेक्शन की वजह से होती है। कभी-कभी यह संक्रमित ऑइल ग्लैंड की वजह से आपकी पलकों के अंदर सूजन भी विकसित कर देता है। इसमें, आपकी आंखें लाल, उनमें खुजली और दर्द होने लगता है। जो कि आंखों के किनारों में एक पिंपल की तरह भी दिख सकता है।

एलर्जी

अगर आपकी पलकों में सूजन के साथ आंखों में लाली, खुजली और पानी आता है, तो यह आंखों की एलर्जी के कारण हो सकता है। जिसका सबसे बड़ा कारण, धूल, परागण आदि एलर्जी विकसित करने वाले एलर्जेन होते हैं।

अत्यधिक रोना

sad inside out GIF

अत्यधिक रोने से आपकी आंखों और पलकों में मौजूद छोटी रक्त धमनियों को नुकसान पहुंच सकता है। रोने की वजह से पलकें सूज जाने का मतलब है कि आपकी पलकों में फ्लूइड की अधिकता हो गई है, जो कि रोने के दौरान ब्लड फ्लो के बढ़ जाने की वजह से होता है।

और पढ़ें- कंप्यूटर पर काम करने से पड़ता है आंख पर प्रेशर, आजमाएं ये टिप्स

थकान

कई बार ज्यादा थकान होने के कारण आपकी पलकें सूजी हुई लगती हैं। इसके अलावा, पूरी रात वॉटर रिटेंशन होने की वजह से भी पलकों पर बुरा असर पड़ सकता है। जिसकी वजह से सुबह आपकी आंखों में सूजन हो सकती है।

कॉस्मेटिक्स

जब मेकअप करने के दौरान आंखों में स्किन केयर या मेकअप प्रोडक्ट्स गलती से चले जाते हैं, तो आंखों में जलन हो सकती है और आंखों के नाजुक टिश्यू को परेशानी हो सकती है। जिसकी वजह से पलकें सूज जाती हैं।

ऑर्बिट सेलुलाइटिस

पलकों के अंदरुनी टिश्यू में संक्रमण हो जाने को ऑर्बिटल सेलुलाइटिस कहा जाता है। यह काफी जल्दी फैलता है और दर्दनाक होता है। इसमें इलाज की तुरंत आवश्यकता होती है। इसलिए अगर आपकी पलकों में दर्द, लाली और सूजन होती है, तो यह इस बीमारी का भी कारण हो सकता है।

और पढ़ें- डब्लूएचओ : एक बिलियन लोग हैं आंखों की समस्या से पीड़ित

ब्लेफेराइटिस

कुछ लोगों की आंखों में और उसके आसपास दूसरे लोगों से ज्यादा बैक्टीरिया होते हैं। जोकि ब्लेफेराइटिस की समस्या पैदा करते हैं। इस समस्या में ऑइली आइलिड और पलकों में डैंड्रफ जैसे तत्व होते हैं। कुछ लोगों को इस समस्या के कारण आंखों में सूजन और दर्द का सामना करना पड़ता है।

आंखों के नीचे सूजन के कारण

पलकों में सूजन होने के कारण ही आंखों के नीचे सूजन होने के कारण हो सकते हैं। जैसे- थकान, नींद का पूरा न होना, एलर्जी, अत्यधिक रोना आदि, लेकिन इसके अलावा आंखों के नीचे सूजन होने के कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं।

आंखों में सूजन के अन्य कारण

ज्यादा नमक का सेवन

आपकी डाइट में नमक और सोडियम की ज्यादा मात्रा आपके शरीर की बाहरी दिखावट के लिए अच्छी नहीं होती है। ज्यादा सोडियम का सेवन करने से आपके शरीर में वाटर रिटेंशन ज्यादा होने लगता है। जिसकी वजह से आपके चेहरे और शरीर में सूजन आने लगती है। जो कि ज्यादा नमकदार खाना खाने के अगली सुबह होना आम बात है। चूंकि, आंखों के नीचे की त्वचा काफी नाजुक होती है और इसके क्षतिग्रस्त होने की अधिक आशंका होती है, तो इसका सीधा असर आपकी आंखों के नीचे पड़ता है और आंखों में सूजन आ जाती है।

और पढ़ें- Bulging Eyes : कुछ लोगों की उभरी हुई आंखें क्यों होती है?

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

स्मोकिंग

सिगरेट, सिगार या हुक्का पीने से आपकी आंखें खराब हो सकती है। इसके अलावा, आपको स्मोकिंग से एलर्जिक रिएक्शन भी हो सकता है, जो आपकी आंखों से पानी आने और आंखों में सूजन का कारण बन सकता है।

टियर डक्ट ब्लॉक होना

आपकी आंखों में मौजूद टियर डक्ट आंखों से आंसू निकालने और आंखों में प्राकृतिक नमी प्रदान करने का कार्य करते हैं। अगर वह ब्लॉक हो जाते हैं, तो फ्लूइड आपकी आंखों के आसपास इकट्ठा होने लगता है। जिसकी वजह से आंखों के नीचे सूजन आने लगती है।

चोट

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि आंखों के आसपास की त्वचा संवेदनशील होती है। इसलिए, अपने नाखून या किसी भी चीज से इसके चोटिल होने की अत्यधिक आशंका होती है। जिस वजह से भी आपकी आंखों में सूजन आ सकती है।

और पढ़ें- आंखों में खुजली या जलन (Eye Irritation) कम करने के घरेलू उपाय

आंखों में सूजन भगाने के टिप्स

  1. आंखों में सूजन भगाने के लिए आपको रोजाना पर्याप्त नींद की आवश्यकता होती है। इसलिए आप रोजाना 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लें।
  2. सोते हुए सिर को तकिए या किसी भी अन्य तरीके की मदद से थोड़ा ऊपर उठाकर रखें, ताकि फ्लूइड रिटेंशन न हो।
  3. अगर आपको किसी चीज से एलर्जी होती है, तो उससे दूर रहें और अपनी एलर्जी की दवाओं का नियमित सेवन करते रहें।
  4. आंखों में सूजन डिहाइड्रेशन की वजह से भी होती है, इसलिए पर्याप्त पानी पिएं।
  5. शराब का सेवन करने से शरीर में डिहाइड्रेशन बढ़ता है। इसलिए इसका सेवन बंद करें।
  6. नमक का अत्यधिक सेवन आपकी आंखों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए, इसे संयमित करें।
  7. आंखों में सूजन दूर करने के लिए सूजन वाली जगह पर बर्फ से सिकाई करें।
  8. अगर आपकी आंखों में सूजन की समस्या ठीक नहीं हो रही है, तो डॉक्टर से बात करें।
  9. कुछ लोगों की आंखें जेनेटिक फैक्टर की वजह से ऐसी होती हैं, इसलिए कई बार आपको इसे इसी तरह अपनाना होता है।
  10. टी बैग को अपनी सूजी हुई आंखों पर रखें। क्योंकि टी में कैफीन होता है, जो कि आपकी आंखों के नीचे फ्लूड रिटेंशन को कम कर देता है।
  11. ज्यादा समस्या होने पर अपने डॉक्टर से अवश्य संपर्क करें।

आंखों में लालिमा, खुजली और सूजन के उपचार के लिए डॉक्टर नाफाजोलिन फेनिरामिन रिकमेंड कर सकते हैं। ध्यान रखें कभी भी डॉक्टर की सलाह के बिना खुद से दवा न लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

आंखों का टेढ़ापन क्या है? जानिए इससे बचाव के उपाय

आंखों का टेढ़ापन क्यों होता है। आंखों का टेढ़ापन कैसे दूर किया जा सकता है। फोन और कंप्यूटर के इस्तेमाल के कारण ये समस्या हो सकती है। कम उम्र में जांच कराए तो इसका इलाज संभव है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
आंखों की देखभाल, स्वस्थ जीवन अप्रैल 15, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Lumbar spinal stenosis: लम्बर स्पाइनल स्टेनोसिस क्या है ?

लम्बर स्पाइनल स्टेनोसिस (Lumbar spinal stenosis) क्या है? किन कारणों से होती है यह बीमारी? क्या है इसका इलाज? Cause of Lumbar spinal stenosis and treatment in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Siddharth Srivastav
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Normal-tension glaucoma: नॉर्मल टेंशन ग्लॉकोमा क्या है?

जानिए नॉर्मल टेंशन ग्लॉकोमा क्या है in hindi, नॉर्मल टेंशन ग्लॉकोमा के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Normal-tension glaucoma को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Retinal detachment: रेटिनल डिटैचमेंट क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

जानिए रेटिनल डिटैचमेंट क्या है in hindi, रेटिनल डिटैचमेंट के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Retinal detachment को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

एलास्पेन एम टैबलेट

Alaspan Am Tablet : एलास्पेन एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Online Education- बच्चों के लिए ऑनलाइन एज्युकेशन

कोविड-19 के दौरान ऑनलाइन एज्युकेशन का बच्चों की सेहत पर क्या असर हो रहा है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
आई एक्सरसाइज-Eye workout

बेहद आसानी से की जाने वाली 8 आई एक्सरसाइज, दूर करेंगी आंखों की परेशानी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ मई 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
दोबारा पलकें आना

क्या पलकें झड़ रही हैं? दोबारा पलकें आना है आसान, अपनाएं टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ मई 7, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें