बीच के किनारे जाने से पहले क्यों जरूरी है ट्रैवल किट में सनस्क्रीन क्रीम

Medically reviewed by | By

Update Date जून 5, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

किसी बीच के किनारे ट्रिप प्लान करने से पहले कुछ तैयारी पहले करनी पड़ती है। सबसे पहले ट्रैवल किट बनाना जिसमें आपकी जरूरत का सामान रखा जाता है। बीच के किनारे सबसे जरूरी है सनस्क्रीन क्रीम जो आपको टैनिंग से बचा सकती है।

और पढ़ें- एलोवेरा सिर्फ टैनिंग ही नहीं, इन 6 स्किन प्रॉब्लम्स को भी करता है दूर

सवाल

मैं बीच के किनारे ट्रिप के लिए जा रहीं हूं, क्या आप बता सकते हैं कि मुझे कौन से एसपीएफ वाला सनस्क्रीन क्रीम इस्तेमाल करना चाहिए जो मुझे टैनिंग से बचा सकता है?

जवाब

  • एसपीएफ का मतलब सन प्रोटेक्शन फैक्टर है जो आप को हानिकरक अल्ट्रा वॉयलट बी और अल्ट्रा वॉयलट ए किरणों से बचाता है। यूवी बी किरणों से सनबर्न होता है जिसकी वजह से कैंसर हो सकता है। इसके अलावा यूवीए किरणों से स्कीन डैमेज होती है जिसकी वजह से टैनिंग हो सकती है।
  • एसपीएफ 15 यूवीबी किरणों से 93 प्रतिशत बचाता है
  • एसपीएफ 30 यूवीबी किरणों से 97 प्रतिशत बचाता है
  • एसपीएफ 50 यूवीबी किरणों से 98 प्रतिशत बचाता है

और पढ़ें- फेशियल के बाद कभी न करें ये गलतियां, हो सकता है नुकसान

कोई भी सनस्क्रीन क्रीम 100 प्रतिशत सुरक्षा नहीं देता है। ध्यान देने वाली बात ये है कि अल्ट्राहाई एसपीएफ, एसपीएफ 30 और 50 से ज्यादा आपकी स्कीन की सुरक्षा करेगा ऐसा नहीं है। इसलिए एसपीएफ 30 और 50 के सनस्क्रीन क्रीम आपको टैनिंग से बचा सकते हैं।

बेहतर फायदे के लिए आप कम एसपीएफ वाला सनस्क्रीन क्रीम धूप में जाने से 15 मिनट पहले लगा सकते हैं जो हर दो घंटे में दोबारा लगाया जा सकता है। अगर आप पानी में जा रहें हैं तो हर 40 मिनट में आपको दोबारा सनस्क्रीन क्रीम लगाना होगा।

ये भी जान लें कि सिर्फ सनस्क्रीन क्रीम आपकी पूरी सुरक्षा नहीं देगा इसलिए आपको उसके साथ धूप के चश्में का इस्तेमाल करना होगा, साथ ही हैट, पूरे आस्तीन की शर्ट का इस्तेमाल करना जरूरी है।

क्या आपको सनस्क्रीम क्रीम लगाने की जरूरत है

हां, बेसल सेल कार्सिनोमा, स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा, और मेलेनोमा जैसे 5 मिलियन से अधिक त्वचा कैंसर का इलाज हर साल किया जाता है। इनमें से कई त्वचा के कैंसर को सूरज की किरणों से खुद की सुरक्षा करके रोका जा सकता था।

विशेषज्ञों से अपनी सलाह लें। अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी (एएडी) ने कहा है कि आप इन सनस्क्रीन क्रीम का उपयोग कर सकते हैं जिससे आप धूप की किरणों से खुद को बचा सकते हैंः

और पढ़ेंः स्किन केयर की चिंता इन्हें भी होती है, पढ़ें पुरुष त्वचा की देखभाल से जुड़े फैक्ट्स

सनबर्न जोखिम के कारण

हर किसी को सनबर्न से बचना चाहिए और सभी को सनस्क्रीन क्रीम की जरूरत होती है। सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावॉयलट किरणें स्किन एजिंग, त्वचा कैंसर का कारण और आंखों की परेशानी से जुड़ा हुई हैं।

जो लोग सनबर्न के लिए सबसे अधिक जोखिम पर है वो हैः

  • जो लोग ज्यादा गोरे हैं।
  • शिुशु और छोटे बच्चे।

यहां तक कि डार्क स्किन वाले लोगों को भी त्वचा कैंसर का खतरे होता हैं। अमेरिकेन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी (American Academy of Dermatology, AAD) के अनुसार जो लोग बहुत अधिक सूरज की किरणों में रहते हैं वह चाहें गोरे हो या काले उनमें त्वचा कैंसर के विकास का खतरा होता है। कम उम्र में एक गंभीर सनबर्न एक अडल्ट के रूप में कैंसर होने का जोखिम बढ़ा सकता है।

और पढेंः अब टैनिंग हटाने नहीं, कराने के लिए सलून पहुंच रहे लोग

ब्रॉड स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन क्रीम क्या है?

अल्ट्रावॉयलट A (UVA) और अल्ट्रावॉयलट B (UVB) दोनों सूर्य की किरणों से खुद को बचाना जरूरी है। त्वचा कैंसर और त्वचा की उम्र बढ़ना मुख्य रूप से यूवीए किरणों का परिणाम है।

सनबर्न मुख्य रूप से यूवीबी रेडिएशन के कारण होता है। सनस्क्रीन क्रीम उत्पाद जो कि एफडीए द्वारा निर्धारित ब्रॉड स्पेक्ट्रम टेस्ट को पास करते हैं और यूवीए और यूवीबी किरणों से रक्षा करते हैं उन्हें “ब्रॉड स्पेक्ट्रम” के रूप में लेबल करने की परमिशन है।

अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी के अनुसार एक ब्रॉड स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन क्रीम चुनें जिसमें सन प्रोटेक्शन फैक्टर (एसपीएफ) 30 या उससे अधिक हो। यह आपकी त्वचा को धूप की किरणों से बचाता है और इससे होने वाले नुकसान को भी कम करता है।

और पढ़ेंः धूप से चेहरा काला हो गया है? अपनाएं सनबर्न के ये घरेलु उपचार

सनबर्न को कम करने के लिए सनस्क्रीम क्रीम कितनी फायदेमंद

कुल मिलाकर त्वचा के नुकसान को रोकने का सबसे अच्छा तरीका धूप में अपना समय सीमित करना है। आप जितना कम धूप में जाते हैं उतना ही ज्यादा आप त्वचा की परेशानियों से बचे रहते हैं। अगर आप सुबह 10 बजे से 2 बजे के बीच धूप में नहीं जाते हैं तो आपको स्किन की परेशानी कम होगी।

इसके अलावा:

  • अपनी त्वचा को ढंकने के लिए लंबी बाजू की शर्ट, पैंट, धूप का चश्मा और चौड़ी हैट पहनें।
  • इसके अलावा अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन लगाएं जिसे “ब्रॉड स्पेक्ट्रम” (यूवीए / यूवीबी) लेबल किया गया है जो कम से कम 30 एसपीएफ वाला हो और साथ ही वॉटर रेजिस्टेंट भी हो।
  • अगर आप खुद को ढंक नहीं रहे हैं , तो कम से कम हर 2 घंटे में अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन क्रीम जरूर लगाएं, भले ही आप धूप में ना हो।
  • अगर आप वर्कआउट कर रहें जिससे पसीना आ रहा हो या स्वीमिंग कर रहे हैं तो कई बार सनस्क्रीन क्रीम लगाएं।
  • अपने पैरों, अपनी गर्दन, अपने कान, अपने होंठ, और अपने माथे पर सनस्क्रीन क्रीम लगाना ना भूलें।
  • याद रखें बर्फ, रेत और पानी सूरज को प्रतिबिंबित करते हैं और सनस्क्रीन क्रीम कवरेज के लिए आपकी आवश्यकता को बढ़ाते हैं।

और पढ़ेंः त्वचा के इस गंभीर रोग से निपटने के लिए मिल गयी है वैक्सीन

अधिक एसपीएफ सनस्क्रीन क्रीम आपकी स्किन के लिए बेहतर

सन प्रोटेक्शन फैक्टर (SPF) वैल्यू सनबर्न प्रोटेक्शन के सनस्क्रीन लेवल को बताता है।

  • एसपीएफ वैल्यू केवल सनस्क्रीन के यूवीबी सुरक्षा पर लागू होते हैं, यूवीए पर नहीं।
  • अधिक एसपीएफ वैल्यू (50 तक) अधिक सनबर्न सुरक्षा देते हैं।
  • एसपीएफ 30 वाला एक सनस्क्रीन यूवीबी किरणों का अनुमानित 97 प्रतिशत ब्लॉक करता है; एसपीएफ 50 से अधिक सनस्क्रीन के लिए यूवीबी सुरक्षा में बहुत अधिक नही होती है।
  • कोई भी सनस्क्रीन सूरज की UVB किरणों के 100% हिस्से को ब्लॉक नहीं कर सकता है।

कब करें सनस्क्रीन क्रीम का इस्तेमाल

  • बाहर जाने से 15 मिनट पहले ड्राई स्किन पर सनस्क्रीन क्रीम लगाएं।
  • अपने होंठों की रक्षा करना न भूलें। एक लिप बाम लगाएं जिसमें 30 या उससे अधिक एसपीएफ वाला सनस्क्रीन हो।
  • पैकेज के निर्देशों के अनुसार हर दो घंटे में या फिर स्विमिंग या पसीने के बाद सनस्क्रीन दोबारा लगाएं।
  • अपने पैरों, गर्दन, कान, नाक, हाथ, और पैरों के पीछे सनस्क्रीन लगाना ना भूलें। सनस्कीन लगाते हुए लोग अक्सर इन जगहों को भूल जाते है। बालों को गंजापन होना या जहां पर बाल पतले हो वहां भी सनस्क्रीन क्रीम लगाना चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

घमोरियां मिटाने के नुस्खे, जो इस गर्मी में आपको देंगे राहत

घमोरियां मिटाने के नुस्खे क्या हैं, क्योंकि गर्मी के मौसम में घमोरियां होना काफी आम है और यह बच्चों को सबसे ज्यादा परेशान करती हैं। घमोरियां मिटाने के नुस्खे कौन से हैं, घमोरियों के घरेलू इलाज क्या है, घमोरियों में क्या लगाएं, Prickly heat in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

हेल्दी स्किन के लिए नए साल में नए टिप्स, इन्हें जरूर आजमाएं

हेल्दी स्किन के लिए जरूरी है त्वाचा का पूरी तरह से पोषण किया जाए। उचित मात्रा में पानी के साथ स्किन के लिए बेनीफिशियल फूड लेना भी बहुत जरूरी है। हेल्दी स्किन की जानकारी इस आर्टिकल में पढ़ें हिंदी में।

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Bhawana Awasthi

स्किन केयर की चिंता इन्हें भी होती है, पढ़ें पुरुष त्वचा की देखभाल से जुड़े फैक्ट्स

पुरुष त्वचा की देखभाल के समय अक्सर ये गलतियां करते हैं। पैसे तो खर्च करते हैं लेकिन, ब्यूटी सर्विसेज की जानकारी न होने की वजह से स्किन पर कुछ भी इस्तेमाल करने लग जाते हैं। इसकी वजह से उन्हें फायदे की जगह नुकसान होने लगता है। हमारे इस आर्टिकल में जानें पुरुष त्वचा की देखभाल की सारी जानकारियां, टिप्स, उपचार, बचाव

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Shikha Patel
फन फैक्ट्स, स्वस्थ जीवन दिसम्बर 16, 2019 . 3 मिनट में पढ़ें

ब्यूटी एक्सपर्ट का दिया हुआ ये मंत्रा अपना कर दें एजिंग को मात

एजिंग क्या है, इसके होने के कारण क्या है, एजिंग होने पर क्या करना चाहिए, एंटीएजिंग क्रीम के फायदे या नुकसान क्या है, Stop Aging tips in hindi

Written by Shayali Rekha
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्किन केयर, स्वस्थ जीवन दिसम्बर 13, 2019 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

परफ्यूम के नुकसान

क्या परफ्यूम आपकी सेहत के लिए हानिकारक है?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on अप्रैल 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
स्ट्रॉबेरी लेग्स

आपकी खूबसूरती को बिगाड़ सकते हैं स्ट्रॉबेरी लेग्स, जानें इसे दूर करने के घरेलू उपाय

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal
Published on अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
सनस्क्रीन लोशन

सनस्क्रीन लोशन क्यों है जरूरी?

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Bhawana Awasthi
Published on अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Ayurvedic Holi 2020- आयुर्वेदिक तरीके से होली

आयुर्वेदिक तरीके से ऐसे मनाएं होली, त्वचा और स्वास्थ्य को बचाएं खतरनाक केमिकल वाले रंगों से

Written by Surender Aggarwal
Published on मार्च 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें