home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अंडर आर्म के पसीने और बदबू से छुटकारा दिलाएगा मीराड्राई ट्रीटमेंट

अंडर आर्म के पसीने और बदबू से छुटकारा दिलाएगा मीराड्राई ट्रीटमेंट

आए दिन बॉलीवुड स्टार अपनी डेली लाइफ को सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस के साथ शेयर करते हैं। इसी कड़ी में शिबानी डांडेकर ने मीराड्राई ट्रीटमेंट (MiraDry Treatment) के बारे में इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया। अपने पोस्ट में शिबानी ने मीराड्राई ट्रीटमेंट को दुनिया का ऐसा उपचार बताया है जिसमें अंडरआर्म के पसीने से छुटकारा मिल सकता है। मीराड्राई ट्रीटमेंट की सबसे खास बात, यह पर्मानेंट है।

शिबानी ने अपने पोस्ट में एक विडियो शेयर किया है कि कैसे लगभग 60 मिनट में मीराड्राई ट्रीटमेंट पूरा हो जाता है। आइए हम आपको बताते हैं मीराड्राई ट्रीटमेंट क्या है और कैसे यह अंडरआर्म्स के पसीने और बदबू से छुटकारा दिला सकता है। यहां देखें शिबानी का पोस्ट।

यह भी पढ़ेंः सोते समय पसीना आना गंभीर बीमारी का संकेत तो नहीं!

View this post on Instagram

Dr Dhillon @drbenjidhillon is one of the worlds leading authorities on the miraDry treatment and teaches doctors around the world on how to perform it. miraDry @miradry the worlds only permanent treatment to reduce sweating under the arms in one treatment! The treatment which is completely non invasive takes approx 60 mins and involves 3 simple steps 1. The underarms are numbed using some local anaesthetic 2. The area where you sweat from is identified and marked up 3. The treatment is performed which involves the use of heat to break down your sweat glands under your arms permanently. ..:results are immediate. Benefits include not having to use deodorant containing aluminium and other harmful substances And you dont start sweating elsewhere more. video edit by @jharnapariani

A post shared by Shibani Dandekar (@shibanidandekar) on

मीराड्राई ट्रीटमेंट एक ऐसा उपचार है जिसे 2011 में अंडरआर्म्स के पसीने के उपचार के लिए एफडीए ने अप्रूव किया था। यह इलेक्ट्रोमैग्नेटिक एनर्जी का उपयोग करने वाला नॉन इनवेसिव यानी की बिना किसी चीड़-फाड़ का उपचार है, जो पसीने की ग्रंथियों को टारगेट करता है और उन्हें नष्ट कर देता है। लोकल एनेस्थिसिया का उपयोग कर इस प्रक्रिया के दौरान त्वचा को सुन्न किया जाता है। लंबे समय तक इसके प्रभाव के लिए इसे 2-3 बार दोहराया जा सकता है।

ये भी पढ़ें – इस तरह से करें अंडरआर्म्स की क्लीनिंग, नहीं पड़ेगी स्किन काली

यह उपचार जो पूरी तरह से नॉन इनवेसिव है, इसमें लगभग 60 मिनट लगते हैं और इसमें 3 आसान स्टेप्स शामिल हैं:

  1. लोकल एनेस्थिसिया का उपयोग करके अंडरआर्म्स सुन्न किए जाते हैं

2. पसीना निकलने वाली जगह को पहचान कर उसे चिह्नित किया जाता है

  1. इलाज के लिए इसमें इलेक्ट्रोमैगनिटक एनर्जी का इस्तेमाल किया जाता है जो स्थायी रुप से अंडरआर्म में मौजूद स्वेट ग्लैंड्स को तोड़कर इसका इलाज करता है।

2011 में मीराड्राई ट्रीटमेंट को अमेरिकी एफडीए ने मंजूरी दी और यूरोप में एक्सिलरी हाइपरहाइड्रोसिस या अंडरआर्म्स में अधिक पसीने के इलाज के लिए सी-मार्क किया गया था, और अब यह दुनिया भर में 50 से अधिक देशों में उपलब्ध है।

2015 में मीराड्राई ट्रीटमेंट को सभी तरह के अंडरआर्म हेयर और गंध ग्रंथियों (odour glands) को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए एफडीए द्वारा मंजूरी दे दी गई। यह पहला FDA-क्लीयर उपकरण है, जो पसीने से आने वाली गंध पैदा करने वाली ग्रंथियों को खत्म करते हुए अनचाहे अंडरआर्म पसीने और बालों के विकास को रोकने के लिए उपलब्ध है। (बालों को कम करने के लिए, डिवाइस को कभी-कभी मीराड्राई के बजाय मीरास्मूथ कहा जाता है।)

यह भी पढ़ेंः गर्भवती महिलाओं को ज्यादा पसीना क्यों आता है?

मीराड्राई ट्रीटमेंट क्या है?

मीराड्राई ट्रीटमेंट त्वरित, नॉन-इनवेसिव है और अंडरआर्म में अधिक पसीने के लिए एक स्थायी समाधान प्रदान करती है। मीराड्राई ट्रीटमेंट के लिए जब हैंड मशीन को अंडरआर्म पर रखा जाता है तो वह उस क्षेत्र में सटीक रूप से नियंत्रित ऊर्जा देता है जहां स्वेट ग्लैंड होता हैं और यह नॉन इनवेसिव रूप से पसीने वाली ग्रंथियों को खत्म करता हैं। पसीने की ग्रंथियां एक बार समाप्त होने के बाद वापस नहीं आती है जिसकी वजह से अंडरआर्म में पसीने की कमी होती है। इस ट्रीटमेंट को ज्यादातर ऐसे लोग कराते है जिन्हें बहुत अधिक पसीना आने की समस्या होती है। इस ट्रीटमेंट की वजह से बहुत से सेलिब्रिटी पसीने से छुटकारा पा चुके हैं।

मीराड्राई ट्रीटमेंट के फायदे

  • लंबे रिजल्ट
  • अंडर आर्म के पसीने में कमी
  • तत्काल परिणाम
  • नॉन इनवेसिव
  • टॉक्सिन फ्री
  • मिनिमल टू नो डाउनटाइम
  • कम समय में काम होना

ये भी पढ़ें – यह वैक्सिंग टिप्स (waxing tips) फॉलो कर पाएं वैक्सिंग के बाद होने वाली समस्याओं से निजात

मीराड्राई ट्रीटमेंट के कुछ साइड इफेक्ट्स

मीराड्राई ट्रीटमेंट कराने वालों को अंडर्रआर्म के पसीने से छुटकारा मिल जाता है और पसीने से आने वाली दुर्गंध यानी बदबू से भी पीछा छूट जाता है। इसकी सबसे खास बात यह है कि इस ट्रीटमेंट के बाद आपको अलग-अलग कंपनी के डियोड्रेंट जिनमें स्किन को नुकसान पहुंचाने वाले पदार्थ होते हैं। उन्हें भी इस्तेमाल करने की जरुरत नहीं रहती। यह अंडरआर्म ट्रीटमेंट आपको पसीने और उसकी वजह से इस्तेमाल होने वाले हानिकारक केमिकल वाले डियोड्रेंट से बचाता है। बहुत सी महिलाओं और पुरूषों को अंडरआर्म में अत्यधिक पसीना आता है जिसके कारण वह परेशान रहती है। लेकिन बिना किसी सर्जरी और चीड़-फाड़ के कम समय में होने वाला या ट्रीटमेंट आपको पसीने से बचा सकता है। जिन लोगों को अधिक पसीने की परेशानी है वो आजकल इस ट्रीटमेंट का विकल्प अपना रहे हैं। बॉलीवुड और टीवी सीरियल में काम कर चुकी शिबानी डांडेकर ने यह ट्रीटमेंट लिया और इसको पूरी तरह से सुरक्षित बताया। सोशल मीडिया के माध्यम से उन्होंने मीराड्राई ट्रीटमेंट को लेकर अपना अनुभव साझा किया और कहा कि कोई भी इस ट्रीटमेंट को करा सकता है। इस ट्रीटमेंट से किसी तरह का खतरा नहीं है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Lucky Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/05/2020 को
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x