Achilles Tendon Rupture: अकिलिस टेंडन सर्जरी क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

परिचय

अकिलिस टेंडन आपके पैरों के पीछे निचले हिस्से को चोटिल करता है। साधारण रुप से यह किसी को भी हो सकता है लेकिन ज्यादातर ये समस्या उन लोगों को होता है जो रिक्रीशनल खेल  खेलते हैं।यह एक मजबूत  फ़िब्रोस कॉर्ड  होता है जो मसल्स को आपके बैक काल्फ और हील बोन से जोड़ता है। अगर हम अपने अकिलिस टेंडन को ज्यादा स्ट्रेच करते हैं तो यह फटकर टूट सकता है। यदि आपका अकिलिस टेंडन फट जाता है तो आप एक पॉप सुन सकते हैं जिससे आपके लोवर बैक एंकल में तेज दर्द होगा। जिससे आपको चलने में ज्यादा तकलीफ होगी। आपको बता दें कि यह सर्जरी टूटे हुए की मरम्मत के लिए किया जाता है। लेकिन कुछ लोगों की समस्या केवल उपचार से ही ठीक हो जाती है।

ये भी पढ़े Cerebral Palsy: सेरेब्रल पाल्सी क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लक्षण

अकिलिस टेंडन होने के लक्षण (symptoms of achilles tendon)

कभी-कभी ऐसा भी होता है की इनमें से कोई लक्षण शायद आपको नहीं दिखाई दें लेकिन जांच कराने पर यह  पॉजिटिव मिलता है।

-काल्फ में किक मारने जैसा महसूस होना।

-आपकी एड़ियों में दर्द के साथ-साथ सूजन भी होना।

-आपके पैरों का निचला हिस्सा मोड़ने में तकलीफ महसूस होना।

-चलने-फिरने में चोटिल होने जैसे महसूस होना।

पैरों की उंगलियों के बल पर खड़ें होने में तकलीफ होना।

चोट लगने पर तड़क जैसी आवाज आना।

डॉक्टर को कब दिखाएं (when to see your doctor)

जब आपको थोड़ा भी चलने में ज्यादा तकलीफ होने लगे जिससे आप ठीक तरीके से चल नहीं पा रहे हों, कुछ देर एक अवस्था में रहने पर पैरों से तड़क करके कोई आवाज आए। ऐसा होने पर आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से संपर्क करें और उनको अपनी पूरी समस्या बताएं जिससे वो पहले इसका जांच करें इसके पश्चात इसका इलाज कर सकें।

यह भी पढ़ें; Parathyroidectomy : पैराथाइरॉइडेक्टमी क्या है?

प्रक्रिया

अकिलिस टेंडन सर्जरी

सर्जरी की प्रक्रिया  में आम तौर पर आपके निचले पैर के पीछे एक चीरा बनाना और फटे टेंडर को एक साथ सिलाई करके किया जाता है। फटे हुए टीसू की स्थिति के आधार पर, मरम्मत को अन्य टेंडन के साथ रीनफोर्स्ड  किया जा सकता है। ज्यादा समस्या में इंफेक्शन और नर्व डैमेज  शामिल हो सकते हैं। कम से कम इनवेसिव प्रक्रियाएं खुली प्रक्रियाओं के मुकाबले संक्रमण दर को कम करती हैं।

अकिलिस टेंडन का इलाज(Treatment of achilles tendon)

एक टूटे हुए अकिलिस टेंडर के लिए उपचार अक्सर आपकी उम्र, गतिविधि के तहत और आपकी चोट की गंभीरता पर निर्भर करता है। सामान्य तौर पर, छोटे और अधिक चोटिल लोग, विशेष रूप से एथलीट, पूरी तरह से टूटे हुए अकिलेस टेंडन की मरम्मत के लिए सर्जरी का चयन करते हैं, जबकि पुराने लोगों को निरर्थक उपचार का विकल्प चुनने की अधिक संभावना है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

 नॉन सर्जिकल ट्रीटमेंट

-बैसाखी का उपयोग करके टेंडर को आराम करने देना।

-चोटिल एरिया में आइस मसाज करना।

-ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक लेना।

-पहले कुछ हफ्तों के लिए एंकल को हिलाने से दूर रखें, ज्यादातर हील वेजेज, बूट, पहनकर चलने से बचें।

 कारण

अकिलिस टेंडन होने के कराण(Causes of Achilles tendon)

आपका अकिलिस टेंडन  आपके पैर को नीचे रखने में मदद करता है, आपके पैर के आगे निचले हिस्से (टोज) को उठाता है और चलते समय अपके पैर को धक्का देता है। हम वाल्क करने के लिए इसपर पूरी तरह से डिपेंड होते हैं। हमारे ठीक तरीके सें चलने फिरने के लिए ये बहुत ही महत्वपूर्ण है। आम तौर पर ये टेंडन के 2 1/2 इंच (लगभग 6 सेंटीमीटर) के अंदर में ही टूटता है। जहां यह एड़ी की हड्डी से जुड़ा होता है। यह हिस्से के फटने का खतरा ज्यादा होता है क्योंकि रक्त का प्रवाह खराब होता है, जो इसको ठीक करने की क्षमता को भी खराब कर सकता है।

अक्सर आपके अकिलिस टेंडन पर तनाव में अचानक बढ़त के कारण टूट जाता है। इसके कुछ इस तरह के कारण है।

-खेल में ज्यादा से ज्यादा भागीदारी करना, खासतौर पर ऐसे खेल जिनमें कूदना शामिल है।

-ऊँचाई से कूदना।

-होल में छलांग लगाना।

जोखिम

अकिलिस टेंडन के रिस्क (Risk of Achilles of tendon)

अकिलिस टेंडन टूटने के रिस्क को बढ़ाने वाली ये जरुरी बातें।

उम्र- अकिलिस टेंडन टूटना के लिए अधिकतम उम्र 30 से 40 होती है।

लिंग- अकिलिस टेंडन टूटना महिलाओं की तुलना में पुरुषों में पांच गुना अधिक होने की संभावना होती है।

मनोरंजक खेल- अकिलिस टेंडन की चोटें खेल के दौरान सबसे ज्यादा बार होती हैं, जिसमें दौड़ना, कूदना और अचानक भागना और रुकना – जैसे फुटबॉल, बास्केटबॉल और टेनिस शामिल हैं।

स्टेरॉयड इंजेक्शन- डॉक्टर कभी-कभी दर्द और सूजन को कम करने के लिए एंकल ज्वाइंट्स में स्टेरॉयड का इंजेक्शन लगाते हैं। हालांकि, यह दवा आस-पास के टेंडन को कमजोर कर सकती है और अकिलिस टेंडन टूटने के साथ जुड़ा हुआ है।

एंटीबायोटिक्स- फ्लोरोक्विनोलोन एंटीबायोटिक्स, जैसे कि सिप्रोफ्लोक्सासिन (सिप्रो) या लेवोफ़्लॉक्सासिन , अकिलिस टेंडन  टूटने का खतरा बढ़ाते हैं।

मोटापा- आपके शरीर के बढ़ता वजन भी आपके लिए कई बिमारियों को आमंत्रित करता है जिसमें में अकिलिस टेंडन भी शामिल है। ज्यादा वजन होने से भी टेंडन पर ज्यादा अधिक दबाव पड़ता है।

रिकवरी

अकिलिस टेंडन के निवारण(Prevention of Achilles tendon)

तो अगर आप भी अकिलिस टेंडन की बढ़ रही समस्या से बचना चाहते हैं तो नीचे दी गई टिप्स को अपनाएं, इसको अपने डेली रुटीन का हिस्सा बनाएं। इससे अकिलिस टेंडन होने की उम्मीद कम हो जाएगी।

काल्फ मसल्स को स्ट्रेच करें- अपने काल्फ को तब तक खींचे जब तक कि आपको ये एहसास न हो जाए की इससे ज्यादा खिंचाव नहीं कर पाएंगे लेकिन ध्यान रखना है कि इसमें आपको दर्द नहीं होना चाहिए। आपको बता दें की स्ट्रेचिंग करते समय आपको उछल-कूद नहीं करनी है। काल्फ को मजबूत करने वाले इस एक्सरसाइज से आपकी मसल्स और टेंडर को ज्यादा फोर्स झेलने में हेल्प करेगा साथ ही चोट को रोकने में मदद कर सकते हैं।

एक्सरसाइज से सावधान रहें- जो खेल आपके लोवर बॉडी को ज्यादा प्रभावित करते हैं उनसे दूर रहें, जैसे दौड़ना तो वहीं कम प्रभाव वाले खेल भी दिक्कत कर सकते हैं, जैसे चलना, बाइक चलाना या तैरना। ऐसी गतिविधियों से बचें जो आपके अकिलिस टेंडन पर अत्यधिक तनाव डालती हैं, जैसे पहाड़ी दौड़ना और कूदना गतिविधियाँ।

दौ़ड़ने वाली सर्फेस को सावधानी से चुनें- ज्यादा हार्ड या फिसलन वाली सर्फेस पर चलने से बचें या सीमित करें। रनिग के लिए ठंड के मौसम में ठीक से कपड़े पहनें, और एड़ी के लिए एक कुशन सॉफ्ट पर मोटा कॉटन सर सकते हैं इसके साथ अच्छी तरह से फिटिंग एथलेटिक जूते पहनें।

धीरे-धीरे रनिंग की गति बढ़ाएं-रनिंग की स्पीड में अचानक तेजी के बाद अकिलिस टेंडन की चोटें आमतौर पर होती हैं।आपके रनिंग की स्पीड,ड्यूरेशन और चक्कर को साप्ताहिक रुप से केवल 10 प्रतिशत ही बढ़ाए।आपको बता दें की इसके अलावा अकिलिस टेंडन का एक नॉन सर्जिकल ट्रीटमेंट भी किया जा सकता है लेकिन इसमे पूरी तरह में ठीक होने की उम्मीद कम होती है लेकिन आपको राहत मिल जाती है। इसको  नॉन सर्जिकल ट्रीटमेंट कहते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता। ये भी पढ़े 

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Serum Glutamic Pyruvic Transaminase (SGPT): सीरम ग्लूटामिक पाइरुविक ट्रांसएमिनेस (एसजीपीटी) टेस्ट क्या है?

सीरम ग्लूटामिक पाइरुविक ट्रांसएमिनेस कैसे किया जाता है? सीरम ग्लूटामिक पाइरुविक ट्रांसएमिनेस क्यों किया जाता है? एसजीपीटी परीक्षण क्या होता है। Serum glutamic pyruvic transaminase (SGPT) in hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
मेडिकल टेस्ट A-Z, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z मई 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Cerebrospinal Fluid Test : सीएसएफ टेस्ट (CSF Test) क्या है?

सीएसएफ टेस्ट क्या होता है? सीएसएफ टेस्ट क्यों किया जाता है? Cerebrospinal fluid (CSF) test in hindi, इस टेस्ट को कैसे किया जाता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
मेडिकल टेस्ट A-Z मई 7, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Laser Resurfacing Surgery : लेजर रिसर्फेसिंग क्या है?

लेजर रिसर्फेसिंग का उपयोग ज्यादातर महिलाएं करवाती हैं,यदि आप भी लेजर रिसर्फेसिंग कराने की सोच रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
सर्जरी अप्रैल 23, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Dental Bonding: डेंटल बॉडिंग क्या है?

डेंटल बॉडिंग कैसे होती है? Dental bonding in hindi डेंटल बॉडिंग के ज्यादा खतरे नहीं होते हैं, लेकिन यह बहुत लंबे समय तक के लिए टिकाउ नहीं होता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
सर्जरी, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z अप्रैल 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

एंडोस्कोपिक साइनस सर्जरी-Endoscopic Sinus Surgery

Endoscopic Sinus Surgery: एंडोस्कोपिक साइनस सर्जरी क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ मई 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
ऑडिटरी ब्रेनस्टेम इम्प्लांट के जोखिम क्या है

Auditory Brainstem Implants : ऑडिटरी ब्रेनस्टेम इम्प्लांट क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 10, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
लीकोरिस रुट

Licorice Root: लीकोरिस रुट क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
पेट कम करने के उपाय/Pet kam karne ka upay

पेट कम करने के इन उपायों को करें ट्राई और पाएं स्लिम लुक

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 8, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें