home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

साबूदाना के फायदे : जानिए साबूदाना क्यों है सबसे अच्छा नाश्ता !

साबूदाना के फायदे : जानिए साबूदाना क्यों है सबसे अच्छा नाश्ता !

मोतियों की तरह दिखने वाला, गोल और छोटे आकार का साबूदाना व्रत-उपवास के दिनों में मुख्य रूप से खाया जाता है। वैसे तो आम जीवन में इसका प्रयोग केवल व्रत और फल-हार के लिए किया जाता है, लेकिन इसके अन्य लाभकारी गुणों से अभी भी बहुत से लोग अनजान हैं। साबूदाने की खीर और खिचड़ी के स्वाद से तो सभी वाकिफ हैं। लेकिन, क्या आपको पता है कि साबूदाना के फायदे सेहत के लिए भी बेशुमार हैं। “हैलो स्वास्थ्य के इस आर्टिकल में जानते हैं साबूदाने के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या-क्या हो सकते हैं।

साबूदाने में फाइबर, विटामिन-बी (Vitamin B), आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम,फास्फोरस और विभिन्न लाभकारी एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) पाए जाते हैं जो साबूदाना को स्वादिष्ट होने के साथ गुणकारी भी बनाते हैं। इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व की वजह से ही साबूदाना के स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

और पढ़ें : बॉडी में दिखने वाले इन 10 संकेतों से समझें हो गई है विटामिन-सी (Vitamin C) की कमी

सेहत के लिए साबूदाना के फायदे (Benefits of Sago)

साबूदाना के फायदे कुछ इस प्रकार हैं-

साबूदाना हृदय रोग (Heart disease) की संभावना को कम करता है

हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) और ट्राइग्लिसराइड (Triglyceride) का स्तर ही हृदय रोग का मुख्य कारण है। कई मानव और पशु अध्ययनों से पता चलता है कि साबूदाने में मिलने वाला अमाइलोज (Amylose) कोलेस्ट्रॉल को घटाता है। इतना ही नहीं यह ब्लड फैट लेवल और ब्लड शुगर लेवल (Blood sugar level) को भी नियंत्रित रखता है, जिससे हृदय संबंधित रोग होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

फाइबर की भरमार

साबूदाने में फाइबर की उच्च मात्रा हमारे शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकती है। अन्य अनाज और आहार की तुलना में साबूदाने में मौजूद उच्च फाइबर कई स्वास्थ्य समस्याओं को कम करने में मदद करता है। उदाहरण के तौर पर कब्ज (Constipation), हृदय रोग (ब्लड प्रेशर को कम करके और कोलेस्ट्रॉल को घटाना) और बवासीर (Piles) शामिल हैं।

और पढ़ें: पीरियड्स क्रैंप की वजह से हैं परेशान? तो ये एक्सरसाइज हैं समाधान

साबूदाने में मिलते हैं एंटीऑक्सिडेंट

साबूदाना एक ग्लूटेन फ्री (Gluten free) आहार है, जो अन्य सीरीयल्स की तुलना में अधिक मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) प्रदान करता है। साबूदाने में एंटीऑक्सिडेंट बहुत अधिक है, जो हमारे शरीर में पाए जाने वाले फ्री रैडीकल्स के प्रभाव को बेअसर करते हैं। ऐसा भी माना जाता है कि साबूदाना बढ़ती उम्र और कई बीमारियों से लड़ने में भी मदद करता है।

पाचन में करे मदद

अगर आपको पाचन और कब्ज (Constipation) की श‍िकायत है, तो साबूदाना आपकी मदद कर सकता है। अगर आप कब्‍ज से परेशान हैं, तो एक कप साबूदाना बनाकर खा लीजिए। आपको तुरंत आराम मिल जाएगा। आप साबूदाने को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ताकि आपको भी इस सुपरफूड के फायदे मिल सकें।

और पढ़ेंः क्या ब्राउन शुगर से ज्यादा हेल्दी है स्टीविया? जानें स्टीविया के फायदे और नुकसान

साबूदाने में मिले विटामिन बी -2

एक कप साबूदाने में आपको विटामिन बी -2 (राइबोफ्लेविन) के डेली डोज का 10% मिलता है । एंजाइमों को ठीक तरह से कार्य करने के लिए विटामिन बी -2 बहुत ही आवश्यक है। अगर आपको विटामिन बी -2 की कमी होती है तो आपको तैलीय त्वचा, चकत्ते, एनीमिया और खुजली (Iching) की समस्या हो सकती है।

वजन बढ़ाने में मददगार

अगर आप दुबलेपन से परेशान हैं और वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो साबूदाने का इस्तेमाल आपको इस समस्या से निजात दिला सकता है। साबूदाना के फायदे में से एक फायदा यह है कि इसके प्रयोग से वजन बढ़ाया जा सकता है।इसमें मौजूद कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate) शरीर में ऊर्जा को अवशोषित कर फैट को बढ़ाने में मदद करते हैं।

साबूदाने के फायदे रखेंगे आपको एनर्जेटिक

अगर आप काम करते-करते जल्दी थक जाते हैं और ऊर्जा की कमी महसूस होती है तो आपको साबूदाने को डायट में शामिल करना चाहिए। साबूदाना न सिर्फ एनर्जी देता है बल्कि यह देर तक काम करने की ताकत भी देता है। साबूदाने में पाई जाने वाली ऊर्जा, कैलोरी और प्रोटीन की मात्रा आपको एनर्जेटिक रखें में मददगार साबित होती है। जहां कैलोरी अपने आप टूटकर ऊर्जा में बदल जाती है, वहीं प्रोटीन मसल्स (Muscles) को मजबूती प्रदान करता है और थकान होने से रोकता है।

निष्कर्ष:

फाइबर, मिनरल, एंटीऑक्सिडेंट और सभी आवश्यक एसिड से भरपूर साबूदाना स्वस्थ और सबसे पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है। यह आपके ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करता है और यहां तक ​​कि आपको वजन घटाने (Weight loss) में सहायता करता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

साबूदाना का उपयोग (Use of Sago)

साबूदाने का इस्तेमाल अगर एक सीमित मात्रा में किया जाए तो यह स्वाद के साथ-साथ सेहत भी बनाता है। इसका सेवन किसी भी समय किया जा सकता है। आइए, जानते हैं कि साबूदाना के फायदे (Benefits of Sago) सेहत को मिल सके इसके लिए किन तरीकों से डाइट में साबूदाना शामिल किया जा सकता है।

  • साबूदाने की खीर बनाकर मीठे के रूप में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • साबूदाने की खिचड़ी भी काफी पसंद की जाती है। साबूदाना के फायदे पाने के लिए आप इस साबूदाना रेसिपी को डायट में शामिल कर सकते हैं।
  • साबूदाना वड़ा का नाम भी आपने सुना ही होगा, जो स्नैक्स के तौर पर खाए जाते हैं।
  • साबूदाना के फायदे के लिए इसे ब्रेकफास्ट (Breakfast) के रूप में शामिल करें। साबूदाने को हल्का सा फ्राई करके उस पर नमक और मसाले छिड़कर ब्रेकफास्ट में भी खाया जा सकता है।
  • साबूदाने के आटे में मसले हुए आलू से साबूदाना थालीपीठ भी बनाया जाता है। यह महाराष्ट्र का एक खास व्यंजन है, जिसे व्रत उपवास में खाया जाता है।

और पढ़ेंः क्या ऑफिस वर्क से बढ़ रहा है फैट? अपनाएं वजन घटाने के तरीके

साबूदाना के फायदे पाने के लिए दिन भर में साबूदाने की एक कटोरी से बने व्यंजनों का सेवन किया जा सकता है।

साबूदाना के नुकसान (Side effects of Sago)

साबूदाना के फायदे सुनने के बाद इसके नुकसान भी जानना आपके लिए जरूरी है। हालांकि, जब तक कि इसका सेवन सीमित मात्रा किया जाता है साबूदाने के नुकसान नहीं होते हैं। इसका अधिक सेवन करने से आपकी सेहत को कुछ नुकसान हो सकते हैं। जैसे-

  • साबूदाने में कैलोरी की भी मात्रा काफी उच्च होती है, जिससे वजन बढ़ सकता है। अधिक सेवन से लोग मोटापे (Obesity) का शिकार भी हो सकते हैं।
  • साबूदाने में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा उच्च होती है। इसलिए, अधिक मात्रा में साबूदाने का सेवन डायबिटीज (Diabetes) के मरीज के लिए ठीक नहीं होता है।
  • इसमें कैल्शियम भी पाया जाता है और शरीर में कैल्शियम की अधिकता से हड्डियों की समस्या होने के साथ ही किडनी स्टोन (Kidney stone) की भी संभावना बढ़ सकती है।
  • साबूदाने में साइनाइड बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है लेकिन, अधिक सेवन से दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। जैसे: उल्टी, रक्त का विकार (Blood disorder), सिरदर्द, सांस लेने में कठिनाई, सीने में दर्द आदि।

साबूदाने के फायदे सुनकर आप इसे आपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसके ग्लूटेन फ्री होने से साबूदाना के फायदे स्वास्थ्य के लिए कई हैं। इस खाद्य पदार्थ का कोई भी साइड इफेक्ट तो नहीं है, पर संशय के बात हो तो अपने डॉक्टर से बिना किसी संकोच के परामर्श ले सकते हैं।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Sago/http://www.jscholaronline.org/articles/JFN/Effect-of-sago.pdf/Accessed on 23/07/2021

Calories, Energy Balance, And Chronic Diseases. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK235013/Accessed On 04, Jan, 2020

Association between Dietary Carbohydrates and Body Weight. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC1199523/Accessed On 04, Jan, 2020

Tips for Healthy Weight Management. https://smokefree.gov/stay-smokefree-good/weight/tips-for-healthy-weight-management. Accessed On 04, Jan, 2020

Cyanide. https://www.atsdr.cdc.gov/substances/toxsubstance.asp?toxid=19 Accessed On 04, Jan, 2020

Calcium intake and urinary stone disease. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4708574/. Accessed On 04, Jan, 2020

Energy requirements, protein-energy metabolism and balance, and carbohydrates in preterm infants. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/24751622Accessed On 04, Jan, 2020

Tapioca, pearl, dry. https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/169717/nutrients. Accessed On 04, Jan, 2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/07/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड