आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Sprouts Grains: अंकुरित अनाज के फायदे तो कई हैं, लेकिन सेवन से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना है अति आवश्यक!

    Sprouts Grains: अंकुरित अनाज के फायदे तो कई हैं, लेकिन सेवन से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना है अति आवश्यक! 

    हेल्दी डायट… फिट रहने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है, लेकिन भाग-दौड़ की जिंदगी, बदलती लाइफस्टाइल और वक्त की कमी की वजह से समय पर और ठीक तरह से ना खाने-पीने की वजह से नुकसान तो उठाना ही पड़ता है। वैसे आज हम आपके हेल्दी डायट से जुड़ी एक ऐसी जानकारी शेयर करने जा रहें हैं जो आसानी से बन जाता है और सेहत के लिए लाभकारी भी होता है। वैसे सच कहूं तो इसे बनाने की भी जरूरत नहीं है, नहीं समझें? कोई बात नहीं दरअसल हम बात कर रहें हैं अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) की। अंकुरित अनाज के फायदे (Sprouts Grains) कई हैं और इसे रेडी करना भी आसान है।

    • अंकुरित अनाज क्या है?
    • कौन कौन से अंकुरित अनाज को खाना चाहिए?
    • अंकुरित अनाज के फायदे क्या हैं?
    • अंकुरित अनाज के सेवन से क्या नुकसान भी हो सकता है?
    • अंकुरित अनाज के सेवन से पहले किन-किन बातों का ध्यान रखें?

    चलिए अब कच्चे स्प्राउट्स के फायदे और इससे जुड़े अन्य सवालों का जवाब जानते हैं।

    ​​और पढ़ें : Best Diet for Heart Health: हार्ट हेल्थ को बनाए रखने के लिए जानिए किन चीजों को खाएं और किन से करें परहेज

    अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) क्या है?

    अंकुरित अनाज (Sprouts Grains)

    अंकुरित अनाज को स्प्राउट्स (Sprouts) भी कहते हैं। अंकुरित होने की प्रक्रिया यह है कि जब बीज को तकरीबन 7 से 8 घंटों के लिए पानी में भिगो कर छोड़ देते है और जब ये पानी में अच्छी तरह से फूल जाते हैं या सॉफ्ट हो जाते हैं तो इससे पानी को अलग कर दिया जाता है। इसके बाद इस बीज को दो से तीन दिनों के लिए सॉफ्ट कपड़े में या किसी बर्तन में भी रखने पर ये अंकुरित हो जाते हैं। बीजों का अंकुरित होना ही अंकुरित अनाज या स्प्राउट्स (Sprouts) कहलाता है। अंकुरित अनाज का सेवन कई सालों से लोग करते आ रहें हैं। गांवों में तो आज भी मॉर्निंग ब्रेकफास्ट (Morning Breakfast) की तरह अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) एवं सत्तू (Sattu) जैसे खाने-पीने का सेवन किया जाता है। चलिए अब जानते हैं अंकुरित अनाज कौन-कौन से हो सकते हैं, जिसका सेवन हमें करना चाहिए।

    और पढ़ें : Benefits of Cucumber Water: खीरे के पानी के फायदे आप नहीं जानना चाहेंगे!

    कौन कौन से अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) को खाना चाहिए?

    निम्नलिखित अंकुरित अनाज, बीज एवं फलियों का सेवन किया जा सकता है। जैसे:

    • अंकुरित अनाज- गेहूं, मक्का, रागी, जई एवं बाजरा।
    • अंकुरित बीज- अल्फा-अल्फा, मेथीदाना, कद्दू एवं खरबूजा।
    • अंकुरित फलियां- मूंग, चना, मोठ, काली मसूर एवं सूखे मटर।

    इन ऊपर बताए अनाज, बीज एवं फलियों को अंकुरित कर सेवन किया जा सकता है।

    अंकुरित अनाज के फायदे क्या हैं? (Benefits of Sprouts Grains)

    अंकुरित अनाज (Sprouts Grains)

    शरीर के लिए अंकुरित अनाज के फायदे एक नहीं, बल्कि कई हैं-

    अंकुरित अनाज के फायदे 1: वजन हो सकता है कम

    अगर आप बॉडी के एक्स्ट्रा वेट से परेशान हैं और वेट लॉस करना चाहते हैं, तो आपको अंकुरित अनाज का सेवन करना चाहिए। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेनोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार ब्रेकफास्ट में अगर स्प्राउट्स में मूंगफली को शामिल किया जाए तो इससे वजन कम करने में मदद मिल सकती है। स्प्राउट्स में फाइबर (Fiber) की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे बार-बार भूख नहीं लगती है। इसलिए संतुलित मात्रा में अंकुरित अनाज का सेवन लाभकारी हो सकता है। हालांकि रिसर्च रिपोर्ट में ये कहा गया है कि वजन कम करने के लिए अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) के साथ-साथ एक्सरसाइज (Exercise) करना भी जरूरी है।

    स्प्राउट्स के फायदे 2: ब्लड शुगर हो सकता है कंट्रोल

    अगर आप डायबिटिक हैं और ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में परेशानी महसूस कर रहें हैं, तो आपको अंकुरित अनाज का सेवन करना चाहिए। नैशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन (National Library of Medicine) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) के मरीजों के लिए स्प्राउट्स बेहद लाभकारी है क्योंकि स्प्राउट्स में सल्फोराफेन (Sulforaphane) मौजूद होता है। इससे ब्लड ग्लूकोज लेवल (Blood Glucose Level) कंट्रोल में रहने के साथ ही इंसुलिन लेवल (Insulin level) में भी सुधार आ सकता है।

    अंकुरित अनाज के फायदे 3: कैंसर पेशेंट के लिए है लाभकारी

    यू.एस. डिपार्टमेंटर ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेस (U.S. Department of Health and Human Services) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कैंसर के मरीजों के लिए भी अंकुरित अनाज अत्यधिक लाभकारी होता है। अंकुरित अनाज में मौजूद सल्फोराफेन (Sulforaphane) कैंसर सेल्स के विरुद्ध काम करता है। रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) एवं प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer) मरीजों के लिए विशेष लाभकारी बताया गया है।

    अंकुरित अनाज के फायदे 4: हार्ट को रखता है हेल्दी

    स्प्राउट्स एंटी-हाइपरलिपिडेमिक (Antihyperlipidemic) की तरह काम करता है, जो दिल के लिए फायदेमंद है। इसलिए अंकुरित अनाजों का सेवन किया जाए तो बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल (Bad Cholesterol Level) भी कम होता है, जिससे दिल ठीक तरह से अपना काम करने में सक्षम हो पाता है।

    स्प्राउट्स के फायदे 5: डायजेशन होता है बेहतर

    अंकुरित अनाज में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) डायजेस्टिव सिस्टम (Digestive System) के लिए लाभकारी माना गया है। इसलिए अगर आपको डायजेशन की समस्या रहती है या आप इस परेशानी से बचना चाहते हैं, तो ब्रेकफास्ट या किसी भी एक मील में अंकुरित अनाज को शामिल करते हैं। डायजेस्टिव सिस्टम के लिए हरे अंकुरित मूंग का सेवन लाभकारी बताया गया है।

    स्प्राउट्स के फायदे 6: बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

    शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immune Power) अगर कम या कमजोर हो, तो ऐसी स्थिति में किसी भी बीमारी का खतरा बना रहता है। इसलिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अंकुरित अनाज का सेवन करें। अंकुरित अनाज का सेवन करने से निमोनिया (Pneumonia), डायरिया (Diarrhea) एवं मलेरिया (Malaria) जैसी अन्य बीमारियों से बचाव संभव हो सकता है। स्प्राउट्स में विटामिन सी की मात्रा मौजूद होती है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने का काम करती है।

    अंकुरित अनाज के फायदे 7: नहीं होती है खून की कमी

    खून की कमी जिसे मेडिकल टर्म एनीमिया (Anemia) कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि स्प्राउट्स के फायदे यहां भी मिल सकते हैं, क्योंकि स्प्राउट्स में आयरन (Iron) की मौजूदगी शरीर में खून की कमी नहीं होने देती है।

    अंकुरित अनाज के फायदे 8: त्वचा और बालों के लिए है लाभकारी

    ग्लोइंग स्किन और हेयर की चाहत तो हर कोई रखता है, लेकिन कभी-कभी शरीर में पोषक तत्वों की कमी का असर चेहरे और बालों पर आसानी से देखा जा सकता है। हालांकि अंकुरित अनाज में मौजूद एंटी-एजिंग (Anti Aging), एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) एवं विटामिन (Vitamin) इन परेशानियों को दूर रखना में मुख्य भूमिका निभाते हैं। इसलिए त्वचा और बालों को स्वस्थ्य बनाये रखने के लिए अंकुरित अनाज का सेवन करें।

    अंकुरित अनाज के फायदे 9: आंखों के लिए है लाभकारी

    जिस तरह से शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए अच्छे खान-पान की जरूरत होती है, ठीक वैसे ही देखने की क्षमता कमजोर ना हो इसलिए अंकुरित अनाज का सेवन किया जा सकता है। स्प्राउट्स में एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज (Antioxidant properties) एवं विटामिन सी (Vitamin C) को आंखों के लिए विशेष लाभकारी बताया गया है।

    अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) के सेवन से शरीर को ऊपर बताये गए फायदे मिल सकते हैं, अगर इसका सेवन संतुलित मात्रा और ठीक तरह से किया जाए तो। क्योंकि जरूरत से ज्यादा अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) का सेवन नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसलिए इसके साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए संतुलित मात्रा में ही इसका सेवन करें।

    और पढ़ें : Turmeric and Curcumin Health Benefits: एक नहीं, बल्कि कई बीमारियों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं!

    अंकुरित अनाज के सेवन से क्या नुकसान भी हो सकता है? (Side effects of of Sprouted Grains)

    अंकुरित अनाज के सेवन से निम्नलिखित समस्या हो सकती है। जैसे:

    • यू.एस. फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (U.S. Food and Drug Administration) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार अंकुरित अनाज के सेवन फूड पॉइजनिंग की संभावना बढ़ जाती है।
    • किडनी से जुड़ी समस्या का खतरा बना रहता है।
    • स्प्राउट्स के सेवन से उल्टी की भी समस्या हो सकती है।

    अंकुरित अनाज के सेवन फायदे के साथ-साथ नुकसान भी हो सकता है। शरीर को इससे नुकसान ना हो इसलिए कुछ बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है।

    और पढ़ें : Benefits Of Flaxseed Oil: अलसी के तेल के फायदे सिर्फ एक नहीं हैं!

    अंकुरित अनाज के सेवन से पहले किन-किन बातों का ध्यान रखें? (Tips for Sprouted Grains)

    अंकुरित अनाज (Sprouts Grains)

    अंकुरित अनाज के सेवन से पहले निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना जरूरी है। जैसे:

    • बच्चों (Kids), गर्भवती महिलाएं (Pregnant lady) एवं स्तनपान करवाने वाली महिलाओं (Breastfeeding lady) को स्प्राउट्स के सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
    • अंकुरित अनाज में बैड बैक्टीरिया (Bad Bacteria) अपनी जगह आसानी से बना लेते हैं। इसलिए इसे स्टीम करके खाना बेहतर होगा।
    • ज्यादा दिनों तक रखें अंकुरित अनाज (Sprouts Grains) का सेवन ना करें।
    • अंकुरित अनाज को छूने से पहले हाथों को अच्छी तरह क्लीन करें।
    • अगर स्प्राउट्स से किसी भी तरह की स्मेल आ रही है या स्प्राउट्स लिसलिसा दिख रहा है, तो इसका सेवन ना करें।

    अंकुरित अनाज के सेवन से पहले इन ऊपर बताई गई बातों का ध्यान रखें।

    अगर आप स्प्राउट्स या अंकुरित अनाज के फायदे (Sprouts Grains) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हैलो स्वास्थ्य के हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे। अगर आप किसी हेल्थ कंडिशन की समस्या से पीड़ित हैं, तो स्प्राउट्स के सेवन से पहले विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा, क्योंकि डॉक्टर पेशेंट की हेल्थ कंडिशन (Health Condition) को समझकर और बीमारी की गंभीरता को ध्यान में रखकर इलाज करते हैं और खाने-पीने की सलाह देते हैं।

    ​​कॉन्स्टिपेशन (Constipation) कई बीमारियों को दावत देने में सक्षम है। इसलिए स्वस्थ रहने का राज छिपा है नियमित योगासन में। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक करें और योग से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों को समझें और अपने दिनचर्या में इसे शामिल करें।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    broccoli sprout extract/https://www.cancer.gov/publications/dictionaries/cancer-drug/def/broccoli-sprout-extract/Accessed on 10/06/2022

    Effect of broccoli sprouts on insulin resistance in type 2 diabetic patients: a randomized double-blind clinical trial/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22537070/Accessed on 10/06/2022

    What You Need to Know about Foodborne Illnesses/https://www.fda.gov/food/consumers/what-you-need-know-about-foodborne-illnesses/Accessed on 10/06/2022

    Impact of germination on flour, protein and starch characteristics of lentil (Lens culinari) and horsegram (Macrotyloma uniflorum L.) lines/https://www.sciencedirect.com/science/article/abs/pii/S002364381530092X/Accessed on 10/06/2022

    Effect of germination on total dietary fibre and total sugar in selected legumes/http://www.ifrj.upm.edu.my/23%20(01)%202016/(38).pdf/Accessed on 10/06/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: