home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Nodosis: नोडोसिस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज |उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Nodosis: नोडोसिस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

नोडोसिस (Nodosis) कैसे काम करता है?

नोडोसिस (Nodosis) टैबलेट का यूज अपच की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है। अपच के साथ ही एसिडिटी की समस्या, हार्टबर्न और गैस की समस्या से राहत पाने के लिए डॉक्टर नोडोसिस टैबलेट लेने की सलाह दे सकते हैं। नोडोसिस (Nodosis) टैबलेट लेने से पेट की एसिडिटी न्यूट्रिलाइज होती है। दवा खाने से पेट में कार्बन डाई ऑक्साइड प्रोड्यूस होती है जिससे पेट की जलन कम हो जाती है। इस दवा का सेवन करने से ब्लड और यूरिन का पीएच लेवल भी बढ़ जाता है। इसी कारण से अपच की समस्या के साथ ही शरीर से टॉक्सिक पदार्थ भी बाहर निकल जाते हैं।

नोडोसिस (Nodosis) का कंपोजीशन क्या है?

सोडियम बाई कार्बोनेट (Sodium Bicarbonate)

और पढ़ें : Flexura D: फ्लेक्सुरा डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

नोडोसिस (Nodosis) सामान्य डोज क्या है?

अगर डॉक्टर ने आपको नोडोसिस (Nodosis) लेने की सलाह दी है तो उनसे एक बार दवा का डोज भी जरूर पूछ लें। समस्या के कम या फिर ज्यादा होने पर डॉक्टर दवा का डोज कम या फिर ज्यादा कर सकते हैं। नोडोसिस की टैबलेट सामान्यता दिन में एक या दो बार लेने की सलाह डॉक्टर दे सकता है। दवा का सेवन समय पर जरूर करें।

किशोर और वयस्कों के लिए दवा का डोज – 325 मिलीग्राम से 2 ग्राम तक – (दिन में एक से चार बार तक)
6 से 12 साल की उम्र के बच्चों की डोज– 520 मिलीग्राम

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

इस दवा का सेवन ब्लड और यूरिन में एसिड की मात्रा को कम करने के लिए किया जाता है। ड्रग ओवरडोज हो जाने पर यूरिन में एसिड बहुत कम होने का खतरा रहता है। अगर आपने दवा का ओवरडोज लिया है और शरीर में साइड इफेक्ट्स दिख रहे हैं तो तुरंत डॉक्टर को इस बारे में जानकारी दें। आप अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल भी कर सकते हैं या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाकर पेशेंट की जांच करा सकते हैं।

नोडोसिस (Nodosis) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

नोडोसिस (Nodosis) की डोज मिस हो जाता है तो आपको समस्या से ज्यादा राहत नहीं मिल पाएगी। अगर आप डोज भूल गए हैं तो याद आने पर डोज लें। साथ ही अगली डोज को भी समय पर लें। अगर दूसरी डोज का समय पास है तो छूटी हुई दवा को रहने दें। दो डोज के बीच अंतर रखना भी जरूरी है, इसलिए दो दवाओं का एक साथ सेवन न करें।

और पढ़े : Dolonex DT: डोलोनेक्स डीटी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

मुझे नोडोसिस (Nodosis) इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

नोडोसिस (Nodosis) टैबलेट एंटासिड के रूप में उपयोग की जाती है। अगर आपको पेट में समस्या हो रही है तो हो सकता है कि डॉक्टर आपको नोडोसिस (Nodosis) लेने की सलाह दे। नोडोसिस टैबलेट का सेवन ओरली करना चाहिए। दवा को पानी की सहायता से निगला जाता है। दवा का सेवन पानी के साथ निगल कर या फिर पानी में घोल कर भी किया जा सकता है। आपको डॉक्टर ने जो भी तरीका बताया है, उसी तरह से दवा का सेवन करें। दवा के पाउडर फॉर्म को आप दिन में हर दो घंटे में एक गिलास पानी के साथ ले सकते हैं। वहीं टैबलेट को डॉक्टर के निर्देश के अनुसार दिन में एक से चार बार तक लिया जा सकता है।.इस बात का ध्यान रखें कि आप जिस दवा का सेवन कर रही हैं, ये जरूरी नहीं है कि अन्य व्यक्ति को भी वहीं दवा खाने की सलाह दे सके। बिना डॉक्टर की सलाह के दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए।

दवा का सेवन अगर अगर आप समय पर नहीं करेंगे तो आपकी परेशानी बढ़ सकती है। साथ ही दवा का सेवन समय से पहले बंद कर देने पर आपको समस्या दोबारा हो सकती है। डॉक्टर आपको एक कोर्स के तहत ही दवा का डोज और दिन बताता है। दवा को ओपन करते वक्त साफ और सूखे हाथों का ही प्रयोग करें। अगर आपको तय समय पर दवा खाने के बाद भी राहत नहीं मिलती है तो इस बारे में अपने डॉक्टर को जरूर बताएं। हो सकता है कि आपको कई अन्य समस्या हो, जिसका इलाज जांच के बाद ही संभव है।

और पढ़ें : Aminacrine : ऐमीनाक्राइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

नोडोसिस (Nodosis) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नोडोसिस (Nodosis) का सेवन करने से शरीर में साइड इफेक्ट दिख सकते हैं। नोडोसिस (Nodosis) में सोडियम बाईकार्बोनेट का कंपोजीशन पाया जाता है। जब आपको इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जाए तो ये बात ध्यान रखें कि अपनी डायट में कैल्शियम की मात्रा को बैलेंस रखें। अगर आप दवा के सेवन के साथ ही कैल्शियम की अधिक मात्रा ले रही हैं तो आपके शरीर में दुष्प्रभाव (मिल्क एल्केलाई सिंड्रोम) दिख सकते हैं। ऐसी समस्या से बचने के लिए डॉक्टर से डायट के बारे में भी जानकारी लें।

हो सकता है कि उपरोक्त बताए गए साइड इफेक्ट आपको दवा का सेवन के बाद न दिखें। अन्य साइड इफेक्ट भी दिखने की संभावना हो सकती है। दवा का सेवन करते समय क्या खाना है और क्या नहीं, इस बारे में डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें : Becosules : बीकोस्यूल्स क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

नोडोसिस (Nodosis) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • अगर आपको किडनी प्रॉब्लम है, हार्ट प्रॉब्लम है या फिर लो कैल्शियम लेवल है तो डॉक्टर को इस बारे में जरूर बताएं।
  • नोडोसिस (Nodosis) में सॉल्ट (सोडियम) की मात्रा उपस्थित होती है। अगर आप सॉल्ट रिस्ट्रिक्टेड डायट पर है तो इस बारे में डॉक्टर को जानकारी जरूर दें।
  • दवा के सेवन के समय मिल्क यानी दूध का अधिक सेवन न करें वरना दुष्प्रभाव दिख सकते हैं।
  • प्रेग्नेंसी में मेडिसिन का यूज डॉक्टर से पूछने के बाद ही करना चाहिए वरना समस्या खड़ी हो सकती है। अगर आप ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं तो भी डॉक्टर से जरूर पूछ लें।
  • नोडोसिस (Nodosis) ड्रग का सेवन करते समय एल्कोहॉल का सेवन न करें। एल्कोहॉल का सेवन करना सुरक्षित नहीं है।
  • लिवर की समस्या से गुजर रहे लोगों के लिए दवा का सेवन उपयुक्त नहीं है। डॉक्टर को जानकारी दें ताकि वो आपको अन्य दवा की सलाह दे सके।
  • अगर आप विटामिन, एंटासिड या एस्पिरिन दवाएं ले रहे हैं तो नोडोसिस (Nodosis) दवा को तीन से चार घंटे में अंतराल में ही लें। ऐसा करने से दवा का रिएक्शन नहीं होगा।
  • अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी है तो डॉक्टर से परामर्श करें, तभी दवा का सेवन करें।
  • इंटेस्टाइनल या रेक्टल ब्लीडिंग के समय भी इस दवा के सेवन से बचना चाहिए।
  • इस दवा को लेने से कुछ लोगों में एलर्जी की समस्या भी हो सकती है। अगर आपको दवा खाने से समस्या हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • दवा का कम या फिर अधिक मात्रा में सेवन न करें। आप चाहे तो दवा का समय नोट कर लें और अलार्म लगा लें ताकि आपकी दवा मिस न हो।

और पढ़ें : Grilinctus BM: ग्रिलिंक्टस बीएम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां नोडोसिस (Nodosis) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

जब आप नोडोसिस (Nodosis) का सेवन कर रहे हो तो उस दौरान कुछ दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप पहले से किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो हो सकता है कि आपका डॉक्टर नोडोसिस दवा को बदल कर अन्य दवा देने की सलाह दें। बेहतर होगा कि डॉक्टर से जानकारी लेकर ही दवा का सेवन करें।

इन दवाओं के साथ नोडोसिस ड्रग का रिएक्शन हो सकता है।

  • एम्फैटेमिन (Amphetamine)
  • डाइगौक्सीन (Digoxin)
  • मेफानामिक एसिड (Mefenamic Acid)
  • मेमेंटाइन (memantine)
  • मेथामफेटामाइन (methamphetamine)
  • पैजोपानिब (Pazopanib)
  • रिलपीवीरिने( Rilpivirine)
  • सैलिसिलेट्स मेडिसिन
  • कीटोकोनाजोल (ketoconazole)

क्या गर्भावस्था या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान नोडोसिस (Nodosis) को लेना सुरक्षित है?

नोडोसिस (Nodosis) में सोडियम यानी नमक की मात्रा उपस्थित होती है। नमक की अधिक मात्रा उपस्थित होने से प्रेग्नेंसी में हाई ब्लड प्रेशर का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप प्रेग्नेंट हैं और आपको पेट में समस्या है तो डॉक्टर से जांच कराते समय उन्हें अपनी प्रेग्नेंसी के बारे में जरूर बताएं। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान नोडोसिस ड्रग का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है।इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर के साथ सभी जोखिमों और लाभों पर चर्चा की जानी चाहिए। हो सकता है कि आपका डॉक्टर कुछ समय के लिए आपको ब्रेस्टफीडिंग बंद करने की सलाह दें।अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Mucolite Drops : म्यूकोलाइट ड्रॉप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

मैं नोडोसिस (Nodosis) को कैसे स्टोर करूं?

नोडोसिस (Nodosis) को 30 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान वाले कमरे में नहीं रखना चाहिए। साथ ही नोडोसिस को नमी और सूर्य के सीधे प्रकाश से भी बचाना चाहिए। दवा को आप सुरक्षित कंटेनर में रख सकते हैं। ऐसा करने से बच्चे और जानवर उन तक आसानी से नहीं पहुंच पाएंगे। दवा को सुरक्षित रखने के लिए नमी वाले स्थान बाथरूम का यूज कभी भी न करें। ऐसा करने से दवा के प्रभाव में कमी आ सकती है। साथ ही दवा के एक्सपायर होने पर उसे यूं ही कहीं न फेंक दें। अगर आपको दवा के स्टोरेज को लेकर प्रश्न हो तो फर्मासिस्ट से भी बात कर सकती हैं।

नोडोसिस (Nodosis) किस रूप में उपलब्ध है?

  • टैबलेट

दी गई जानकारी चिकित्सक सलाह का विकल्प नहीं है। दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से जानकारी जरूर लें। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/10/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x