home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Circumcision For Adult: वयस्क पुरुषों में सर्कम्सिजन सर्जरी कैसे होती है?

Circumcision For Adult: वयस्क पुरुषों में सर्कम्सिजन सर्जरी कैसे होती है?
क्यों की जाती है वयस्क पुरुषों की सर्कम्सिजन सर्जरी ?|जोखिमों को समझें|जानिए क्या होता है ?|रिस्क फैक्टर|रिकवरी

क्यों की जाती है वयस्क पुरुषों की सर्कम्सिजन सर्जरी ?

पेनिस के ऊपरी हिस्से को फोरस्किन कहते हैं। खतना सर्जरी से फोरस्किन को हटाया जाता है। लिंग के ऊपरी भाग को ढकने वाली स्किन को हटाने की यह प्रक्रिया होती है। वयस्क पुरुषों में खतना मेडिकल कारण से हटाने की सलाह दी जाती है। बच्चों के तुलना में बड़े पुरुषों का (खतना) सर्कम्सिजन सर्जरी कम किया जाता है।

इस सर्जरी को कराने से यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन होने का जोखिम कम होता है। फोरस्किन के नीचे ऑयल, बैक्टिरिया और डेड स्किन इकट्ठा हो सकती है जो स्मेगमा (smegma) का रूप ले सकती है। यदि स्मेगमा का ठीक से ध्यान न रखा जाए तो इसे दर्दनाक साइड इफेक्ट्स और इंफेक्शन होने का खतरा रहता है।

बड़े पुरुषों में निम्लिखित कारणों से खतना की आवश्यकता पड़ती है:

  • फाइमोसिस- फाइमोसिस में पेनिस की सबसे ऊपरी स्किन जिसे फोरस्किन कहते हैं वो टाइट हो जाती है। टाइट होने की वजह से यह स्किन पीछे की ओर नहीं जा पाती है।
  • पैराफाइमोसिस- फोरस्किन पीछे जाने के बाद वापस पेनिस के टिप पर नहीं पहुंच पाती है।
  • बैलेनोपोसथाइटिस – पेनिस और फोरस्किन में सूजन की समस्या शुरू हो जाती है।
  • बैलेनाइटिस जेरोटिका ओबेरिटान्स- जेनाइटल पार्ट्स में वाइट पैच (धब्बे) होने के साथ-साथ स्किन में परेशानी शुरू हो जाती है।

सर्कम्सिजन सर्जरी के लिए सबसे बेहतर होगा डॉक्टर से सलाह लेना।

वयस्क पुरुषों में खतना क्यों की जाती है ?

निम्नलिखित स्थितियों और मेडिकल हिस्ट्री को समझते हुए खतना की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं:

  • हाइजीन: हाइजीन के चलते डॉक्टर सर्कम्सिजन की सलाह दे सकते हैं। इसके बाद पेनिस की सफाई आसानी से की जा सकती है।
  • इंफेक्शन: यूरिनरी ट्रैक में इंफेक्शन की स्थिति में यह सर्जरी की जा सकती है। क्योंकि यूरिनरी ट्रैक इंफेक्शन की वजह से किडनी में इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।
  • एसटीडी का खतरा: सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शन (STDs) की स्थिति में खतना सर्जरी की सलाह दी जा सकती है।
  • पेनिस प्रॉब्लम: फोरस्किन में परेशानी महसूस होने पर सर्जरी की सलाह दी जा सकती है।
  • पेनिस कैंसर: पेनिस कैंसर की संभावना अत्यधिक कम होती है। लेकिन, सर्कम्सिजन सर्जरी के बाद किसी तरह का खतरा भी नहीं रहता है।

इसके अलावा भी कुछ मेडिकल कंडिशन हो सकती हैं जिसमें खतना की डॉक्टर सलाह दें। इसके बारे में अधिक जानने के लिए अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें।

और पढ़ें: Ketones Test: कीटोन टेस्ट कैसे और क्यों किया जाता है?

जोखिमों को समझें

वयस्क पुरुषों के लिए सर्कम्सिजन सर्जरी की संभावना क्यों बढ़ जाती है ?

खतना से जुड़ी निम्निलिखित टिप्स अवश्य जानें:

  • सर्कम्सिजन या कोई अन्य सर्जरी होने पर ब्लीडिंग और इंफेक्शन का खतरा बना रहता है।
  • सर्कम्सिजन का फर्टिलिटी पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। आमतौर पर माना यह जाता है कि इससे पुरुष और महिला दोनों के लिए सेक्स लाइफ और बेहतर होती है।
  • कभी-कभी सर्जरी के बाद फोरस्किन (पेनिस का शुरुआती भाग) जल्दी ठीक नहीं होता है। इसे ठीक होने में कम से कम 10 दिनों का वक्त लगता है लेकिन, अगर ऐसा नहीं होता है तो डॉक्टर से अवश्य मिलें। ध्यान रखें ऐसा शायद ही किसी पेशेंट के साथ होता है। वयस्क पुरुषों में खतना के बाद परेशानी नहीं होती है।

अगर परेशानी होती है, तो उसके निम्नलिखित कारण हो सकते हैं

  • पेनिस अत्यधिक सेंसेटिव हो जाता है
  • यूरिन का कम और अत्यधिक धीरे-धीरे आना
  • फोरस्किन से जुड़ी परेशानी
  • टांकों का टूटना, आमतौर पर इरेक्शन के कारण ऐसा हो सकता है।

परेशानी को समझना जरूरी है या अगर आप कुछ समझना चाहते हैं, तो डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें – ये हैं पेनिस से जुड़ी गंभीर बीमारियां, कभी न करें इन्हें नजरअंदाज

जानिए क्या होता है ?

वयस्क पुरुष को खतना से पहले किन बातों का ध्यान रखें ?

  • सर्जन पेशेंट या उनके साथ आए हुए व्यक्ति को डॉक्टर सर्जरी से जुड़ी जानकारी देते हैं।
  • पेशेंट को अगर एलर्जी की शियाकत है तो अपने यह परेशानी डॉक्टर को बताएं।
  • सर्जरी से पहले डॉक्टर खाने-पीने की जो सलाह देते हैं उसे अवश्य अपनाएं।

खतना के दौरान क्या होता है ?

बच्चे की खतना सर्जरी की तुलना में वयस्क पुरुष की सर्जरी थोड़ी कठिन होती है। निम्नलिखित तरह से सर्जरी की जाती है:

  • गाइडेड फोरसेप्स (guided forceps)

गाइडेड फोरसेप्स सबसे आसान सर्जरी मानी जाती है। इस प्रक्रिया में फोरस्किन को आगे लाकर सर्जरी की जाती है।

  • डोर्सल स्लिट (dorsal slit)

फिमोसिस (phimosis/paraphimosis) के इलाज के दौरान डोर्सल स्लिट का इस्तेमाल किया जाता है। इस प्रक्रिया में स्लिट की मदद से फोरस्किन के कुछ हिस्से को खोला जाता है और फिर सर्जरी की जाती है।

  • स्लीव रिसेक्शन (Sleeve resection)

स्लीव रिसेक्शन कॉम्प्लिकेटेड सर्जरी में मानी जाती है। लेकिन, अगर अत्यधिक ब्लीडिंग की समस्या होती है, तो स्लीव रिसेक्शन तकनीक ही अपनाई जाती है।

स्लीव रिसेक्शन के पहले पेनिस को अच्छी तरह से साफ किया जाता है, जैसे- प्यूबिक हेयर क्लीन करना आदि। सर्जरी के पहले एस्थेटिक क्रीम या एस्थेटिक इंजेक्शन दी जाती है और उसके बाद सर्जरी शुरू की जाती है।

अगर आप सर्जरी से जुड़ी कोई अन्य जानकारी लेना चाहते हैं या समझना चाहते है, तो चिकित्सक या सर्जन से संपर्क करें।

और पढ़ें: Prostate Cancer: प्रोस्टेट कैंसर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

रिस्क फैक्टर

खतना सर्जरी के क्या रिस्क होते हैं?

खतना सर्जरी वैसे तो एक साधारण प्रक्रिया है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि इसके कोई जोखिम नहीं है। सर्कम्सिजन सर्जरी से निम्नलिखित परेशानी होने का खतरा रहता है:

ब्लीडिंग- सर्जरी के बाद कुछ घंटों तक आपको ब्लीडिंग हो सकती है।
इंफेक्शन- आपको इंफेक्शन हो सकता है। यह लंबे समय तक हो सकता है।
एनेस्थीसिया से रिएक्शन- बहुत सारे लोगों में सर्जरी से पहले एनेस्थीसिया दिया जाता है। इससे जी मिचलाना, उल्टी, सिर दर्द जैसे रिएक्शन हो सकते हैं।
फोरस्किन संबंधित परेशानियां- इस प्रक्रिया के दौरान यह संभव है कि त्वचा को बहुत छोटा कर दिया जाए या त्वचा को बहुत लंबा छोड़ दिया जाए। दोनों ही स्थिति में परेशानी हो सकती है।
जख्म न भरना- कई बार टांके ठीक से भर नहीं पाते हैं। इससे कई स्किन संबंधित परेशानी भी हो सकती है।
रिअटेचमेंट- कई बार फोरस्किन पेनिस से सही से रिअटैच नहीं होती है। ये स्थिति बहुत परेशानी पैदा कर सकती है। ऐसे में दोबारा सर्जरी कराने की जरूरत पड़ सकती है।

रिकवरी

सर्कम्सिजन सर्जरी के बाद वयस्कों में क्या होता है ?

सर्जरी के बाद पेनिस ठीक होने में 7-10 दिनों का वक्त लगता है। इस दौरान हल्के दर्द के साथ-साथ पेनिस में सूजन जैसी अन्य परेशानी महसूस की जा सकती है। सही देख-भाल के लिए निम्नलिखित टिप्स अपनाएं:

  • ब्लीडिंग (कम ब्लीडिंग) होने पर 10 मिनट के लिए साफ कपड़े से उस एरिया पर दबाव डालें। लेकिन, ब्लीडिंग ज्यादा होने पर डॉक्टर से संपर्क करें।
  • सर्जरी के बाद ड्रेसिंग की जाती है और जब ड्रेसिंग प्रक्रिया पूरी हो जाती है, तो उसके बाद साबुन और साफ पानी से पेनिस की सफाई कर सकते हैं। आमतौर पर ड्रेसिंग सर्जरी के 24-48 घंटे तक की जाती है।
  • सर्जरी के बाद तक़रीबन 6 से 8 सप्ताह तक सेक्शूअल एक्टिविटी नहीं करना चाहिए।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। इस लेख में हमने आपको खतना सर्जरी से जुड़ी जानकारी दी हैं। यदि आप इसके बारे में अन्य कुछ जानना चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Nidhi Sinha द्वारा लिखित
अपडेटेड 14/10/2019
x