backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

Personal hygiene: महिलाओं के लिए पर्सनल हाइजीन टिप्स!

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. हेमाक्षी जत्तानी · डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


Ankita mishra द्वारा लिखित · अपडेटेड 24/02/2022

Personal hygiene: महिलाओं के लिए पर्सनल हाइजीन टिप्स!

पर्सनल हायजीन महिलाओं और पुरुषों, दोनों के लिए ही जरूरी है। आमतौर पर पर्सनल हायजीन की आदत अपनी दैनिक जीवनशैली में हर किसी को शामिल करनी चाहिए। वहीं, अगर आप महिला हैं, तो पीरियड्स सर्कल या गर्भावस्था के दौरान और बाद में अनेक चीजें ऐसी होती हैं, जिनका सामना करना पड़ता है। पर्सनल हायजीन सिर्फ एक दिन या कुछ समय के लिए नहीं होता, बल्कि महिलाओं को तो हर रोज इसका खास ख्याल रखना चाहिए। पर्सनल हायजीन न सिर्फ घर पर ही अनुशासित रूप में अपनाना चाहिए, बल्कि ऑफिस और आने-जाने वाले हर स्थान पर इससे जुड़ी बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। आइए जानते हैं पर्सनल हाइजीन (personal hygiene) के कुछ टिप्स-

पर्सनल हायजीन (Personal Hygiene) क्यों जरूरी है?

हम हर जगह बैक्टीरिया और हानिकारक कीटाणुओं  से घिरे होते हैं। ये कीटाणु हमें नग्न आंखों को दिखाई नहीं दे सकते लेकिन, कुछ हानिकारक बीमारियों या इंफेक्शन के लिए ये मुख्य रूप से जिम्मेदार होते हैं। ये बैक्टीरिया घरों के किचन में, बाथरूम में और पानी के इस्तेमाल वाली जैसी जगहों पर सबसे ज्यादा होते हैं। वहीं, ऑफिस या कार्यस्थल पर हम कई दूसरे लोगों के साथ काम करते हैं, जिनके नजदीक रहने से ऐसे कीटाणुओं का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

और पढ़ें : टीनएजर्स टिप्सः कैसे हटाएं प्यूबिक और अंडरआर्म हेयर?

किन नियमों का पालन करके आप पर्सनल हायजीन का ख्याल रख सकतें हैं?

प्रेग्नेंसी के दौरान सावधानियां

यहां पर महिलाओं के पर्सनल हायजीन को बनाएं रखने के लिए कुछ नियम व तरीके बताएं गए हैं, जो स्वच्छता बनाए रखने के लिहाज से हर महिला के लिए बहुत जरूरी है। इसके लिए महिलाएं नीचे बताई गई बातों को ध्यान में रखें-

1.साफ-सफाई रखें (Hygiene)

आप चाहे घर में या ऑफिस में, जिस जगह पर आप सोती हैं या बैठती हैं, उसे हमेशा साफ रखें।

2.हर दिन स्नान करें (Daily Bath)

हर रोज हमारी त्वचा पर लाखों बैक्टीरिया हमला कर सकते हैं। उनसे बचने के लिए हर दिन स्नान करें। हमारे पसीने और त्वचा की कोशिकाओं पर जीवित रहने वाले बैक्टीरिया हर दिन बढ़ते रहते हैं, जिनके कारण शरीर से दुर्गंध भी आती है। इसलिए, हर रोज नहाना बहुत ही जरूरी है। यह भी ध्यान रखें कि नहाने के लिए हमेशा माइल्ड साबुन का इस्तेमाल करना चाहिए और शरीर के निजी हिस्सों की सफाई करते समय सावधानी बरतनी चाहिए। माइल्ड साबुन शरीर से बैक्टीरिया साफ करेगा और स्किन को भी सुरक्षित रखेगा।

और पढ़ें : जानिए क्या करें अगर पार्टनर न कर पाए सेक्शुअली सैटिसफाई

3.वजायनल ऑर्डर (Vaginal Order)

वजायना या निजी अंगों से गंध आना बहुत सामान्य बात है, इसलिए गंध से परेशान न हों। इसे दूर करने के लिए आप किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं या फिर माइल्ड प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। लेकिन, इससे छुटकारा पाने के लिए अत्यधिक केमिकल वाली चीजों का प्रयोग करना समझदारी की बातों से बाहर है।

और पढ़ें : हेल्दी स्किन के लिए नए साल में नए टिप्स, इन्हें जरूर आजमाएं

4.पीरियड्स के दौरान रहें एक्टिव (Active During Periods)

पीरियड्स के दिनों में महिलाओं के शरीर और कमर के निचले हिस्से में असहनीय दर्द होता है। हालांकि, इस दौरान हर महिला को अपनी स्वच्छता की ओर अधिक ध्यान देना चाहिए। ब्लड फ्लो कम होने पर भी हर चार से छह घंटे बाद पैड बदलना चाहिए। हर बार नया पैड इस्तेमाल करने से पहले वजायना को साफ पानी से अच्छे से साफ करना चाहिए। वजायना को साफ करने के लिए कभी भी किसा साबुन या अन्य कैमिकल युक्त चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इससे खराब बैक्टीरिया वजायनल के अंदर पहुंच सकते हैं। वजायना साफ करने के लिए हल्के गर्म पानी और अच्छे लिक्विड का इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ें : प्यूबर्टी के दौरान लड़कियों में क्या शारीरिक बदलाव होते हैं?

5.बालों की शैंपू और कंडिश्निंग (Shampoo & Conditioning)

सप्ताह में कम से कम दो से तीन बार बालों को अच्छे क्वालिटी के शैंपू और कंडिश्नर से साफ करें। बालों को धोने के लिए हल्के गर्म पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन, बहुत ज्यादा गर्म पानी का इस्तेमाल न करें।

और पढ़ें : पीरियड्स के दौरान जरूर फॉलो करें ये मेन्स्ट्रुअल हाइजीन

6.चेहरे को रोजाना दो बार धोएं (Facewash)

सो कर उठने के बाद और सोने से पहले हर रोज माइल्ड या एल्कोहॉल फ्री क्लींजर का इस्तेमाल करके चेहरा साफ करें।

7. सेक्शुअल हाजीन (sexual hygiene) का भी रखें ख्याल

सेक्शुअल एक्टिविटी के दौरान बहुत से कपल्स सेक्शुअल हायजीन की तरफ ध्यान नहीं देते हैं। इससे कई तरह की समस्याएं जन्म ले सकती हैं। पर्सनल हायजीन में को भी ध्यान में रखें। सेक्स के दौरान होने वाले यौन संचारित रोगों (STD) से बचने के लिए नीचे बताई गई टिप्स जरूर फॉलो करें-

  • पसीने और बैक्टीरिया को अपने जननागों से दूर रखें यानी गुप्तांगों की साफ-सफाई पर हमेशा ध्यान दें।
  • जननागों को साफ रखने के लिए नहाते समय प्रतिदिन इंटीमेट वॉश से सफाई करें। इसके बाद करने पानी में एंटी सेप्टिक डालकर साफ करें।
  • हमेशा प्युबिक हेयर को साफ करते रहें। सही से सफाई न होने की वजह से वहां बॉइल्स व बैक्टीरियल इंफेक्शन हो सकता है।
  • गीले अंडरगार्मेंट्स न पहनें। इससे स्किन-रैशेज और इंफेक्शन की समस्या की संभावना बढ़ सकती है।
  • साथ ही देर तक टाइट अंडरवेयर्स, स्किन फिट जींस जैसे कपड़ों को भी पहनने से बचें। टाइट कपड़ों को पहनने से पसीना बाहर नहीं निकल पाता और इससे बैक्टीरिया को पनपने में मदद मिलती है।

और पढ़ें : पानी में सेक्स करने का बना रहे हैं प्लान, तो पहले पढ़ें यह वॉटर सेक्स गाइड

8. मुंह की सफाई (Oral Cleaning)

ओरल हरयइजीन (oral hygiene) को मेंटेन करके कई तरह की गंभीर बिमारियों जैसे हृदय रोगों आदि से बचा जा सकता है इसलिए पर्सनल हायजीन में ओरल हाइजीन का विशेष ध्यान रखें दिन में दो बार अपने दांत साफ करें। साथ ही मुंह से बद्बू न आएं। इसके लिए अच्छे माउथवाश का इस्तेमाल करें

और पढ़ें : World Toilet Day: टॉयलेट हायजीन के लिए अपनाएं ये टिप्स

9. वर्कआउट (Workout) के बाद नहाना है जरूरी

फिट रहने के लिए जितना जरूरी व्यायाम करना है, उतना ही जरूरी है एक्सरसाइज के बाद पर्सनल हायजीन पर भी ध्यान देना। क्या आपको पता है कि वर्कआउट के बाद अगर आप स्नान नहीं करते हैं तो आप एक बड़ी गलती कर रहे हैं। पसीने की गंध को दूर करने के लिए व्यायाम के बाद नहाना जरूरी हो जाता है। इससे त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया खत्म होते हैं।

ध्यान रखें कि नहाने के बाद शरीर को अच्छे से सुखाएं और तभी कपड़े पहनें और हर दिन अंडरगारमेंट्स बदलें। अगर वह पसीने से भीग जाए या किसी भी कारण से गीला हो जाए, तो उसे तुरंत बदल लें। साथ ही, आप घर से बाहर जाते समय अपने पर्स में एक छोटा हायजीन किट रख सकते हैं। जिसमें एक छोटा शीशा, डियोड्रेंट, कंघी, हैंड सैनिटाइजर और माउथ फ्रेशनर कैरी कर सकती हैं। इसको अपनी ट्रेवल किट में भी शामिल करें। इससे यात्रा करने के दौरान आपको पर्सनल हायजीन को बनाए रखने में आसानी होगी।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


Ankita mishra द्वारा लिखित · अपडेटेड 24/02/2022

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement