home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Ignatia amara: इग्नेशिया अमारा से एक नहीं बल्कि होता है कई बीमारियों का इलाज

Ignatia amara: इग्नेशिया अमारा से एक नहीं बल्कि होता है कई बीमारियों का इलाज

आपकी बीमारी को ठीक करने के लिए कौन-सा ट्रीटमेंट काम कर जाए, ये कहा नहीं जा सकता है। एंग्जायटी डिसऑर्डर (Anxiety disorders) का इलाज संभव है लेकिन ये कठिन हो सकता है। प्रिस्क्रिप्शन मेडिसिन लेने से कुछ समय बाद तक फिजिकल और इमोशनल डिपेंडेंसी बढ़ जाती है। वहीं अन्य दवाओं का लंबे समय तक सेवन करने से कुछ साइड इफेक्ट जैसे कि वजन का बढ़ना (Weight gain), सेक्शुअल डिस्फंक्शन (Sexual dysfunction) आदि समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है। ऐसे में एंग्जायटी डिसऑर्डर के ट्रीटमेंट के लिए ऑल्टरनेटिव ट्रीटमेंट (Alternative treatments) के रूप में होम्योपैथिक उपचार को कई लोग पसंद करते हैं। आज हम आपको इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) के बारे में जानकारी देंगे, जिसका इस्तेमाल एंग्जायटी डिसऑर्डर (Anxiety disorder) को ठीक करने के लिए किया जाता है।

और पढ़ें: एंग्जायटी यानी चिंता से राहत पाने के लिए इन होम्योपैथी उपचारों को अपनाना न भूलें

इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) का एंगजायटी में दिखाती है प्रभाव?

इग्नेशिया अमारा

होम्योपैथी ट्रीटमेंट (Homeopathy treatment) के दौरान लक्षणों के अनुसार बीमारी का इलाज किया जाता है। होम्योपैथ डॉक्टर पहले बीमारी के बारे में जानकारी लेते हैं और फिर लक्षणों के आधार पर बीमारी की दवा देते हैं। यानी आपको सिर्फ एक दवा नहीं बल्कि दवाओं का कॉम्बिनेशन दिया जाता है। इस कॉम्बिनेशन में हर्ब (Herb) भी शामिल होते हैं। इग्नेशिया अमारा (Ignatia) पिल्स के तौर पर मिलती है, जिसका सेवन ओरली यानी मुंह से किया जा सकता है। होम्योपैथिक दवाओं (Homeopathic medicines) को बिना डायल्यूट किए नहीं दिया जाता है। यानी आपको जो दवाएं दी जाती हैं, उनमें बहुत कम मात्रा में एक्टिव इंग्रीडिएंट होता है।

जिस पेड़ से इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) प्राप्त होता है, उसमें कुछ मात्रा में जहर (strychnine) भी होता है। अगर व्यक्ति इसकी अधिक मात्रा ले, तो ये शरीर के लिए घातक साबित हो सकता है। इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) का इस्तेमाल मुंह की म्युकस मेंबरेन में पैदा हुई समस्या (oral lichen planus) को ठीक करने में भी किया जाता है। ये एक इंफ्लामेटरी कंडीशन है। जब इग्नेशिया का अन्य होम्योपैथी दवाओं (Homeopathic medicines) के साथ सेवन किया जाता है, तो ये बुखार, नींद न आने की समस्या, सिरदर्द की समस्या, निगलने में कठिनाई, मेंस्ट्रुअल प्रॉब्लम के दौरान आदि समस्याओं में राहत दिलाता है।

और पढ़ें: गैस्ट्राइटिस के लिए होम्योपैथी ट्रीटमेंट : एक आसान, लेकिन असरदार इलाज!

  • दुख या फिर तनाव से जुड़ी बीमारी के दौरान।
  • कुछ न्यूरोलॉजिकल लक्षणों ( neurological symptoms) जैसे कि वॉमिटिंग, सेडनेस, मूड में होने वाले बदलाव (Mood changes), हिस्टीरिया (hysteria) आदि लक्षणों से राहत दिलाने में दवा का इस्तेमाल।
  • आंखों की कमजोरी (Eye weakness) को दूर करने में।
  • खांसी, सिरदर्द, मितली (Nausea) आदि को ठीक करने में दवा का इस्तेमाल।
  • पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं (Problems during periods) को दूर करने में।
  • इमोशनल स्ट्रेस से राहत दिलाने में इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) का इस्तेमाल।

इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) लेते समय रखें सावधानियां

किसी भी दवा का सेवन करने से पहले हमेशा डॉक्टर की राय लेना बहुत जरूरी है। अगर आपको चिंता या एंग्जायटी की समस्या (Problem of anxiety) है, तो पहले आपको डॉक्टर से बीमारी के लक्षणों को बताना चाहिए। डॉक्टर आपको दवा का सेवन करने के बारे में जानकारी देंगे। दवा का कितना डोज लेना है और किन चीजों से बचना है, इस बारे में डॉक्टर आपको बताएंगे। आपको बिना डॉक्टर की सलाह के इग्नेशिया अमारा (Ignatia amara) का सेवन नहीं करना चाहिए। दवा का अधिक मात्रा में सेवन आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। बेहतर होगा कि दवा की निश्चित खुराक ही लें।

  • दवा का इस्तेमाल करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें।
  • दवा को सूखे, ठंडे स्थान पर रखें। दवा को सूर्य की रोशनी में न रखें। आप दवा को 25 डिग्री सेल्सियस टेम्परेचर पर रख सकते हैं। वहीं 40 परसेंट ह्युमिडीटी दवा के लिए उपयुक्त है।
  • दवा की जितनी मात्रा बताई गई हो, उससे न तो अधिक और न ही कम सेवन करें।
  • बच्चों की पहुंच से दवा को दूर रखें।
  • दवा लेते समय कॉफी का सेवन, चाय या फिर तेज गंध वाली किसी भी चीज का सेवन करने से बचें।
  • दवा का सेवन करने के बाद करीब आधे से एक घंटे के बाद ही खाएं या पिएं। अगर किसी अन्य दवा का सेवन करना है, तो भी एक घंटे का अंतर जरूर रखें।
  • अगर आप किसी दवा का पहले से सेवन कर रहे हैं, तो डॉक्टर को उस बारे में जानकारी जरूर दें।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या फिर ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं, तो दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर को इस बारे में जानकारी जरूर दें।
  • अगर आपको लंबे समय से कोई बीमारी जैसे कि लिवर डिजीज या फिर हार्ट डिजीज है, तो डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

और पढ़ें: स्ट्रेस बस्टर के रूप में कार्य करता है उष्ट्रासन, जानें इसके फायदे और सावधानियां

क्या इस दवा का हो सकता है दुष्प्रभाव?

अगर आप दवा का सेवन डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद करते हैं, तो कम संभावना है कि आपको दुष्प्रभाव देखने को मिलें। कुछ लोगों में दवा का अधिक सेवन करने के बाद चिंता, थकावट, चक्कर आना, पीठ में अकड़न होना, सांस लेने में तकलीफ, मांसपेशियों में ऐंठन, जबड़े में ऐंठन आदि महसूस हो सकती है। ऐसा उन लोगों के साथ होने की अधिक संभावना रहती है, जो लोग दवा को अधिक मात्रा में लेते हैं। अधिक जानकारी के लिए होम्योपैथ डॉक्टर से जानकारी जरूर लें।

और पढ़ें: मशहूर योगा एक्सपर्ट्स से जाने कैसे होगा योग से स्ट्रेस रिलीफ और पायेंगे खुशी का रास्ता

आजकल की तनाव भरी जिंदगी में एंग्जायटी डिसऑर्डर होना कॉमन है। अक्सर लोग किसी भी चीज के डर को मन में बैठा लेते हैं और फिर उसे लेकर चिंता करते हैं। एंग्जायटी के कारण आपकी रोजमर्रा की जिंदगी प्रभावित होती है। अगर आप इस बीमारी का इलाज करा रहे हैं और आपको असर नहीं दिख रहा है, तो आप ऑल्टरनेटिव ट्रीटमेंट भी अपना कर देख सकते हैं। बेहतर लाइफस्टाइल और पौष्टिक आहार (nutritious food) शरीर की कई समस्याओं को दूर कर देता है। आपको इन बातों का ध्यान रखना चाहिए और अपनी समस्या का इलाज जरूर कराना चाहिए। आप चाहे तो इस बारे में एक बार होम्योपैथी डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं और ट्रीटमेंट शुरू कर सकते हैं।

डॉक्टर से परामर्श के बाद जो दवाएं बताई जाए, उनका ही सेवन करें। बिना परामर्श के दवा का अधिक सेवन करने से शरीर में साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको इग्नेशिया अमारा (ignatia amara) के संबंध में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Accessed on 27/5/2021

 Homeopathic treatment of migraine in children: results of a prospective, multicenter, observational study. Journal of Alternative and Complementary Medicine, 
http://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/22978244

Facts about strychnine
emergency.cdc.gov/agent/strychnine/basics/facts.asp

Effects of Ignatia amara in mouse behavioural models. Homeopathy, 
http://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/22226316

Medication.
adaa.org/finding-help/treatment/medication

 Ignatia in the treatment of oral lichen planus. Homeopathy
http://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/19135958

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/05/2021 को
डॉ. स्नेहल सिंह के द्वारा मेडिकली रिव्यूड