आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

खुबानी के फायदे - Health Benefits of Khurmani (Dried Apricots)

परिचय|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध
    खुबानी के फायदे - Health Benefits of Khurmani (Dried Apricots)

    परिचय

    खुबानी (Khurmani) क्या है?

    खुबानी एक फल है, जिसकी पैदावार भारत और पाकिस्तान में होती है। इसे सुखाकर ड्रायफ्रूट की तरह इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद में इसे कई बीमारियों के इलाज के लिए उपयोगी बताया गया है। इसे एप्रकॉट के नाम से भी जाना जाता है। विटामिन-सी, विटामिन-ए, विटामिन-ई, मैंगनीज और पोटेशियम से भरपूर खूबनी फाइबर का अच्छा स्त्रोत है। देखने में यह आडू जैसा होता है और स्वाद में यह मीठा होता है। इसका वानस्पातिक नाम प्रूनस् आरमीनिआका (Prunus armeniaca) है। यह रोसासिए (Rosaceae) परिवार से ताल्लुक रखता है।

    खुबानी (Khurmani) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

    एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर

    खुबानी एंटीऑक्सीडेंट्स का अच्छा स्त्रोत है। इसमें विटामिन ए, सी और ई पाए जाते हैं। इसमें उच्च मात्रा में पॉलीफेनॉल एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो डायबिटीज, हृदय रोग समेत कई बीमारियों में मददगार होते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स को बेअसर कर हानिकारक यौगिक कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने से बचाते हैं। यही ऑक्सीडेटिव तनाव का कारण बनते हैं। ऑक्सीडेटिव तनाव मोटापे, हृदय रोग और कई पुरानी बीमारियों से जुड़ा हुआ है।

    आंखों के लिए वरदान समान है खुबानी

    इसमें कई ऐसे कंपाउंड होते हैं जो आंखों के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन-ए और ई रात को न दिखने की बीमारी से सुरक्षा कवच प्रदान करते हैं। इसके अलावा विटामिन-ई फैट सॉल्यूबल एंटीऑक्सीडेंट होता है जो आंखों को फ्री रेडिकल डेमेज से बचाता है।

    शरीर को रखे हाइड्रेट

    खुबानी पानी से भरपूर होती है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के साथ शरीर के तापमान, जोड़ों और हर्ट रेट को रेगुलेट करने में मदद करता है।

    लिवर को रखे दुरुस्त

    कई शोध के अनुसार, खुबानी लिवर को ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस से सुरक्षा प्रदान करता है। जानवरों पर की गई एक स्टडी के अनुसार, जो चूहे खबानी का सेवन करते थे उनमें लिवर एंजाइम्स का स्तर कम देखने को मिला। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कंटेंट लिवर को डैमेज होने से बचाता है।

    गट हेल्थ को प्रमोट करती है

    खुबानी का सेवन गट हेल्थ को प्रमोट करता है। इसमें मौजूद फाइबर डायजेशन में मदद करते हैं। इसके साथ ही यह आंतों को नियमित रूप से साफ करके गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संबंधित परेशानियों से बचाता है।

    ब्लड के लिए फायदेमंद

    खुबानी में अधिक मात्रा में आयरन होता है, जो शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है। ये एनीमिया से बचाव करता है। यही कारण है की शरीर में खून की कमी होने पर इसका सेवन करने की सलाह दी जाती है।

    हड्डियों को बनाए मजबूत

    इसमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम के अतिरिक्त यह पोटेशियम का भी अच्छा स्त्रोत है। हड्डियों की बेहतर सेहत के लिए कैल्शियम और पोटेशियम दोनों ही आवश्यक होते हैं।

    स्किन के लिए लाभदायक

    खुबानी का सेवन स्किन के लिए अच्छा होता है। ये धूप, प्रदूषण और सिगरेट से स्किन पर होने वाली झुर्रियां और डैमेज से बचाता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी त्वचा को यूवी प्रोटेक्शन देता है।

    ब्लड क्लॉटिंग

    एक शोध के अनुसार यह ब्लड को क्लॉट होने में मदद करती है। इसके साथ ही इसका सेवन ब्लीडिंग डिसऑर्डर से ग्रसित लोगों के लिए बेहतर होता है।

    इन परेशानियों के इलाज में भी मददगार है खुबानी का सेवन:

    • वजन को कम करने में मदद करता है
    • प्रेग्नेंसी के दौरान फायदेमंद है इसका सेवन
    • कब्ज में राहत
    • स्कैल्प की समस्याओं को दूर करता है
    • बालों को स्वस्थ रखने में करता है सहयोग
    • एंटी-कैंसर एजेंट के रूप में काम करता है
    • त्वचा को बनाए चमकदार
    • सांस संबंधित परेशानियों को करे दूर
    • उच्च रक्तचाप को करे नियंत्रित
    • इसमें मौजूद एंटी-इन्फ्लैमेटरी गुण कान के दर्द में राहत दिलाते हैं।

    खुबानी (Khurmani) कैसे काम करता है?

    खुबानी की न्यूट्रिशनल वैल्यू (प्रति 70 ग्राम)

    इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, मैंगनीज, पोटाशियम, नियासिन, मैग्निशियम जैसे पौष्टिक गुणों से भरपूर होती है। इसलिए इसका इस्तेमाल कई स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों में उपयोगी माना जाता है।

    और पढ़ें: मुलेठी के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Licorice

    सावधानियां और चेतावनी

    खुबानी (Khurmani) का उपयोग करना कितना सुरक्षित है?

    खुबानी का सीमित मात्रा में सेवन ज्यादातर सभी लोगों के लिए सेफ है। एक स्टडी के अनुसार, खुबानी के बीजों में खतरनाक रसायन होता है, जो जानलेवा साबित हो सकता है। इसलिए इसके बीज को चबाने की गलती न करें। दवाओं की तुलना में हर्ब से जुड़े रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इसके साथ ही इन्हें लेकर अधिक शोध करनी की भी जरूरत है। निम्नलिखित परिस्थितियों में खुबानी का सेवन करने से परहेज करें:

    • जिन लोगों को आंतो से जुड़ी कोई समस्या है उन्हें इसका सेवन करने से परहेज करना चाहिए। यह स्थिति को पहले से ज्यादा गंभीर बना सकता है।
    • यदि आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द है या उल्टी की शिकायत है तो इन दोनों स्थितियों में भी खुबानी का सेवन एवॉइड करना चाहिए।
    • जिन लोगों का ब्लड प्रेशर लो रहता है उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इसका सेवन करने से उनका ब्लड प्रेशर अत्यधिक कम हो सकता है।
    • जिन लोगों का खून पतला होता है या जिन्हें कार्डियोवैस्कुलर डिजीज है उनके लिए इसका सेवन खतरनाक साबित हो सकता है।

    और पढ़ें: सर्पगंधा के फायदे एवं नुकसान; Health Benefits of Indian snakeroot (Sarpagandha)

    साइड इफेक्ट्स

    खुबानी (Khurmani) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

    खुबानी का सेवन कुछ लोगों में साइड इफेक्ट्स का कारण बन सकता है। इसका सेवन करने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

    [mc4wp_form id=”183492″]

    खुबानी का सेवन करने वाले हर किसी को उपरोक्त बताएं साइड इफेक्ट हो ऐसा जरुरी नहीं है। कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं, तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

    और पढ़ें: अमलतास के फायदे एवं नुकसान; Health Benefits of Golden Shower Tree (Amaltas)

    डोसेज

    खुबानी (Khurmani) को लेने की सही खुराक क्या है?

    खुबानी की खुराक को लेकर कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। इसकी खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। यह मरीज की उम्र, मेडिकल कंडिशन और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए कभी भी इसकी खुराक खुद से निर्धारित करने की भूल न करें। हर्बल की सही खुराक की जानकारी के लिए हमेशा अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें। आपके द्वारा की गई जरा सी लापरवाही आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक साबित हो सकती है।

    और पढ़ें: कालमेघ के फायदे एवं नुकसान; Health Benefits of Kalmegh (Andrographis paniculata)

    उपलब्ध

    किन रूपों में उपलब्ध है खुबानी (Khurmani)?

    खुबानी निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

    • रॉ खुबानी (Raw Khurmani)
    • फ्लूइड एक्सट्रेक्ट (Fluid Extract)
    • पाउडर (Powder)
    • टिंचर (Tincture)

    अगर आपका इससे जुड़ा किसी तरह का कोई सवाल है, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Prunus armeniaca: https://hort.purdue.edu/newcrop/parmar/17.html Accessed June 08, 2020

    Prunus armeniaca: https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19330262/ Accessed June 08, 2020

    Volatile constituents of apricot (Prunus armeniaca): https://pubs.acs.org/doi/abs/10.1021/jf00092a031 Accessed June 08, 2020

    Apricots: https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/173941/nutrients Accessed June 08, 2020

    Dried Apricot nutritional Value: https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/341521/nutrients Accessed June 08, 2020

    Phenolic compounds and vitamins in wild and cultivated apricot (Prunus armeniaca L.): https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4190386/ Accessed June 08, 2020

    Dried Apricots in Pregnancy: https://extension.arizona.edu/sites/extension.arizona.edu/files/pubs/az1746-2017.pdf Accessed June 08, 2020

    Apricot for Constipation: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4291444/ Accessed June 08, 2020

    Effect of dried fruit on postprandial glycemia: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6288147/ Accessed June 08, 2020

    Dried Apricots: https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/18286408/ Accessed June 08, 2020

    Dried Apricots: https://www.organicfacts.net/dried-apricots.html Accessed June 08, 2020

    लेखक की तस्वीर badge
    Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/06/2020 को
    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड