home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Histoplasmosis : हिस्टोप्लास्मोसिस क्या है?

परिचय |लक्षण |कारण |जोखिम |उपचार |घरेलू उपचार
Histoplasmosis : हिस्टोप्लास्मोसिस क्या है?

परिचय

हिस्टोप्लास्मोसिस क्या है?

हिस्टोप्लास्मोसिस एक प्रकार का फेफड़े से संबंधित इन्फेक्शन है। यह हिस्टोप्लाज्मा कैप्सुलेट्म फंगल स्पोर्स के कारण होता है, जोकि मिट्टी में पाए जाते हैं। इसके अलावा यह स्पोर्स पक्षियों और चमगादड़ की ड्रॉपिंग्स में भी पाए जाते हैं। पक्षी या चमगादड़ द्वारा दूषित मिट्टी भी इस बीमारी को प्रसारित करती है, इसलिए किसानों और लैंडस्केपर को इस बीमारी के होने का खतरा ज्यादा होता है। जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, उनमें इस बीमारी के होने का खतरा ज्यादा होता है।

हिस्टोप्लास्मोसिस दो प्रकार के होते हैं

1- एक्यूट हिस्टोप्लास्मोसिस (acute histoplasmosis): यह बहुत ही हल्का इन्फेक्शन होता है, जिसमें दूसरी समस्याएं होने की संभावना बहुत ही कम होती है, जिन लोगों को ये इन्फेक्शन होता है उनमें आमतौर पर कोई लक्षण नहीं दिखाई देता है। एक स्टडी में पाया गया है कि लगभग 60 से 90% लोग जो ऐसी जगहों पर रहते हैं जहां ये फंगस (fungus) आसानी से पाए जाते हैं, उनमें यह समस्या हो सकती है।

2- क्रोनिक हिस्टोप्लास्मोसिस (chronic histoplasmosis): एक्यूट हिस्टोप्लास्मोसिस की तुलना में इसके होने की संभावना कम होती है। आपको बता दें कि यह समस्या पूरे शरीर में फैल सकती है। एक बार यह इन्फेक्शन पूरे शरीर में फैल गया, तो यह खतरनाक हो जाता है और इसका इलाज भी नहीं होता है।

कितना सामान्य है हिस्टोप्लास्मोसिस का होना?

हिस्टोप्लाज्मा के होना का खतरा उन क्षेत्रों में रहने वाले 80% लोगों में होते हैं, जहां कवक यानी फंगी (Fungi) आसानी से पाए जाते हैं, जैसे कि पूर्वी और मध्य संयुक्त राज्य। आपको बता दें कि शिशुओं, छोटे बच्चों और बड़े व्यक्तियों में, विशेष रूप से पुराने फेफड़ों की बीमारी वाले लोगों में इस गंभीर बीमारी का खतरा बढ़ जाता है।

और पढ़ें : अस्थमा क्या है? जानें इसके कारण , लक्षण और इलाज

लक्षण

हिस्टोप्लास्मोसिस के क्या लक्षण हैं?

जो लोग इस फंगस से संक्रमित होते हैं, उनमें कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। अगर आपको कोई लक्षण होते हैं तो वो दस दिन के बाद ही दिखाई देंगे। इस बीमारी के संभावित लक्षण इस प्रकार हैं;

जो लोग फेफड़ों की बीमारी जैसे इम्फिसिमा से ग्रसित हैं, उनमें क्रोनिक हिस्टोप्लास्मोसिस होने की संभावना हाे सकती है। गंभीर स्थिति में इस बीमारी के लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं;

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

ऊपर बताएं गए लक्षणों में किसी भी लक्षण के सामने आने के बाद आप डॉक्टर से मिलें। हर किसी के शरीर पर हिस्टोप्लास्मोसिस अलग प्रभाव डाल सकता है। इसलिए किसी भी परिस्थिति के लिए आप डॉक्टर से बात कर लें।

और पढ़ें: वजन बढ़ाने के लिए दुबले पतले लोग अपनाएं ये आसान उपाए

कारण

हिस्टोप्लास्मोसिस होने के क्या कारण हैं?

हिस्टोप्लाज्मा कैप्सुलेटम की प्रजनन कोशिकाओं (Reproductive cells) के कारण हिस्टोप्लास्मोसिस जैसी बीमारी होती है। ये स्पोर्स (spores) बहुत ज्यादा हल्के होते हैं और जब गंदगी या दूषित पदार्थ खराब होते हैं, तो ये स्पोर्स हवा में तैरते हैं। इन स्पोर्स को सांस के माध्यम से इन्फेक्शन होता है। हिस्टोप्लास्मोसिस एक से ज्यादा बार हो सकता है। हालांकि, पहला इन्फेक्शन बहुत ज्यादा गंभीर होता है।

इसके अलावा इस बीमारी के और भी कारण हो सकते हैं जैसे;

और पढ़ें : अस्थमा के लिए ज़िम्मेदार हो सकती हैं ये चीजें

जोखिम

हिस्टोप्लास्मोसिस के साथ क्या समस्याएं हो सकती हैं?

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया है कि हिस्टोप्लास्मोसिस एक प्रकार का लंग इन्फेक्शन है। हिस्टोप्लास्मोसिस के साथ एक्यूट रेस्पिरेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम (Acute respiratory distress syndrome), हार्ट की समस्या, मेनिनजाइटिस (Meningitis) और एड्रिनल ग्लैंड और हाॅर्मोनल समस्याएं आदि हो सकते हैं।

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया है कि हिस्टोप्लास्मोसिस एक प्रकार का फेफड़े से जुड़ा हुआ इन्फेक्शन है। हिस्टोप्लास्मोसिस के साथ निम्नलिखित समस्याएं हो सकती है;

  • एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम (acute respiratory distress syndrome): इस स्थिति में आपका फेफड़ा फ्लूइड से भर जाता है जिसकी वजह से आपके ब्लड में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है।
  • हार्ट की समस्या: जब आपको हिस्टोप्लास्मोसिस की समस्या हो जाए, तो आपको हार्ट संबंधी समस्या हो सकती है।
  • मेनिन्जाइटिस (Meningitis): हिस्टोप्लास्मोसिस की वजह से यह समस्या हो सकती है, जिसमें आपके दिमाग और स्पाइनल कार्ड के चारो तरफ इन्फेक्शन फैल जाता है।
  • एड्रिनल ग्लैंड एंड हॉर्मोन की समस्या (Adrenal gland and hormone problems): हिस्टोप्लास्मोसिस एड्रिनल ग्लैंड को डैमेज कर सकता है, जिससे हॉर्मोन के निर्माण में दिक्कत हो सकती है।

और पढ़ें: स्किन केयर की चिंता इन्हें भी होती है, पढ़ें पुरुष त्वचा की देखभाल से जुड़े फैक्ट्स

उपचार

हिस्टोप्लास्मोसिस का निदान कैसे किया जाता है?

हिस्टोप्लास्मोसिस का पता लगाने के लिए डॉक्टर शरीर की जांच करते हैं और मरीज का पारिवारिक इतिहास भी देखते हैं। इस बीमारी को जानने के लिए कुछ टेस्ट कराए जाते हैं :

डाइग्नोसिस की पुष्टि करने के लिए आपका डॉक्टर ब्लड टेस्ट या यूरीन टेस्ट कर सकते हैं। इसके अलावा सही डायग्नोसिस के लिए आपका डॉक्टर यूरीन, स्प्यूटम (Sputum) या ब्लड कल्चर (Blood culture) ले सकते हैं।

हिस्टोप्लास्मोसिस का इलाज कैसे होता है?

यदि आपको लाइट इन्फेक्शन है, तो संभवतः आपको उपचार की आवश्यकता नहीं है। आपका डॉक्टर आपको आराम करने और लक्षणों के लिए एक ओवर-द-काउंटर दवा यानी ओटीसी (OTC) ड्रग लेने का निर्देश दे सकता है।

अगर आपको सांस लेने में कोई परेशानी है या आप एक महीने से अधिक समय से संक्रमित हैं, तो आपको उपचार की आवश्यकता है। आपको संभवतः एक ओरल एंटिफंगल दवा दी जाएगी, लेकिन आपको आइवी (IV) उपचार की भी आवश्यकता हो सकती है।

आमतौर पर इस समस्या में निम्नलिखित ड्रग्स इस्तेमाल होती हैं

  • कीटोकोनाजोल
  • इट्राकोनाजोल

अगर आपको गंभीर इन्फेक्शन है, तो आपको अपनी दवाइयां इंजेक्शन यानी आइवी (IV) के रूप में लेने की जरूरत हो सकती है। कुछ लोगों को दो साल तक ऐंटीफंगल दवाइयां लेनी पड़ सकती हैं।

और पढ़ें: पार्किंसंस रोग के लिए फायदेमंद है डीप ब्रेन स्टिमुलेशन (DBS)

घरेलू उपचार

जीवनशैली में होने वाले बदलाव क्या हैं, जो मुझे हिस्टोप्लास्मोसिस को ठीक करने में मदद कर सकते हैं?

हिस्टोप्लास्मोसिस के इलाज के लिए आप अपनी जीवनशैली में कुछ जरूरी बदलाव करके भी इस खतरनाक बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं। आप अपने खान-पान में बदलाव कर सकते हैं। आप ऐसी जगहों से दूर रहें जहां ये फंगी (fungi) ज्यादा मात्रा में पाई जाती है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

histoplasmosis:  https://www.healthline.com/health/histoplasmosis Accessed 31, December

histoplasmosis:  https://www.webmd.com/a-to-z-guides/histoplasmosis Accessed 31, December

histoplasmosis:  https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/histoplasmosis/symptoms-causes/syc-20373495 Accessed 31, December

histoplasmosis:  https://www.cdc.gov/fungal/diseases/histoplasmosis/index.html Accessed 31, December

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Anoop Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 25/12/2019
x