home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

पानी कम पीने की वजह से हो सकती है इतनी बड़ी सेक्शुअल प्रॉब्लम! क्या इसके बारे में जानते हैं आप?

पानी कम पीने की वजह से हो सकती है इतनी बड़ी सेक्शुअल प्रॉब्लम! क्या इसके बारे में जानते हैं आप?

जब आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं बॉडी इसके प्रति रिएक्ट करना शुरू कर देती है। जिसकी वजह से नींद ना आना, सिर में दर्द, त्वचा का रूखा हो जाना आदि लक्षण दिखाई देते हैं। इनके अलावा डिहायड्रेशन (Dehydration) सेक्स लाइफ को भी प्रभावित करता है। डिहायड्रेशन की वजह से थकान और चिड़चिड़ापन होता है जो सेक्स लाइफ को खराब कर देता है। डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) के साथ ही वजायनल ड्रायनेस (Vaginal Dryness) भी हो सकती है। अगर बॉडी में डिहायड्रेशन के चलते फ्लूइड का लेवल बहुत कम होगा तो इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है। डिडायड्रेशन ब्लड वॉल्यूम को अफेक्ट करने के साथ ही मूड को भी प्रभावित करता है। इसलिए कहा जा सकता है कि डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन का सीधा संबंध है।

डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Dehydration And Erectile Dysfunction)

सेक्स के दौरान इरेक्शन और फिर ऑर्गैज्म तक पहुंचने के लिए बॉडी का पूरा सिस्टम एक साथ काम करता है। पीनस के आसपास की नर्व तक ब्लड का प्रॉपर फ्लो इरेक्शन के लिए जरूरी है। अगर बॉडी का कोई एक हिस्सा ठीक से काम नहीं कर रहा है तो इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है। बॉडी के अच्छी तरह डायड्रेड होने पर उसमें ब्लड सेल्स और प्लाज्मा (Plasma) का वॉल्यूम अच्छा रहता है। इसकी वजह से ब्लड आर्टरीज (Arteries) और वेन्स में आसानी से और अच्छी तरह से फ्लो हो सकता है। ब्लड सेल्स और प्लाज्मा के कम होने पर पीनस को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सिजन और पोषक तत्व प्राप्त नहीं होते जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बनते हैं। इसलिए ऐसा कहा जाता है कि डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है।

डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन

जब बॉडी में फ्लूइड कम होता है तो बॉडी एक हॉर्मोन को क्रिएट करना शुरू कर देती है जिसे एंजियोटेनसिन (Angiotensin) कहा जाता है। यह हॉर्मोन वल्ड वैसल्स को संकरा और सख्त बना देता है। जो ब्लड प्रेशर के बढ़ने का कारण बन सकता है। इससे बॉडी में ब्लड का फ्लो बिगड़ जाता है। जिससे पेनिस का ब्लड फ्लो भी प्रभावित होता है जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बनता है। नेशनल सेंटर ऑफ बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार भी डिहायड्रेशन और इरेक्टाइल डिसफंक्शन आपस में कनेक्ट हो सकते हैं। इसका कारण डिहायड्रेशन की वजह से बॉडी में फ्लूइड की कमी होना ही बताया गया है। अब तो आप समझ ही गए होंगे कि डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन का क्या संबंध है।

और पढ़ें: इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लिए योग की लिस्ट में शामिल करें ये 6 योगासन

डिहायड्रेशन के संकेत (Dehydration Symptoms)

प्यास को डिहायड्रेशन का संकेत माना जाता है। अगर आप प्यासे हो इसका मतलब है कि आप डिहायड्रेड हो। किसी व्यक्ति के शरीर को पानी की कितनी जरूरत है यह बॉडी के साइज, फिजिकल एक्टिविटी और गर्म वातावरण में वो कितने देर के लिए रहता है इस पर निर्भर करता है। जब डिहायड्रेशन गंभीर नहीं होता तो निम्न लक्षण दिखाई देते हैं।

  • डार्क यूरिन (Dark Urine)
  • मुंह का सूखना
  • थकान
  • चक्कर आना
  • प्यास लगना

पर्याप्त मात्रा में पानी पीना बॉडी की ओवरऑल हेल्थ के लिए भी जरूरी है। जिसमें सेक्शुअल परफॉर्मेंस भी शामिल है। सीवियर डिहायड्रेशन होने पर मेडिकल इमरजेंसी की जरूरत भी पड़ सकती है। सीवियर डिहायड्रेशन के लक्षणों में निम्न शामिल हैं।

  • भ्रम होना
  • बहुत तेज प्यास लगना
  • बहुत गर्मी होने पर भी पसीना नहीं आना
  • ब्लड प्रेशर का कम होना (Low Blood Pressure)
  • यूरिन पास ना होना
  • तेज धड़कन

अगर आप हायड्रेशन की समस्या से जूझ रहे हैं तो जल्द से जल्द इलाज कराएं क्योंकि डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बन सकता है। जो अच्छे खासे रिलेशनशिप को बर्बाद कर सकता है।

और पढ़ें: कम उम्र के पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के क्या हो सकते हैं कारण?

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लक्षण (Symptoms Of Erectile Dysfunction)

डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन का संबंध समझने के बाद चलिए इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लक्षणों के बारे में भी जान लें।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लक्षण निम्न हैं।

अगर ये लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो आपको डॉक्टर से मिलकर इसका इलाज जरूर करवाना चाहिए।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के कारण (Causes of Erectile Dysfunction)

हिडायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन होने के साथ ही इसके अन्य कारण भी हैं। जैसा कि हम ऊपर बता चुके हैं कि इरेक्शन की प्रॉसेस में दिमाग, हॉर्मोन, इमोशन, नर्व्स, मसल्स और ब्लड वेसल्स पूरी तरह इनवॉल्व होती हैं। इनमें से किसी एक के साथ प्रॉब्लम होने पर इरेक्टाइल डिसफंक्शन की शिकायत हो सकती है। स्ट्रेस, मेंटल हेल्थ इरेक्टाइल डिसफंक्शन की स्थिति को बिगाड़ सकते हैं।

कई बार फिजिकल और साइकोलॉजिकल इशूज एक साथ मिलकर इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बन जाते हैं। उदाहरण के लिए एक छोटी फिजिकल कंडिशन जो सेक्शुअल रिस्पॉन्स को स्लो कर देती है चिंता का कारण बन सकती है। यही चिंता इरेक्टाइल डिसफंक्शन का कारण बन सकती है या इसे बिगाड़ सकती है।

और पढ़ें: इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज नहीं करवाने पर 28% महिलाएं चाहतीं है पार्टनर से अलग होना

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) के शारीरिक कारण

डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन होने के अलावा निम्न शारीरिक परेशानियां भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन को जन्म दे सकती हैं। इसके सामान्य कारणों में ये सभी शामिल हैं।

  • हार्ट डिजीज (Heart Disease)
  • एथेरोस्क्लेरोसिस (Atherosclerosis) जिसमें बल्ड वेसल्स ब्लॉक हो जाती हैं
  • हाय कोलेस्ट्रॉल (High Cholesterol)
  • हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure)
  • डायबिटीज
  • मोटापा
  • पार्किंसन डिजीज
  • मल्टिपल स्केलेरोसिस
  • मेटाबॉलिक सिंड्रोम (इस स्थिति में ब्लड प्रेशर बढ़ने के साथ ही इंसुलिन का लेवल, फैट और कोलेस्ट्रॉल हाय होता है)
  • कुछ प्रकार की दवाएं
  • शराब की लत
  • स्लीप डिसऑर्डर
  • प्रोस्टेट कैंसर का ट्रीटमेंट
  • सर्जरी या कोई ऐसी इंजरी जो पेल्विक एरिया या स्पाइनल कॉर्ड को प्रभावित करें
  • टेस्टोस्टेरॉन का कम होना

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) के मानसिक कारण

दिमाग इरेक्टाइल फंक्शन के मानसिक कारणों को ट्रिगर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सेक्शुअल एक्साइटमेंट से शुरू होकर ऐसी कई फैक्टर्स हैं जो इस प्रॉब्लम का कारण बन सकते हैं या इसे और बिगाड़ सकते हैं। इनमें निम्न शामिल हैं।

और पढ़ें: डायबिटीज और इरेक्टाइल डिसफंक्शन – जानिए कैसे लायें सुधार

इरेक्टाइल डिसफंक्शन से बचने के लिए क्या करें? (What to do to avoid erectile dysfunction?)

डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो रहा है तो पर्याप्त मात्रा में लिया गया वाटर इंटेक इस समस्या का हल हो सकता है। वहीं ओवरऑल इस समस्या से बचने के लिए कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए, जो निम्न हैं।

हेल्दी वेट (Healthy Weight) मेंटेन करें

मोटापा इरेक्टाइल डिसफंक्शन के रिस्क को बढ़ा सकता है। इसलिए वजन को नियंत्रण में रखें।

रोज एक्सरसाइज करें

एक्सरसाइज ना करना या इनएक्टिव रहना कई हेल्थ प्रॉब्लम्स का कारण बन सकता है। इसकी वजह से वजन का बढ़ना, ब्लड सर्क्युलेशन का कम होना, कोलेस्ट्रॉल बढ़ना ये सभी परेशानियां हो सकती हैं। ये सभी कंडिशन्स ब्लड वेसल्स को डैमेज करने के साथ ही इरेक्टाइल डिसफंक्शन के रिस्क को बढ़ा देती हैं।

फल और सब्जियों वाली डायट को फॉलो करें (Follow Healthy Diet)

एक स्टडी में ये बात सामने आई है कि डायट में फल-सब्जियां, नट्स और ऑलिव ऑयल का उपयोग इरेक्टाइल डिसफंक्शन के रिस्क को कम करने में मदद कर सकता है।

एल्कोहॉल (Alcohol) का सीमित मात्रा में उपयोग करें

शराब का सेवन सेक्शुअल डिजायर को कम करने के साथ ही इरेक्शन को मुश्किल बनाने का काम करता है। लंबे समय तक शराब का सेवन हार्ट, लिवर और ब्लड वेसल्स को डैमेज कर सकता है।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और डिहायड्रेशन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन कैसे होता है इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Erectile Dysfunction/ https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/erectile-dysfunction/symptoms-causes/syc-20355776/ Accessed on 7th April 2021

Dehydration and fluid balance: central effects of angiotensin/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/6282658/Accessed on 7th April 2021

Erectile Dysfunction/ https://www.niddk.nih.gov/health-information/urologic-diseases/erectile-dysfunction/Accessed on 7th April 2021

Dietary Factors, Mediterranean Diet and Erectile Dysfunction/https://www.jsm.jsexmed.org/article/S1743-6095(15)33114-3/fulltext/Accessed on 7th April 2021

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड