home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

पुरुषों में होने वाले इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्या को विटामिन के सेवन से कर सकते हैं कम

पुरुषों में होने वाले इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्या को विटामिन के सेवन से कर सकते हैं कम

पुरुषों में इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन (स्तंभन दोष), एक बड़ी समस्या है। इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction) या स्तंभन दोष पुरुषों में होने वाली एक आम यौन सम्बंधित परेशानी है। कई पुरूषों की खराब सेक्स लाइफ का कारण ही यह बीमारी है। इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन (Erectile dysfunction), पुरूषों में लिंग संबंधित एक समस्या है, जिसमें उन्हें उत्तेजना महसूस नहीं होती है।

” कई बार पुरूषों की खराब सेक्शअुल लाइफ का कारण इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन है। इसलिए कई बार पुरुष संतोषजनक संभोग के लिए इरेक्शन न ला पाने के कारण तनाव में चले जाते हैं। लेकिन उनमें से कई पुरुषों को इसका कारण नहीं समझ आता है कि ऐसा हो क्याें रहा है।”- लखनऊ के क्लीनिक्ल सेक्सोलॉजिस्ट, डॉ. राना के अनुसार।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के पुरुषों में नजर आने वाले कुछ लक्षण, जो हैं:

  • शरीर में बालों का कम होना
  • कामेच्छा का कम हो जाना
  • तनाव महसूस करना
  • वजन बढ़ते जाना

पुरुषों में इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन के कारण

उनकी इस समस्या के कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि किसी दवाओं का साइड इफेक्ट। इसका एक कारण पुरुषों में विटामिन डी की कमी, हार्ट प्रॉब्लम और डायबिटीज के कारण भी हो सकता है। इसके अलावा, कई स्वास्थ्य स्थितियां इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन का कारण हो सकती हैं, जैसे कि-

तनाव

तनाव, आज के समय में कई समस्याओं का कारण है। कई पुरूषों में काम, पैसा, करियर और घर की जिम्मेदारी आदि कारणों से, उनमें तनाव की समस्या अधिक देखी जाती है। जिसका प्रभाव उनकी सैक्शुअल लाइफ पर भी पड़ रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि आपका मस्तिष्क ही शरीर के अन्य हिस्सों को अनुभवों को महसूर करने का संकेत देता है। अधिक तनाव भी लोगों की खराब सेक्शुअल लाइफ का एक कारण है।

और पढ़ें : मोटापे के कारण इनफर्टिलिटी का शिकार हो सकते हैं पुरुष भी

मोटापा

मोटापा आपके परिसंचरण को प्रभावित कर सकता है। इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन के इलाज के लिए नियमित व्यायाम सबसे अच्छी चीजों में से एक हो सकता है। न केवल यह परिसंचरण में सुधार करने में मदद करता है, यह आपको अतिरिक्त पाउंड खोने और तनाव को कम करने में मदद कर सकता है।

और पढ़ें : इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज नहीं करवाने पर 28% महिलाएं चाहतीं है पार्टनर से अलग होना

धूम्रपान

अधिक धूम्रपान आपके पूरे शरीर में रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है। चूंकि लिंग के लिए स्वस्थ रक्त प्रवाह की आवश्यकता होती है। धूम्रपान के कारण पुरुषों के लिंग में रक्त का प्रवाह धीमा हो जाता है। जिस कारण भी समस्या आ जाती है।

कुछ दवाओं के कारण

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डायबिटीज एंड डायजेस्टिव एंड किडनी डिजीज (NIDDK) की एक रिपोर्ट द्वारा कई बड़ें पुरुषों में इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन का कारण उनका मोटापा, अधिक ध्रूमपान करने की आदत और शराब के सेवन आदि हो सकता है। तो ऐसे में विटामिन डी का सेवन उनकी इस समस्या में मदद कर सकता है।

और पढ़ें : शीघ्रपतन का घरेलू इलाज: खाएं ये चीजें और शीघ्रपतन की समस्या से पाएं तुरंत राहत

इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन और विटामिन (Erectile dysfunction And vitamins) में संबंध

वैसे तो, अभी इस पर कोई ठोस वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्या में विटामिन का सेवन कितना प्रभावकारी है। हालांकि, विटामिन और यौन स्वास्थ्य के बीच कुछ संबंध पाए गए हैं। इसलिए डॉक्टर स्तंभन दोष वाले पुरुषों को अपने आहार में सभी विटामिन और अन्य पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा लेने की सलाह देते हैं। ऐसे में विटामिन का सेवन पुरुषों की इस समस्या को काफी हद तक कम कर सकता है। इसके लिए उन्हें ऐसे आहार का सेवन करना जरूरी है, जिसमें उन्हें विटामिन की अच्छी मात्रा प्राप्त हो

लेकिन विटामिन और कोई अन्य सप्लिमेंट लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें। यदि आप कुछ दवाएं पहले से लेते हैं, तो उस दौरान विटामिन की अधिक मात्रा लेना आपके लिए भी हानिकारक साबित हो सकता है। क्योंकि कई बार विटामिन की बड़ी खुराक भी आपके लिए समस्या की वजह बन सकती है।

और पढ़ें : जानिए शारीरिक इंटिमेसी रिलेशनशिप के लिए कैसे है फायदेमंद

विटामिन डी इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्या में कैसे मददगार है?

कई अध्ययन बताते हैं कि विटामिन सी, डी, बी 3 और बी 9 का सेवन स्तंभन दोष की कमियों को कम कर सकता है। विटामिन और अन्य पोषक तत्वों की मात्रा शरीर में होने वाली कई बीमारियों के रोकथाम में प्रभवकारी है। जिसमें प्रजनन प्रणाली भी शामिल है। पर्याप्त विटामिन प्राप्त करने से सामान्य स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है। हालांकि, इस बात का कोई पुख्ता सबूत नहीं है कि विशिष्ट विटामिन स्तंभन दोष की समस्या को पूरी तरह से ठीक कर सकते हैं।

विटामिन डी (vitamin D)

जर्नल ऑफ सेक्शुअल मेडिसिन द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि स्तंभन दोष का कारण पुरुषों में विटामिन डी का कम स्तर भी हो सकता है। यदि आप ‌ऊपर दिए गए लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं, तो आप अपने विटामिन डी के स्तर की जांच करवा सकते हैं। शरीर में विटामिन डी स्तर के अन्य लक्षण भी हाे सकते हैं, जैसे कि हड्डियों में दर्द या मांसपेशियों में कमजोरी महसूस करना है। विटामिन डी की कमी को पता करने के लिए ब्लड टेस्ट करवाना चाहिए।

विटामिन डी और भी कई प्रकार की समसयाओं में प्रभावकारी है, जैसे कि सूजन को कम कर सकता है और रक्त प्रवाह को सुधारता है, जो स्तंभन प्रतिक्रिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। वैसे तो, सभी के लिए विटामिन डी का मुख्य स्रोत सूरज की रोशनी है। लेकिन इसके अलावा, कछ खाद्य पदार्थों से भी विटामिन डी को प्राप्त किया जा सकता है, जैसे कि:

  • सैल्मन या सार्डिन फिश में
  • पोर्टबेलो मशरूम में
  • पाश्चराइज्ड दूध से
  • अंडे की जर्दी से

जिन पुरूषों में विटामिन डी की कमी होती है। उन लोग जिन्हें नियमित धूप नहीं मिल पाती है, उन्हें विटामिन डी 3 सप्लिमेंट लेने से फायदा हो सकता है।

और पढ़ें : हर मर्ज की दवा है आयुर्वेद और आयुर्वेदिक रेमेडीज, जानिए इनके बारे में विस्तार से

विटामिन बी 9 (vitamin B9)

विटामिन बी 9 स्तंभन दोष की समस्या में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। एक अध्ययन में पाया गया कि जिन पुरुषों में फोलिक एसिड की कमी है। उनके लिए विटामिन बी 9 एक उपयोगी उपचार हो सकता है, जिसमें सभी 50 प्रतिभागियों को अपने लक्षणों में सुधार का अनुभव किया। हालांकि, स्तंभन दोष की समस्या इससे पूरी तरह से ठीक नहीं हुई।

फोलिक एसिड दो रूपों मौजूद होता है: एक सिंथेटिक रूप में, जिसे खाद्य उत्पादों और दूसरा फोलेट से प्राप्त होता है निम्नलिखित खाद्य पदार्थ फोलेट से भरपूर होते हैं, जिन्हें आप अपने आहार में शामिल कर सकते हैं:

  • हरे साग, पालक, केल और ब्रोकोली
  • शतावरी
  • एवोकेडो
  • अंडे
  • खट्टे फल और केले
  • सेम, मटर, दाल, और अन्य फलियां

विटामिन-सी की कमी होने पर क्या करें? जानें इसके उपाय

विटामिन बी 3 (vitamin B3)

विटामिन बी 3, का सेवन भी इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्या को कम करता है। 2011 में हुए एक अध्ययन में पाया गया था कि विटामिन बी 3 के सेवन से इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन के लक्षणों में सुधार पाया जा सकता है। निम्नलिखित खाद्य पदार्थ से आप विटामिन बी 3 की कमी को पूरा कर सकते हैं, जैसे कि:

  • मांस, जैसे टर्की, चिकन
  • मूंगफली
  • भूरा चावल
  • मशरूम
  • विटामिन सी

विटामिन सी (vitamin C)

विटामिन सी, शरीर में रक्त के प्रवाह को अच्छा बनाने में मदद करता है। अच्छा रक्त संचार स्तंभन के कार्य मे सुधार लाता है। विटामिन सी यौन क्रिया में मदद कर सकता है। लेकिन विटामिन सी को शरीर में संग्रहीत नहीं किया जा सकता है। इसलिए डॉक्टर हर दिन विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने की सलाह देते हैं। जिनमें शामिल हैं:

  • साग, जैसे ब्रोकोली,
  • पालक, गोभी और फूलगोभी
  • शकरकंद
  • अमरूद और खट्टे फल
  • लाल और हरी मिर्च
  • टमाटर
  • जामुन
  • तरबूज
  • अनानास
  • अजवायन के फूल और अजमोद
  • पपीता
  • खट्टे फल

और पढ़े इन 8 फूड से शरीर में पूरी होगी विटामिन-सी की कमी

इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन से बचाव के अन्य उपाय

आहार और व्यायाम

2019 की समीक्षा में कहा गया है कि पुरूषों में मोटापे से स्तंभन दोष के 40% बढ़े हुए जोखिम देखे गए हैं। संतुलित आहार खाने और शारीरिक व्यायाम करने से वजन को मैंटेन रखना जा सकता है। इससे ईडी यानि कि स्तंभन दोष के लक्षणों को कम किया जा सकता सकता है। एक अच्छी सेक्शुअल लाइफ में आपके वजन की भी अहम भूमिका है।

धूम्रपान बंद करना

धूम्रपान रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है और रक्त प्रवाह को कम कर सकता है। 2020 के एक अध्ययन में पाया गया कि इरेक्टाइल फ़ंक्शन तंबाकू के धुएं के प्रतिभागियों के संपर्क में सीधे आनुपातिक था, और यह कि धूम्रपान छोड़ने से पुरुषों में 30-60 के बीच यौन समारोह में सुधार हुआ।

और पढ़ें: हेल्थ एंड फिटनेस गाइड, जिसे फॉलो कर आप जी सकते हैं हेल्दी लाइफ

तनाव से राहत

2017 की समीक्षा के अनुसार, क्रोनिक तनाव ईडी का कारण बन सकता है। ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि तनाव लिंग में रक्त के प्रवाह को कम कर देता है, जिससे स्तंभन की दृढ़ता या अवधि कम हो जाती है। तनाव को प्रबंधित करने और राहत देने के लिए ईडी की मदद कर सकता है।

विटामिन और इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन में कितना मजूबत संबंध है, इस पर कोई ठोस वैज्ञानिक प्रमाण तो नहीं है। लेकिन जैसा कि विटामिन और यौन स्वास्थ्य के बीच कुछ संबंध पाए गए हैं। तो ऐसे में, विटामिन का सेवन आपके स्तंभन दोष की समस्या में आराम दे सकता है। इसी के साथ ही, उन कमियों को भी पूरा कर सकता है, जिनकी कमी इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन का कारण सकती हैं। लेकिन विटामिन लेने की शुरुआत आपको अपने डॉक्टर से सलाह कर के लेनी चाहिए। क्योंकि कई लोगों में पहले से चल रही किसी दवा पर विटामिन सप्लिमेंट का अधिक सेवन नुकसानदेह साबित हो सकता है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से मिलें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x