home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

इन 8 फूड से शरीर में पूरी होगी विटामिन-सी की कमी

इन 8 फूड से शरीर में पूरी होगी विटामिन-सी की कमी

विटामिन सी एक वॉटर सॉल्यूबल विटामिन है जिसमें पर्याप्त मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। विटामिन-सी शरीर को कई बीमारियों से बचाता है जैसे चर्म रोग, मोतियाबिंद, भूख न लगना, ग्लूकोमा, गर्भपात आदि। शरीर में भरपूर मात्रा में मौजूद विटामिन-सी इम्यूनिटी को बढ़ाता है। यह फ्री रेडिकल से होने वाले नुकसान से बचाने के साथ नए टिश्यू की ग्रोथ और रिपेयर में मदद करता है। विटामिन सी हमारे शरीर में खाद्य पदार्थों के माध्यम से जाता है। आइए बात करते हैं उन चीजों की जिनमें भरपूर मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है और जिन्हें आप विटामिन-सी की कमी को पूरा करने के लिए अपने खानपान का हिस्सा बना सकते हैं। लेकिन इससे पहले ये जानना जरूरी है कि विटामिन-सी की कमी होने पर क्या लक्षण दिखाई देते हैं। जानिए इस बारे में :

कमजोर इम्युनिटी

अगर आप लगातार किसी बीमारी से पीड़ित हैं, जैसे सर्दी, खांसी, जुकाम या इंफेक्शन आदि, तो समझ लें कि शायद आपके शरीर में विटामिन-सी की कमी है। विटामिन-सी सफेद रक्त कोशिकाओं के अधिक उत्पादन में मदद करता है, जिससे हमारा शरीर इंफेक्शन या एलर्जी से बचे रहते हैं। लेकिन, विटामिन-सी की कमी होने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होगी।

थकावट

शरीर में अगर विटामिन-सी की सही मात्रा न हो, तो आपको थकावट महसूस होगी। इससे आपका पूरा दिन नीरस गुजरेगा। विटामिन-सी का सबसे बड़ा लक्षण है, बहुत जल्दी थक जाना। इसकी कमी से पीड़ित व्यक्ति का किसी भी कार्य में मन नहीं लगता।

एनीमिया

विटामिन-सी और आयरन की कमी अक्सर एक साथ ही होती है। आयरन की कमी से थकावट, पीलापन, सांस लेने से समस्या, सिरदर्द जैसी समस्याएं हो सकती है। अगर शरीर में विटामिन-सी की कमी हो, तो इससे शरीर में आयरन की कमी जिसे एनीमिया भी कहा जाता है। यह रोग भी हो सकता है।

बालों का झड़ना

अगर आपके बाल सामान्य से अधिक झड़ या टूट रहे हैं, तो इसका अर्थ है कि आप सही से विटामिन-सी नहीं ले रहे हैं। इसलिए, अपने बालों के लिए उत्पादों पर खर्च करने की जगह आप विटामिन-सी युक्त आहार लें जैसे, ब्रोकली ,संतरा, कीवी, आंवला आदि। विटामिन-सी हमारे बालों को मजबूत बनाता है। इसके साथ ही, नाखूनों का जल्दी टूटना भी विटामिन-सी की कमी के कारण हो सकता है।

और पढ़ें: बालों के लिए करी पत्ता है काफी फायदेमंद, हेयर ग्रोथ के लिए ऐसे करें इस्तेमाल

मसूड़ों में समस्या

विटामिन-सी मसूड़ों और दांतों की सुरक्षा के लिए बहुत आवश्यक है। अगर आप इसे रोजाना सही मात्रा में नहीं लेते हैं, तो आपके मसूड़ों में सूजन हो सकती है। अगर आप इसके बाद भी अपने दांतों पर ध्यान नहीं देते हैं, तो आपके मसूड़ों से खून आने की समस्या शुरू हो सकती है। इसलिए, अपने आहार में पर्याप्त विटामिन-सी लें।

त्वचा संबंधी समस्याएं

विटामिन-सी कोलेजन उत्पादन के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए, अगर आप विटामिन-सी सही मात्रा में नहीं लेंगे, तो आपकी त्वचा रूखी और ढीली हो जाएगी। यही नहीं, आपके चेहरे पर झुर्रियां भी हो सकती है। सुंदर और स्वस्थ त्वचा पाने के लिए आपको पर्याप्त विटामिन-सी लेना चाहिए। विटामिन-सी सही मात्रा में लेने से आपकी त्वचा नरम, मुलायम और स्वस्थ बनेगी। यही नहीं, इससे मुहांसे आदि भी दूर होंगे।

विटामिन-सी की कमी से कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं, जैसे दिल की बीमारी, बालों का रूखा और बेजान होना, कमजोर हड्डियां आदि। विटामिन-सी शरीर की गंदगी को बाहर निकालने में भी लाभदयक है। इन सभी समस्याएं को दूर करने का केवल एक ही इलाज है और वो है विटामिन-सी युक्त चीजों का सेवन। बच्चों के सही विकास के लिए भी विटामिन-सी युक्त आहार लेना बेहद आवश्यक है।

और पढ़ें: Healthy Foods For Students: क्या है स्टूडेंट्स के लिए हेल्दी फूड टिप्स

विटामिन-सी (Vitamin-C) की कमी होने पर खाएं ये फूड्स

संतरे का करें सेवन

संतरा विटामिन सी का अच्छा स्त्रोत है। अगर आप 1 कप संतरे का जूस पीते हैं तो उससे आपको 124 मिलीग्राम विटामिन-सी मिलता है जो कि आपके डी वी का 137.8 % है। संतरे का स्वाद खट्टा मीठा होता है। अपने दैनिक आहार में संतरे को शामिल करके शरीर में विटामिन-सी की कमी को पूरा कर सकते हैं।

अमरूद का करें सेवन

अमरूद सर्दियों का फल है जो कि अपने सीजन में काफी पसंद किया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन-सी होता है। एक अमरूद में आपको 377 मिलीग्राम विटामिन सी मिलता है जो की डेली डोज का 419 % है।

नींबू का करें सेवन

विटामिन सी खट्टी जूसी चीजों में पर्याप्त मात्रा में होता है। जिनमें से नींबू एक है। एक नींबू में 44.5 मिलीग्राम विटामिन-सी होता है। जो डी वी का 49. 4 % है। नींबू का इस्तेमाल आप सलाद में या नींबू पानी की तरह आराम से कर सकते हैं।

आम का करें सेवन

आम स्वाद और गुणों के लिए ही फलों का राजा है। अगर आप 1 कप आम का सेवन करते हैं तो आपको 60.1 मिलीग्राम विटामिन सी मिलता है जो की आपके डेली डोज का 66.7 % है।

ब्रोकली का करें सेवन

ब्रोकली का सेवन आपने उन लोगों को ज्यादा करते पाया होगा जो वजन घटना चाहते हैं, क्योंकि इसमें कैलोरी काफी कम होती है पर साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन-सी होता है। एक कप ब्रोकली में 81.2 मिलीग्राम विटामिन-सी होता है जो आपके डी वी का 90.2 % है जो कि काफी ज्यादा है।

और पढ़ें: पालक से शिमला मिर्च तक 8 हरी सब्जियों के फायदों के साथ जानें किन-किन बीमारियों से बचाती हैं ये

कीवी का करें सेवन

कीवी विटामिन-सी का एक अच्छा और स्वादिष्ट स्त्रोत है। एक कीवी में 64 मिलीग्राम विटामिन-सी होता है और ये आपके डेली डोज का 71.1 % है। कीवी का इस्तेमाल लोग अक्सर केक, पेस्ट्री या फ्रूट सलाद में करते हैं।

आलू भी है फायदेमंद

आलू का इस्तेमाल तो लगभग हर रसोई में हर दिन होता है। आलू एक ऐसी सब्जी है जो हर सब्जी के साथ मिल जाती है और उसका स्वाद बढ़ा देती है। एक बड़े आलू में 72.7 मिलीग्राम विटामिन सी होता है जो कि डेली डोज का 80.8 % है।

और पढ़ें: रिसर्च : टार्ट चेरी जूस (Tart Cherry Juice) से एक्सरसाइज परफॉर्मेंस में होता है इंप्रूवमेंट

स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी भरपूर होता है। अगर आप एक कप स्ट्रॉबेरी (स्लाइस्ड) खाते हैं तो उससे आपको 97.6 मिलीग्राम विटामिन सी मिलता है जो कि हमारे डेली डोज का 108 % है।

विटामिन सी कितना जरूरी है ये तो आप समझ ही चुके होंगे। विटामिन-सी की कमी को पूरा करने के लिए आप इनमें से कोई भी चीज अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं, क्योंकि ये सभी सेहत के साथ-साथ स्वाद से भी भरपूर हैं।

तो अगर आपको विटामिन-सी की कमी शरीर में महसूस होती है, तो ऊपर बताए गए फ्रूट्स को अपनी डायट में जरूर शामिल करें। इन चीजों को खाने से आपके शरीर में विटामिन-सी की कमी नहीं रहेगी और आप स्वस्थ रह सकेंगे।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/04/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड