home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

एक साल के बच्चे का भोजनः जानें क्या और क्यों खिलाएं?

एक साल के बच्चे का भोजनः जानें क्या और क्यों खिलाएं?

एक्सपर्ट्स नवजात शिशु को जन्म के छह महीने तक सिर्फ मां का दूध ही पिलाने की सलाह देते हैं। मां के दूध में वे सभी गुण और एंटीडोज होते हैं, जो नवजात शिशु के शारीरिक और मानसिक पोषण के लिए जरूरी होते हैं। इसके बाद, छह माह का होने पर बच्चे को मां के दूध के अलावा, अन्य तरह के आहार भी खिलाने शुरू कर दिए जाते हैं। हालांकि, शिशु को ठोस और कुछ खास आहार के सेवन की मनाही होती है। वहीं, एक साल के बच्चे के भोजन में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में ठोस आहार भी शामिल कर दिया जाता।

देखा जाए, तो छह महीने के बाद शिशु के पोषण की आवश्यकता में इजाफा हो जाता है। अगर आप भी सोच रहे हैं कि एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) कैसा होना चाहिए, उसे क्या खिलाएं, क्या न खिलाएं, कब और कितनी मात्रा में खिलाएं इस सभी बातों की जानकारी हम आपको देने वाले हैं।

और पढ़ेंः नवजात शिशु का रोना इन 5 तरीकों से करें शांत

कैसा हो एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food)

शिशु की डायट तय करने में आपको समस्या हो सकती है। निम्न फलों और सब्जियों को आप अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) बना सकते हैं, जिसमें शामिल हैंः

तरबूज (Watermelon)

तरबूज गर्मियों का फल है। तरबूज में विटामिन ए, विटामिन बी6, लियोकोपिन, एंटीऑक्सीडेंट और एमिनो एसिड्स की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसमें हल्के मात्रा में पोटैशियम भी होता है। यह सभी तत्व एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) बनकर शिशु की सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। तरबूज खाने में मुलायम होने के कारण एक वर्ष के शिशु के सॉफ्ट दांतों के लिए एक एकदम उपर्युक्त आहार हो सकता है और तरबूज को शिशु आसानी से खा सकते हैं। तो अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) लाल रंग के तरबूज से जरूर सजाएं।

फूल गोभी (cauliflower)

अपने एक साल के बच्चे के भोजन में फूल गोभी को जरूर शामिल करें। एक वर्ष के शिशु के लिए फूल गोभी बेहद फायदेमंद हो सकती है। यह काफी स्वादिष्ट भी होती हैं। इसके लिए आपको फूलगोभी को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटना है और फिर उसे उबालकर बच्चे को देना है। फूल गोभी में फाइबर, विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन बी6, फोलेट और पोटैशियम की मात्रा पाई जा सकती है। इसलिए इसे अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) जरूर बनाएं।

और पढ़ें- जानिए बच्चे को उठाने की बेस्ट पुजिशन, नहीं होगा कमर दर्द

टूना फिश में ओमेगा-3, फैटी एसिड होते हैं। यह शिशु के सेहत के लिए अच्छा होता है। शिशु को टूना फिश के केक बनाकर खिलाए जा सकते हैं। हल्की-धीमी आंच पर आप इसमें एक चम्मच मक्खन या ऑलिव ऑयल मिला सकती हैं। यह आपको एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) काफी स्वादिष्ट बना सकता है।

पकी हुई नाशपाती

नाशपाती में भरपूर मात्रा में फाइबर, विटामिन सी और पोटैशियम पाय जाता है जो शिशु को खिलाने के लिए यह एक बढ़िया विकल्प हो सकता है। कुछ महिलाएं नाशपाती के छिकले को उतार कर खिलाती हैं। हालांकि, यह शिशु के ऊपर निर्भर करता है कि वो छिली हुई या गैर छिली नाशपाती खाना पसंद करता है। लेकिन, आप अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) नाशपाती से तभी सजाएं जब वो इन्हें अपने दांतों से अच्छी तरह से चबा लेता हो।

स्क्रैंबल एग्स (scrambled eggs)

आप अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) अंडों से भी पूरा कर सकती हैं। साथ ही, एक वर्ष के शिशु को शुरुआती तौर पर एग फूड देने के लिए डॉक्टर इंतजार करने की सलाह देते हैं। आप एग को स्क्रैंबल करके शिशु को खिला सकती हैं। इसका पीले रंग का योल्क शिशु के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। इसे बनाने में भी आपको ज्यादा झंझट करने की भी जरूरत नहीं होती है। एग में प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन डी (Vitamin D) जैसे पोषक तत्व पाए जा सकते हैं।

और पढ़ेंः अगर आप सोच रहीं हैं शिशु का पहला आहार कुछ मीठा हो जाए… तो जरा ठहरिये

पास्ता

आपके एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) व्हीट पास्ता से भी पूरा किया जा सकता है। सॉफ्ट फूड में पास्ता एक बढ़िया विकल्प है। पास्ता को बारीक करके आप शिशु को खिला सकती हैं। शुरुआत में आपको शिशु को प्लेन पास्ता ही देना चाहिए। शिशु को जब इसकी आदत पड़ जाए तब इसमें ऑलिव ऑयल या कम सोडियम वाली टमाटर की चटनी मिलाकर दे सकते हैं।

पकी हुई हरी सब्जियां

झटपट तैयार होने वाले फूड में पकी और उबली हुई सब्जियां एकदम बढ़िया ऑप्शन हैं। उबली और पकी हुई सब्जियों में सबसे ज्यादा पोषक तत्व होते हैं। पकने और उबलने के बाद शिशु के लिए ये बेहद ही सॉफ्ट हो जाती हैं। आलू, गाजर और ब्रोकली शुरुआती दौर में दी जा सकती हैं। शिशु की उम्र बढ़ने पर आप इसमें उबली हुई गाजर या भुनी हुई शकरकंद की मात्रा को बढ़ा सकती हैं।

एक साल के बच्चे का भोजन: शामिल करें चीकू (Chicku)

चीकू प्राकृतिक रूप से मीठा फल होता है। मीठा स्वाद छोटे बच्चों को काफी जल्दी पसंद भी आ जाता है। जब भी आपका बच्चा कुछ मीठा खाने का इशारा करें तो आप आपने एक वर्ष के शिशु का भोजन चीकू के तौर पर सर्व कर सकती हैं।

दही (Curd)

दही भी आपके एक वर्ष के शिशु का भोजन बन सकता है। यह बच्चे को देने के लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। आमतौर पर, 6 महीने का होने पर ही बच्चों को दही दिया जा सकता है। यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है और आपके बच्चे के लिए एक स्वादिष्ट विकल्प भी हो सकता है।

और पढ़ेंः कैसे रखें मानसून में शिशु का ख्याल?

एक वर्ष के शिशु का भोजन दिन में कितनी बार सर्व करना चाहिए?

एक वर्ष के शिशु का भोजन आपको दिन में कितनी बार सर्व करना चाहिए, यह कहना मुश्किल हो सकता है। क्योंकि, हर बच्चे को भूख अलग-अलग समय पर लग सकती है। इसके लिए आपको शुरूआती कुछ दिनों में अपने बच्चे की आदत को नोट करना चाहिए। आपके बच्चे को दिन में कितनी बार भूख लगती है और किस समय भूख लगती है, इसे आप किसी कैलेंडर पर नोट कर सकती हैं। या चाहें, तो आप अपने स्मार्ट फोन में इसके लिए टाइमर या अलार्म भी सेट कर सकती हैं। इससे आपको आसानी से पता चल सकता है कि आपको अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) दिन में कितनी बार और कितनी मात्रा में सर्व करना चाहिए।

एक वर्ष के शिशु का भोजन सर्व करने से पहले किन बातों का रखें ध्यान

एक वर्ष के शिशु का भोजन सर्व करने से पहले आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए, जैसेः

  • ज्यादा ठोस आहार न दें, जिससे बच्चे के मसूड़ों या दांतों पर दवाब पड़ें।
  • एलर्जी वाले फूड से बच्चे को दूर रखें।
  • आसानी से पचाए जाने वाले आहार ही अपने एक साल के बच्चे का भोजन (One year old baby food) बनाएं।
  • हर बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में ही खिलाएं।
  • बच्चा अगर सो रहा है, तो उसे जगाकर खाना न खिलाएं।
  • दिन भर में उसके आहार को मिला-जुला बनाएं। बार-बार या हर दिन एक ही आहार न खिलाएं।

एक बात का ध्यान रखें कि, अगर आपका शिशु छह माह से छोटा है, तो उसे ऊपर बताए गए किसी भी आहार का सेवन न कराएं। छह माह तक शिशु को सिर्फ स्तनपान ही कराएं। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं या बेबी फूड एक्सपर्ट की भी सलाह ले सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Healthy Eating for 6 to 24 month old children (1) Getting Started. https://www.fhs.gov.hk/english/health_info/child/14727.html. Accessed on 07 August, 2020.

Foods and Drinks for 6 to 24 Month Olds. https://www.cdc.gov/nutrition/infantandtoddlernutrition/foods-and-drinks/index.html. Accessed on 07 August, 2020.

food-for-babys-first-year.pdf. http://www.floridahealth.gov/programs-and-services/wic/nutrition-materials/_documents/food-for-babys-first-year.pdf. Accessed on 07 August, 2020.

Feeding Your Toddler. http://www.floridahealth.gov/programs-and-services/wic/nutrition-materials/_documents/feeding-your-toddler-12-24.pdf. Accessed on 07 August, 2020.

Feeding patterns and diet – children 6 months to 2 years. https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000713.htm. Accessed on 07 August, 2020.

Menu planning for babies in childcare. https://heas.health.vic.gov.au/early-childhood-services/menu-planning/babies. Accessed on 07 August, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 19/08/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड