बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी, जिन्हें सरपट खाते हैं टॉडलर्स

Medically reviewed by | By

Update Date मई 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Share now

नवजात के पैदा होने के तुरंत बाद ही उनके सेंसेज काम करने लगते हैं। खाना भी उनके लिए एक अनुभव की ही तरह होता है। एक साल की उम्र तक पहुंचने पर ही बच्चों में आमतौर पर खाने की चीजों और उनकी बनावट के प्रति जिज्ञासा दिखने लगती है। ऐसे में आप कुछ सिंपल बेबी फूड रेसिपी की मदद से उनकी जिज्ञासा और भूख दोनों को शांत कर सकते हैं। इस उम्र के बच्चों को अक्सर अलग-अलग प्यूरी से हटकर खाने का स्वाद लेना पसंद होता है। साथ ही सिंपल बेबी फूड रेसिपी आपकी इस चिंता को खत्म कर सकती हैं कि आपको अपने बेबी को क्या खिलाना है। बच्चों का डाइजेशन बहुत कमजोर होता है और ऐसे में आप उन्हें कुछ भी नहीं खिला सकते। बच्चों के डाइजेस्टिव सिस्टम को ध्यान में रखकर आप अपने घर में मौजूद सब्जियों और अन्य इंग्रीडिएंट्स से बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी बना सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए फ्रीज में रखें हेल्दी फूड्स

एक साल के बच्चे के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी

यहां हम आपको इंडियन डिशेज या भारत में आसानी से मिलने वाली इंग्रीडिएंट्स से मिलकर बनने वाली सिंपल बेबी फूड रेसिपी बताएंगे, जो आप एक साल की उम्र के बच्चों का पेट भरने के लिए काफी होंगी। एक साल के बच्चे के लिए ऐसी ही कुछ सिंपल बेबी फूड रेसिपी हैं:

बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी तैयार करते हुए ध्यान रखेंः

  • दूध डेयरी, स्तन दूध या फॉर्मूला  भी हो सकता है। ब्रेस्टमिल्क को गर्म करने से बचें।
  • अगर संभव हो, तो घर पर सामग्री बनाएं। बच्चों के लिए पैक्ड उत्पादों को खरीदने से बचें।
  • अगर आपका बच्चा अभी 12 महीने का नहीं है, तो एक स्वीटनर के रूप में शहद का उपयोग न करें।

यह भी पढ़ेंः बच्चों का पढ़ाई में मन न लगना और उनकी मेंटल हेल्थ में है कनेक्शन

सिंपल बेबी फूड रेसिपी है दलिया

दलिया कई बच्चों की पसंदीदा डिश होती है। इसको पेस्ट की तरह तैयार करने से यह बच्चों के लिए खाने में आसान होता है।

ए) रागी दलिया

इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है और यह बोन डेंसिटी और मसल बिल्डिंग में मदद करता है।

इंग्रीडियेंट

खाना कैसे पकाए:

  • सूखे रागी के दानों को धोकर रात भर भिगो दें।
  • दानों के सफेद पेस्ट को बनाने के लिए इन्हें पानी में मिलाकर पीस लें।
  • इसे पानी के साथ उबालें।
  • एक बार जब यह गाढ़ा हो जाए, तो आंच बंद कर दें, मीठे स्वाद के लिए दूध और गुड़ मिलाएं।
  • इसके अलावा ठंडा होने के बाद आप स्वाद अनुसार दही और नमक डालें।

यह भी पढ़ेंः बच्चों को सब्जियां खिलाना नहीं है आसान, यूज करें थोड़ी क्रिएटिविटी

ख) रवा दलिया

यह दूसरी तरह के दलिया से एक अच्छा ब्रेक है। यह मीठा और आसानी से पचने वाला होता है।

इंग्रीडियेंट

  • रवा: 2 बड़े चम्मच।
  • पानी: आधा कप
  • घी: 1 या 2 चम्मच।
  • गुड़: स्वाद के लिए
  • दूध

खाना कैसे पकाए:

  • धीमी आंच पर घी में रवा भूनें, भूरा न करें। खुशबू आने पर इसे बंद कर दें और थोड़ी देर अलग रख दें।
  • पानी उबालें और भुना हुआ रवा धीरे-धीरे डालें। मिक्सचर के गाढ़ा होने और पानी के सूख जाने के बाद इसे बंद कर दें।
  • दस मिनट के बाद गुड़ और दूध को पूरी तरह से गाढ़ा होने के लिए डालें। इसे तब तक डालें जब तक यह दलिया की तरह गाढ़ा न हो जाए।

यह भी पढ़ेंः होममेड बेबी फूड है बच्चों के लिए हेल्दी, जानें आसान रेसिपी

स्टिकी बनाना राइस भी है एक सिंपल बेबी फूड रेसिपी

स्टिकी बनाना राइस बच्चों के लिए सबसे आसान डिशेज में से एक है और यह बच्चों के निगलने के लिए भी आसान होता है।

सामग्री:

  • चावल: 1 कप
  • नारियल का दूध (पतला): दो कप
  • गुड़: 1 बड़ा चम्मच
  • केला: 2 इलाची या छोटे केले
  • गाढ़ा नारियल दूध: 2 बड़े चम्मच

कैसे पकाए:

  • पतले नारियल के दूध में रात भर चावल भिगोएं।
  • इसे एक्सट्रा पानी के साथ प्रेशर कुक करें।
  • नारियल के दूध को गुड़ के साथ गर्म करें और चावल डालें।
  • केले को एक सर्विंग बाउल में डालें और मीठे चावल डालें।

यह भी पढ़ेंः बच्चों की गट हेल्थ के लिए आजमाएं ये सुपर फूड्स

सिंपल बेबी फूड रेसिपी में बनाएं सूप

बच्चों के लिए सिंपल बेबी फूड रेसिपी में कुछ भी ऐसा बना सकते हैं, जो उन्हें पसंद हो और जो जल्दी पच भी जाए। सूप एक स्वादिष्ट व्यंजन है, जिसका सेवन बीमारी के दौरान या भोजन के बीच में भी किया जा सकता है।

ए) टमाटर और गाजर का सूप

विटामिनों से भरी टेंगी डिश

सामग्री:

  • गाजर: 1
  • टमाटर: 1
  • प्याज: 2 बड़े चम्मच (बारीक कटा हुआ)
  • लहसुन: 1 छोटा लौंग (बारीक कटा हुआ)
  • मक्खन: 1 चम्मच
  • जीरा: ¼ छोटा चम्मच।
  • काली मिर्च पाउडर: एक चुटकी
  • पानी: डेढ़ कप
  • नमक

 कैसे पकाए:

  • सब्जियों को अच्छी तरह से साफ करें और उन्हें छोटे क्यूब्स में डालें।
  • प्रेशर कुकर में मक्खन गरम करें और जीरा डालें
  • प्याज और लहसुन को हल्का सॉटे करें
  • गाजर और टमाटर के साथ पानी मिलाएं। इसके अलावा नमक और काली मिर्च डालें।
  • इसे उबाल लें
  • मध्यम आंच पर तीन सीटी आने तक पकाएं
  • ग्राइंड करें और छान लें
  • अगर आप छानना नहीं चाहते, तो आपके सूप में टमाटर का छिलका आएगा।
  • इसे गुनगुना परोसें।

यह भी पढ़ेंः जुड़वां बच्चों का जन्म रिस्की क्यों होता है?

बी) चिकन सूप

अगर बच्चे को जुकाम हो, तो यह उन्हें और स्वादिष्ट लगता है।

सामग्री:

  • चिकन: एक पीस चिकन ब्रेस्ट
  • प्याज: 1 छोटा (बारीक कटा हुआ)
  • सब्जियां (गाजर, आलू): 2 बड़े चम्मच (काटा हुआ)
  • चिकन स्टॉक/ पानी: 1 कप।
  • मक्खन: 2 चम्मच।
  • नमक

 कैसे पकाए:

  • एक प्रेशर कुकर में मक्खन डालें और प्याज डालें
  • चिकन, सब्जियों और पानी के साथ मिलाएं
  • दो सीटी तक प्रेशर कुक करें
  • ठंडे मिश्रण को ब्लेंड करें और इसे गरमा-गरम सर्व करें

यह भी पढ़ेंः बच्चों के लिए पिलाटे एक्सरसाइज हो सकती है फायदेमंद, बढ़ाती है एकाग्रता

सिंपल बेबी फूड रेसिपी में दाल सर्व करें

दाल कार्ब्स और प्रोटीन का एक अच्छा मिश्रण है।

सामग्री:

  • मूंग की दाल: ½ कप
  • तोर दाल ½ कप
  • हल्दी: 1 चम्मच
  • घी: 2 चम्मच
  • जीरा: 1 चम्मच
  • पानीः 3 कप
  • स्वादानुसार नमक

 कैसे पकाए:

  • दाल को धोएं और हल्दी और नमक डालें।
  • 3 कप पानी के साथ प्रेशर कुक।
  • घी में जीरा तड़काएं और दाल में मिलाएं।

जब आप घर में सिंपल बेबी फूड रेसिपी बनाते हैं, तो ध्यान रखें कि बच्चे को फोर्स न करें। बच्चें, जो खाना चाहते हैं वही खाएंगे। ऐसे में बच्चों को बच्चों को फोर्स ईटिंग भी न कराएं।

यह भी पढ़ेंः बच्चों में मानसिक बीमारियां बन सकती है बड़ी परेशानी!

बच्चों को फोर्स न करें

इस उम्र में बच्चे सिर्फ अपने स्वाद की समझ विकसित करने लगते हैं और उन्हें पसंद या नापसंद करने लगते हैं। टॉडलर्स को खाने के लिए प्रोत्साहित करें। कोई खाने की चीज कितनी भी स्वादिष्ट हो लेकिन अपने बच्चे के साथ इसको खाने के लिए जबरदस्ती न करें। अगर आपका बच्चा आपकी बनाई हुई सिंपल बेबी फूड रेसिपी की चीजें नहीं खाता, तो उसमें थोड़े बहुत बदलाव करें।

सिंपल बेबी फूड रेसिपी होती हैं खाने में आसान

आपका एक साल का बच्चा अभी भी खाने की वजह से चोक कर सकता है। इसलिए खाने को छोटे टुकड़ों में और आसानी से चबाने योग्य रखें। खाना जितना आसानी से बच्चा खाएगा उतना ही उसके शरीर को पोषक तत्व मिलेंगे। हमेशा ध्यान रखें कि बच्चा खाना खाने की शुरुआत में है इसलिए खाने को आसान बनाएं। हल्का और सॉफ्ट खाना बच्चे के लिए अच्छा होता है।

यह भी पढ़ेंः बच्चों में भाषा के विकास के लिए पेरेंट्स भी हैं जिम्मेदार

बच्चों को देने से पहले खाने को ठंडा करें

आपका बच्चा यह विचार किए बिना खाना शुरू कर सकता है कि खाना कितना गर्म है। इसलिए खाना देने से पहले इसे जरूर चेक करें। गर्म खाना बच्चे का मुंह जला सकता है और उसका स्वाद भी खराब कर सकता है। आपके बच्चे को बोलने में परेशानी होगी इसलिए खाने को नॉर्मल तापमान पर आने दें।

आपके द्वारा बनाई गई सिंपल बेबी फूड रेसिपी आपके बच्चे के लिए फायदेमंद हो सकती हैं। कोशिश करें कि बच्चों को हमेशा घर में बनाया हुआ सिंपल बेबी फूड ही परोसे।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

बच्चों को खड़े होना सीखाना है, तो कपड़ों का भी रखें ध्यान

बच्चों को खड़े होना सीखाना टिप्स क्यों जरूरी है, बच्चों को खड़े होना सीखाना कैसे आसान बनाएं, बच्चों को खड़े होने के लिए जरूरी टिप्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Lucky Singh
पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

पिकी ईटिंग से बचाने के लिए बच्चों को नए फूड टेस्ट कराना है जरूरी

बच्चों को नए फूड टेस्ट कैसे कराएं, कैसे आसान करें बच्चों के अंदर नए फूड टेस्ट को पहचानना, Tips to help your child try new foods, नए फूड कैसे कराएं टेस्ट

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 12, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी, जो उनको देगीं भरपूर पोषण

पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी, पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी जो घर पर बनेगी, क्यो खिलाएं पिकी ईटर्स को, Picky Eaters Recipe for food, और जानें

Written by Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 12, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

एआरएफआईडी (ARFID) के कारण बच्चों में हो सकती है आयरन की कमी

एआरएफआईडी क्या है, बच्चों में एआरएफआईडी क्यों होता है, ARFID, कैसें करें बच्चों की देखभाल, ध्यान रखें इन बातों का, बच्चों में खाना ना खाना क्या हो सकता है

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Lucky Singh
पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग दिसम्बर 12, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

ओरल हाइजीन मिस्टेक

ओरल हाइजीन मिस्टेक: कहीं आप भी तो नहीं करते ये 9 गलतियां?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Nidhi Sinha
Published on मार्च 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Child Tantrums: बच्चों के नखरे

Child Tantrums: बच्चों के नखरे का कारण कैसे जानें और इसे कैसे हैंडल करें

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Surender Aggarwal
Published on जनवरी 14, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Baby Food Allergy/बच्चों में फूड एलर्जी

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Lucky Singh
Published on दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
Table Manners-टेबल मैनर्स

अपनी प्लेट उठाना और धन्यवाद कहना भी हैं टेबल मैनर्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Lucky Singh
Published on दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें