home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स का यूज है फायदेमंद, जानें कैसे असर करती हैं ये दवाएं?

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स का यूज है फायदेमंद, जानें कैसे असर करती हैं ये दवाएं?

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) का उपयोग किया जाता है। ये ड्रग्स काफी इफेक्टिव बताई जाती हैं। हर्पीस जोस्टर एक दर्दनाक स्किन रैश है। इसका कारण वैरिसेला जोस्टर वायरस है। यह वही वायरस है जो चिकनपॉक्स का कारण बनता है। जब किसी को चिकनपॉक्स होता है तो वायरस बॉडी की नर्व सेल्स में इनएक्टिव रहता है। कुछ महीनों या वर्षों के बाद वैरिसेला जोस्टर वायरस फिर से एक्टिव हो जाता है। यह वायरस लाल चकत्ते या छोटे दानों का कारण बनता है। खासकर बॉडी के एक तरफ। चकत्ते या दानें यहां वायरस रहता है उस नर्व पाथवे पर फैल जाते हैं।

बच्चों को हर्पीस जोस्टर का रिस्क कब होता है? (When are children at risk for herpes zoster?)

बच्चों को हर्पीस जोस्ट या शिंगल्स होना कॉमन है। बच्चों को इस बीमारी का रिस्क निम्न कारणों से अधिक होता है।

जिन बच्चों को चिकनॉक्स वैक्सीन लग जाती है उनको भी शिंगल्स का थोड़ा रिस्क रहता है। हालांकि लक्षण कम गंभीर होते हैं। बच्चों में शिंगल्स के लक्षण चेहरे या शरीर में दर्द, जलन, खुजली से शुरू होते हैं। चकत्ते ये लक्षण आने के 5 दिन के बाद दिखाई दे सकते हैं। दाद के दाने सबसे अधिक धड़ और नितंबों पर होते हैं। यह हाथ, पैर या चेहरे पर भी दिखाई दे सकते हैं। दाने छोटे, लाल धब्बों के रूप में शुरू होते हैं जो फफोले में बदल जाते हैं। फफोले पीले होकर सूख जाते हैं। दाने आमतौर पर केवल एक तरफ या शरीर के किसी हिस्से पर होते हैं। यह 2 से 4 सप्ताह में चले जाते हैं। इनके साथ ही बच्चा ये भी महसूस कर सकता है:

ये लक्षण किसी दूसरी हेल्थ कंडिशन के भी हो सकते हैं। डायग्नोसिस के लिए बच्चों को डॉक्टर के पास अवश्य ले जाएं।

और पढ़ें: चिकनपॉक्स का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? जानें क्या करें और क्या नहीं

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children)

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) का उपयोग करने से पहले डॉक्टर बच्चे के लक्षणों और मेडिकल हिस्ट्री के बारे में पूछेगा। बच्चे का फिजिकल एग्जामिन किया जाएगा। बच्चे के फफोलो से सैम्पल लेकर उसे भी वायरल के लिए टेस्ट किया जा सकता है। डायग्नोस होने के बाद बच्चे के लक्षण, उम्र और ओवरऑल हेल्थ के अनुसार उसका इलाज किया जाता है।

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स का उपयोग अगर जल्दी शुरू कर दिया जाए तो ये अच्छी तरह काम करते हैं। यहां हम बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स के नाम और उनके कार्य के बारे में जानकारी दे रहे हैं। दवाओं का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। साथ ही इन दवाओं से संबंधित साइड इफेक्ट्स के बारे में भी उनसे पूछ लें।

और पढ़ें: चिकनपॉक्स की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है इस वैक्सीन का इस्तेमाल!

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children)

एसीक्लोविर (Acyclovir)

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) में एसीक्लोविर का यूज किया जाता है। यह दवा हर्पीस लेबियालिस, (Herpes labialis),हर्पीस सिम्प्लैक्स वायरस इंफेक्शन (Herpes simplex virus infection), शिंगल्स (Shingles), जेनिटल हर्पीस इंफेक्शन (Genital herpes infection) और चिकनपॉक्स (Chickenpox) के इलाज में उपयोग की जाती है।

एसीक्लोविर एक एंटीवायरल मेडिसिन है। यह हृयूमन सेल्स में वायरस का मल्टीपिलिकेशन रोक कर काम करती है। यह वायरस को नए वायरस के प्रोडक्शन को रोककर और इंफेक्शन को कम करके काम करती है। दवा का कोई भी डोज स्किप ना करें ना ही इसका सेवन ट्रीटमेंट कोर्स पूरा होने के पहले बंद करें। अगर बच्चे को यह दवा दी जा रही है तो उसे पानी अधिक पीने के लिए दें। इससे डीहायड्रेशन और किडनी डैमेज नहीं होता है।

इस बात का भी ध्यान रखें कि यह दवा वायरस इंफेक्शन से बचा नहीं सकती है बल्कि इसके लक्षणों को और इंफेक्शन के ड्यूरेशन को कम कर सकती है। यह वायरस को बॉडी से हटा नहीं सकती, लेकिन उन्हें बढ़ने से रोक सकती है।

इसके कॉमन साइड इफेक्ट्स में सिर दर्द, चक्कर आना, उल्टी, जी मिचलाना, बुखार, लिवर एंजाइम्स का बढ़ना, पेट में दर्द, डायरिया, इंजेक्शन साइट पर रिएक्शन, स्किन रैशेज आदि शामिल हैं। दवा की कीमत 48 रुपए से 512 रुपए की रेंज में है। इसके कई वेरिएंट्स मार्केट में उपलब्ध हैं।

और पढ़ें: ​न्यूकल ट्रांसलुसेंसी स्‍क्रीनिंग से पता चल सकता है बच्चों में होने वाली हेल्थ प्रॉब्लम के बारे में

फैमसिक्लोविर (Famciclovir)

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) में फैमसिक्लोविर का यूज भी किया जाता है। यह एक एंटीवायरल दवा है। इसके साथ ही यह दवा दवा हर्पीस लेबियालिस, (Herpes labialis),हर्पीस सिम्प्लैक्स वायरस इंफेक्शन (Herpes simplex virus infection), शिंगल्स (Shingles), जेनिटल हर्पीस इंफेक्शन (Genital herpes infection) के इलाज में भी उपयोग की जाती है।

यह हृयूमन सेल्स में वायरस का मल्टीपिलिकेशन रोक कर काम करती है। यह वायरस को नए वायरस के प्रोडक्शन को रोककर और इंफेक्शन को कम करके काम करती है।

इस बात का ध्यान रखें कि दवा के उपयोग के बाद भी बच्चा दूसरों को इंफेक्ट कर सकता है। यह दवा ट्रांसमिशन को रोकने में मदद नहीं करती। यह एक संक्रामक इंफेक्शन है। इसलिए अफेक्टेड एरिया को किसी दूसरे के संपर्क में ना आने दें। इसके कॉमन साइड इफेक्ट्स में सिर दर्द, चक्कर आना, उल्टी, जी मिचलाना, बुखार, लिवर एंजाइम्स का बढ़ना, पेट में दर्द, डायरिया, इंजेक्शन साइट पर रिएक्शन, स्किन रैशेज आदि शामिल हैं। दवा 190 रुपए से 690 रुपए की रेंज में उपलब्ध है।

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स: वैलासिक्लोविर (Valacyclovir)

बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) में वैलासिक्लोविर का यूज भी होता है। यह एक एंटीवायरल दवा है। इसके साथ ही यह दवा दवा हर्पीस लेबियालिस, (Herpes labialis),हर्पीस सिम्प्लैक्स वायरस इंफेक्शन (Herpes simplex virus infection), जेनिटल हर्पीस इंफेक्शन (Genital herpes infection) के इलाज में भी उपयोग की जाती है।

यह हृयूमन सेल्स में वायरस का मल्टीपिलिकेशन रोक कर काम करती है। यह वायरस को नए वायरस के प्रोडक्शन को रोककर और इंफेक्शन को कम करके काम करती है। यह दवा हर्पीस इंफेक्शन के कारण होने वाले दर्द और खुजली को कम करने में मदद करती है, लेकिन यह इंफेक्शन से क्योर नहीं करती। यह घावों को भरने में मदद करती है। जैसा डॉक्टर से प्रिस्क्राइब किया है वैसे ही दवा को बच्चे को दें। इसे समय से पहले बंद ना करें। इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में सिर दर्द, जी मिचलाना, एब्डोमिनल पेन शामिल है। इस दवा की कीमत 113 रुपए से 600 रुपए के बीच है।

नोट:

यहां बताई गई किसी भी दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें। हमारा उद्देश्य किसी ब्रांड का प्रचार करना नहीं ब्लकि अपने पाठकों को सही जानकारी उपलब्ध कराना है। इसे चिकित्सा सलाह का विकल्प ना मानें। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि यहां बताई गई दवा की कीमतों में और जहां से आप दवा खरीदते हैं उनमें अंतर हो सकता है।

और पढ़ें: क्या है बच्चों में माइंडफुलनेस और किस तरह से हो सकती है यह प्रेक्टिस लाभदायक, जानिए

उम्मीद करते हैं कि आपको बच्चों में हर्पीस जोस्टर के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग्स (Antiviral drugs to treat herpes zoster in children) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड