आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

फटी हुर्ह त्वचा के कारण, लक्षण और उपचार, जानिए यहां...

    फटी हुर्ह त्वचा के कारण, लक्षण और उपचार, जानिए यहां...

    कभी-कभी फटी हुर्ह त्वचा की स्थिति दर्दनाक हो सकता है। क्रैक्ड स्किन के कारण एक्जिमा या सोरायसिस की समस्या हो सकती है। स्किन प्रॉब्लम में फटी हुई त्वचा के अलावा और भी लक्षण हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, मधुमेह से पीड़ित लोग अपने तलवों पर फटी त्वचा को देखने को मिलती है। फटी त्वचा के पीछे कई कारण हो सकते हैं। फटी त्वचा केवल हाथों, पैरों की एड़ी, या होंठों की सूखी त्वचा हो सकती है, जिन्हें अतिरिक्त जलयोजन और नमी की आवश्यकता होती है। हालांकि, फटी त्वचा किसी संक्रमण या कुछ और का संकेत भी हो सकता है। इसके अलावा ड्राय स्किन वालों की त्वचा जैसा कि शुष्क होती है, तो उसके फटने, छिलने और डैमेज होने की संभावना अधिक होती है। फटी त्वचा के कारण के आधार पर, आपको कुछ अन्य लक्षण भी दिखाई दे सकते हैं। जानिए यहां, फटी त्वचा के कारणों, लक्षणों और उपचार के बारे में:

    और पढ़ें: Face Wash For Oily Skin: ऑयली स्किन के लिए कौन-से फेसवॉश का किया जा सकता है इस्तेमाल?

    फटी हुई त्वचा क्या है (what is cracked skin)?

    अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजी (एएडी) के अनुसार, दरारें, या कट, जो फटी हुई त्वचा एक प्रकार की क्रैक्ड स्किन है, आमतौर पर तब होती है जब किसी व्यक्ति की त्वचा ड्राय होती है। सूखी और फटी त्वचा पर इस तरह के लक्षण नजर आ सकते हैं:

    • खुजली
    • ब्लीड

    फटी त्वचा पर कोई उत्पाद लगाते समय कुछ लोगों को अप्रिय उत्तेजना महसूस हो सकती है। उनकी त्वचा भी पानी के तापमान और घरेलू सफाई उत्पादों के प्रति अधिक संवेदनशील महसूस कर सकती है। फटी त्वचा शरीर के किसी भी हिस्से पर दिखाई दे सकती हैं, लेकिन यह विशेष रूप से हाथों जैसे खुले हुए क्षेत्रों पर ज्यादा नजर आते हैं।

    और पढ़ें: स्किन का रंग अगर पड़ गया है ब्लू, तो यह हो सकता है पेरीफेरल सायनोसिस का लक्षण!

    फटी हुई त्वचा के कारण (Due to cracked skin)

    फटी हुई त्वचा के कई कारण हाे सकते हैं, जैसे कि कई बीमारियां भी इसका कारण बन सकती हैं, लेकिन सामान्य तौर पर देखा जाए तो स्किन टाइप भी इसका एक कारण हो सकती है, जैसे कि :

    ड्राय स्किन (Dry Skin)

    ड्राय स्किन को चिकित्सकीय रूप से जेरोसिस के रूप में जाना जाता है और यह आपकी त्वचा की ऊपरी परत में पानी की मात्रा में कमी के परिणामस्वरूप होता है। हेल्दी स्किन के ऊपरी लेयर को स्किन बैरियर के रूप में जाना जाता है। यह आपके शरीर से पानी की कमी को रोकने में मदद करता है और विषाक्त पदार्थों, संक्रमण, एलर्जी और हानिकारक कैमिल को आपके शरीर में प्रवेश करने से रोकता है। कभी-कभी आपकी त्वचा की ऊपरी लेयर कमजोर हो जाती है, जिसके परिणामस्वरूप शुष्क त्वचा हो जाती है। शुष्क त्वचा के सामान्य कारणों में शामिल हैं:

    • प्रदूषण
    • कैमिल युक्त प्रोडक्ट का अधिक इस्तेमाल, जैसे कि बॉडीवॉश, डिश सोप, फेस वाश और स्क्रब आदि।
    • सूर्य की हानिकारक किरणें
    • गर्म पानी का अधिक इस्तेमाल
    • नंगे पॉव अधिक चलना

    और पढ़ें: Fitzpatrick Skin Types : स्किन कैंसर के बारे में जानने का आसान तरीका है फिट्जपैट्रिक स्किन टाइप्स!

    एक्जिमा (Eczema)

    एक्जिमा, या एटोपिक डर्माटिस वाले लोगों की त्वचा शुष्क और खुजली की समस्या अधिक देखी जाती है। इसके कारण त्वचा लाल और सूजी हुई दिख सकती है। एक्जिमा तब होता है जब त्वचा की लेयर बहुत अधिक नमी को बाहर निकलने देती है। नमी की कमी के कारण त्वचा में रूखापन आ जाता है और कभी-कभी त्वचा फट जाती है। यह हमेशा स्पष्ट नहीं होता है कि एक्जिमा क्यों होता है, लेकिन यह कारण और फैमिली हिस्ट्री इसकी वजह देखी गई है। यह अक्सर चेहरे, हाथों, बाहों और घुटनों के पीछे की त्वचा को प्रभावित करता है। एक्जिमा के सामान्य लक्षणों में शामिल हैं:

    और पढ़ें: स्किन के लिए अंजीर के फायदे : चेहरे को चमक प्रदान करने के साथ ही हेयर ग्रोथ में करती है मदद

    सोरायसिस (Psoriasis)

    सोरायसिस एक ऑटोइम्यून स्थिति है, जो त्वचा को प्रभावित करती है। सोरायसिस से पीड़ित लोगों की त्वचा बहुत शुष्क होती है, आमतौर पर सिर, धड़ और जोड़ों के आसपास। हालांकि, पैच शरीर पर कहीं भी दिखाई दे सकते हैं। सोरायसिस से पीड़ित कुछ लोगों को भी दर्द का अनुभव होता है।

    एथलीट फुट

    एथलीट फुट, या टिनिया पेडिस, दाद के कारण पैरों का संक्रमण है। दाद एक प्रकार का कवक है। एथलीट फुट के लक्षणों में शामिल हैं:

    • खुजली
    • पैर की उंगलियों के बीच एक दाने
    • त्वचा छीलना
    • त्वचा का फटना

    लोगों को एथलीट फुट होने की संभावना अधिक होती है यदि वे पानी में बहुत समय बिताते हैं, बहुत पसीना बहाते हैं।

    और पढ़ें: पेरीफेरल न्यूरोपैथी में आयुर्वेद : डायबिटीज की इस कॉम्प्लीकेशन्स के लिए आसान उपाय है आयुर्वेद!

    डायबिटीज न्यूरोपैथी (Diabetic neuropathy)

    मधुमेह से पीड़ित लोगों को अपने पैरों में समस्या हो सकती है। इसमें सूखी या फटी त्वचा शामिल है। अपने तंत्रिका तंत्र में बदलाव के कारण डायबिटीज वाले लोगों के पैरों में पसीना कम आता है। जबकि बहुत अधिक नमी एथलीट फुट के लिए एक जोखिम कारक है, बहुत कम त्वचा को शुष्क बना सकता है, जिससे दरारें पड़ सकती हैं। चूंकि कुछ लोग अपने पैरों के तलवों को नहीं देख सकते हैं, इसलिए उन्हें अपनी जांच के लिए अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।

    और पढ़ें: पेरीफेरल न्यूरोपैथी से राहत के लिए ये एक्सरसाइज पहुंचा सकती हैं आपको राहत

    इलाज (Treatment)

    इसका उपचार मरीज के फटी त्वचा के कारण और स्थान पर निर्भर करता है। ठंड के मौसम में या बार-बार हाथ धोने के परिणामस्वरूप होने वाली दरारों के लिए, त्वचा को हाइड्रेट रखने की सलाह दी जाती है। एक व्यक्ति हाथ धोने के तुरंत बाद खुशबू- और डाई-फ्री हैंड क्रीम या मलहम लगाकर ऐसा कर सकता है। फटी त्वचा के लिए मॉइस्चराइजर चुनते समय, लोगों को उत्पाद में इन सामग्रियों की तलाश करनी चाहिए:

    • जतुन तेल
    • जोजोबा ऑयल
    • बॉडी बटर
    • हाईऐल्युरोनिक एसिड
    • डाइमेथिकोन
    • ग्लिसरीन
    • लानौलिन
    • खनिज तेल

    और पढ़ें: Peripheral Neuropathy: पेरीफेरल न्यूरोपैथी क्या है?

    चूंकि अल्कोहल-आधारित हैंड सैनिटाइजर भी त्वचा में सूखापन का कारण बन सकते हैं, त्वचा विशेषज्ञ भी इनका उपयोग करने के बाद मॉइस्चराइजर लगाने की सलाह देते हैं। एक्जिमा और सोरायसिस से पीड़ित लोगों को भी मॉइस्चराइजर से फायदा होता है ताकि फ्लेयर-अप को रोका जा सके और त्वचा की रक्षा की जा सके। इसमें शामिल हो सकते हैं:

    • कॉर्टिकोस्टेरॉइड क्रीम
    • कैल्सीनुरिन अवरोधक
    • यूवी लाइट थेरिपी

    और पढ़ें: Alpha Hydroxy Acid: अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड किस तरह से करता है स्किन की देखभाल?

    यदि त्वचा संक्रमित हो गई है, तो डॉक्टर एंटीबायोटिक मरहम या गोलियां भी लिख सकते हैं। एथलीट फुट वाले लोगों को पसीने को रोकने के लिए अपने जूते बदलने या तालक लगाने की आवश्यकता हो सकती है। उन्हें दाद के इलाज के लिए ऐंटिफंगल उत्पादों का उपयोग करने की भी आवश्यकता हो सकती है। फटी त्वचा वाले लोगों में संक्रमण का खतरा अधिक होता है क्योंकि त्वचा के बैरियर ब्रेक हो जाते हैं। जिसके कारण बैक्टीरिया और अन्य कीटाणु त्वचा के अंदर जा सकते हैं और संक्रमण का कारण बन सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    7 dermatologists’ tips for healing dry, chapped lips. (n.d.).
    https://www.aad.org/public/everyday-care/skin-care-basics/dry/heal-dry-chapped-lips

    Badri, T., et al. (2020). Plaque psoriasis.
    http://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK430879/

    Contact dermatitis. (n.d.).
    https://www.aad.org/dermatology-a-to-z/diseases-and-treatments/a—d/contact-dermatitis

    Dermatologists’ top tips for relieving dry skin. (n.d.).
    https://www.aad.org/public/everyday-care/skin-care-basics/dry/dermatologists-tips-relieve-dry-skin

    Lim, C. S., & Davies, A. H. (2014). Graduated compression stockings.
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4081237/

    Oe, M., et al. (2012). Factors associated with deep foot fissures in diabetic patients: A cross-sectional observational study [Abstract].
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/22341798

    Eczema

    https://medlineplus.gov/eczema.html

    Generalized Exfoliative Dermatitis

    https://www.hopkinsmedicine.org/health/conditions-and-diseases/generalized-exfoliative-dermatitis

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/05/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: