backup og meta

बालों की उलझन को सुलझाने का राज छिपा है इस विटामिन में

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Priyanka Srivastava द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/04/2021

बालों की उलझन को सुलझाने का राज छिपा है इस विटामिन में

विटामिन ई (Vitamin E) एक एंटीऑक्सीडेंट है और ये खाद्य पदार्थों में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है जैसे कि हरी पत्तेदार सब्जि​यां, नट्स और बीज। यह विटामिन वसा में घुलनशील होने के साथ-साथ शरीर के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसका इस्तेमाल कई बार इस विटामिन की कमी और रोग के उपचार एवं रोकथाम के लिए किया जाता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार बालों के लिए विटामिन-ई अत्यंत लाभकारी होता है। इसका इस्तेमाल बालों को झड़ने से रोकने, मजबूत और चमकदार बनाने के लिए किया जाता है। बाजार में ये कैप्सूल आसानी से कम कीमत  में उपलब्ध होते हैं। इस विटामिन की कमी के कारण बाल कमजोर हो जाते हैं और टूटने लगते हैं। बालों के लिए विटामिन ई के कैप्सूल का इस्तेमाल हम कई तरह से कर सकते हैं।

और पढ़ें  बालों के लिए करी पत्ता है काफी फायदेमंद, हेयर ग्रोथ के लिए ऐसे करें इस्तेमाल

बालों के लिए विटामिन ई (Vitamin E) के फायदे

बालों के लिए विटामिन ई

बालों को झड़ने से रोकने के लिए

विटामिन ई कैप्सूल में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। इनके कारण स्‍कैल्‍प में आक्‍सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद मिलती है। ऑक्‍सीडेटिव तनाव बालों के झड़ने का प्रमुख कारण हो सकता है।

 ड्राईनेस (Dryness) को दूर करने के लिए

विटामिन ई की कमी के कारण ड्राई स्किन की परेशानी भी हो सकती है। वहीं इस विटामिन का इस्तेमाल स्‍कैल्‍प में मौजूद तेल को संतुलित कर सकता है। कुछ लोगों को ऑयल का इस्तेमाल करने के बावजूद सिर में रूखेपन की समस्या का सामना करना पड़ता है।

बालों की चमक बढ़ाने में भी उपयोगी

धूल, मिट्टी और प्रदूषण से बाल डैमेज हो जाते हैं जिससे वे रूखे और बेजान नजर आने लगते हैं और उनकी चमक चली जाती है। विटामिन ई युक्त ऑयल के इस्तेमाल से बालों की खोई हुई खमक दोबारा पाई जा सकती है। ये बालों में मॉश्चर को लॉक रखता है जिससे बाल रूखे और बेजान नहीं होते। आप बालों में विटामिन ई युक्त हेयर ऑयल से नियमित मसाज करें, आपको कुछ ही दिनों में फायदा नजर आने लगेगा। दरअसल विटामिन ई युक्त ऑयल बालों को अत्यधिक तैलीय होने से बचाता है और बालों को नुकसान पहुंचाने वाले कारण जैसे सूर्य की तेज रोशनी, प्रदूषण या डस्ट से बालों की हिफाजत करने में सक्षम है।

 बेहतर होता है ब्लड सर्कुलेशन (Blood circulation)

रिसर्च के अनुसार विटामिन ई जेल स्कैल्प में लगाने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होने की वजह से बाल झड़ने की समस्या दूर होती है और साथ ही बाल भी तेजी से बढ़ते हैं।

एंटीऑक्सिडेंट है लाभकारी 

विटामिन ई में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट तनाव को कम करने में सहायक होता है। दरअसल इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट तनाव से पैदा होने वाले टॉक्सिन को कम करने में मददगार होता और बालों को झड़ने से भी बचाता है। इसलिए इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा के साथ-साथ बालों को पोषण मिलता है।

 सफेद बाल से छुटकारा

उम्र से पहले बालों का सफेद होना आजकल की आम परेशानी बनते जा रही हैं। लेकिन इस परेशानी से आसानी से निजात पाया जा सकता है। इसलिए विटामिन-ई युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन एवं विटामिन ई कैप्सूल से स्कैल्प की मसाज उत्तम विकल्प से कम नहीं है।

एक्स्ट्रा ऑयल की परेशानी होती है दूर 

कई लोगों की शिकायत होती है की बाल बिना ऑयल लगाए ही ऑयली हो जाते हैं। ठीक उसी तरह जैसे ऑयली स्किन हो जाती है। अगर आपके बाल भी बिना ऑयल लगाए ऑयली होते हैं, तो विटामिन ई आपके लिए बेहतर नुस्खा है। आप विटामिन ई से युक्त खाद्य पदार्थ अपने आहार में रोजाना शामिल करें। इसके साथ ही विटामिन ई के कैप्सूल में मौजूद जेल से स्कैल्प की मसाज करें। नियमित मसाज और पौष्टिक खाद्य पदार्थों के सेवन से ऑयली हेयर की परेशानी दूर होती है।

और पढ़ें : 12 प्रकार की दाल और उनके फायदे, खाते वक्त इनके बारे में सोचा भी नहीं होगा आपने

बालों के लिए विटामिन ई (Vitamin E) कैप्सूल का कैसे करें इस्तेमाल?

विटामिन ई  कैप्सूल जितने फायदेमंद हैं, उनका इस्तेमाल करना भी उतना ही आसान है। ये कैप्सूल बाजार में काफी आसानी से मिल जाते हैं। विटामिन ई कैप्सूल को तेल, शैम्पू, कंडीशनर या फिर हेयर मास्क के साथ उपयोग किया जा सकता है। विटामिन ई के कैप्सूल का इस्तेमाल बालों से जुड़ी लगभग हर समस्या को दूर करता है और वो  विटामिन ई के कैप्सूल का इस्तेमाल बिना किसी परेशानी के किया जा सकता है।

बालों के लिए विटामिन ई के फायदे के लिए क्या हैं महत्वपूर्ण टिप्स?

बालों को हेल्दी बनाये रखने के लिए निम्नलिखित टिप्स फॉलो करें। जैसे:

  1. विटामिन ई से स्कैल्प को अच्छी तरह से मसाज करें।
  2. चौड़े दांतों वाले कंघी से बालों को कॉम्ब करें।
  3. बालों में कम से कम 15 मिनट तक विटामिन ई युक्त ऑयल को लगा रहने दें।
  4. अब शैम्पू से हेयर वॉश करें।
  5. अगर आपके बाल ऑयली हो जाते हैं, तो कंडीशनर का इस्तेमाल न करें या कम से कम करें।

और पढ़ें : परमानेंट मेकअप ट्रीटमेंट लेने से पहले जान लें ये जरूरी बातें

बालों के लिए विटामिन ई कैप्सूल के अलावा किन-किन खाद्य पदार्थों का सेवन लाभकारी माना जाता है?

बालों के लिए विटामिन ई की कमी को दूर करने के लिए निम्नलिखित खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है।

 तेल (Oil):-  विटामिन ई की कमी को दूर करने के लिए गेहूं के बीज का तेल (Wheat Germ Oil), सूर्यमुखी का तेल (Sunflower Oil), कुसुम का तेल (Safflower Oil), सोयाबीन का तेल (Soybean Oil), एवं कॉर्न ऑयल अत्यंत लाभकारी माना जाता है। इनसभी तेलों में विटामिन-ई की प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जो बालों को स्वस्थ्य बनाये रखने में आपकी मदद करता है।

हेजलनट (Hazelnut):- हेजलनट में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट शरीर के विकास के लिए अत्यंत लाभकारी माना जाता है। ब्यूटी एक्सपर्ट्स के अनुसार ये कोशिकाओं के ऑक्सिडेशन को रोकने में सक्षम होता है। इसके साथ ही रेडिकल के कारण कोशिकाओं को पहुंचने वाले नुकसान से बचाने में भी सक्षम है।

पालक (Spinach):- पालक का सेवन अत्यधिक पौष्टिक माना जाता है। क्योंकि इसमें कई तरह के विटामिन और खनिज मौजूद होते हैं। रिसर्च के अनुसार उबले हुए पालक का आधा कप आपको विटामिन ई की पूर्ति करने में सफल माना जाता है। इसके अलावा यह विटामिन ए, विटामिन के, फोलेट, मैंगनीज, मैग्नीशियम और आयरन से भी भरपूर माना जाता है। 

अंडा (Eggs):- अंडा विटामिन ई का अच्छा श्रोत माना जाता है। विटामिन ई के साथ-साथ अंडे में विटामिन ए एवं राइबोफ्लेविन जैसे पौष्टिक तत्व भी मौजूद होते हैं। 

स्वीट पोटैटो (Sweet potatoes):- शोध के अनुसार स्वीट पोटैटो यानि शकरकंद का सेवन फायदेमंद होता है। एक कप उबले हुए पोटैटो में विटामिन ई की प्रचुर मात्रा उपलब्ध होती है। इसके साथ ही इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी 6, मैगनीज एवं पोटैशियम मौजूद होता है, जो शरीर के साथ-साथ बालों को भी पोषण प्रदान करता है।

आम (Mangoes):- फलों का राजा आम सेहत के लिए और बालों के लिए भी लाभकारी माना जाता है। आम में विटामिन ई की मौजूदगी के साथ-साथ इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, और विटामिन बी 6 की मात्रा मौजूद होती है। 

एवोकैडो (Avocados):- यह विटामिन-सी, विटामिन-ई, विटामिन-के और विटामिन-बी 6 का अच्छा स्त्रोत होता है। इसके साथ-साथ इसमें थाइमिन, नियासिन, राइबोफ्लेविन, फोलिक एसिड और जिंक जैसे तत्व भी मौजूद होते हैं। इसमें मौजूद फाइबर और पोटैशियम डायजेशन को बेहतर रखने में सहायक होता है। वहीं एवोकैडो तेल में विटामिन-बी 12 होता है, जो सोरायसिस के इलाज के लिए बेहद प्रभावी है। इनसभी शारीरिक परेशानियों को दूर करने के साथ-साथ बालों से जुड़ी परेशानी को भी एवोकैडो के सेवन से दूर किया जा सकता है।

एप्रिकॉट (Apricots):- खुबानी विटामिन ई से भरपूर माना जाता है। बालों को स्वस्थ्य बनाये रखने के लिए इसका सेवन लाभकारी माना जाता है। खुबानी में विटामिन ई के अलावा विटामिन सी और विटामिन ए भी मौजूद होता है।

ऊपर बताये गए खाद्य पदार्थों के साथ-साथ अन्य विटामिन ई युक्त खाद्य पदार्थ जैसे बादाम, मूंगफली, हरी सब्जियां, ताजे फलों का सेवन लाभकारी माना जाता है।

[mc4wp_form id=’183492″]

और पढ़ें : पालक से शिमला मिर्च तक 8 हरी सब्जियों के फायदों के साथ जानें किन-किन बीमारियों से बचाती हैं ये

बालों के लिए विटामिन ई के कई फायदे बाद अब जानिए नुकसान

विटामिन ई के इस्तेमाल से पहले इसे डायलियूट करना न भूलें। इसे अगर बिना डायलियूट किये हुए बालों या त्वचा लगाने से त्वचा में जलन या रैशेश जैसी समस्या हो सकती है। वहीं सप्लीमेंट्स के तौर पर इसका सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है। 

विटामिन ई के अत्यधिक सेवन से निम्नलिखित शारीरिक परेशानी हो सकती है। जैसे:

इन ऊपर बताई गई बीमारियों के साथ-साथ अन्य शारीरिक परेशानी बढ़ सकती है। इसलिए विटामिन ई सप्लीमेंट्स लेने से पहले डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। अगर आप बालों के लिए विटामिन ई के फायदे से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Priyanka Srivastava द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/04/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement