backup og meta

Palmar Erythema: हथेलियों के लाल होने का कारण कहीं पामर एरिथेमा तो नहीं!

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/04/2022

Palmar Erythema: हथेलियों के लाल होने का कारण कहीं पामर एरिथेमा तो नहीं!

त्वचा संबंधी अलग-अलग तरह की कई परेशानियां होती हैं। कुछ स्किन प्रॉब्लेम के बारे में जानकारी होती है, क्योंकि वो ज्यादातर नजर आ जाते हैं या उनके बारे में हमसभी आपस में चर्चा भी कर लेते हैं। इन्हीं अलग-अलग तरह की स्किन प्रॉब्लेम में कुछ प्रॉब्लेम ऐसी है, जिसके बारे में जानकारी कम होती है या ना के बराबर होती है। ऐसी ही एक परेशानी है पामर एरिथेमा (Palmar Erythema)। आज इस आर्टिकल में हम आपके साथ पामर एरिथेमा (हथेलियों का लाल होना), पामर एरिथेमा के कारण (Cause of Palmar Erythema) और इससे जुड़े कई सवालों का जवाब जानेंगे। 

  • पामर एरिथेमा क्या है?
  • पामर एरिथेमा के लक्षण क्या हैं?      
  • पामर एरिथेमा के कारण क्या हैं?
  • पामर एरिथेमा का निदान कैसे किया जाता है?
  • पामर एरिथेमा का का इलाज कैसे किया जाता है?

चलिए अब पामर एरिथेमा (Palmar Erythema) से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।  

पामर एरिथेमा (Palmar Erythema) क्या है?

पामर एरिथेमा को लिवर पाल्म (Liver palms) भी कहते हैं। पामर एरिथेमा को कई अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे रेड पाल्म (Red palms) या लेन्स डिजीज (Lane’s disease) और इसे सामान्य शब्दों में समझें तो हथेलियों का लाल होना। पामर एरिथेमा की समस्या होने पर हथेली के निचले हिस्से में ज्यादा लालिमा देखी जाती है। हालांकि कभी-कभी पूरी हथेलियां भी लाल हो सकती हैं। लिवर पाल्म की समस्या होने पर हाथों के साथ-साथ पैरों एवं एड़ियों पर भी लाल स्पॉट्स नोटिस किये जा सकते हैं। अगर पैर या एड़ियां लाल होने लगे, तो इसे मेडिकल टर्म में इसे प्लांटर एरीथेमा (Plantar erythema) कहते हैं। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पामर एरिथेमा की समस्या अनुवांशिक (Hereditary) कारणों से भी हो सकती है। वैसे इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं। पामर एरिथेमा के कारणों को समझने के पहले सबसे पहले इसके लक्षणों को समझते हैं। कारणों और लक्षणों को समझकर किसी भी बीमारी को समझने और उससे लड़ने में या दूर करने में मदद मिलती है।

और पढ़ें : Hyaluronic Acid For Skin: जानिए शरीर एवं त्वचा के लिए हाईऐल्युरोनिक एसिड के 10 फायदे!

पामर एरिथेमा के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Palmar Erythema)     

पामर एरिथेमा के मुख्य लक्षण हथेलियों का लाल होना ही होता है। ऐसी समस्या दोनों हाथों के हथेलियों पर देखी जाती है। लिवर पाल्म की समस्या होने पर इससे ना ही खुजली होती है और ना ही दर्द होता है। इसलिए कई बार लोग इसे इग्नोर भी कर देते हैं। कुछ केसेस में पामर एरिथेमा के लक्षण हथेलियों के लाल होने के साथ ही हथेलियां हल्की गर्म भी होती है, जो उंगलियों तक फैल सकती है। इसके अलावा और कोई भी लक्षण नहीं देखे जा सकते हैं और ना ही महसूस किये जा सकते हैं। अब ऐसा क्यों होता है इसे समझने की कोशिश करते हैं।

और पढ़ें : Purpura: परप्यूरा क्या है? जानिए परप्यूरा के कारण, लक्षण और इलाज!

पामर एरिथेमा के कारण क्या हैं? (Cause of Palmar Erythema) 

पामर एरिथेमा दो अलग-अलग तरह के होते हैं और दोनों के कारणों को भी रिसर्च रिपोर्ट्स में अलग-अलग बताया गया है। पामर एरिथेमा दो अलग-अलग तरह के होते हैं जैसे प्राइमरी पामर एरिथेमा (Primary palmar erythema) और दूसरा सेकेंडरी पामर एरिथेमा (Secondary palmar erythema)। चलिए अब दोनों के कारणों को समझते हैं। 

प्राइमरी पामर एरिथेमा के कारण (Cause of Primary palmar erythema)-

  • अनुवांशिक (Hereditary) 
  • प्रेग्नेंसी (तकरीबन 30 से 70 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं (Pregnancy) को पामर एरिथेमा की समस्या होती है। 

वहीं कुछ लोगों में इसके कारणों की जानकारी नहीं मिलती है।

और पढ़ें : Blind Pimple: ब्लाइंड पिंपल से छुटकारा पाने के लिए 7 घरेलू उपाय एवं 9 टिप्स कर सकते हैं फॉलो!

सेकेंडरी पामर एरिथेमा के कारण (Cause of Secondary palmar erythema)-

  • लिवर की बीमारी (Liver disease) होना। 
  • एंडोक्राइन (Endocrine) से जुड़ी समस्या होना। 
  • ऑटोइम्यून डिजीज (Autoimmune diseases) होना। 
  • कुछ विशेष दवाओं (Drugs) का सेवन करना। 
  • इंफेक्शन (Infection) होना। 
  • स्मोकिंग (Smoking) करना। 
  • एटॉपिक डर्मेटाइटिस (Atopic dermatitis) की समस्या होना। 
  • प्राइमरी या मेटास्टेटिक ब्रेन कैंसर (Primary or metastatic brain cancer) होना। 

और पढ़ें : सैलीसिलिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड: ब्यूटी प्रोडक्टस में प्रयोग होने वाले यह एसिड किस तरह से हैं फायदेमंद, जानिए

बड़ों में पामर एरिथेमा के कारण ऊपर बताई गई शारीरिक परेशानी हो सकती है। वहीं बच्चों में पामर एरिथेमा के कारण अलग हो सकते हैं। जैसे:

  • हेरिडेटरी पामर एरिथेमा (Hereditary palmar erythema)
  • कावासाकी डिजीज (Kawasaki disease)
  • कॉनजेनाइटल सिफलिस (Congenital syphilis)
  • विल्सन डिजीज (Wilson disease)
  • हेपेटोपल्मोनरी हायपरटेंशन (Hepatopulmonary hypertension)

बड़ों में पामर एरिथेमा की समस्या इन ऊपर बताये कारणों की वजह से हो सकती है। 

पामर एरिथेमा के कारण भले ही आपको कोई परेशानी ना हो, लेकिन बड़ों में पामर एरिथेमा के लक्षण (Palmar Erythema symptoms) नजर आने पर डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें। 

और पढ़ें : हाइड्रोजन पेरोक्साइड और स्किन कंडिशन: क्यों स्किन के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

पामर एरिथेमा का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Palmar Erythema) 

पामर एरिथेमा यानी लिवर पाल्म के लक्षण नजर आने पर डॉक्टर निम्नलिखित तरह से इलाज के पहले डायग्नोस करते हैं। डायग्नोसिस के दौरान सबसे पहले डॉक्टर व्यक्ति की हेल्थ से जुड़ी पूरी जानकारी लेते हैं और फिजिकली हथेली को मॉनिटर करते हैं। इसके बाद निम्नलिखित टेस्ट करवाने की सलाह देते हैं। जैसे:  

  • सीबीसी (Complete blood count) 
  • लिवर फंक्शन टेस्ट (Liver function test)
  • ब्लड यूरिया नाइट्रोजन या क्रिएटिनिन (Blood urea nitrogen/creatinine)
  • हेपेटाइटिस बी और सी वायरस सीरोलॉजी (Hepatitis B and C virus serology)
  • फेरिटीन (Ferritin)
  • फास्टिंग ग्लूकोज टेस्ट (Fasting glucose)
  • थायरॉइड स्टिमुलेटिंग हॉर्मोन (Thyroid stimulating hormone)
  • चेस्ट एक्स-रे (Chest x-ray)

इन टेस्ट रिपोर्ट्स के आधार पर पामर एरिथेमा का इलाज (Palmar Erythema treatment) शुरू किया जाता है। अगर व्यक्ति किसी अन्य बीमारी से पीड़ित है, तो उसे भी ध्यान में रखकर अन्य टेस्ट भी की जा सकती है।  

और पढ़ें : Skin Lesions: स्किन लीजन क्या है? जानिए स्किन लीजन का कारण, इलाज और घरेलू उपाय

कभी-कभी निम्नलिखित टेस्ट भी की जा सकती है। जैसे:

  • ब्रेन का एमआरआई (MRI of brain)
  • चेस्ट, एब्डॉमेन एवं पेल्विस का सीटी स्कैन (CT scan of your chest, abdomen, and pelvis)
  • बोन मेरो बायोप्सी (Bone marrow biopsy)
  • एंटीबॉडीज की जानकारी के लिए टेस्ट (Tests for other antibodies) 

नोट: किसी भी बीमारी का इलाज खुद से ना करें, क्योंकि इससे बीमारी और शारीरिक परेशानी दोनों बढ़ सकती है।

और पढ़ें : Skin Writing: स्किन राइटिंग क्या है? जानिए स्किन राइटिंग के लक्षण, कारण और इलाज!

पामर एरिथेमा का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Palmar Erythema)

पामर एरिथेमा का इलाज किसी स्पेशल ट्रीटमेंट से नहीं किया जाता है, बल्कि डॉक्टर व्यक्ति के हेल्थ कंडिशन (Health Condition) को ध्यान में रखकर इलाज किया जाता है।

हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल में पामर एरिथेमा (Palmar Erythema) से जुड़ी जानकारी आपके लिए लाभकारी होंगी। इसलिए अगर आप लंबे वक्त से पामर एरिथेमा (Palmar Erythema) के शिकार हैं और यह परेशानी दूर नहीं हो रही है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करें। डॉक्टर बीमरी की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए मेडिसिन प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। पामर एरिथेमा (Palmar Erythema) से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए आप हैलो स्वास्थ्य के त्वचा संबंधी समस्याओं पर क्लीक करें।

आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज के बारे में जानें संपूर्ण जानकारी नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर। आयुर्वेदिक ब्यूटी एक्सपर्ट पूजा नागदेव खास जानकारी साझा कर रहीं हैं आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज की, जिससे आप आसानी से अपना सकती हैं और चेहरे पर एक्ने के दाने या अन्य दाग-धब्बों को दूर करने के उपाय।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/04/2022

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement