सेलो स्किन क्या है? जानिए इन कारणों से होती है यह समस्या..

    सेलो स्किन क्या है? जानिए इन कारणों से होती है यह समस्या..

    क्या आपको सेलो स्किन (Sallow Skin) के बारे में पता है? यह उस त्वचा को कहते हैं, जिसने अपना प्राकृतिक रंग खो दिया हो। जब ऐसा होता है, तो आपकी त्वचा पीले या भूरे रंग की दिखाई दे सकती है, खासकर आपके चेहरे की त्वचा का। जैसे-जैसे आपकी त्वचा की उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे स्किन में रूखापन, झुर्रियां और त्वचा का पतला होना स्वाभाविक है। लेकिन सांवली त्वचा उम्र बढ़ने का प्राकृतिक संकेत नहीं है। इसके कई और भी कारण हो सकते हैं। इस बारे में अधिक जानने के लिए पढ़ें क्या और जानें कि सेलो स्किन (Sallow Skin) किन कारणों से होती है:

    और पढ़ें: वर्क फ्रॉम होम में कंप्यूटर पर कर रहे हैं काम तो हो जाएं सावधान, त्वचा को ऐसे हो रहा नुकसान

    सेलो स्किन होने के क्या कारण हैं (What are the reasons for having Sallow Skin)?

    हम सभी की त्वचा दो घटकों से बनी होती है: डर्मिस और एपिडर्मिस। डर्मिस त्वचा की सबसे भीतरी परत है। यह आपकी त्वचा को हेल्दी दिखने में मदद करती है। एपिडर्मिस त्वचा की सबसे ऊपरी परत होती है। जब यह प्रभावित होती है, तो स्किन अपना नेचुरल टोन खोने लगती है। यह त्वचा से पुरानी डेड कोशिकाओं को हटाकर और नई कोशिकाओं का निर्माण करके लेयर बनाती जाती है। इस प्रक्रिया में आमतौर पर लगभग एक महीने का समय लगता है। एक बार जब आप उपचार शुरू कर देते हैं, तो आपको सेलो स्किन में सुधार देखने में 1 से 2 महीने का समय लग सकता है।

    एनीमिया (Anemia)

    एनीमिया तब होता है, जब आपकी लाल रक्त कोशिकाएं आपके शरीर के बाकी हिस्सों में पर्याप्त ऑक्सिजन का प्रवाह नहीं कर पाती है। यदि आपके शरीर को पर्याप्त ऑक्सिजन नहीं मिल रहा है, तो आप थकान और सुस्त महसूस कर सकते हैं। एनीमिया की समस्या आपकी त्वचा में पीलेपन का कारण भी हो सकता है। इसकी कमी को आमतौर पर आपके आहार में अधिक आयरन और विटामिन बी12 के सेवन से ठीक हो जाती है। यदि आप आहार के माध्यम से इसे प्राप्त नहीं कर सकते हैं, तो आपका डॉक्टर आपको आयरन सप्लिमेंट भी दे सकते है।क्रोनिक एनीमिया को अधिक गंभीर माना जाता है, क्योंकि यह अक्सर अंतर्निहित स्वास्थ्य स्थितियों से संबंधित होता है। इसमें गुर्दे की बीमारी या ऑटोइम्यून रोग भी शामिल हैं।

    और पढ़ें: डायबेटिक्स का स्किनकेयर: डायबिटीज से पीड़ित लोग इस तरह से करें अपनी त्वचा की देखभाल!

    विटामिन की कमी (vitamin deficiency)

    कई बार आपके डायट में विटामिन की कमी भी आपमें सेलो स्किन का कारण भी बन सकती है।जब आप पर्याप्त पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ नहीं खाते हैं, तो समय के साथ आपकी त्वचा रूखी हो सकती है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि त्वचा की कोशिकाओं को स्वस्थ रहने के लिए आवश्यक पोषक तत्व की जरूरत होती है, खासतौर पर सभी विटामिन में विटामिन सी की।इसे आप फलों या विटामिन सप्लिमेंट से प्राप्त कर सकते हैं।

    धूम्रपान (Smoking)

    धूम्रपान आपकी त्वचा के लिए हानिकारक है, क्योंकि यह एजिंग प्रॉसेज को तेज करता है। उदाहरण के लिए, तंबाकू का धुआं कोलेजन को कम करता है। धूम्रपान आपकी त्वचा को पर्याप्त ऑक्सिजन प्राप्त करने से भी रोकता है, जिससे वह सूख सकती है। सेलो स्किन दिखने के अलावा, आपकी त्वचा समय के साथ सुस्त और झुर्रीदार हो सकती है। हेल्दी त्वचा के लिए आपको धीरे-धीरे धूम्रपान बंद कर देना चाहिए।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज का ट्रीटमेंट आसान बनाती हैं ये दवाएं, ब्लड शुगर को कम करने में करती हैं मदद

    डिहायड्रेशन (Dehydration)

    पानी आपके शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए महत्वपूर्ण है – खासकर आपकी त्वचा के लिए। पर्याप्त पानी पीना त्वचा के संपूर्ण हाइड्रेशन के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन अगर आप पहले से ही नियमित रूप से पानी पीते हैं और फिर भी आपकी सेलो स्किन की समस्या हो रही है आपको, तो अतिरिक्त पीने से कोई फर्क नहीं पड़ सकता है। ऐसे में डॉक्टर से मिलें।

    तनाव (Stress)

    तनाव आपके शरीर पर कई तरह से असर डाल सकता है, रक्तचाप में वृद्धि और वजन बढ़ने से लेकर शुष्क और सेलो स्किन तक का कारण बन सकता है। आपकी त्वचा तकनीकी रूप से आपके शरीर का सबसे बड़ा अंग है, और तनाव अक्सर आपके शरीर के अन्य भागों को प्रभावित करने से पहले यहीं प्रकट होता है। जहां तक ​​रूखी त्वचा का संबंध है, चिरकालिक तनाव सबसे अधिक खतरा है।

    और पढ़ें: Exfoliative Dermatitis: किस कारण से होती है स्किन संबंधी ये कंडीशन, जानिए यहां

    नींद की कमी (Lack of sleep)

    नींद की कमी भी सेलो स्किन का कारण हो सकता है। यदि आप लगातार पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो आपकी त्वचा को वे पोषक तत्व नहीं मिलेंगे, जो उसे हाइड्रेटेड और स्वस्थ रहने के लिए आवश्यक हैं। समय के साथ, नींद की कमी से त्वचा रूखी हो जाएगी। संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए आपको हर रात 7 से 9 घंटे सोने का लक्ष्य रखना चाहिए। आपकी त्वचा को भी बेहतर नींद का लाभ मिलेगा।

    और पढ़ें: आपको त्वचा में होने वाली ग्रोथ कहीं पायोजेनिक ग्रेन्युलोमा का संकेत तो नहीं?

    सेलो स्किन के देखभाल के टिप्स (Sallow skin care tips)

    खराब त्वचा देखभाल की आदतें भी रूखी त्वचा बना सकती हैं। जबकि कुछ प्रभाव दीर्घकालिक होते हैं, जैसे कि बार-बार सूर्य के संपर्क में आना, अन्य तुरंत ध्यान देने योग्य हो सकते हैं।

    रूखी त्वचा को रोकने या ठीक करने के लिए त्वचा की देखभाल पर ध्यान दें:

    • अपना चेहरा दिन में दो बार धोएं। व्यायाम करने के बाद आपको अपना चेहरा फिर से धोना पड़ सकता है। लगातार चेहरा धोने से आपकी त्वचा से गंदगी, तेल, बैक्टीरिया, मेकअप और प्रदूषण दूर होता है। एक क्रीमी या जेल-आधारित वॉश बेहतर है, क्योंकि नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर यह आपकी त्वचा को परेशान नहीं करेगा।
    • एक मॉइस्चराइजर के साथ पालन करें। यह आपके चेहरे में पानी को फंसाने के लिए एक बाधा के रूप में कार्य करता है इसलिए यह हायड्रेटेड रहता है। जब आपकी त्वचा में पर्याप्त पानी होता है, तो यह कम रूखी लगती है। एक मॉइस्चराइज़र चुनें जो आपकी त्वचा के प्रकार के अनुरूप हो: क्रीम शुष्क त्वचा के लिए अच्छी तरह से काम करती है, जबकि हल्के लोशन संयोजन और तैलीय त्वचा के प्रकारों के लिए सर्वोत्तम होते हैं।
    • हफ्ते में एक बार एक्सफोलिएट करें। यह स्किन सेल टर्नओवर की प्रक्रिया को तेज करने में मदद करता है जिससे आपकी त्वचा अधिक चमकदार दिखती है। आप प्रक्रिया के तुरंत बाद प्रभाव देखेंगे।
    • हर दिन सनस्क्रीन पहनें। AAD कम से कम 30 SPF वाले सनस्क्रीन की सलाह देता है।
    • त्वचा के अनुकूल मेकअप चुनें। त्वचा देखभाल उत्पादों की तरह, सभी प्रकार के मेकअप समान नहीं बनाए जाते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि आपको वहां से सबसे महंगे और पेशेवर-श्रेणी के उत्पाद खरीदने चाहिए, लेकिन आपको उत्पाद लेबल पढ़ने की आदत डाल लेनी चाहिए।
    • सबसे पहले, आपका मेकअप तेल मुक्त और गैर-कॉमेडोजेनिक होना चाहिए, इसलिए यह छिद्रों को बंद नहीं करता है या अतिरिक्त मृत त्वचा कोशिकाओं को जमा नहीं करता है। एक अतिरिक्त चमक के लिए मेकअप पर विचार करें जिसमें विटामिन ए और सी जैसे विटामिन होते हैं।

    और पढ़ें: डर्मेटाइटिस हेरपेटिफॉर्मिस: त्वचा की इस समस्या से राहत पाने का उपाय है ग्लूटेन फ्री आहार

    सांवली त्वचा का समाधान रातों-रात नहीं होता है। आपकी त्वचा कोशिकाओं के प्राकृतिक टर्नओवर प्रक्रिया से गुजरने के बाद आपको 4 से 8 सप्ताह के भीतर लाभ मिलने की संभावना है।यदि आपको एक या दो महीने में सुधार नहीं दिखाई देता है, तो अपने स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर या त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क करें। वे किसी भी अंतर्निहित स्थिति की जांच कर सकते हैं और आपको अगले चरणों पर सलाह दे सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 12/01/2022 को
    और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड