आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Antibiotics For Boils: जानिए बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक!

    Antibiotics For Boils: जानिए बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक!

    फोड़े फुंसी की समस्या होना सामान्य है और समस्या गर्मियों के दिन में ज्यादा परेशान करती है। फोड़े फुंसी की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को परेशान कर सकती है। अगर यह परेशानी दो-चार दिनों में अपने आप ठीक हो जाए तो कोई परेशानी नहीं है, लेकिन कभी-कभी फोड़े फुंसी की समस्या ज्यादा दिनों तक बनी रहती है और कम होने की बजाए बढ़ने लगती है। इसलिए आज इस आर्टिकल में बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक (Antibiotics for Boils) से जुड़ी जानकारी आपके साथ शेयर करने जा रहें हैं।

    शरीर की साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाए, तो कई समस्याओं या इंफेक्शन (Infection) से बचा जा सकता है। हालांकि अगर स्किन हाइजीन का ध्यान ना रखा जाए, तो फोड़े-फुंसी की समस्या शुरू हो सकती है।

    और पढ़ें : Skin Lesions: स्किन लीजन क्या है? जानिए स्किन लीजन का कारण, इलाज और घरेलू उपाय

    फोड़े फुंसी की समस्या क्या है? (Boils problem)

    बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक (Antibiotics for Boils)

    फोड़े फुंसी जिसे इंग्लिश में बॉयल्स (Boils) कहते हैं। बॉयल्स की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है, जिसका मुख्य कारण इंफेक्शन है। त्वचा पर मोटे दाने और उसमे पस भरा होता है। अगर ये बॉयल्स शरीर के अलग-अलग हिस्से पर फैलने लगे तो इंफेक्शन की समस्या भी बढ़ने लगती है, जिससे शरीर की इम्यूनिटी पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए बॉयल्स की तकलीफ लगातार बनी रहे तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, क्योंकि डॉक्टर्स बॉयल्स के लिए बेस्ट एंटीबायोटिक (Best Antibiotics For Boils) प्रिस्क्राइब कर सकते हैं, जो इस तकलीफ को दूर करने में मददगार मानी गई है। इसलिए चलिए जानते हैं बॉयल्स के लिए बेस्ट एंटीबायोटिक दवाओं के बारे में, लेकिन सबसे पहले फोड़े फुंसी के कारण को समझ लेते हैं।

    और पढ़ें : Blind Pimple: ब्लाइंड पिंपल से छुटकारा पाने के लिए 7 घरेलू उपाय एवं 9 टिप्स कर सकते हैं फॉलो!

    बॉयल्स के कारण क्या हैं? (Cause of Boils)

    यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड सर्विसेस (U.S. Department of Health and Human Services) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार बॉयल्स के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • बैक्टीरियल इंफेक्शन (Bacterial infection) की समस्या होना।
    • परजीवी (Parasit) की समस्या होना।
    • अन्य प्रकार के जीवाणु या कीटाणु होना।
    • चोट (Injury) लगना।
    • फॉलिकुलिटिस (हेयर फॉलिकल में संक्रमण)।

    नोट: कुछ केसेस में बॉयल्स के कारण अनकंट्रोल्ड डायबिटीज (Uncontrolled Diabetes) या एचआईवी इंफ्केशन (HIV Infection) की समस्या भी हो सकती है।

    और पढ़ें : हाइड्रोजन पेरोक्साइड और स्किन कंडिशन: क्यों स्किन के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

    बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक दवाएं (Antibiotics medicines for Boils) कौन-कौन सी हैं?

    बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक (Antibiotics for Boils)

    बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक दवाओं के नाम निम्नलिखित हैं, जिसे डॉक्टर पेशेंट की हेल्थ कंडिशन (Health Condition) को ध्यान में रखकर प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। जैसे-

    1. एमिकासिन (Amikacin)
    2. एमोक्सिसिलिन (Amoxicillin)
    3. एम्पीसिलीन (Ampicillin)
    4. सेफाजोलिन (Cefazolin)
    5. सेफोटैक्सिम (Cefotaxime)
    6. सेफ्ट्रिएक्सोन (Ceftriaxone)
    7. सेफालेक्सिन (Cephalexin)
    8. क्लींडामाइसिन (Clindamycin)
    9. डॉक्सीसाइक्लिन (Doxycycline)
    10. इरिथ्रोमाइसिन (Erythromycin)
    11. जेंटामाइसिन (Gentamicin)
    12. लिवोफ़्लॉक्सासिन (Levofloxacin)
    13. मुपिरोसिन (Mupirocin)
    14. सल्फामेथोक्साजोल/ट्राईमथोप्रिम (Sulfamethoxazole/Trimethoprim)
    15. टेट्रासाइक्लिन (Tetracycline)

    ये पंद्रह दवाएं बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक के रूप में काम करती है। इन दवाओं का सेवन या इस्तेमाल अपनी मर्जी से नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि इससे साइड इफेक्ट्स का खतरा बना रहता है। इसलिए बॉयल्स की समस्या (Boils problem) होने पर डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब किये जाने के बाद ही इन दवाओं का सेवन करना लाभकारी हो सकता है।

    नोट: नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार कुछ केसेस में डॉक्टर फोड़े फुंसी वाली जगह से टेस्ट के लिए स्किन कट कर सकते हैं और फिर स्किन टेस्ट रिपोर्ट के अनुसार भी दवाएं प्रिस्क्राइब की जा सकती हैं।

    और पढ़ें : Natural Ways To Increase Glutathione: जानिए ग्लूटाथियोन के लिए नैचुरल तरीका और इसके फायदे!

    नॉन-प्रिस्क्राइब्ड बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक दवाएं भी उपलब्ध है? (OTC Antibiotics for Boils)

    बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक दवाएं जो डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब की जाती हैं, तो उनके सेवन या इस्तेमाल से इंफेक्शन को कम करने के साथ-साथ अन्य तकलीफें भी दूर होती हैं। वहीं अगर फोड़े फुंसी के लिए ओवर-द-काउंटर (OTC) मिलने वाली दवाओं की बात करें तो उनके सेवन से दर्द में फोड़े फुंसी के कारण होने वाले दर्द से राहत मिल सकती है, लेकिन इंफेक्शन को कम करने ओवर-द-काउंटर मिलने वाली दवाएं मददगार नहीं हो सकती हैं। वहीं अमेरिकन ऑस्टियोपैथिक कॉलेज ऑफ डर्मेटोलॉजी (American Osteopathic College of Dermatology) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार ओवर-द-काउंटर मिलने वाली ऑइंटमेंट (OTC antibiotic ointment) जैसे नियोस्पोरिन (Neosporin), बैकीट्रैकिन (Bacitracin) या पॉलीस्पोरिन (Polysporin) के इस्तेमाल से राहत मिल सकती है।

    और पढ़ें : Non Cancerous Skin Tags: जानिए नॉन कैंसरस स्किन टैग से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक का सेवन कैसे किया जाता है? (Use of Antibiotics medicines for Boils)

    यू.एस. फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (U.S Food & Drug Administration) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक का सेवन प्रिस्क्राइब्ड अनुसार ही लिया जाना चाहिए। अगर डॉक्टर द्वारा बताये डोज को फॉलो नहीं करने से इंफेक्शन की समस्या फिर से शुरू हो सकती है। वहीं वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organisation) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक दवाओं का डोज अगर पूरा ना हो, तो ऐसी स्थिति में इंफ्केशन एंटीबायोटिक रेसिस्टेंट भी हो सकते हैं। इसलिए फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक का सेवन या इस्तेमाल प्रिस्क्राइब्ड अनुसार ही करें।

    और पढ़ें : Food for Clear Skin: साफ त्वचा के लिए फूड में शामिल कर सकते हैं ये 5 खाद्य पदार्थ!

    फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट के इस्तेमाल या दवा के सेवन से पहले किन-किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है? (Things to remember before taking Antibiotics medicines or using ointments for Boils)

    फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट का इस्तेमाल या दवा के सेवन कर रहें हैं, तो निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें। जैसे-

    1. एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट (Antibiotics ointments) को किसी दूसरे व्यक्ति के साथ शेयर ना करें।
    2. ऑइंटमेंट बचाकर ना रखें कि आगे भी कभी जरूरत पड़ सकती है या पुराने एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट (Antibiotics ointments) का इस्तेमाल ना करें।
    3. ओवर-द-काउंटर एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट (OTC Antibiotics ointments) को कितनी बार इस्तेमाल करना है इसकी सलाह फार्मासिस्ट से लें।
    4. एंटीबायोटिक मेडिसिन का सेवन हमेशा पानी के साथ ही करें।
    5. एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन के तकरीबन 3 घंटे बाद तक फ्रूट जूस (Fruit juice), डेयरी प्रॉडक्ट्स (Dairy products) या एल्कोहॉल (Alcohol) का सेवन ना करें।
    6. कैल्शियम के साथ डायट्री सप्लिमेंट्स (Dietary supplements) का सेवन ना करें।

    इन छे बातों को ध्यान में रखकर फोड़े फुंसी के लिए एंटीबायोटिक ऑइंटमेंट का इस्तेमाल (Use of Antibiotics ointments) या दवा का सेवन करने से लाभ मिल सकती है।

    और पढ़ें : Psoriasis And Skin Cancer: सोरायसिस और स्किन कैंसर से कैसे रहें दूर?

    फोड़े फुंसी से बचाव के लिए क्या करें? (Tips to prevent Boils)

    फोड़े फुंसी से बचाव के लिए निम्नलिखित टिप्स फॉलो करें। जैसे:

    इन टिप्स को फॉलो करें स्किन प्रॉब्लेम से बचें।

    और पढ़ें : सैलीसिलिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड: ब्यूटी प्रोडक्टस में प्रयोग होने वाले यह एसिड किस तरह से हैं फायदेमंद, जानिए

    हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल में शेयर की गई जानकारी से फोड़े-फुंसी जैसी समस्या (Boils problem) एवं बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक दवाएं (Antibiotics medicines for Boils) से जुड़ी जानकारी आपके लिए लाभकारी होंगी। बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक अगर ओवर-द-काउंटर (OTC) इस्तेमाल कर रहें हैं और तकलीफ कम होने में मदद नहीं मिल रही है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करना जरूरी है। डॉक्टर पेशेंट की हेल्थ कंडिशन (Health condition) को मॉनिटर कर बॉयल्स के लिए एंटीबायोटिक (Antibiotics for Boils) प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। स्किन प्रॉब्लेम (Skin problem) से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए आप हैलो स्वास्थ्य के त्वचा संबंधी समस्याओं पर क्लीक करें।

    आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज के बारे में जानें संपूर्ण जानकारी नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर। आयुर्वेदिक ब्यूटी एक्सपर्ट पूजा नागदेव खास जानकारी साझा कर रहीं हैं आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज की, जिससे आप आसानी से अपना सकती हैं और चेहरे पर एक्ने के दाने या अन्य दाग-धब्बों को दूर करने के उपाय।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Antibiotic do’s & don’ts/https://www.cdc.gov/antibiotic-use/community/about/can-do.html/Accessed on 04/04/2022
    Antibiotic resistance/https://www.who.int/news-room/fact-sheets/detail/antibiotic-resistance#:~:text=Antibiotic%20resistance%20occurs%20when%20bacteria,caused%20by%20non%2Dresistant%20bacteria./Accessed on 04/04/2022
    Boils and carbuncles/https://www.nhs.uk/conditions/boils/Accessed on 04/04/2022
    Boils and carbuncles. How are boils treated?/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK513136/Accessed on 04/04/2022

    Combating antibiotic resistance/https://www.fda.gov/consumers/consumer-updates/combating-antibiotic-resistance/Accessed on 04/04/2022

    Using medication: Using antibiotics correctly and avoiding resistance/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK361005/Accessed on 04/04/2022

    Abscess/https://medlineplus.gov/ency/article/001353.htm/Accessed on 04/04/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: