Concor Tablet: कोनकोर टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by | By

Update Date जुलाई 1, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Share now

फंक्शन

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) कैसे काम करती है?

कोनकोर टैबलेट बिसोप्रोलोल (Bisoprolol) सहित अन्य तत्वों को मिलाकर तैयार की जाती है, लेकिन बिसोप्रोलोल इस दवा का एक्टिव इंग्रीडिएंट होता है। यह एंटीहाइपरटेंसिव (antihypertensive) यानि उच्च रक्तचाप का विरोधी होता है। वहीं इसमें ऐसे तत्व मौजूद होते हैं, जिसकी मदद से ब्लड प्रेशर को कम किया जाता है। यह दवा एंजाइना, हार्ट फेलियर और मायोकार्डियल इंफ्रेक्शन को रोकने में इस्तेमाल होती है। लंग डिजीज से ग्रसित लोगों में बेहद ही सावधानीपूर्वक इस दवा का इस्तेमाल किया जाता है।

डोसेज

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) का सामान्य डोज क्या है?

कोनकोर टैबलेट एक्सपर्ट उम्र, हाइट, वेट, शारीरिक व मानसिक स्थिति को देखते हुए उपयोग करने का सुझाव देते हैं। इसलिए डॉक्टरी राय के अनुसार दवा का सेवन करना चाहिए।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

डॉक्टर ने जितना सुझाया उतनी ही मात्रा में कोनकोर टैबलेट का सेवन करना चाहिए।  सुझाए गए दवा से यदि कोई ज्यादा डोज ले लेता है तो उस स्थिति में डॉक्टरी सलाह जरूरी हो जाती है, कई मामलों में मेडिकल इमरजेंसी तक की जरूरत पड़ती है।

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करूं?

कोनकोर टैबलेट का सेवन भूलने पर खुराक की याद आते ही उसे लें। हालांकि, अगर आपकी अगली डोज का समय होने वाला है तो भूले हुए डोज की बजाए, अगली खुराक का सेवन पहले से तय किए गए समय पर करें। एक साथ दो खुराक का सेवन न करें।

और पढ़ें :  Astymin Forte: अस्टिमिन फोर्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

कोनकोर टैबलेट का सेवन खाने के बाद करना चाहिए। डॉक्टर ने जितना सुझाया है उतनी ही मात्रा में इसका सेवन करना फायदेमंद होता है। उससे ज्यादा या कम मात्रा में सेवन करना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

 हाइपरटेंशन (Hypertension) : कोनकोर टैबलेट का इस्तेमाल हाइपरटेंशन की बीमारी से निजात दिलाने के लिए किया जाता है। इसमें अनुवांशिक या प्राकृतिक कारणों से बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को इस दवा को देकर सामान्य किया जाता है। इस दवा का सेवन डॉक्टरी सलाह के अनुसार ही किया जाना चाहिए। दवा का सेवन करने से दो से चार घंटों में असर दिखना शुरू हो जाता है। वहीं करीब 12 से लेकर 24 घंटों तक इसका असर रहता है।

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डाॅक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : Autrin: ऑट्रिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा का सेवन करने से कुछ मेजर तो कुछ माइनर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जैसे

और पढ़ें : Bio D3 Max: बायो डी3 मैक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानियां और चेतावनी

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • सलाह दी जाती है कि इस दवा का सेवन कर कुछ खास प्रकार की स्पोर्ट्स एक्टिविटी नहीं करनी चाहिए। आर्चरी, रेसिंग, शूटिंग सहित अन्य गेम्स को नजरअंदाज करना चाहिए। खिलाड़ियों को दवा को लेकर एक लिस्ट दी जाती है, जिसे वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी ने बैन किया है। उसके अनुसार ही दवा का सेवन करना चाहिए।
  •  बच्चों की सुरक्षा को लेकर सलाह दी जाती है कि इस दवा का सेवन बच्चों को नहीं करना चाहिए।
  • अगर आपको इस दवा या इससे मौजूद तत्वों से एलर्जी है तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए और इसके बारे में डॉक्टर को बताना चाहिए।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) को लेना सुरक्षित है?

गर्भवती महिलाओं को इस दवा का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है। जरूरी मामलों में डॉक्टर की निगरानी व दिशा निर्देश में इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जाती है। ऐसे में जरूरी है कि दवा का सेवन करने के पूर्व इसके रिस्क व बेनीफिट्स के बारे में पहले से ही डॉक्टर से विचार-विमर्श कर लें। वहीं शिशु को दूध पिलाने वाली महिलाओं के केस में भी इस दवा का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है। जरूरी मामलों में डॉक्टर की निगरानी में इस दवा को दिया जाता है। ऐसे में इस दवा के सेवन को लेकर रिस्क व बेनीफिट्स के बारे में सेवन करने के पूर्व डॉक्टरी सलाह ले लें। उसके बाद ही कोनकोर टैबलेट का सेवन करें।

और पढ़ें : Calpol T: कालपोल टी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

यह दवा अलग-अलग लोगों पर अलग तरीके से रिएक्शन करती है। ऐसे में डॉक्टरी सलाह लेने के बाद ही दवा का उपयोग करना चाहिए। वहीं यदि आपको कोई बीमारी है और उसका इलाज कराने के साथ आप दवा का सेवन कर रहे हैं तो उसके बारे में डॉक्टर को बताना जरूरी होता है। दवाओं के साथ आप क्या खाते हैं उसके बारे में भी डॉक्टर को बताना जरूरी होता है। अच्छे परिणाम के लिए डॉक्टर आपके डायट में बदलाव कर सकते हैं।

इन दवाओं के साथ हैं रिएक्शन की संभावनाएं

  • एलप्राजोलम (Alprazolam)
  •  थीओफिलीन (Theophylline)
  •   कैल्शियम चैनल ब्लॉकर्स (Calcium channel blockers)

क्या कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

इस दवा का सेवन करने के दौरान शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसे में साइड इफेक्ट्स हो सकते हैंं। वहीं आपको सिर दर्द, सिर चकराना, पल्स रेट का असामान्य होना, जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। शरीर में होने वाले इस प्रकार के बदलाव पर डॉक्टरी सलाह लें।

क्या कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) हेल्थ कंडिशन पर असर डालती है?

  • एलर्जी : कोनकोर टैबलेट में पाए जाने वाले तत्वों या फिर बीटा ब्लॉकर्स ग्रुप के साथ यदि किसी को एलर्जी होती है तो उसे इस दवा का सेवन कतई नहीं करना चाहिए।
  • कार्डियोजेनिक शॉक (Cardiogenic shock) : ऐसे व्यक्ति को यह दवा नहीं देनी चाहिए जो कार्डियोजेनिक शॉक की बीमारी से जूझ रहा हो।
  • फर्स्ट डिग्री से अधिक हार्ट ब्लॉक (Heart block greater than first degree) : व्यक्ति जिन्हें फर्स्ट डिग्री से अधिक हार्ट में ब्लॉकेज है उन्हें कोनकोर टैबलेट का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है। संभावनाएं रहती हैं कि इसका सेवन करने से कहीं उनकी तबियत और ज्यादा न खराब हो जाए।
  • साइनस ब्रैडीकार्डिया (Sinus Bradycardia) : ऐसे मरीज जो साइनस ब्रैडीकार्डिया की बीमारी से जूझ रहे होते हैं उन लोगों को कोनकोर टैबलेट का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है। संभावनाएं रहती हैं कि इसका सेवन करने से मरीजों की स्थिति सुधरने की बजाय और न बिगड़ जाए।
  • कार्डिएक फेलियर (Cardiac Failure) : मरीज जो हार्ट डिजीज से ग्रसित होते हैं यदि वो कोनकोर टैबलेट का सेवन करें तो संभावनाएं रहती है कि उनका हार्ट फेलियर होने के साथ खून का फ्लो असामान्य हो जाए। इसलिए जरूरी है कि ऐसे मरीजों को डॉक्टरी सलाह लेने के बाद ही दवा का सेवन करना चाहिए। वहीं दवा के रिस्क व बेनीफिट्स के बारे में पहले से ही चर्चा कर लेनी चाहिए।
  • मेजर सर्जरी (Major surgery) : मरीज जिनकी आने वाले दिनों में सर्जरी होने वाली है, उनको सावधानीपूर्वक इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि ऐसी अवस्था में इस दवा का सेवन करने से हार्ट पर असर पड़ सकता है।
  • लंग डिजीज (Lung Disease) : लंग डिजीज से ग्रसित व्यक्ति को काफी सावधानीपूर्वक इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जाती है। ऐसे मरीजों को छोटे डोज देने के साथ ही उनका डोज बढ़ाया जाता है।
  • डायबिटीज (Diabetes) : कोनकोर टैबलेट का सेवन ऐसे मरीजों को काफी सावधानीपूर्वक करना चाहिए जो डायबिटीज की बीमारी से ग्रसित होते हैं। संभावनाएं रहती है कि इस केस में लक्षण साफ तौर पर न दिखाई दे। इस केस में मरीज के ब्लड ग्लूकोज लेवल की नियमित तौर पर जांच की जानी जरूरी हो जाती है वहीं इस दवा को छोड़ मरीज के क्लीनिकल कंडिशन को देखते हुए इस दवा को छोड़ वैकल्पिक दवाओं को देने के बारे में निर्णय लिया जाता है।
  • हाइपरथायरॉयडिज्म (Hyperthyroidism) : कोनकोर  टैबलेट का सेवन करने से संभावनाएं रहती है कि मरीजों का थायरॉयड लेवल बढ़े। इसलिए काफी सावधानी से इस दवा का सेवन करना चाहिए। वहीं एकाएक इस दवा को छोड़ने से मरीज की कंडिशन और बिगड़ सकती है, कई मामलों में यह जानलेवा साबित भी हो सकता है। उस स्थिति को थायराॅइड स्ट्रोम कहा जाता है। इसलिए इन मामलों में समय-समय पर थायराॅइड लेवल की जांच करना जरूरी हो जाता है।
  • अस्थमा  : ब्रोंकियल अस्थमा की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को कोनकोर टैबलेट का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है।
  •  ग्लूकोमा (Glaucoma) : ग्लूकोमा की बीमारी से ग्रसित व्यक्ति को काफी सावधानीपूर्वक कोनकोर टैबलेट दी जानी चाहिए। संभावनाएं रहती हैं कि इस दवा का सेवन करने से आंखों का प्रेशर समय के साथ कम न हो जाए।

और पढ़ें : Zerodol TH : जीरोडोल टीएच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

कोनकोर टैबलेट (Concor Tablet) को कैसे करूं स्टोर?

कोनकोर टैबलेट को घर में सामान्य रूम टेम्प्रेचर पर सूर्य की किरणों से बचाकर रखें। 25 डिग्री तापमान दवा के लिए बेस्ट है, लेकिन इसे फ्रिज में रखने की गलती न करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो यह दवा सामान्य रूप से काम नहीं कर पाएगी। इसके अलावा इसे बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। एक्सपायरी होने के पहले ही दवा का सेवन करें। दवा को फ्लश नहीं करना चाहिए, इससे पर्यावरण को नुकसान पहुंच सकता है। दवा एक्सपायर हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।

कोनकोर (Concor) किस रूप में उपलब्ध है?

  • टैबलेट

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

प्रेग्नेंसी में बीपी लो क्यों होता है – Pregnancy me low BP

प्रेग्नेंसी में लो बीपी की कैसे पहचान करें। प्रेग्नेंसी में ब्लड प्रेशर कम क्यों हो जाता है,जानें pregnancy me bp low के आसान से घरेलू उपायों in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shivam Rohatgi
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 21, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

क्यों होती है प्रेग्नेंसी में सूजन की समस्या?

जानिए प्रेग्नेंसी में सूजन की समस्या क्यों होती है? गर्भावस्था में सूजन की समस्या से कैसे बचें? Swelling के कारण क्या हैं?

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Nidhi Sinha
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

कितना सामान्य है गर्भावस्था में नसों की सूजन की समस्या? कब कराना चाहिए इसका ट्रीटमेंट

जानिए गर्भावस्था में नसों की सूजन in Hindi, गर्भावस्था में नसों की सूजन के लक्षण, garbhavastha me nasho ki sujan के कारण, Varicose veins during pregnancy.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी मार्च 30, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

कोरोना के कहर के बाद अब चीन में हंता वायरस, एक की हुई मौत

हंता वायरस की जानकारी in hindi. वायरस के लक्षण hantavirus Symptoms, कोरोना वायरस के बाद अब चीन में फैला ये वायरस Hantaviruses

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
कोरोना वायरस, कोविड-19 मार्च 24, 2020 . 3 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

हेल्दी डाइट चार्ट

हेल्दी लाइफ के लिए अपनाएं हेल्दी डाइट चार्ट

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जुलाई 10, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
डैफलॉन

Daflon: डैफलॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जून 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पुष्करमूल - Pushkarmool

पुष्करमूल के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Pushkarmool (Inula racemosa)

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Ankita Mishra
Published on जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
हाइपरटेंशन की दवा के फायदे और साइड इफेक्ट्स क्या हैं hypertension ki dawa ke side effects

हाइपरटेंशन की दवा के फायदे और साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Hema Dhoulakhandi
Published on अप्रैल 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें