backup og meta

Bio D3 Max: बायो डी3 मैक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Bhawana Awasthi द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/06/2020

Bio D3 Max: बायो डी3 मैक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

बायो डी3 मैक्स कैप्सूल (Bio D3 Max) कैसे काम करता है?

बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल शरीर में कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाने का काम करता है। यह नर्व, मसल्स और बोंस के फंक्शन को हेल्दी बनाए रखने का काम भी करता है। बायो डी3 मैक्स में मौजूद कैल्सीट्रियोल (Calcitriol) विटामिन डी3 के रूप में सक्रिय रहता है और ये कैल्शियम के अवशोषण के लिए बहुत जरूरी होता है।

शरीर में कैल्शियम और मैग्नीज हेल्दी बोंस, नसों और मसल्स के लिए जरूरी हैं। वहीं जिंक इम्यून सिस्टम के इनहेंसमेंट के लिए आवश्यक है। विटामिन K2-7 हेल्दी बोंस और हेल्दी आर्टरीज के लिए महत्वपू्र्ण है। बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कई प्रकार की बीमारियों के इलाज में यूज किया जा सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के इस कैप्सूल का सेवन न करें।

बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का कैमिकल कंपोजीशन क्या है?

बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) में मुख्य रूप से निम्न कंपोजीशन पाया जाता है।

  • मेकोबलमिन (Mecobalamin)
  • कैल्सीट्रियोल (Calcitriol)
  • कैल्शियम कार्बोनेट (Calcium Carbonate)
  • एकोसापेंटैएनओइक एसिड (Ecosapentaenoic Acid)
  • डोकोसहेक्सएनोइक एसिड (Docosahexaenoic Acid)
  • फोलिक एसिड (Folic Acid)
  • बोरोन (Boron)
  • और पढें: Mala D: माला डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    डोसेज

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max)  का सामान्य डोज क्या है?

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल लेने की आपको कब जरूरत है, इस बारे में डॉक्टर आपको जानकारी देंगे। जरूरत के हिसाब से इस कैप्सूल का सेवन किया जाता है। सामान्यता इस कैप्सूल की दिन में एक डोज लेने की सलाह डॉक्टर आपको दे सकता है। अगर पेशेंट को अधिक समस्या है तो कैप्सूल का डोज डॉक्टर बढ़ा भी सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के कैप्सूल न लें।

    वयस्कों के लिए बायो डी3 मैक्स कैप्सूल डोज – 0.25 एमसीजी या  0.50 एमसीजी

    ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

    लंबे समय तक किसी मेडिसिन का अधिक सेवन करने से शरीर में साइड इफेक्ट्स होने का खतरा रहता है । ड्रग का ओवरडोज अगर हो जाए तो आप इस बारे में डॉक्टर को सूचित करें। अगर ड्रग की अधिक मात्रा लेने पर आपको शरीर में गंभीर लक्षण दिखाई दे रहे हो तो इमरजेंसी वार्ड में जाकर दिखाएं। अगर आपको दवा का डोज लेना याद नहीं रहता है तो अलार्म या फिर किसी सहयोगी की मदद लेकर आप नियमित रूप से दवा का सेवन कर सकते हैं।

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का सेवन भूलने पर खुराक की याद आते ही उसे लें। हालांकि, अगर आपकी अगली डोज का समय होने वाला है तो भूले हुए डोज की बजाए, अगली खुराक का सेवन पहले से तय किए गए समय पर करें। एक साथ दो खुराक का सेवन न करें। अगर आप लगातार डोज मिस करेंगे तो समस्या का निदान नहीं हो पाएगा।

    [mc4wp_form id=’183492″]

    और पढ़ें : Becosules z: बीकासूल जेड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    उपयोग

    मुझे बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    • बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल का इस्तेमाल पानी (ओरली) के साथ करना चाहिए।
    • बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) खाने के पहले या फिर खाने के बाद लिया जा सकता है। आप इस बारे में डॉक्टर से जरूर पूछ लें।
    • अगर आप बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) सिरप का इस्तेमाल कर रहे हैं तो मेजरिंग स्पून का इस्तेमाल जरूर करें।
    • जितना डॉक्टर न आपको बताया है, उतना ही डोज लें।
    • डॉक्टर पेशेंट की कंडिशन के अनुसार ही डोज लेने की सलाह देते हैं। हो सकता है कि डॉक्टर आपको पहले कम डोज दें और फिर डोज की मात्रा बढ़ा दे।
    • रेगुलर कैप्सूल लेने से ही आपको उसका बेनिफिट नजर आएगा। दवा का उपयोग करने के दौरान दूसरे सप्लिमेंट न लें।
    • कुछ मेडिसिन विटामिन डी और विटामिन सी का अवशोषण कम कर सकती हैं, इस बारे में डॉक्टर से जरूर पूछ लें।
    • अगर दवा का उपयोग करने के बाद आपको एलर्जी की समस्या हो जाती है तो तुरंत इस दवा का सेवन बंद कर दें।
    • दवा का उपयोग करने के बाद इसे खुला न छोड़ें। उसे बंद करके सुरक्षित स्थान पर रखें।

    इन बीमारियों में इस्तेमाल किया जा सकता है बायो डी3 मैक्स कैप्सूल (Bio D3 Max Capsule)

    शरीर के लिए विटामिन डी बहुत जरूरी होता है। विटामिन डी की कमी से रिकेट्स नाम की बीमारी हो जाती है। इस विटामिन की कमी से हड्डियां और दांत कमजोर हो जाते हैं। एडल्ट में ओस्टियोमलेशिया ( osteomalacia) नाम की बीमारी हो सकती है जिसमें शरीर से कैल्शियम की कमी होने लगती है। डॉक्टर इन समस्याओं से निजात दिलाने के लिए आपको बायो डी3 मैक्स कैप्सूल लेने की सलाह दे सकते हैं। कभी-कभी शरीर में कैल्शियम का अवशोषण नहीं हो पाता है, इस कारण से इस कैप्सूल का सेवन करने की सलाह दी जाती है। कुछ हेल्थ कंडिशन विटामिन डी की जरूरत को बढ़ा देती हैं। जानिए कौन-सी हैं वे कंडीशन?

    आपको बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल का उपयोग कब करना है, इस बारे में अपने डॉक्टर से जरूर जानकारी लें। उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है।

    और पढ़ें : Veltam Plus: वेलटम प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    साइड इफेक्ट्स

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

    बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल का सेवन करने से कुछ लोगों को शरीर में साइड इफेक्ट्स भी दिख सकते हैं। अगर आपको भी दवा खाने के बाद शरीर में कुछ बदलाव नजर आ रहे हैं तो तुरंत डॉक्टर को इस बारे में बताएं।

    • खाना निगलने में समस्या
    • कफ की समस्या
    • थकान का एहसास
    • हार्ट रेट बढ़ जाना
    • इचिंग की समस्या
    • चेहरे में सूजन आ जाना
    • स्किन रैशेज की समस्या
    • छाती में जकड़न का एहसास
    • ऐसा जरूरी नहीं है कि सभी व्यक्तियों को दवा का सेवन करने के बाद शरीर में साइड इफेक्ट नजर आएं। आप घबराएं नहीं और दवा के सेवन के बाद शरीर में होने वाले बदलावों पर निगरानी करें।

      और पढ़ेंFlomist Nasal Spray: फ्लोमिस्ट नेजल स्प्रे क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

      सावधानियां और चेतावनी

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

      • अगर शरीर में कैल्शियम की अधिकता है तो बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का उपयोग नहीं करना चाहिए।
      • शरीर में विटामिन डी की अधिकता में भी इस दवा का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है।
      • अगर दवा का उपयोग करने के बाद आपको शरीर में गंभीर लक्षण दिखें तो तुरंत दवा का सेवन बंद कर दें।
      • अगर आप बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का सेवन कर रहे हैं तो किसी अन्य मल्टीविटामिन, मिनिरल सप्लिमेंट लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
      • अगर दवा के सेवन के दौरान डॉक्टर आपको ब्लड टेस्ट या एक्स-रे की सलाह दे तो उसे समय पर कराएं।
      •  दवा की अधिक मात्रा या फिर कम मात्रा का सेवन आपके लिए समस्या का कारण बन सकता है। दवा का उतना ही सेवन करें, जितना आपको डॉक्टर ने लेनी की सलाह दी हो।

      क्या गर्भावस्था या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max)  लेना सुरक्षित है?

      प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान  बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती है। अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो डॉक्टर को इस बारे जानकारी दें। वहीं ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाओं को भी डॉक्टर से इस बारे में परामर्श कर लेना चाहिए।

      और पढ़ें Rifagut: रिफागट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

      रिएक्शन

      कौन-सी दवाइयां बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

      अगर आप बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो अन्य दवाओं को लेने के दौरान आपको सावधानी रखनी चाहिए। कुछ दवाएं बायो डी3 मैक्स के साथ रिएक्शन कर सकती हैं। आपको डॉक्टर को पहले से ली जाने वाली दवाइयों के बारे में जानकारी देनी होगी। निम्न दवाइयां बायो डी3 मैक्स के साथ रिएक्शन कर सकती हैं और साथ ही शरीर में दुष्प्रभाव भी पैदा कर सकती हैं।

      • कोलेस्टाइरामीन (Cholestyramine )
      • फेनीटोइन (Phenytoin)
      • थायजाइड (Thiazides)
      • केटोकोनाजोल (Ketoconazole)
      • फॉस्फेट-बाइंडिंग एजेंट (Phosphate Binding Agents)
      • कैल्शियम सप्लिमेंट (Calcium Supplements)
      • मैग्नीशियम (Magnesium)

      बायो डी3 मैक्स कैप्सलू (Bio D3 Max Capsule) फूड या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करता है?

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल  का सेवन करने के दौरान शराब का सेवन न करें। दवा के साथ एल्कोहॉल का रिएक्शन हो सकता है। वहीं खाने के साथ बायो डी3 मैक्स का रिएक्शन नहीं होता है।

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) हेल्थ कंडिशन को प्रभावित कर सकता है?

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) का सेवन कुछ हेल्थ कंडिशन के दौरान नहीं करना चाहिए। अगर आपको किसी प्रकार की शारीरिक बीमारी है तो पहले इस बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं।

      • सोरायसिस (psoriasis)
      • इलेक्ट्रोलाइट इंबेलेंस (electrolyte imbalance)
      • रीनल डिस्फंक्शन (renal dysfunction)
      • हाइपरकैल्शिमिया (hypercalcemia)
      • हिपेटोबिलरी डिसफंक्शन (hepatobiliary dysfunction)

      और पढ़ें : Prothiaden: प्रोथीआडेन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

      स्टोरेज

       मैं बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max)  को कैसे स्टोर करूं?

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max) कैप्सूल के पैकेट को गर्मी और नमी से दूर रखें। सामान्य तापमान वाले कमरे में इस दवा को स्टोर किया जा सकता है। कम तापमान यानी फ्रिज में मेडिसिन को न रखें। अगर कमरे में सीधी धूप की किरण पड़ रही हो तो वहां पर मेडिसिन को रखने की भूल न करें, वरना दवा का प्रभाव कम हो सकता है। बच्चों और जानवरों की पहुंच से दवा को कहीं सुरक्षित स्थान पर रखें। पैकेट पर दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार ही मेडिसिन को स्टोर करें। अगर आपको दवा को स्टोर करने से संबंधित जानकारी नहीं है तो आप फार्मासिस्ट या फिर डॉक्टर से भी पूछ सकते हैं। दवा को खरीदते समय उसके पैकेज के साथ ही एक्सपायरी डेट को जरूर चेक कर लें।

      बायो डी3 मैक्स (Bio D3 Max)  किस रूप में उपलब्ध है?

      • कैप्सूल
      • सिरप
      • इंजेक्शन

      दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

      डिस्क्लेमर

      हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

      के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

      डॉ. प्रणाली पाटील

      फार्मेसी · Hello Swasthya


      Bhawana Awasthi द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/06/2020

      ad iconadvertisement

      Was this article helpful?

      ad iconadvertisement
      ad iconadvertisement