home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जानिए नटराज आसन करने का सही तरीका और इसके फायदे?

जानिए नटराज आसन करने का सही तरीका और इसके फायदे?

नटराज आसन संस्कृत से लिया गया शब्द है। नटराज आसन को अंग्रेजी में कई नामों से जाना जाता है, जैसे नटराजआसना, लॉर्ड ऑफ डांस पोज, डांसिंग शिवा पोज, किंग ऑफ डांस पोज आदि। नटराज आसन का संधि-विच्छेद करेंगे तो नट का अर्थ डांसर होता है, वहीं राजा का अर्थ किंग है और आसन का अर्थ पोज, पॉश्चर है। तो आइए इस आर्टिकल में हम नटराज आसन के बारे में जानने के साथ इसे कैसे करें और इसके फायदे-नुकसान के साथ किसे नहीं करना चाहिए उसके बारे में विस्तार से जानते हैं, यह तमाम जानकारी हासिल करने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

एडवांस बैलेंस पोज है नटराज आसन (Advance Balance Pose is Nataraja Asana)

नटराज आसन को एडवांस बैलेंस पोज कहा जाता है। इसे अपनाकर व्यक्ति अपने व्यवहार में परिवर्तन ला सकता है, वहीं उसे शांति व जीवन में क्लियरिटी हासिल होती है। इस पोज को करने के दौरान लोगों को डीप बैक बेंड होने की आवश्यकता होती है, ऐसा करने के लिए बॉडी के आगे की स्ट्रेंथ की काफी जरूरत पड़ती है। इस आसन को कर हिप्स, एब्डॉमिन, चेस्ट यहां तक कि थ्रोट तक की अच्छी एक्सरसाइज हो जाती है। हिन्दू पौराणिक कथा के अनुसार नटराज नाम से भगवान शिव को भी संबोधित किया जाता है। कथा के अनुसार भगवान शिव अपनी भावनाओं को इस नृत्य से जीवंत करते थे, इस प्रकार वो ब्रह्मांड का संतुलन बना पाते थे।

नटराज आसन को करने से होने वाले फिजिकल बेनीफिट्स (Benefits of Nataraja Asana)

नटराज आसन को परफॉर्म करने से हमारे चेस्ट, शोल्डर, मांसपेशियों, शरीर के सामने वाला भाग, एब्डॉमिन स्ट्रेच होता है। वहीं हमारे अपर बैक के साथ मांसपेशियों, एंकल और पैर में मजबूती आती है। पोज को जितनी बार परफॉर्म किया जाए, उतनी बार हमारे शरीर को फ्लेक्सिबिलिटी के साथ ताकत मिलती है।

और पढ़ें : अपान मुद्रा: जानें तरीका, फायदा और नुकसान

जानें नटराज आसन के फायदे

नटराज आसन को करने से ऊर्जा का एहसास होता है, वहीं जब इसे परफॉर्म करते हैं, तो नृत्य की तरह आभास होता है। नटराज आसन को करने से शरीर में सुचारू रूप से ब्लड फ्लो होता है, वहीं व्यक्ति के एनर्जी लेवल में विकास होता है। कुछ लोगों को इस आसन को करने में हल्की मशक्कत भी करनी पड़ सकती है। इस आसन को करने के दौरान शरीर में अपने आप एडजस्टमेंट होते हैं, जो योगी को पोज में बैलेंस करने में मदद करता है। यह मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है। नटराज आसन को करने से सिर्फ शारीरिक ही नहीं, बल्कि मानसिक लाभ भी होते हैं। लॉर्ड ऑफ द डांस पोज को करने से मानसिक तौर पर यदि आप किसी समस्या से जूझ रहे हैं, तो उससे भी निजात मिलता है। नटराज पोज को करने से व्यक्ति की एकाग्रता बढ़ती है, वहीं काम में फोकस बढ़ता है। इस पोज को ज्यादा से ज्यादा कर फायदा उठाया जा सकता है। यह पोज उन लोगों के लिए काफी लाभदायक है, जो मल्टीटास्कर होते हैं, ये आसन लोगों को शांत रखने का यह मदद करता है।

बीमारियों के उपचार में योगा है काफी जरूरी, वीडियो देख लें एक्सपर्ट की राय

और पढ़ें : क्या है वायु मुद्रा, इसे करने का सही तरीका और फायदे के बारे में जानें

ये भी हैं नटराज आसन के फायदे? (Other benefits of Nataraja Asana)

  • इस आसान से शरीर का बैलेंस बेहतर होता है। यही वजह है कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं इस पोज को ज्यादा अच्छे से कर पाती हैं।
  • इस आसन को करने के दौरान जैसे ही हम एक पैर पर खड़े होते हैं, उस पैर की हड्डियां मजबूत होती है। साथ ही स्ट्रेंथ में विकास होता है। एक समय के बाद पैर की मांसपेशियां इतनी ज्यादा मजबूत हो जाती हैं कि एक पैर शरीर का वजन आसानी से उठा पाता है।
  • नटराज आसन को परफॉर्म करने से जांघ के पीछे के हिस्से के साथ लोअर बैक की अच्छी स्ट्रेचिंग हो जाती है
  • इस आसन को करने से लोअर एब्डॉमिन मसल्स काफी सक्रिय होती हैं, इस कारण ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है।

और पढ़ें : सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar) आसन के ये स्टेप्स अपनाकर पाएं अच्छा स्वास्थ्य

किन लोगों को नहीं करना चाहिए नटराज आसन? (Who should not do Nataraja Asana?)

उन लोगों को यह आसन नहीं करना चाहिए जो दिल की बीमारी के साथ ब्लड प्रेशर की बीमारी से जूझ रहे हैं, उन्हें यह आसन नहीं करना चाहिए। साथ ही उन्हें डॉक्टरी सलाह के साथ योगा एक्सपर्ट की सलाह लेनी चाहिए। वहीं उनके मार्गदर्शन में इसे परफॉर्म करना चाहिए। ऐसा कोई व्यक्ति, जिसे हाल में इंज्युरी हुई हो, पीठ, घुटने, एड़ी, हिप, ज्वाइंट में किसी प्रकार की चोट आई हो, उन लोगों को यह परफॉर्म नहीं करना चाहिए। गर्भवती महिलाएं और मासिक धर्म के समय यह आसन परफॉर्म नहीं करना चाहिए, साथ ही उन्हें योगा एक्सपर्ट की सलाह लेनी चाहिए। योगा ट्रेनर के मार्गदर्शन में सांस और शरीर के प्रति तालमेल बैठाते हुए धीरे-धीरे संतुलन को आगे बढ़ना चाहिए।

और पढ़ें : सुनने की क्षमता को बढ़ाने में सहायक शुन्य मुद्रा को कैसे करें, क्या हैं इसके लाभ

नटराज आसन को करने के लिए स्टेप बाई स्टेप पोज (Step by Step Pose to do Nataraja Asana)

स्टेप वन

स्टेप वन में ताड़ासन पुजिशन में खड़े हो जाएं।
Tadasanana Position
  • इस आसन को करने के लिए स्ट्रांग बैलेंस की जरूरत होती है
  • दोनों पैर पर बराबर वजन डालते हुए सीधे ताड़ासन मुद्रा में खड़े हो जाएं, शरीर को रिलेक्स छोड़ें

स्टेप दो

नटराज आसन स्टेप टू
Natarajasana Step Two
  • दाहिने पैर को आगे की ओर ले जाते हुए वजन दाहिने पैर पर डालें
  • बाएं पैर को पीछे की ओर उठाकर बाएं हाथ से पकड़ लें, इस दौरान आप सीधे देखते रहें जैसा कि तस्वीर में आप देख सकते हैं और दाहिना हाथ आगे करते हुए बैलेंस बनाए
  • इस दौरान धीरे-धीरे कंफर्टेबल होकर पोज को अंजाम दें, सिर को टाइट न रखें
  • छाती को खोलते हुए बैलेंस बनाएं

स्टेप तीन

स्टेप तीन में फिर से ताड़ासन मुद्रा में आ जाएं।
Step 3 Tadasana
  • वापिस ताड़ासन की मुद्रा में आकर थोड़ा रिलेक्स करें फिर यही क्रिया दूसरे पैर के साथ करने की तैयारी करें
  • इस दौरान आप चाहें तो हाथों को दोनों पैर के समानांतर रख सकते हैं या उसमें गैप दे सकते हैं

स्टेप 4

नटराज आसन स्टेप 4 में ऐसा करें।
Natarajasana Step 4
  • स्टेप तीन में रिलेक्स के बाद वापिस दूसरे पैर यानि अब बाएं पैर को आगे ले जाकर और दाहिने पैर को पीछे से उठाकर नटराज आसन करें
  • दाएं पैर को पीछे की ओर उठाकर दाएं हाथ से पकड़ लें, इस दौरान आप सीधे देखते रहें जैसा कि तस्वीर में आप देख सकते हैं और बायां हाथ आगे करते हुए बैलेंस बनाएं

ध्यान देने योग्य बातें

  • नटराज आसन के दौरान कम से कम 20 से 30 सेकंड तक के लिए आप पॉश्चर में बने रहें, नियमित तौर पर श्वांस लेते रहें
  • इस दौरान कंफर्टेब्लिटी के हिसाब से आसाम से श्वांस लें और छोड़े
  • करीब तीन से चार बार दोनों पैर की बराबर एक्सरसाइज करें (यानि इस पोज को दोहराएं), ऐसा करने से फायदा ज्यादा होगा
  • जैसे-जैसे आप इसे करने में एक्सपर्ट होते जाएंगे वैसे-वैसे इसे करने की समय सीमा में आप चाहें तो इजाफा कर सकते हैं

हमेशा लें एक्सपर्ट की राय

नटराज आसन मॉडर्न योग में आने वाला आसन है। इसे करने से बैलेंस में सुधार होता है, वहीं हमारा दिमाग और शरीर आपस में तालमेल बनाकर आसानी से काम कर पाता है। वर्किंग लोगों के लिए यह काफी लाभकारी होता है, लेकिन इसके लिए सबसे अहम यह है कि यदि आप योग की शुरुआत कर रहे हैं और इससे पहले आपने कोई भी आसन परफॉर्म नहीं किया है, तो बेहतर यही होगा कि आप योगा ट्रेनर के पास जाएं। उन्हें अपनी समस्याओं को बताने के साथ, यदि आप किसी प्रकार की दवा का सेवन करते हैं, तो उसके बारे में भी बताएं। उनके दिशा-निर्देशों के अनुसार इस पोज को परफॉर्म करें। बिना एक्सपर्ट की सलाह के इस पोज को करना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

NATRAJASANA/http://total-yoga.org/dancing-natraj-asana/ / Accessed on 21th August 2020 Natarajasana(Lord of the Dance Pose)/ http://www.karunayoga.in/natrajasana/ / Accessed on 21th August 2020 Natrajasana/http://www.nutripulse.in/asanas/natrajasana/ /Accessed on 21th August 2020 Natarajasana (Lord of the Dance OR Dancing Shiva Pose)/ https://www.siddhiyoga.com/natarajasana-lord-of-the-dance-or-dancing-shiva-pose / Accessed on 21th August 2020 Main event: Natrajasana, dancer’s pose/ http://inbodiedliving.org/main-event-natrajasana-dancers-pose/ / Accessed on 21th August 2020

Natarajasana 1 (Dancing Shiva/https://www.artofliving.org/in-en/yoga/yoga-poses/lord-of-the-dance-pose / Accessed on 21th August 2020

Natarajasana/https://www.wisdomlib.org/definition/natarajasana /Accessed on 21th August 2020

DANCER (NATARAJASANA)/https://www.yoga-shala.net/en/project/dancer-natarajasana/ /Accessed on 21th August 2020

लेखक की तस्वीर badge
Satish singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x