बेहद आसानी से की जाने वाली 8 आई एक्सरसाइज, दूर करेंगी आंखों की परेशानी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट September 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

ज्यादा काम और भागदौड़ के बाद जिस तरह से आपका शरीर थक जाता है, वैसे ही आपकी आंखों को भी थकान होती है। लगातार मोबाइल, कंप्यूटर स्क्रीन पर बिजी रहने से आंखों पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। ऐसे में आंखों को थोड़ा आराम पहुंचाने के लिए एक्सरसाइज जरूरी है। वैज्ञानिक रूप से यह तो सिद्ध नहीं हुआ है कि इससे आपका विजन ठीक होता है, लेकिन हां, एक्सरसाइज से आंखों को थकान और दवाब से जरूर राहत मिलती है। इसलिए आई एक्सरसाइज पर ध्यान देना जरूरी है।

क्यों होता है आंखों में दर्द?

आंखों में दर्द, जलन और सूजन कई कारणों से हो सकता है। लगातार कई घंटों तक मोबाइल, कंप्यूटर की स्क्रीन पर देखते रहने, कॉन्टैक्ट लेंस के इस्तेमाल की वजह से भी कई बार आंखों में जलन और दर्द की शिकायत हो सकती है। इसके अलावा पिंक आई, किसी बाहरी चीज का संक्रमण, चोट लगने, कॉर्निया पर चोट लगना या घाव होना, आई सर्जरी, ग्लूकोमा, माइग्रेन का दर्द , साइनस और धूल मिट्टी के संपर्क में आने पर भी कई बार आंखों में जलन, सूजन और दर्द की शिकायत हो सकती है।

आई एक्सरसाइज

आंखों की थकान और दवाब कम करके उसे रिलैक्स करने के लिए कुछ खास तरह की आई एक्सरसाइज करें। दरअसल आई एक्सरसाइज से आंखों की मसल्स मजबूत बनती हैं।

यह भी पढ़ें- हायपोथायरायडिज्म में आंखों की समस्या

आई एक्सरसाइज 1: आई रोल

रोजाना करने पर यह एक्सरसाइज असरदार होती है, यह आंखों की मसल्स को मजबूत बनाने के साथ ही आंखों के आकार में सुधार करती है। इसमें आंखों की पुतलियों को गोल-गोल घुमाया जाता है। यह एक्सरसाइज कम से कम 2 मिनट तक करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • बैठ जाएं या सीधे खड़े रहें। कंधों को रिलैक्स करें, गर्दन सीधी और सामने दखें।
  • दाहिने तरफ देखें और धीरे-धीरे आंखों को घुमाते हुए छत की तरफ दखें।
  • फिर आंखों को बाईं ओर से नीचे की ओर ले आएं और यहां से नीचे जमीन को ओर देखते हुए घुमाएं।
  • इसे क्लॉकवाइज और एंटी क्लॉकवाइज करें।

यह भी पढ़ें- घर पर अपनी आंखों की देखभाल करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

आई एक्सरसाइज 2: रब डाउन

यदि आप कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं, तो भी आसानी से आंखों की यह एक्सरसाइज कर सकते हैं। जब भी आंखों पर दवाब महसूस हो उसे रिलैक्स करने के लिए यह एक्सरसाइज करें। यह एक्सरसाइज 3 मिनट तक करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • बैठ जाएं या आराम से खड़े रहें। पहले दोनों हथेलियों को थोड़ा गर्म होने तक रगड़ें।
  • फिर आंखें बंद करते हुए हथेलियों को आईलिड के ऊपर रखें और हथेलियों की गर्माहट को महसूस करें
  • ध्यान रहे आंखों के ऊपर हथेलियों से अधिक दवाब न बनाएं।

आई एक्सरसाइज 3: मूविंग फिंगर

जिन लोगों की आई मसल्स कमजोर होती हैं डॉक्टर उन्हें आंखों की यह एक्सरसाइज की सलाह देते हैं। कम से कम 2 मिनट तक यह एक्सरसाइज करें।

यह भी पढ़ें: Retinal detachment: रेटिनल डिटैचमेंट क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • कुर्सी पर बैठकर कंधों को रिलैक्स करें, गर्दन सीधी रखें और सामने देखें।
  • एक पेंसिल दाहिने हाथ में लेकर नाक की सीधाई में रखें और पेंसिल की नोक पर ध्यान केंद्रित करें। ध्यान रहें हाथ पूरा फैला होना चाहिए यानी पेंसिल आंखों से दूरी पर हो।
  • अब पेंसिल को आंखों के नजदीक लाएं और फिर दूर ले जाएं।

आई एक्सरसाइज 4: आई प्रेस

यदि आज आपका दिन बहुत तनावपूर्ण रहा है, तो यह आंखों की एक्सरसाइज आंखों को सुकून देगी और तनाव कम करेगी। इसे कम से कम एक मिनट तक करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • आराम से बैठ जाएं और आंखें बंद करके गहरी सांस लें।
  • आईलिड पर एक अंगुली रखकर हल्के हाथ से 10 सेकंड तक दबाएं।
  • फिर अंगुली हटाकर 2 सेकंड बाद दोबारा उसी तरह दवाब बनाएं।

यह भी पढ़ें- आईबॉल में कराया टैटू, चली गई ‘ड्रैगन वुमेन’ की आंखों की रोशनी

आई एक्सरसाइज 5: आई मसाज

यह आखों की एक्सरसाइज आंखों की ड्रायनेस और दवाब को कम करती है। इसे सही तरीके से 2 मिनट तक करने से फायदा होगा। 2 मिनट तक यह एक्सरसाइज करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • सीधे बैठकर कंधों को रिलैक्स रखें।
  • सिर को थोड़ा पीछे की ओर करके आंखों को बंद रखें।
  • अपनी इंडेक्स और मिडल फिंगर को आराम से आईलिड के ऊपर रखें।
  • अब दाहिनी अंगुली को एंटी क्लॉकवाइज दिशा में और बाईं अंगुली को क्लॉकवाइज दिशा में घुमाएं।

आई एक्सरसाइज 6: ब्लिंक

कंप्यूटर और मोबाइल स्क्रीन पर लगातार देखते रहने से आंखों और दिमाग पर दबाव पड़ता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम ब्लिंक करना भूल जाते हैं। ऐसे में इस एक्सरसाइज से फायदा मिलेगा। इसे कम से कम 10 मिनट तक करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • आराम से कुर्सी पर बैठ जाएं, कंधों को रिलैक्स रखें, गर्दन सीधी रखें और सामने खाली दीवार पर देखें।
  • कुछ सेकंड के लिए होल्ड करें और फिर आंखें खोलें।

आई एक्सरसाइज 7: फोकसिंग

यदि आपको ध्यान केंद्रित करने में समस्या होती है तो यह आंखों की एक्सरसाइज आपके लिए बेस्ट है। इसे कम से कम 1 मिनट तक करें

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • खिड़की से 5 फीट की दूरी पर बैठ जाएं, सीधाई में देखें और अपने कंधों को रिलैक्स रखें।
  • अपने दाहिने हाथ को अपने सामने ले जाएं और अंगूठा निकालकर उसकी नोक पर 1-2 सेकंड के लिए फोकस करें।
  • फिर बिना हाथ हिलाए खिड़की पर 2 सेकंड के लिए फोकस करें।
  • खिड़की से बाहर की किसी चीज पर भी 2 सेकंड के लिए ध्यान केंद्रित करें।
  • अब दोबारा अंगूठे की नोक पर फोकस करें।

आई एक्सरसाइज 8: आई बाउंस

यह एक्सरसाइज काफी आसान है और इसे आप कहीं भी घर, ऑफिस और बेड पर भी कर सकते हैं। कम से कम 1 मिनट तक इसे करें।

कैसे करें यह एक्सरसाइज?

  • बैठ जाएं, खड़े रहें या लेट जाएं और फिर आगे सीधाई में देखें।
  • आप अपनी आंखें खुली या बंद रख सकते हैं।
  • अब आंखों की पुतलियों को जल्दी-जल्दी ऊपर-नीचे करें
  • ऐसा कम से कम 10 बार करें और 5 सेकंड आराम करने के बाद दोबारा एक सेट करें

इस तरह से आसानी से आई एक्सरसाइज की जा सकती हैं और आंखों को स्वस्थ रखा जा सकता है। आंखों में होने वाली परेशानी को नजरअंदाज न करें क्योंकि आंखों की परेशानी या ड्रायनेस को दूर करने के लिए दवा भी दी जा सकती है

यह भी पढ़ें- आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

अगर आप आई एक्सरसाइज से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

स्पोर्ट्स स्टार्स की तरह करनी है फिटनेस लेकिन महंगे प्रोटीन पाउडर नहीं ले सकते? तो ऐसे घर पर बनाएं

पुश अप फिटनेस के साथ बढ़ाता है टेस्टोस्टेरॉन, जानें पुश अप्स के फायदे

एड़ी में मोच और दर्द को दूर करने के लिए करें ये आसान एक्सरसाइज

Compulsive over-exercising : कम्पलसिव ओवर एक्सरसाइजिंग क्या है?

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्यों न इस स्वतंत्रता दिवस अपनी इन गलत आदतों से छुटकारा पाया जाए

हमारी कुछ आदतें ऐसी हैं जिसका न सिर्फ हमारी सेहत, बल्कि पर्सनैलिटी पर भी असर पड़ता है, तो क्यों न इस स्वतंत्रता दिवस अपनी इन गलत आदतों से छुटकारा पाया जाए।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
सामान्य स्वच्छता, अच्छी आदतें August 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

कोविड-19 के दौरान ऑनलाइन एज्युकेशन का बच्चों की सेहत पर क्या असर हो रहा है?

कोविड-19 के कारण बच्चों के लिए ऑनलाइन एज्युकेशन आज समय की जरूरत बन गया है, लेकिन फायदे से ज्यादा इसके नुकसान हैं। सेहत पर इसका बहुत बुरा असर पड़ रहा है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
इंफेक्शस डिजीज, कोरोना वायरस August 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

बाबा रामदेव के फिटनेस सिक्रेट करें फॉलो और रहें ताउम्र फिट एंड हेल्दी

बाबा रामदेव के फिटनेस को देख उनकी तरह अपनाएं फिटनेट रूटीन, जाने बाबा रामदेव क्या क्या करते हैं, एक्सरसाइज, वार्मअप, जॉगिंग और योग के बारे में जाने।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

रेकी क्या है? जानिए इसके फायदे और प्रॉसेस

रेकी एक ऐसी थेरिपी है जिसमें मरीज को ठीक करने के लिए एनर्जी को ट्रांसफर किया जाता है। यह प्रॉसेस कैसी है और इसको करवाने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। जानते हैं इस आर्टिकल में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare

Recommended for you

एक्सरसाइज के पहले क्या खाएं - Workout Food

एक्सरसाइज के पहले क्या खाना हमारे सेहत के लिए होता है फायदेमंद, जानने के लिए पढ़ें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ January 19, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
जिम क्विज - gym quiz

Quiz: आपके लिए कौन-सा वर्कआउट है बेस्ट?

के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
प्रकाशित हुआ November 2, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
फिटनेस किंग क्विज - fitness king quiz

Quiz: क्या आप बन सकते हैं फिटनेस किंग?

के द्वारा लिखा गया Surender aggarwal
प्रकाशित हुआ October 29, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
परिणीति चोपड़ा डायट प्लान

परिणीति चोपड़ा के डायट प्लान से होगा वेट लॉस आसान, जानिए वर्कआउट सीक्रेट भी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ August 20, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें