home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

डायट, वर्कआउट के साथ फिटनेस मिशन बनाकर कम किया मोटापा

डायट, वर्कआउट के साथ फिटनेस मिशन बनाकर कम किया मोटापा

हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारी #FatSeFitnessTak सीरीज पसंद आ रही होगी। आज हम आपके लिए एक शख्स और फिटनेस स्टोरी लेकर आए हैं, जो न सिर्फ मोटापा कम करना चाहते थे, बल्कि इसके साथ अपना मसल मास भी बढ़ाना चाहते थें। घर से दूर रहकर खुद ही खाना बनाना और अपने लक्ष्य को पाने के लिए अतिरिक्त मेहनत करना, यकीनन आपको इनकी कहानी प्रेरित करेगी।

हैलो स्वास्थ्य की डॉ. श्रुति श्रीधर ने बात की डॉ. चेतन गोरे से। आइए, जानते हैं उन्होंने अपनी फिटनेस जर्नी के बारे में क्या कहा।

लंबाई- 178 सेमी

अधिकतम वजन – 93 kgs

वजन कम किया– 9 kgs

वजन कम करने का समय– 4 महीने

अपने बारे में बताएं

मेरा नाम डॉ. चेतन गोरे है, उम्र 27 साल है और मैं होम्योपैथ हूं। फिलहाल मैं यूएसए में रहता हूं। मैं हेल्थ केयर एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री कर रहा हूं। मुझे फिल्म मेकिंग और एक्टिंग का शौक है।

यह भी पढ़ें – जब मुझे लगा मैं मोटा होने लगा हूं…एक फैसले ने फिर बदल दी जिंदगी

खुद को बदलने के बारे में कब सोचा?

मैं हमेशा फिटनेस के बारे में सोचता था लेकिन मुझे महसूस हुआ कि मैं अपनी शारीरिक क्षमता के साथ न्याय नही कर रहा हूं। भारत में, मैं रोजाना बॉक्सिंग करता था, लेकिन मुझे लगा कि मेरे शरीर का पूरी तरह से इस्तेमाल नहीं हो रहा है। यूएस आने के बाद फिटनेस के प्रति मेरा झुकाव और बढ़ गया और मैंने अधिक परिश्रम करना शुरू किया।

मेरा फिटनेस डायट चार्ट

सुबह उठने के बाद

गरम पानी + ¼ नींबू + 1 टीस्पून शहद

फिटनेस मैं आपका नाश्ता

½ कप ओटस + ½ कप प्रोटीन पाउडर + 1 कप ब्लैक कॉफी बिना शक्कर के + 15 बादाम+ 10 अखरोट + 10 किशमिश + 1 टीस्पून पीनट बटर + 1 टीस्पून शहद

फिटनेस मैं मिड मॉर्निंग

1 सेब + 1 छोटा केला + 10 बादाम + 10 अखरोट + थोड़े से किशमिश

फिटनेस मैं दोपहर का खाना

½ कप चावल + उबले हुए बीन्स + पालक + लेट्यूस + शिमला मिर्च + प्याज + उबला हुआ कॉर्न + टमाटर + ½ कप दाल + 250 ग्राम मीट (चिकन /मछली)

फिटनेस मैं शाम का स्नैक्स

कॉर्न फ्लेक्स + ग्रीन टी + 1 केला + ½ सेब

यह भी पढ़ें – हमेशा भूख लगी रहना, हो सकती है खतरे की घंटी

फिटनेस मैं रात का खाना

½ कप चावल + उबले हुए बीन्स + पालक + लेट्यूस + शिमला मिर्च + प्याज + उबला हुआ कॉर्न + टमाटर + ½ कप दाल + 250 ग्राम मीट (चिकन /मछली) (लंच के समान ही, मगर कम मात्रा में)

फिटनेस मैं रात के खाने के बाद

1 चम्मच प्रोटीन पाउडर + ¼ कप दूध + 10 बादाम + 10 अखरोट + 1 कप ब्लूबेरी + 1 छोटा केला + ½ सेब + 1 टीस्पून पीनट बटर

फिटनेस मैं आपका वर्कआउट?

5 दिन हाई इंटेन्सिटी मसल वर्कआउट जिसमें हर दिन एक मसल पर फोकस करता हूं।

फिटनेस मैं वर्कआउट मील

1 छोटा केला ½ टीस्पून पीनट बटर के साथ

फिटनेस मैं पोस्ट वर्कआउट मील

1 चम्मच प्रोटीन पाउडर ठंडे पानी में मिलाकर।

फिटनेस मैं आपका पसंदीदा भोजन?

इंडियन फूड

फिटनेस मैं आपका पसंदीदा लो कैलोरी भोजन?

टमाटर, शिमला मिर्च, चिकन, चीज से बना सलाद

आपका फिटनेस सीक्रेट?

निरंतरता और हर दिन कुछ नया सीखना। मैं सोशियल मीडिया पर कई फिटनेस एक्पर्ट्स को फॉलो करता हूं जो मुझे सही और उपयोगी जानकारी देते हैं।

आपको किससे प्रेरणा मिलती है?

मेरे अपने अनुभव मुझे हर दिन कुछ अच्छा पाने के लिए प्रेरित करते हैं।

फिटनेस मैं फोकस कैसे बनाए रखें?

आमतौर पर लोग अपना फोकस आसानी से खो देते हैं, लेकिन सीक्रेट यही है कि जो चीजें आपके हाथ में नहीं है बस उसे छोड़ दें। इस कला को सीखने के बाद यकीन मानिए आपके पास बहुत एनर्जी बचेगी जिसे आप अपने पसंदीदा काम में लगा सकते हैं, जैसे मेरे लिए यह वर्कआउट और मेरा काम है। इस तरीके से आपकी जिंदगी सुकून भरी हो जाएगी।

यह भी पढ़ें – अब फैट को कहें ‘बाय’और फिटनेस को कहें ‘हाय’

मोटापे के दौरान कौन सी चीज सबसे मुश्किल लगी?

मोटापे के दौरान फॉर्मल कपड़े पहनना सबसे मुश्किल था। डॉक्टर होने के नाते और अब हेल्थ केयर इंडस्ट्री में क्लाइंट के लिए मुझे फॉर्मल कपड़े ही पहनने होते थे। मोटा होने की वजह से मैं ऐसे कपड़ों का मजा नहीं ले पाता था।

जीवनशैली में क्या बदलाव किए?

मैंने आलस छोड़ दिया। मेरे लिए वर्कआउट करना कभी मुश्किल नहीं था, लेकिन अपने कंफर्ट जोन से निकलना कठिन काम था। मैं जानता था कि अच्छा और स्वस्थ शरीर के लिए मुझे हेल्दी और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन का चुनाव करना होगा।

फिट होने के बाद क्या सबसे अच्छा लग रहा है?

आत्मविश्वास! आत्मविश्वास! आत्मविश्वास!मैं अब अपने और अपने शरीर के लिए बेहद आश्वस्त महसूस करता हूं कि मैं फिटनेस की राह पर हूं।

आज से 10 साल बाद खुद को कहां देखते हैं?

एक फिट और हेल्दी डॉक्टर, साथ ही सफल फिल्ममेकर।

आपका लोएस्ट पॉइंट?

जब मैं यूएसए अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए आया तो मुझे खुद ही खाना बनाना होता था और अपना ख्याल रखना पड़ता था। तब मुझे लगा कि मुझे फिट होने की जरूरत है और मैं खुद ही अपनी मदद कर सकता हूं।

फिटनेस जर्नी से आपने क्या सीखा?

मैं अभी भी हर दिन, हर मिनट सीख रहा हूं। मेरी फिटनेस जर्नी ने मुझे मजबूत रहना और लगातार अच्छी सेहत पाने के लिए अपनी तरफ से पूरी कोशिश करना सिखाया है।

पाठकों के लिए क्या सलाह देंगे?

जहां चाह वहीं राह। यदि आप कुछ पाना चाहते हैं, तो बस आगे बढ़िए। इसके लिए दूसरों के नहीं खुद के प्रति आभारी रहें।

चेतन की फिटनेस जर्नी से सीखे-

दृढ़ संकल्प लेना जरूरी है। अपने लक्ष्य पर फोकस करें, आपकी जर्नी अपने आप आसान हो जाएगी।

हेल्दी खाएं और पर्याप्त आराम व नींद लें।

अपनी बॉडी टाइप के अनुसार रोजाना एक्सरसाइज करें। फिट रहने का एक नियम बनाएं और उसका पालन करें।

चेतन गोरे की फैट से फिटनेस जर्नी जानने के बाद आप इतना तो जान ही गए होगे कि वजन कम करना नामुंकिन नहीं है। यदि आप भी वजन कम करना चाहते हैं तो चेतन की जर्नी से खुद को मोटिवेट करें लेकिन उससे आंख बंद करके फॉलो न करें। हर किसी की बॉडी अलग होती है। इसके लिए आप किसी विशेषज्ञ से सलाह लें। हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में चेतन की फैट से फिटनेस की स्टोरी बताई है। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी पाना चाहते हैं तो आप अपना सवाल कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। यदि आपके पास भी अपनी फैट से फिटनेस स्टोरी है तो आप हमारे साथ उसे शेयर कर सकते हैं। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह आप हमें कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं।

और पढ़ेंः-

पुरानी एक्सरसाइज से हो गए हैं बोर तो ट्राई करें केलेस्थेनिक्स वर्कआउट

कार्डियो एक्सरसाइज से रखें अपने हार्ट को हेल्दी, और भी हैं कई फायदे

जानें प्री-टीन्स में होने वाले मूड स्विंग्स को कैसे हैंडल करें

बच्चे की मिट्टी खाने की आदत छुड़ाने के उपाय

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Kanchan Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 16/10/2019
x