home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Heat cramps: गर्मी की अकड़न क्या है?

परिचय|लक्षण|कारण |जोखिम|उपचार|घरेलू नुस्खे
Heat cramps: गर्मी की अकड़न क्या है?

परिचय

गर्मी की अकड़न क्या है?

गर्मी की अकड़न या ऐंठन मांसपेशियों में होने वाली दर्दभरी अकड़न हैं, जो अक्सर गर्म मौसम में अधिक व्यायाम करने से होती है। रात के समय होने वाली पैरों की ऐंठन की तुलना में यह ऐंठन अधिक तीव्र और लंबे समय तक हो सकती है। गर्मी की अकड़न या ऐंठन से शरीर में तरल पदार्थ और इलेक्ट्रोलाइट कम हो जाते हैं। बूढ़े लोगों या बच्चों में यह ऐंठन बहुत आसानी से हो जाती है। यही नहीं, अगर आपको गर्म मौसम में काम करने या व्यायाम करने की आदत नहीं है तो भी यह समस्या आपको बहुत आसानी से हो सकती है। कुछ बीमारियों जैसे मोटापा, डायबिटीज, लौ रक्तचाप, एलर्जी, तनाव या दिल संबंधी रोगों में प्रयोग होने वाली दवाईयों के कारण भी गर्मी की अकड़न होने की संभावना बढ़ जाती है।

लक्षण

गर्मी की अकड़न के लक्षण क्या हैं?

गर्मी से होने वाली हर बीमारी का पहला लक्षण है गर्मी की अकड़न। इस समस्या के लक्षण इस प्रकार हैं:

  • शरीर में बड़ी मांसपेशियों में ऐंठन होने के कारण अधिक पसीना आता है।
  • आमतौर पर उन मांसपेशियों में गर्मी की अकड़न होती हैं, जिन पर अधिक जोर दिया जाता है।
  • धावक और फुटबॉल खेलने वाले खिलाडियों को यह समस्या होने की संभावना अधिक होती है। लेकिन, जो लोग चीज़ों को उठाने के काम करते हैं। उन्हें भी बाजू में यह समस्या हो सकती है।
  • गर्मी की अकड़न आमतौर पर किसी भी महत्वपूर्ण गतिविधि होने के बाद शुरू होती है। लेकिन, गतिविधि पूरी होने के कुछ घंटों बाद भी यह समस्या हो सकती है।

कुछ लोगों को गर्मी की अकड़न में कुछ इस तरह के लक्षण भी महसूस हो सकते हैं जैसे:
चक्कर आना, कमजोरी, जी मचलना, सिरदर्द, उलटी होना। इससे प्रभावित लोग अधिक पसीना आना, बुखार जैसी समस्याओं से भी गुजर सकते हैं।

इन स्थितियों में तुरंत डॉक्टर की सलाह लें:

  • अगर आप मतली या उलटी आने के कारण पर्याप्त तरल पदार्थ पीने में असमर्थ हैं। तो आपको सामान्य सेलाइन यानी नमक के साथ IV रिड्रेशन की आवश्यकता हो सकती है।
  • अगर आपको गर्मी की अकड़न के साथ थकावट हो।
  • अगर आपको दिल की बीमारी के गंभीर लक्षण जैसे उलटी, सिरदर्द, दिल की धड़कन का तेज होना, सांस न आना या बुखार का अधिक होना, थकावट आदि दिखाई दें, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

यह भी पढ़ें : ऐसे करें स्ट्रोक के मरीजों की घर पर देखभाल और होम रिहैबिलिटेशन

कारण

गर्मी की अकड़न का कारण क्या है?

  • गर्मी की अकड़न या ऐंठन के सही कारणों के बारे में जानकारी नहीं है। इनका संबंध इलेक्ट्रोलाइट से है। इलेक्ट्रोलाइटस में जरूरी मिनरल जैसे सोडियम, पोटैशियम , कैल्शियम और मैग्नीशियम आदि शामिल हैं। यह मांसपेशियों में रासायनिक प्रतिक्रियाओं में शामिल होते हैं। इनका असंतुलन कई समस्याओं का कारण बन सकता है
  • जो लोग डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवाईयां ले रहे हैं। उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कुछ दवाएं शरीर के पसीने और गर्मी की रेगुलेशन को बाधित कर सकती हैं। (उदाहरण के लिए ,साइकियाट्रिक ड्रग , ट्रैंक्विलाइज़र, और एंटीहिस्टामिनेस आदि)
  • अपनी क्षमता से अधिक अवधि के लिए व्यायाम करना।

यह भी पढ़ें: Parkinson Disease: पार्किंसंस रोग क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपचार

जोखिम

गर्मी की अकड़न के जोखिम क्या है?

  • बूढ़े व्यक्ति और बच्चे तापमान के बदलने को बहुत आसानी से सहन नहीं कर पाते। ऐसे में बाहर गर्म वातावरण में जाने से उन्हें गर्मी की अकड़न की समस्या हो सकती है।
  • अधिक अल्कोहल का सेवन करना भी गर्मी की अकड़न की समस्या में जोखिम भरा हो सकता है।
  • कुछ खास दवाईयां गर्मी की अकड़न को बढ़ा सकती हैं। ऐसे में अगर आपको यह समस्या है तो डॉक्टर को पहले ही उन सब दवाईयों के बारे में बताएं जिनका सेवन आप करते हैं।
  • अधिक ड्रग्स या दवाईयों का सेवन करने वाले व्यक्तियों के लिए भी गर्मी की अकड़न एक बड़ी समस्या बन सकती है।

यह भी पढ़ें: Chagas disease: चगास रोग क्या है?

उपचार

गर्मी की अकड़न का उपचार क्या है?

गर्मी की अकड़न के निदान के लिए सबसे पहले डॉक्टर के लिए आपकी हिस्ट्री जानना आवश्यक है। वो सब चीज़ों के बारे में जानेंगे ताकि उन्हें पता चल सके कि इस समस्या का कारण क्या है। जैसे:

आप क्या काम करते हैं?
अपने कितनी गर्मी में काम किया?
कितनी देर आपने इस गर्मी में काम किया?
यह अकड़न कब शुरू हुई?
यह अकड़न कहां है?
क्या आप पर्याप्त पानी या तरल ले रहे हैं?

शारीरिक जांच

गर्मी की अकड़न का एक लक्षण मूत्र के रंग में परिवर्तन होना भी है। जब शरीर में पानी की कमी होती है तो शरीर से तेज गंध और पीले रंग का मूत्र निकलता है। अगर आप पर्याप्त पानी पीते हैं तो मूत्र साफ़ होता है। इसलिए इस बारे में भी डॉक्टर जानकारी ले सकते हैं।

  • इसके बाद सामान्य शारीरिक जांच की जाती है। जो मांसपेशियां प्रभावित होती हैं वो छूने पर सख्त होती हैं। शारीरिक जांच से यह भी पता चल जाता है कि शरीर में पानी की कमी तो नहीं है जिसके लक्षण हैं मुंह और जीभ का सुखना, शरीर में कम पसीना आना या मूत्र का कम आना।
  • कुछ अन्य महत्वपूर्ण संकेत भी सुराग हो सकते हैं जैसे निम्न रक्तचाप और दिल का तेजी से धड़कना। प्रभावित व्यक्ति का रक्तचाप लेटने (ऑर्थोस्टेटिक हाइपोटेंशन) की तुलना में खड़े होने पर बहुत कम हो सकता है।

यह भी पढ़ें: Osgood-Schlatter Disease: ऑसगूड स्क्लटर रोग क्या है?

घरेलू नुस्खे

गर्मी की अकड़न के घरेलू उपाय क्या हैं?

गर्मी की अकड़न समय के साथ खुद ठीक हो जाती है। लेकिन, आप इसमें इन घरेलू नुस्खों को अपना सकते हैं:

  • ठंडी जगह पर आराम करें। ऐसे पेय पदार्थ को पीएं जिनमें नमक और इलेक्ट्रोलाइट हैं या ठंडा पानी पीएं।
  • पानी में नमक मिला कर आप खुद अपना नमक का मिश्रण बना सकते हैं।
  • प्रभावित मांसपेशियों की नरम और रेंज-ऑफ-मोशन स्ट्रेचिंग मालिश करें।
  • गर्मी की अकड़न के बाद कई घंटों या अधिक समय तक कोई भी अधिक जोर वाली गतिविधि न करें।
  • यदि आपके ऐंठन एक या एक घंटे के भीतर दूर नहीं होती, तो अपने डॉक्टर की सलाह लें।
  • अकड़न के बाद उन मांसपेशियों को धीरे से फैलाएं।
  • अगर आपने गर्म वातावरण में काम करने शुरू किया है, तो आपको पहले कुछ दिनों में इसका अभ्यास होने में समय लगेगा। जब आपको इस वातावरण की आदत हो जायेगी तो इस बात का भी ध्यान रखें कि आप पर्याप्त तरल पदार्थ लें, इससे आपको समस्या होने की संभावना कम रहती है।

इन बातों का ध्यान रखें

  • गर्मी की अकड़न से बचने के लिए, अधिक गर्मी वाले जगह न जाएं।
  • अगर आपको प्यास नहीं भी लगती है तब भी अधिक पानी पाएं।
  • नमक वाले खाने को अधिक खाएं।
  • अल्कोहल,गर्म या भरी खाने से बचे।
  • खुले और कम वजन के कपडे पहने ताकि आपको कम गर्मी लगे।

। बेहतर जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/04/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड